सुकन्या समृद्धि योजना की संपूर्ण जानकारी

Sukanya Samriddhi Yojana विशेषकर बालिकाओं के कल्याण के लिए ही बनाया गया जैसा कि इसके नाम से ही स्पष्ट हो जाता है। इस योजना को वित्त मंत्रालय द्वारा पेश किया गया था और भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 22 जनवरी 2015 को ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान के एक भाग के रूप में इस योजना का शुभारंभ किया।

इस योजना का शुभारंभ हरियाणा राज्य में एक आयोजन में किया गया। ऐसा इसलिए क्योंकि हरियाणा राज्य में भ्रूण हत्या जैसे मामले अपनी चरम सीमा पर थे। इस योजना के उद्देश्य से सरकार भ्रूण हत्या जैसे मामलों में गिरावट लाने का प्रयास करना चाहती है और देश की बेटियों को एक उज्जवल भविष्य की कामना भी करती है।

Sukanya Samriddhi Yojana
Sukanya Samriddhi Yojana 2020

इस योजना के माध्यम से बालिकाओं के उच्च शिक्षा और विवाह आदि जैसे सपने को पूरा करने के लिए यह वित्तीय स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए योजना को आरंभ किया गया। इसके अतिरिक्त यहां आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 सी के तहत कर लाभ भी प्रदान करती है। आइए जानते हैं कि सुकन्या समृद्धि योजना की जानकारी किस प्रकार है।

Read Also

विषय सूची

सुकन्या समृद्धि योजना की जानकारी – Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

सुकन्या समृद्धि योजना क्या है?

यह एक ऐसी योजना है जो गरीब दंपतियों के घर में बेटियों ने जन्म लिया है और वह उनके सपने को साकार नहीं कर सकते हैं तो इस परिस्थिति में आयोजन के लिए लाभकारी सिद्ध होगी। इस Sukanya Samriddhi Yojana 2020 के माध्यम से एक छोटा निवेश करके लाभार्थी अपने बेटियों के सपने को साकार कर सकते हैं और उनके विवाह आदि में आने वाली जैसी समस्याओं से भी मुक्त हो सकते हैं। जिस भी दंपत्ति के घर में 10 वर्ष से कम बेटियां मौजूद हैं, उनके लिए यह योजना बहुत ही लाभकारी है।

सुकन्या समृद्धि योजना की कुछ प्रमुख विशेषताएं?

PM Kanya Yojana की कुछ प्रमुख विशेषताओं पर एक नजर डालते हैं:

  • इस योजना के तहत बालिकाओं के माता-पिता या कांगनी अभिभावकों को माता-पिता की अनुपस्थिति में खाता खोलने के लिए अधिकृत अनुमति देती है।
  • बालिका के माता पिता को यदि 2 कन्याएं हैं तो वह सुकन्या समृद्धि योजना के तहत एक साथ दो खाते चला सकता है। यदि माता-पिता की तीन कन्याए हैं, जिसमें से दो जुड़वा हैं तो इस परिस्थिति में अधिकतम 3 खाते रखने की अनुमति योजना प्रदान करती है।
  • कन्या समृद्धि योजना के वार्षिक अधिकतम जमा राशि ₹150000 है और वहीं पर न्यूनतम यह राशि ₹250 रखी गई है। इससे यह योजना का लाभ हर एक जरूरतमंद को प्राप्त हो सके।
  • वित्तीय वर्ष 2018-19 के अनुसार मौजूदा ब्याज दर 8.5% है।
  • यदि खाताधारक की असामयिक मृत्यु हो जाती है तो बालिका के माता-पिता या कानूनी अभिभावक समय से पहले खाते को बंद कर सकते हैं।
  • Sukanya Samriddhi Yojana के खाते को निष्क्रियता से बचाने के लिए कम से कम प्रतिवर्ष ₹250 की न्यूनतम धनराशि को जमा करना अनिवार्य।
  • खाताधारक बालिका 18 वर्ष की उम्र तक पहुंचने के बाद संचित धन राशि में से 50% धनराशि को निकाल सकती है।
  • खाताधारक बालिका की उम्र यदि किस वर्ष की हो जाती है तो वह संपूर्ण संचित धन को अपने विवाह के लिए निकाल सकती है।
  • योजना का परिपक्वता होने के बाद उपार्जित ब्याज का भुगतान किया जाता है।

सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ?

