बेसिक शिक्षा अधिकारी कैसे बने?

बेसिक शिक्षा अधिकारी कैसे बने? (Basic Shiksha Adhikari Kaise Bane): दोस्तों आप यदि एक स्टूडेंट है और चाहते हैं, कि मैं शिक्षा विभाग में जाऊं और शिक्षा प्रणाली को मजबूत और अच्छा बनाएं। तो आपके लिए बेसिक शिक्षा अधिकारी की नौकरी बहुत ही अच्छी रहेगी। आज के इस टॉपिक में हम जानेंगे कि बेसिक शिक्षा अधिकारी कैसे बने और इसके बनने के लिए क्या-क्या योग्यताएं होनी चाहिए।

आज के इस लेख में हम जानेंगे कि बेसिक शिक्षा अधिकारी कैसे बने (Basic Shiksha Adhikari Kaise Bane) और इसके अलावा बेसिक शिक्षा अधिकारी बनने के लिए क्या-क्या योग्यताएं होनी चाहिए, और शिक्षा अधिकारी को कितनी सैलरी मिलती है। इन सभी टॉपिक पर आपको इस आर्टिकल में विस्तृत जानकारी दी जाएगी।

Basic Shiksha Adhikari Kaise Bane
इमेज: Basic Shiksha Adhikari Kaise Bane

बेसिक शिक्षा अधिकारी कैसे बने? | Basic Shiksha Adhikari Kaise Bane

Basic Shiksha Adhikari Kaise Bane के बारे में बात करें, तो यह शिक्षा के पदों में सबसे ऊंचा पद होता है। इसके अलावा इस पद पर सबसे अधिक तनखा भी मिलती है। आप अपने जिले में रहकर उस जिले की शिक्षा व्यवस्था को काफी अच्छा कर सकते हैं। इसके अलावा समाज में आपको काफी ज्यादा सम्मान भी मिलता है।

इस पोस्ट पर रहकर आप अपने जिले की शिक्षा व्यवस्था को अच्छी व सुचारू रूप से चलवा सकते हैं। यदि आप शिक्षा व्यवस्था में कुछ कार्य करना चाहते हैं तो आपको बेसिक शिक्षा अधिकारी के पद के लिए तैयारी करनी चाहिए।

बेसिक शिक्षा अधिकारी क्या है?

इस पद के बारे में जानने के लिए आपको सबसे पहले यह पता होना चाहिए कि आखिर बेसिक शिक्षा अधिकारी क्या है और बेसिक शिक्षा अधिकारी के क्या-क्या काम होते हैं। सबसे महत्वपूर्ण जानकारी की बात करें, तो बेसिक शिक्षा अधिकारी की कौन-कौन सी जिम्मेदारियां होती हैं। साधारण शब्दों में बताएं तो बेसिक शिक्षा अधिकारी जिले के शिक्षा विभाग का सबसे बड़ा अधिकारी होता है। यह पूरे जिले के शिक्षा व्यवस्था का संचालन करता है।

जिले में होने वाले सभी शिक्षा व्यवस्था के कार्य बेसिक शिक्षा अधिकारी की देखरेख में ही संपन्न होते हैं। सबसे अधिक महत्पूर्ण काम परीक्षाओं को सही समय पर आयोजित करवाना है। आपको बता दें, कि बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्य बहुत ही जिम्मेदारी वाले होते हैं। उन्हें यह सुनिश्चित करना होता है कि जिले में जो भी शिक्षा के कार्य हो रहे हैं वह सही ढंग से होने चाहिए।

बेसिक शिक्षा अधिकारी का मुख्य कार्य भी होता है कि उसे उसके जिले में विद्यार्थी को किसी भी चीज की कमी महसूस ना हो इसके अलावा विद्यार्थी को शिक्षा के क्षेत्र में कोई बाधा उत्पन्न न हो इसके लिए बेसिक शिक्षा अधिकारी को इस चीज का विशेष ध्यान रखना होता है। शिक्षा अधिकारी अपने जिले के सभी प्राइमरी स्कूल की देखरेख और उस स्कूल में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को हर संभव सुविधा प्रदान करना, यह शिक्षा अधिकारी का विशेष कर्तव्य होता है।

बेसिक शिक्षा अधिकारी को यह अधिकार होता है कि वह किसी स्कूल में यदि कोई कमी या शिक्षा के क्षेत्र में कोई कमी आती है तो वह सीधे प्रशासन के खिलाफ कार्रवाई कर सकता है इसके अलावा उन्हें दंड भी दे सकता है। प्राइमरी स्कूल में दी जाने वाली सभी सुविधाओं को सबसे पहले बेसिक शिक्षा अधिकारी को जांच करनी होती है। जिले में शिक्षा व्यवस्था के सुधार में हर संभव प्रयास करना।

बेसिक शिक्षा अधिकारी बनने की योग्यताएं

  • बेसिक शिक्षा अधिकारी बनने के लिए सबसे पहले आपको किसी भी विषय से बारहवीं कक्षा में 60% से अधिक नंबर होना चाहिए।
  • बेसिक शिक्षा अधिकारी बनने के लिए आपके पास मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होना जरूरी है।
  • इसके अलावा कोई भी इंजीनियरिंग स्टूडेंट के अलावा फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी के विषय के स्टूडेंट भी बेसिक शिक्षा अधिकारी के पद के लिए आवेदन कर सकते है।

बेसिक शिक्षा अधिकारी के लिए उम्र सीमा क्या है?

