चार्टर्ड एकाउंटेंट (CA) कैसे बने? (योग्यता, एग्जाम, डिग्री, फीस, सैलरी, करियर)

CA का नाम तो आपने जरूर सुना ही होगा। यदि आपका कोई बिजनेस या कोई दुकान है तब तो CA आपकी अच्छी तरह से पहचान होगी। क्योंकि किसी भी शॉप या व्यापार को फाइनेंसियल तरीके से मैनेज करने के लिए चार्टर्ड एकाउंटेंट अत्यंत जरूरी होता है।

आज के समय में अनेक सारे युवा CA बनने का सपना देखते हैं। बता दें कि CA बनने के बाद लोग अच्छी कमाई करते हैं। बिना किसी नौकरी के ही व्यापार से जुड़े लोग उनके पास खुद चलकर आते हैं और अपने व्यापार को फाइनैंशल तरीके से बेहतर मैनेज करने के लिए मुंह मांगी रकम देते हैं।

इसीलिए आज के समय के युवा CA बनने के लिए निरंतर प्रयास करते हैं और वे जानना चाहते हैं कि CA कैसे बने? तो इस आर्टिकल में हम आपको CA से संबंधित पूरी जानकारी विस्तार से बताएंगे।

ca kaise bane ca kya hota hai

यदि आपकी कोई दुकान है, कोई फैक्ट्री है, कारखाना है, कंपनी है या फिर कोई भी व्यवसाय हैं तो उसका फाइनेंसियल मैनेजमेंट करना अत्यंत आवश्यक है।

कितना टैक्स हुआ है?, कितना खर्चा हुआ है?, कितना टैक्स भरना है?, कितना जीएसटी पेबल है?, कितना जीएसटी रिड्यूस करना है? इत्यादि वर्तमान समय में टैक्स से संबंधित अनेक प्रकार की समस्याएं आपके सामने उत्पन्न हो सकती हैं। इन सभी समस्याओं को चार्टर्ड एकाउंटेंट मैनेज करता है। इसके बदले में एक मोटी रकम वसूल करता है।

चार्टर्ड एकाउंटेंट (CA) कैसे बने? (योग्यता, एग्जाम, डिग्री, फीस, सैलरी, करियर)

CA कौन और क्या है?

CA की फुल फॉर्म Chartered Accountant होता है। जिस तरह से किसी भी व्यापार को नियमित रूप से फाइनेंसियल तरीके से मैनेज करने हेतु अकाउंटेंट होता है। ठीक उसी प्रकार उससे उच्च श्रेणी का फाइनेंशियल मैनेजमेंट करने हेतु चार्टर्ड एकाउंटेंट यानी CA होता है, जो बेहतर तरीके से बड़े से बड़े व्यापार को फाइनेंसियल तरीके से मैनेज करता है तथा जीएसटी और टैक्स से संबंधित सभी डॉक्यूमेंटेशन को क्लियर करके समय पर टैक्स और जीएसटी का भुगतान करवाता है।

किसी भी कंपनी या व्यवसाय का काम देखने वाला CA समय-समय पर जीएसटी और बैलेंस शीट का ध्यान रखता है तथा टैक्स रिटर्न करने का भी ध्यान रखता है।‌ समय पर सभी तरह के टैक्स रिटर्न करवाता है और हमेशा बैलेंस शीट तैयार रख पाता है, जिससे हर तरह का बिजनेस फाइनेंस रूप से सही चलें।

CA बनने के लिए योग्यता

  • कोई भी 12वीं पास युवा CA बनने के लिए अप्लाई कर सकता है।
  • CA बनाने हेतु चार्टर्ड एकाउंटेंट फाउंडेशन में रजिस्ट्रेशन करवाना होता है।
  • आर्ट्स, कॉमर्स, साइंस, इत्यादि किसी भी सब्जेक्ट वाले CA कोर्स कर सकते हैं।
  • बिना किसी अंको की जरूरत के सिर्फ 12वीं पास सर्टिफिकेट CA बनने के लिए जरूरी है।
  • CA बनने के लिए कोई भी आयु सीमा निश्चित नहीं है। किसी भी आयु वर्ग के लोग CA बन सकते हैं।
  • CA का कोर्स 4 वर्ष का होता है। यदि आपने ग्रेजुएशन कर रखा है तो आपको 3 वर्ष में ही CA का कोर्स कंप्लीट करवा दिया जाएगा।

चार्टर्ड एकाउंटेंट कैसे बने?

