सब्जा सीड्स के फायदे, उपयोग और नुकसान

सब्जा के बीज आपके भोजन में एक अद्भुत स्वाद को जोड़ते हैं। सब्जा के बीज का उपयोग ना केवल खाने के लिए किया जाता है, बल्कि इसका तासीर ठंडा होने के कारण ठंडे सर्वतो में, फालूदा वाले मीठे ठंडे शरबतों में भी सब्जा के बीज का उपयोग किया जाता है।

सब्जा के बीज बहुत ही आसानी से उगाए जाते हैं और इसमें इतनी सारी विटामिन और मिनरल होती है कि डॉक्टर भी इसका सेवन करने का सलाह देते हैं। दुनिया भर में मशहूर सब्जा का बीज जोकि सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है और लोग अपने दैनिक जीवन में दैनिक आहार के रूप में सब्जा का बीज का प्रयोग कर रहे हैं।

Sabja Seeds Ke Fyade Aur Nuksan

तो आज के इस पोस्ट में हम स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद सब्जा के बीज की पूरी जानकारी आपके साथ साझा करेंगे। साथ ही साथ यह जानेंगे कि सब्जा के बीज का उपयोग और यह कहां से आया है? और क्यों हमारे लिए इतना फायदेमंद है? और विशेष रूप से इसे किस व्यक्ति को सेवन करना चाहिए और किस व्यक्ति को सेवन नहीं करना चाहिए। इन सभी बातों की जानकारी आज की इस पोस्ट में दी जाएगी।

सब्जा सीड्स के फायदे, उपयोग और नुकसान

सब्जा के बीज क्या होते हैं?

सब्जा के बीज को दूसरे शब्दों में, तुलसी के बीज भी कही जाती है क्योंकि यह तुलसी के पौधे के एक प्रजाति से मिलती है इसलिए इसे स्वीट बेसिल अर्थात तुलसी का बीज कहा जाता है।

भारतीय घरों में पूजा की जाने वाली तुलसी की पूजा जो हम करते हैं यह वह तुलसी से अलग किस्म की तुलसी होती है, क्योंकि जिस तुलसी की हम पूजा करते हैं उससे होली बेसिल कहा जाता है और सब्जा के बीज वाली तुलसी बीज को स्वीट बेसिल कहा जाता है।

सब्जा के बीज मुख्य तौर पर भारत देश में और एशियाई देशों में उगाए जाते हैं। सब्जा के बीज में प्रोटीन आवश्यक वसा, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, प्रोटीन यह सारी चीजें भरपूर मात्रा में पाई जाती है और सबसे खास बात यह है कि कि सब्जा के बीच में कैलोरी नहीं होती।

सब्जा के बीज का उपयोग के तरीके

सब्जा के बीज छोटे छोटे काले तिल की तरह दिखते हैं, लेकिन यह बहुत ही सख्त होते हैं। इसीलिए इसे सबसे पहले पानी में 10 से 15 मिनट तक भिगोया जाता है। जिसके बाद सब्जा के बीज मुलायम हो जाते हैं।

इसे हम जैसे मर्जी वैसे यूज कर सकते हैं। जैसे कि, सब्जा के बीज को अपने सुबह-सुबह के जो ड्रिंक्स होते हैं, उसमें मिला सकते हैं। आइसक्रीम में मिला सकते हैं, ठंडाई में मिला सकते हैं, मिठाई में भी सब्जा के बीज को मिलाकर खा सकते हैं।

सब्जा के बीज मीठी रेसिपी में डालने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि सब्जा के बीज मीठे लगते हैं और साथ ही साथ आपके मीठी सर्वतो और मिठाइयों को स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ उसमें स्वास्थ्य के लिए भी आयुर्वेदिक औषधि की तरह बना देता है।

सब्जा के बीज में पौष्टिक गुणों का खजाना होता है और यह हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है, इसीलिए हमें इसका इस्तेमाल करना चाहिए।

सब्जा के बीज के फायदे

सब्जा के बीज में बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं और इसके फायदे भी अत्यधिक होते हैं। जिनमें से हम कुछ लाभों के बारे में आज के इस पोस्ट में चर्चा करेंगे। सब्जा के बीज में उच्च पौष्टिक गुणवत्ता होती है।