SSY 2020 के अंतर्गत बालिका के माता-पिता या कानूनी अभिभावक इस योजना का लाभ उठाकर अपनी बेटियों की महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने में सक्षम हो जाते हैं। इस सुकन्या समृद्धि योजना 2020 का क्या लाभ है कुछ इस प्रकार निम्नलिखित वर्णित है।

ब्याज की उच्च दर

Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2018-19 में लाभार्थियों को 8.5% का ब्याज वितरित किया गया था। प्रतिवर्ष हर तिमाही में ब्याज दर को संशोधित किया जाता है। इस योजना की ब्याज दर अन्य योजनाओं की तुलना में सबसे अधिक है।

कर में लाभ

इस योजना के अंतर्गत आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 सी के तहत लाभ प्रदान किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को ₹150000 तक जमा राशि में कर में मुक्ति प्रदान की गई है। परिपक्वता होने पर मिलने वाले राशि में भी कर मुक्ति का प्रावधान है।

परिपक्वता लाभ

योजना के परिपक्व होने पर उसका लाभ एवं उस पर मिलने वाले ब्याज की धनराशि को सीधे-सीधे बालिका को प्रदान किया जाता है। इस योजना के माध्यम से सरकार बालिकाओं के महत्वपूर्ण और उनकी वित्तीय स्वतंत्रता को प्रदान करने का उद्देश्य रखी है।

समयपूर्व /आंशिक निकासी में लाभ

बालिका लाभार्थी को योजना का संपूर्ण लाभ उसके 21 वर्ष होने के उपरांत प्रदान किया जाता है। योजना के अंतर्गत जमा करने की अवधि योजना की शुरुआत से लेकर उसके 14 वर्ष होने तक निरंतरता से निर्धारित किस्त को जमा करना होता है। जब बालिका 18 वर्ष की हो जाती है तब वह योजना की धनराशि में से 50% का धनराशि अपनी उच्च शिक्षा को ग्रहण करने के लिए निकाल सकती है।

Read Also

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत किस प्रकार का ब्याज दर प्रदान किया जाता है?

सुकन्या समृद्धि योजना 2020 पर मिलने वाला ब्याज सरकार प्रतिवर्ष तिमाही महीने में संशोधित करती रहती है। इस योजना में बालिकाओं के लिए दी जाने वाली ऐतिहासिक ब्याज दरों की सूची (Sukanya Samriddhi Interest Rate) इस प्रकार है।

महीनेब्याज दर (%)
जनवरी से मार्च 2019 तक8.5
अक्टूबर से दिसंबर 20188.5
जुलाई से सितंबर 20188.1
अप्रैल से जून 20188.1
जनवरी से मार्च 20188.1
अक्टूबर से दिसंबर 20178.3
जुलाई से सितंबर 20178.3
अप्रैल से जून 20178.4
सुकन्या समृद्धि योजना चार्ट (sukanya samriddhi yojana interest rate)

सुकन्या समृद्धि योजना की पात्रता?

विशेषपात्रता
प्रवेश आयुजन्म से
अधिकतम प्रवेश आयु10 साल
प्रति वर्ष जमा की न्यूनतम सीमाINR 1000
प्रति वर्ष जमा की अधिकतम सीमाINR 1.5 लाख
वापसी की उम्रअठारह वर्ष
खाते की परिपक्वता अवधि21 साल
भुगतान का प्रकारचेक, कैश, डीडी या ऑनलाइन

सुकन्या समृद्धि योजना में आवेदन करने के लिए बालिका का क्या पात्रता होता है?

Sukanya Samriddhi Yojana Scheme के लिए कुछ बालिकाओं के लिए भी पात्रता मापदंड रखा गया है जो इस प्रकार पूरा करना आवश्यक है।

  • केवल बालिका ही सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत खाता खुलवाने के लिए योग्य होती है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना (PM Kanya Yojana 2020) के अंतर्गत खाता खुलवाने के लिए बालिका की उम्र 10 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।हालांकि इसके अतिरिक्त 1 वर्ष की छूट अवधि की अनुमति है।
  • आवेदन करते समय लाभार्थी की उम्र का पता लगाने के लिए जन्म प्रमाण पत्र जमा करना आवश्यक है।

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए माता-पिता के लिए क्या योग्यता निश्चित की गई है?