चार्टर्ड एकाउंटेंट फाउंडेशन रजिस्ट्रेशन

CA बनने के लिए चार्टर्ड एकाउंटेंट फाउंडेशन हेतु रजिस्ट्रेशन करना होगा, जो कोई भी 10वीं या 12वीं पास अभ्यार्थी कर सकता है। लेकिन 12वीं पास करने के बाद ही CA फाऊंडेशन में आवेदन होगा।

CA बनने हेतु CA फाउंडेशन में रजिस्ट्रेशन करने के लिए अप्रैल या अक्टूबर में रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरा जाता है। CA बनने के लिए CA फाउंडेशन की परीक्षा प्रत्येक साल में दो बार होती है, जो जून तथा दिसंबर महीने में आती है।

चार्टर्ड एकाउंटेंट फाउंडेशन एग्जाम

चार्टर्ड एकाउंटेंट फाउंडेशन में रजिस्टर करने के बाद CA फाउंडेशन में परीक्षा पास करनी होती है। CA फाऊंडेशन में परीक्षा पास करने के बाद, IPCC परीक्षा के लिए आवेदन करना होता है। IPCC की परीक्षा प्रत्येक वर्ष में दो बार होती है, जो मई और जून के महीने में आती है।

IPCC की परीक्षा में सात अलग-अलग तरह के पेपर आते हैं, जिसमें एकाउंटिंग, बिजनेस,‌ Low, कम्युनिकेशन, कॉस्ट अकाउंटिंग, फाइनेंशियल मैनेजमेंट, टैक्सेशन, एडवांस अकाउंटिंग, अकाउंटिंग इनफॉरमेशन, टेक्नोलॉजी एकाउंटिंग, मैनेजमेंट स्ट्रेटजी इत्यादि प्रकार के अलग-अलग पेपर ग्रुपों के आधार पर होते हैं।

CA बनने के लिए IPCC इस परीक्षा में अभ्यर्थी को कम से कम 40 अंक प्राप्त करने अनिवार्य होते हैं, तभी वे इस परीक्षा को पास कर पाते हैं।

कोर्सेज और ट्रेनिंग

अगले दो चरण में CA बनने के लिए चार्टर्ड एकाउंटेंट फाउंडेशन में अप्लाई करना और चार्टर्ड एकाउंटेंट फाउंडेशन के अंतर्गत IPCC की परीक्षा को पास करना होता है।

अब अभ्यर्थी को Orientation Course करना होता है, जिसे मात्र 35 घंटे में ही पूरा करना पड़ेगा तथा 100 घंटे का ITT Course होता है। इसकी भी समय सीमा है, इस कोर्स को करने के बाद ट्रेनिंग ली जाती है।

CA फाइनल एग्जाम

CA फाइनल का एग्जाम दो अलग-अलग रूपों में होता है, जो साल में 2 बार आता है। हर वर्ष CA फाइनल एग्जाम मई और नवंबर महीने में होता है। इसमें कुल 8 पेपर होते हैं, 2 ग्रुपों में चार चार पेपर से परीक्षाओं का आयोजन किया जाता है।

जिसमें विद्यार्थी को Financial Reporting, Corporate And Allied Laws, Strategic Financial Management, Direct Tax Laws, Indirect Tax Laws, Advanced Management Accounting से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।

यह भी पढ़े: सॉफ्टवेर इंजीनियर कैसे बने? (योग्यता, कोर्स, फीस, करियर, सैलरी)

CA फाइनल डिग्री

CA बनने के लिए चार्टर्ड एकाउंटेंट फाउंडेशन में अप्लाई करने से लेकर आखिरी परीक्षा पास करने के बाद अभ्यर्थी को ICAI के द्वारा Chartered Accountancy की डिग्री प्रदान की जाती है।

इसके बाद वह पूरे देश में कहीं पर भी चार्टर्ड एकाउंटेंट यानी CA का काम कर सकते हैं। किसी भी बड़ी बड़ी कंपनी और व्यवसाय को अपने बल पर फाइनेंसियल तरीके से मैनेज कर सकते हैं।

CA कोर्स एंव फीस

CA कोर्स काफ़ी कठिन होता है। इस दौरान आपका खर्चा भी बढ़ जाता है। CA कोर्स करने के पूरे प्रोसेस की अलग-अलग फीस है।

CA बनने के लिए CA फाउंडेशन में आवेदन करने से लेकर CA फाइनल के बाद, CA बन जाने तक लगभग ₹50000 तक का खर्चा आ जाता है। तो आइए हम आपको CA के सभी कोर्सेज की फीस के साथ डिटेल्स बताते हैं।

