भारत की सबसे लम्बी सुरंग कौन सी है?

नमस्कार दोस्तों, आज हम यहां पर “Bharat ki Sabse Lambi Surang Kaun si Hai” के बारे में जानने वाले हैं। यहां पर हम भारत की सबसे लंबी सड़क सुरंग और भारत की सबसे लंबी रेल सुरंग के बारे में जानने के साथ ही अन्य प्रसिद्ध सुरंगों के नाम और उनके बारे में जानेंगे, तो आप इस लेख के अंत तक बने रहे।

bharat ki sabse lambi surang kaun si hai

भारत की सबसे लंबी सुरंग कौन सी है?

भारत देश हमेशा से ही रिकॉर्ड बनाने में अव्वल आता रहा है, चाहे वो क्रिकेट के मैदान की बात हो या चाहे वो टनल यानि सुरंग की बात हो। देश में बहुत सारी सुरंगें है लेकिन कुछ ऐसी सुरंगें है जो दुनिया भर में प्रसिद्ध है। रेल और सड़क सुरंग के बाद हवा में भी सुरंगें बनाई जा रही है, जिसे हाइपरलूप कहते है।

भारत की सबसे लंबी सड़क सुरंग कौनसी है?

देश की जनता सबसे ज्यादा सड़कों से ही यात्रा करती है। एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने में सड़क का उपयोग बहुतायत में होता है। सबसे ऊँचाई वाले रास्तों में सुरंग बनाई जाती है, जिससे ऊपर से कोई प्रकृति हानि हो यानि पत्थर का गिरना हो तो किसी को कोई नुकसान ना पहुँचे। सब लोग सुरक्षित अपनी-अपनी जगह पहुँच सके।

भारत में ऐसी बहुत सी जगह है जहाँ यातायात का सुगम होना यानि सही तरीके से ट्रैफिक को कंट्रोल करना आसान नहीं होता है, उस जगह या तो ब्रिज बनाए गए है या पहाड़ों को काट कर सुरंग। देश के सिरमौर जम्मू और कश्मीर में भी सुरंग बनाई गयी है, जिससे श्रीनगर और कश्मीर के बीच का रास्ता कम से कम दूरी में तय हो सके।

भारत की सबसे लम्बी सड़क सुरंग डॉ॰ श्यामा प्रसाद मुखर्जी टनल है और सबसे ऊँची जगह बनाई गयी सबसे लम्बी सड़क सुरंग का नाम अटल टनल है।

अटल टनल

इस सुरंग को पहले रोहतांग टनल के नाम से जाना जाता था। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी के सम्मान में इस टनल को अटल टनल नाम दिया गया। यह टनल दुनिया की सबसे लम्बी टनल है, जो कि 10000 फीट की ऊँचाई पर बनाई गई है।

यह एक 2-लेन हाइवे टनल है, जो कि लेह-मनाली हाइवे को जोड़ती है। यह सुरंग रोहतांग दर्रे के पास बनाई गयी है। यह सुरंग 10 मीटर चौड़ी और 9.02 किमी लम्बी है। इसका निर्माण 28 जून 2010 को शुरू हुया था जो 3 अक्टूबर 2020 को ख़त्म हुया, यानि की इस सुरंग को बनने में 10 साल लग गए। इस सुरंग को बनाने से मनाली से लेह जाने में लगने वाले समय में बचत हुई है।

पहले ग्रांफू से होते हुये जाने में लगभग 5 से 6 घंटे लग जाते थे, लेकिन सुरंग बनने से अब केवल 2 घंटे लगते है। यह टनल घोड़े की नाल के आकार जैसी है। इसके अंदर 3000 कार और 1500 ट्रक आराम से आना जाना कर सकते है। इसको बनाने में लगभग 3200 करोड़ रुपये खर्च हुये है।

डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी टनल

दुनिया की सबसे लम्बी सड़क मार्ग वाली टनल का रिकॉर्ड इसी टनल के नाम पर है। जी हाँ, दुनिया की सबसे लम्बी सुरंग अपने ही देश में है। यह टनल चेनानी-नाशरी टनल से भी जानी जाती है। इसका एक और नाम पत्नीटॉप सुरंग भी है। यह देश की पहली पूर्ण रूप से एकीकृत सुरंग प्रणाली वाली सुरंग है।

जम्मू-कश्मीर के राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर बनी इस टनल का निर्माण 23 मई 2011 को शुरू हुआ और सन 2017 में निर्माण कार्य पूरा हुया। जनता के लिए 2 अप्रैल 2017 को उद्घाटन करके सुरंग को खोला गया। इस सुरंग को बनाना बहुत महत्वपूर्ण था क्योंकि सर्दियों में पत्नीटॉप पर हिमस्खलन और बर्फबारी के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर बाधा उत्पन्न होती थी तथा हर शीतकाल में कई बार वाहनों की लम्बी कतार लग जाती थी।