बेसिक शिक्षा अधिकारी के पद के लिए आवेदन करने से पहले यह जान लेना चाहिए। कि इसमें उम्र सीमा क्या है? तो आपको बता दें, कि इसमें फॉर्म भरने के लिए आपकी कम से कम उम्र 20 वर्ष होनी चाहिए और अधिक उम्र की बात करें, तो 40 वर्ष के लोग ही इस फॉर्म को अप्लाई कर सकते हैं। आरक्षित वर्ग के लोगों के लिए आयु सीमा में कुछ छूट दे दी जाती है। इसके अलावा आपको राज्य लोक आयोग सेवा द्वारा होने वाली बेसिक शिक्षा अधिकारी के पद के लिए परीक्षा को भी पास करना होगा, तभी आप बेसिक शिक्षा अधिकारी बन सकते हैं।

बेसिक शिक्षा अधिकारी कैसे बने?

दोस्तों किसी भी चीज की तैयारी करने से पहले आपको उसके बारे में सही तरह से पता होनी चाहिए, क्योंकि अगर आप सिर्फ मेहनत ही करते रहेंगे और उसके बारे में आपको पूर्ण रूप से कुछ भी जानकारी नहीं होगी। तब तक आप अपने लक्ष्य को नहीं पा सकते। इस लेख में हम आपको बेसिक शिक्षा अधिकारी से संबंधित सभी महत्वपूर्ण बिंदु के बारे में बताएंगे।

शिक्षा अधिकारी बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण बिंदु यह है कि आपको 12वीं क्लास में कम से कम 60% से अधिक नंबर लाने होंगे। 12वीं पास करने के बाद आपको ग्रेजुएशन भी पास करना होगा। इसके बाद आपको फॉर्म अप्लाई करना होगा। बिना फॉर्म अप्लाई किए आप परीक्षा नहीं दे सकते।

बेसिक शिक्षा अधिकारी पद के लिए राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षा को आयोजित करवाता है। यह परीक्षा प्रत्येक साल आयोजित की जाती है। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको राज्य लोक आयोग सेवा की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। राज्य लोक आयोग सेवा इस परीक्षा को तीन चरणों में आयोजित करती है। जो इन तीन चरणों को पास कर लेता है वही बेसिक शिक्षा अधिकारी बन जाता है।

बेसिक शिक्षा अधिकारी का एक्जाम पैटर्न

वे शिक्षा अधिकारी के परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की जाती है। इसके लिए सिलेबस को भी अलग-अलग सुनिश्चित किया गया है। आइए जानते हैं कि कौन-कौन सी स्टेज में क्या-क्या होता है।

  1. प्रारंभिक परीक्षा (प्रथम चरण)
  2. मैंन एग्जाम (दूसरा चरण)
  3. इन्टरव्यू (तीसरा चरण)

प्रारंभिक परीक्षा (प्रथम चरण)

प्रथम चरण के परीक्षा को प्रारंभिक परीक्षा भी कहते हैं यह परीक्षा हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में होती है परीक्षा में अभ्यर्थी को 2 घंटे का समय दिया जाता है, जिसमें कैंडिडेट को 300 प्रश्नों के उत्तर देने होते हैं।

इस परीक्षा में आपको नेगेटिव मार्किंग भी होती है। यानी आपने किसी प्रश्न का उत्तर गलत दे दिया है तो इसके बदले में आप के अंक काट दिए जाते हैं। इस परीक्षा में सभी प्रश्न ऑब्जेक्टिव होते हैं। यानी कि एक प्रश्न के चार उत्तर दिए जाएंगे आपको जो भी उत्तर सही लगे उसमें टिक कर दे।

परीक्षा में कौन-कौन से सब्जेक्ट से क्वेश्चन आते हैं तो आपको बता दें। इसमें जनरल साइंस, हिस्ट्री, ज्योग्राफी, Indian National Movement एग्रीकल्चर कॉमर्स और हिस्ट्री से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।

मैंन एग्जाम (दूसरा चरण)

दूसरे चरण में होने वाली परीक्षा को मेंस एग्जाम के नाम से जाना जाता है। यह परीक्षा 3 घंटे की होती है जिसमें से 400 प्रश्नों के उत्तर देने होते हैं इसके अलावा गलत उत्तर देने पर आपके कुछ अंक काट लिए जाते हैं। परीक्षा में ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन पूछे जाते हैं तथा ऐसे essay राइटिंग से संबंधित भी कुछ सवाल किए जाते हैं।