चार्टर्ड एकाउंटेंट कोर्स और फीस

कोर्स का नामफीस
Foundation Course RegistrationRs.9,000
Foundation Course ExaminationRs.1,500
Intermediate Course RegistrationRs.18,000
Intermediate Course ExaminationRs.2,700
Intermediate Course Orientation And TrainingRs.14,000
CA Final ExamRs.22,000

चार्टर्ड एकाउंटेंट की सैलरी

चार्टर्ड एकाउंटेंट का काम कोई भी व्यवसाय, कंपनी, दुकान या बिजनेस का फाइनेंसियल मैनेजमेंट करना, बिजनेस की अकाउंटिंग करना, टैक्स प्लानिंग करना, बैंक ऑडिट करना इत्यादि से जुड़ा हुआ होता है। इसीलिए चार्टर्ड एकाउंटेंट अपने काम के अनुसार सैलरी लेता है।

CA सरकारी तथा प्राइवेट सेक्टर दोनों में ही काम कर सकता है। एक बार CA बनने के बाद उन्हें सरकारी नौकरी की कोई जरूरत नहीं होती है। यदि उन्हें सरकारी नौकरी ना लगे तो वह सरकारी नौकरी से भी ज्यादा पैसा प्राइवेट सेक्टर से ही कमा लेते हैं।

यदि हम बात करें CA के सैलरी की तो आमतौर पर CA बनने के बाद लगभग ₹70 हजार महीने के आसानी से कमाए जा सकते हैं। उसके बाद अपने अनुभव के साथ ही महीने के 3 से 4 लाख आसानी से चार्टर्ड एकाउंटेंट कमाता है।

CA बनने के बाद करियर

CA का मतलब चार्टर्ड एकाउंटेंट होता है, जो हर तरह के व्यापार और कंपनियों का फाइनेंशियल स्वरूप होते हैं। बड़ी-बड़ी कंपनियां और हर तरह के व्यापार को फाइनैंशल तरीके से मैनेज करते हैं, जिसमें टैक्स प्लानिंग करना, बैंक ऑडिट, फाइनेंसियल मैनेजमेंट इत्यादि शामिल है।

वर्तमान समय में बिजनेस इंडस्ट्रीज काफी ज्यादा बड़ी हो चुकी है, ऐसे में लोगों को CA की रिक्वायरमेंट रहती है। भारत में हर जगह CA की मांग लगी रहती है। इसीलिए बिना गवर्नमेंट नौकरी के ही प्राइवेट सेक्टर से चार्टर्ड एकाउंटेंट अच्छी कमाई कर लेते हैं। वर्तमान समय में चार्टर्ड एकाउंटेंट बनना एक अच्छा करियर हो सकता है।

FAQ

CA का फुल फॉर्म क्या है?

CA का फुल फॉर्म Chartered Accountant होता है।

CA कौन बन सकता है?

कोई भी व्यक्ति 12वीं पास करने के बाद CA बन सकता है। इसके लिए उन्हें कई तरह के कोर्स करने होते हैं।

CA क्या काम करता है?

चार्टर्ड एकाउंटेंट किसी भी बिजनेस और कंपनी को फाइनेंसर तरीके से मैनेज करता है। फाइनेंसियल मैनेजमेंट करता है, बैंक ऑडिट करता है, टैक्स प्लैनिंग करता है, बैलेंस शीट मेंटेनेंस रखता है।

CA की सैलेरी कितनी होती है?

प्राइवेट सेक्टर में CA की सैलरी कोई फिक्स नहीं होती है। वे आमतौर पर ₹70 हजार से लेकर 4-5 लाख तक हर महीने कमा सकते हैं।

निष्कर्ष

CA यानी चार्टर्ड एकाउंटेंट भारत में इस समय काफी ज्यादा प्रचलित हैं, क्योंकि भारत में इस समय अनेक सारे नए नए बिजनेस, स्टार्टअप स्टार्ट हो रहे हैं, जिसके चलते CA की डिमांड भी बढ़ गई है। CA बनना काफी आसान है।

इस आर्टिकल को शुरुआत से लेकर अंत तक पढ़ने के बाद आपको यह पता चल जाएगा कि चार्टर्ड एकाउंटेंट कैसे बनते हैं। हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा दी हुई है जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। यदि आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

यह भी पढ़े

कंप्यूटर एक्सपर्ट कैसे बने?, पूरी जानकारी

समीक्षा अधिकारी क्या होता है? (कार्य, योग्यता, उम्र, वेतन, कैसे बने)

वेब डेवलपर क्या है? (कार्य, प्रकार, योग्यता, सैलरी और कैसे बनें?)

बीडीसी (BDC) क्या है?, फुल फॉर्म, वेतन और कैसे बनें?

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here