Sukanya Samriddhi योजना के आवेदन के लिए माता-पिता या कानूनी अभिभावकों के लिए कुछ पात्रता मापदंड को रखा गया है जो इस प्रकार है।

  • बालिका के माता-पिता या फिर कानूनी अभिभावक ही इस Sukanya Yojana Scheme के अंतर्गत अपने बालिका का खाता खोलने के लिए सक्षम होता है।
  • इस योजना के अंतर्गत माता-पिता या फिर कानूनी अभिभावक अधिकतम दो खाता खोल सकते हैं। जुड़वा और 3 बालिकाओं के मामले में अभिभावक या कानूनी अभिभावक योजना के अंतर्गत तीन खाते खोलने के लिए सक्षम होते हैं।

Read Also

सुकन्या समृद्धि योजना का खाता कैसे खोलें?

Sukanya Samriddhi Account खुलवाना बहुत ही सरल है। इसके लिए बस आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस में सुकन्या समृद्धि योजना या फिर 28 राष्ट्रीय कृत बैंकों में जाकर सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खुलवाया जा सकता है। सुकन्या समृद्धि योजना documents को लेकर जाएं और फिर वहां पर योजना के लिए Sukanya Samriddhi Yojana Form को प्राप्त कर के फॉर्म को जमा करें और फिर आपका खाता Sukanya Samriddhi Scheme के अंतर्गत खोल दिया जाता है।

सुकन्या समृद्धि खाते का लेखा-जोखा किस प्रकार से रखा जा सकता है?

Sukanya Scheme के अंतर्गत खाता खोलने के बाद आपको इस योजना के माध्यम से मिलने वाले सभी लेखा-जोखा का विवरण रखने के लिए एक पासबुक प्रदान की जाती है। यदि यह पासबुक हो जाती है तो इस परिस्थिति में आपको ₹50 का शुल्क जमा करके नया पासबुक प्रदान किया जाता है।

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत जमा राशि की पूछताछ कैसे की जा सकती है?

इस Sukanya Samriddhi Yojana Hindi से संबंधित जमा राशि की पूछताछ आप संबंधित बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस में जाकर अपने पासबुक को अपडेट करवा कर पता कर सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत कौन कौन-सी राष्ट्रीय कृत बैंक खाता खोलने की अनुमति देती हैं?

निम्नलिखित बैंकों का विवरण है जो सरकार द्वारा सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के लिए अधिकृत किए गए हैं।

भारतीय स्टेट बैंक (SBI)स्टेट बैंक ऑफ मैसूर (SBM)स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद (SBH)स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर (SBT)
स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर (SBBJ)स्टेट बैंक ऑफ पटियाला (SBP)विजय बंकयूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया
यूनियन बैंक ऑफ इंडियायूको बैंकसिंडीकेट बैंकपंजाब नेशनल बैंक (PNB)
पंजाब एंड सिंध बैंक (PSB)ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC)इंडियन ओवरसीज बैंक (IOB)भारतीय बैंक
आईडीबीआई बैंकआईसीआईसीआई बैंकदेना बैंककॉर्पोरेशन बैंक
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (CBI)केनरा बैंकबैंक ऑफ महाराष्ट्र (BOM)बैंक ऑफ इंडिया (BOI)
बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB)ऐक्सिस बैंकआंध्रा बैंकइलाहाबाद बैंक

सुकन्या समृद्धि योजना की समीक्षा?

Pradhanmantri Sukanya Yojna (सुकन्या योजना) भारत सरकार द्वारा बालिकाओं के सशक्तिकरण के लिए एक बड़ी पहल शुरू की गई है। यह माता-पिता और अभिभावकों को लड़की के उज्जवल भविष्य, विकास और उनके उच्च स्तरीय शिक्षा को पूरा करने में यह योजना यह योजना जरूरतमंदों को सहायता प्रदान करती है।

इस योजना की प्रमुख एवं महत्वपूर्ण बात यह है कि यह बहुत ही न्यूनतम धनराशि पर शुरू की जा सकती है और अन्य योजनाओं के मुकाबले इस पर अच्छा रिटर्न्स भी लोगों को प्राप्त होता है। इस योजना के माध्यम से आप अपने कन्याओं को एक अच्छा भविष्य प्रदान कर सकते हैं। आज के समय में महिलाएं समाज और देश के भविष्य को बनाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इस योजना के अंतर्गत निवेश करना बहुत ही लाभकारी और सुरक्षित है।

यहां एक विडियो उपलब्ध किया है जिससे आपको इस योजना के बारे में जानने में आसानी होगा:

Read Also

इस लेख में सुकन्या समृद्धि योजना की जानकारी शेयर की है। यदि इससे जुड़ा कोई सवाल हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर पूछें।

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here