उसी कतार को कम करने के लिए इस सुरंग का निर्माण करवाया गया। इसकी सहायता से जम्मू और श्रीनगर के बीच की दूरी 30.11 किलोमीटर रह गयी जो केवल दो घंटे में पूरी की जा सकती है। इस सुरंग में 2-लेन है और इसकी लम्बाई 9.28 किमी है, इसको बनाने में कुल 3720 करोड़ रूपये खर्च किए गए है।

इस सुरंग में दो सुरंग है, मुख्य यातायात वाली टनल का व्यास 13 मीटर है और समानांतर टनल का व्यास 6 मीटर है। मुख्य व निकासी सुरंगों में 29 जगह पर पार मार्ग बनाये गये है जो प्रत्येक 300 मीटर की दूरी के बाद स्थित है।

इसके अलावा भी बहुत सारी टनल है, जिसको मैं यहाँ नीचे दिये गये टेबल में समझा रहा हूँ:

क्र. सं.सुरंग का नामसुरंग का दूसरा नामलम्बाईलेन संख्यासुरंग बनने की तारीखसुरंग खत्म होने की तारीखरूट
01जवाहर टनलबनिहाल टनल या बनिहाल पास2.85 किमी219541956बनिहाल-काज़ीगुंड
02बनिहाल काज़ीगुंड सड़क टनल        8.5 किमी42011निर्माणाधीनबनिहाल – काज़ीगुंड
03ज़ोजी ला टनल14.2 किमी215 अक्टूबर 2020निर्माणाधीनश्रीनगर – कारगिल

Read Also: भारत की सबसे बड़ी जनजाति कौन सी है?

भारत की सबसे लंबी रेलवे सुरंग कौन सी है?

सड़क मार्ग के बाद रेल मार्ग पर देश की जनता ज़्यादा भरोसा करती है और उससे अपनी यात्रा पूर्ण करते है। ज्यादा ऊँचाई वाले क्षेत्रों में ट्रेन चलाना और वहाँ तक ट्रेन ले जाना दिखने में असंभव काम है लेकिन भारतीय रेल्वे ने यह करके दिखाया है। जैसा आपने देखा है कि भारत की सबसे लम्बी सड़क टनल चेनानी-नाशरी टनल है, उसी तरह भारत की सबसे लम्बी रेल सुरंग का नाम पीर पंजाल रेल सुरंग है।

पीर पंजाल रेल सुरंग

इस सुरंग का दूसरा नाम बनिहाल रेल सुरंग भी है। इसकी लम्बाई 11.215 किमी लम्बी रेल सुरंग है, जो जम्मू-कश्मीर राज्य के बनिहाल के पीर पंजाल से निकलती है। सुरंग 8.40 मीटर चौड़ी और 7.39 मीटर ऊँची है। इस सुरंग में एक रेल पटरी के अलावा 3 मीटर की चौड़ी सड़क भी है, जब आवश्यकता पड़ने पर रेल पटरी की सुरक्षा की जाँच के लिए एवं सुरंग के भीतर आपातकालीन मदद पहुंचाने के लिए वाहन चलाया जा सकता है।

यह भारत की सबसे लम्बी रेल सुरंग और एशिया की चौथी सबसे लम्बी रेल सुरंग है। यह रेल सुरंग को पार करने में रेलगाड़ी को 9 मिनट 30 सैकंड लगते है। इस सुरंग में ब्रौडगेज की लाइन बिछी हुई है। यह रेल सुरंग 27 जून 2013 को पब्लिक के लिए खोल दिया था।

इनके अलावा भी बहुत सारी रेल सुरंगें है, जो कि निम्नलिखित है:

क्र. सं.रेल सुरंग का नामलम्बाईस्टेशन(से)स्टेशन(तक)खुलने की दिनाँक
01त्रिवेन्द्रम पोर्ट टनल9.020 किमीविज़्हिंजमबालरा2022
02सांगलदान टनल8 किमीसांगलदानकोहिल2020
03मालीगुड़ा टनल4.422 किमीजेयपोरेमालीगुड़ा1963

आशा करता हूँ कि आपको आज के इस “भारत की सबसे लंबी सुरंग के बारे में जानकारी (Bharat ki Sabse Lambi Surang Kaun si Hai)” लेख से सड़क और रेल सुरंग के बारे में जानने को मिला होगा। आप इस जानकारी को आगे शेयर जरूर करें और आपको यह जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here