बेसिक शिक्षा अधिकारी की परीक्षा के दूसरे चरण में आप से जनरल साइंस और सामान्य ज्ञान के ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में पूछे जाते है।

इसके अलावा भारतीय इतिहास और भारतीय राजनीति भूगोल से सम्बन्धित प्रश्न भी पूछे जाते है। इसके अलावा इसमें भूगोल फिजिक्स agriculture horticulture के अलावा और भी कुछ विषयों से क्वेश्चन पूछे जाते है।

इन्टरव्यू (तीसरा चरण)

प्रथम दो चरणों को पास करने वाले अभ्यर्थियों को ही तीसरे चरण में जाने का मौका मिलता है। तीसरे चरण में अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के दौर से गुजर ना होता है जो भी व्यक्ति इंटरव्यू में पूछे गए सभी सवालों के जवाब का उत्तर अच्छी प्रकार से दे देता है वह बेसिक शिक्षा अधिकारी के पद पर ज्वाइन हो जाता है।

इंटरव्यू में आपसे शिक्षा से संबंधित कुछ प्रश्नों के बारे में जानकारी ली जाती है। इसके अलावा आपको जनरल साइंस और हिस्ट्री के बारे में भी पता होना चाहिए। क्योंकि कुछ एक क्वेश्चन इससे भी मिलाकर इंटरव्यू में पूछ लेते हैं तो आपको हर प्रकार के सवालों से तैयार रहना होगा।

बेसिक शिक्षा अधिकारी की सैलरी

जैसा आपको पहले ही बताया जा चुका है कि सरकारी नौकरी में तनख्वाह अच्छी मिलती है, लेकिन यह भी निर्भर करता है कि आप किस पद पर हैं। अगर बेसिक शिक्षा अधिकारी की सैलरी की बात करी जाए तो यह 9300 रुपए से लेकर 34800 रुपए तक हर महीने मिलती है। इसके अलावा बेसिक शिक्षा अधिकारी को प्रतिमाह ग्रेड पे के तौर पर 5400 हर महीने दिए जाते हैं। जिन राज्यों में सातवां वेतन लागू हो चुका है वहां पर बेसिक शिक्षा अधिकारी की सैलरी भी अधिक होगी।

बेसिक शिक्षा अधिकारी से सम्बंधित कुछ सवाल

बेसिक शिक्षा अधिकारी की परीक्षा कितने चरणों में होती है?

Basic शिक्षा अधिकारी की परीक्षा कितने चरणों में होती है।

Basic शिक्षा अधिकारी के लिए जरुरी न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता क्या है?

बेसिक शिक्षा अधिकारी के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता के रूप में 12वीं कक्षा में 60% अंक होना जरुरी है।

Basic Shiksha Adhikari को कितनी सैलरी मिलती है?

इस पद पर काम करने वाले व्यक्ति तो 9300 से 34800 रूपये प्रति महिना बेसिक सैलरी मिलती है।

Basic Shiksha Adhikari को ग्रेड पे कितना मिलता है?

बेसिक शिक्षा अधिकारी को 5400 रूपये प्रति महिना ग्रेड पे मिलता है।

Basic Shiksha Adhikari एग्जाम का स्लेबस क्या होता है?

सरकार द्वारा जारी की गयी सूचना में बेसिक शिक्षा अधिकारी के एग्जाम में जनरल साइंस, हिस्ट्री, ज्योग्राफी, Indian National Movement, एग्रीकल्चर कॉमर्स और हिस्ट्री इत्यादी विषयों से समबंधित सवालो के बारे में प्रश्न पूछे जाते है।

बेसिक शिक्षा अधिकारी के लिए न्यूनतम उम्र सीमा क्या है?

बेसिक शिक्षा अधिकारी के लिए न्यूनतम उम्र सीमा के रूप में व्यक्ति की उम्र 20 वर्ष निर्धारित की गयी है।

Conclusion

दोस्तों मैंने इस आर्टिकल में आपको बेसिक शिक्षा अधिकारी क्या है? बेसिक शिक्षा अधिकारी कैसे बने?(Basic Shiksha Adhikari Kaise Bane), बेसिक शिक्षा अधिकारी की परीक्षा कितने चरणों में होती है। इसके बारे में संपूर्ण जानकारी दी है। इसके अलावा परीक्षा में कौन सी विषयों से सवाल पूछे जाते हैं और परीक्षा का पैटर्न क्या होता है। इसका उत्तर इस लेख में भली-भांति दिया गया है।

इसके अलावा बेसिक शिक्षा अधिकारी की कितनी सैलरी होती है। उस बिंदु के बारे में भी इस आर्टिकल में विस्तार से उल्लेख किया गया है। इसलिए दोस्तों मुझे उम्मीद है, कि यह लेख आपको बहुत पसंद आया होगा यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आए, तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

यह भी पढ़े:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here