  • सब्जा के बीज का मुख्य रूप से उपयोग वजन घटाने में किया जाता है। सब्जा के बीज में फाइबर पाया जाता है, अल्फा लिनोलेनिक एसिड भरपूर मात्रा में होती है और इसमें प्रोटीन होती है और कैलोरी नहीं होती है। जिस कारण यह वजन घटाने के लिए जिस पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है, यह उस में भरपूर मात्रा में पाई जाती है। इन में भरपूर मात्रा में फाइबर होती है जिससे कि व्यक्ति को काफी कम भूख लगती है और वह हल्दी तरीके से अपने वजन को घटा सकते हैं और साथ ही साथ सब्जा के बीच एक प्राकृतिक बीज है, जिससे कि व्यक्ति को कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होती है।
  • सब्जा के बीज से शरीर के हानिकारक विषैले पदार्थों को बाहर निकाला जाता है। जिससे कि शरीर की शारीरिक क्षमता में वृद्धि होती है। हमारे शरीर में जो भी हानिकारक विषैले पदार्थ होते हैं, वे सभी बाहर निकल जाते हैं। सब्जा के बीज में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की भी गुण पाई जाती है और यह किडनी, ब्लड योनि के इन्फेक्शन को भी ठीक करने में काफी मददगार साबित होता है।
  • सब्जा के बीज उपयोग करके पेट की जलन, एसिडिटी को शांत किया जाता है। तब जाकर के पेट में आ रही दिक्कतों को शांत करता है। सब्जा के बीज स्किन प्रॉब्लम से परेशान व्यक्तियों को भी काफी लाभ पहुंचाता है।
  • सब्जा के बीज का उपयोग करके ब्लड शुगर के लेवल को भी कम या नियंत्रित किया जा सकता है। सब्जा के बीज से हमारे शरीर में मेटाबॉलिज्म को धीरे गति कर देती है। जिस वजह से कागज को ग्लूकोस में बदलने में कम समय लगता है या उसे नियंत्रित किया जाता है, जिसका टाइप II मधुमेह हो उन रोगियों के लिए सब्जा के बीज औषधीय के समान है।
  • सब्जा के बीज से कब्ज और सूजन में राहत मिलती है। सब्जा के बीज में फाइबर अत्यधिक मात्रा में होती है। जिसके कारण व्यक्ति का पाचन क्रिया बहुत ही अच्छे से कार्य करता है और उसका मल त्याग आराम से होता है और उसके शरीर में स्वाभाविक रूप से जो डिटॉक्सिफाई होती है, वे सभी निकल जाती है। इसमें एक वाष्पशील तेल होता है। जो आपके गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट से गैस को दूर करने में मदद करता है और इस प्रकार सब्जा के बीज किसी भी व्यक्ति को पेट को अच्छी तरह से साफ करने का कार्य करता है।
  • सब्जा के बीज का एसिडिटी और पेट में जलन में काफी सहायता करता है। सब्जा के बीज शरीर में जाकर एचसीएल के अम्लीय प्रभाव को कम करता है, नियंत्रित करता है। जिससे कि एसिडिटी और पेट की जलन में राहत मिलती है इसलिए कि सब्जा के बीज को पानी में भिगोकर और किसी भी पेय पदार्थ के साथ सेवन किया जाता है। जिससे कि पानी की मात्रा पेट की परत को शांत करती है और पेट में हो रहे जलन को भी कम करती है, इसीलिए सब्जा के बीज एसिडिटी और पेट की जलन में काफी सहायता देती है।
  • सब्जा के बीज त्वचा और बालों के लिए बेहद फायदेमंद है। सब्जा के बीज को नारियल के तेल में मिलाकर त्वचा में लगाया जाए, जहां पर त्वचा रोग जैसे कि, एग्जिमा, सोरायसिस जैसी बीमारी है वहां पर इस लेप को लगाने से तुरंत ही राहत मिलती है।सब्जा के बीज को रोज नियमित रूप से प्रयोग करने पर आपके शरीर में कोलेजन दूर करने में आपकी मदद करती है। जिससे कि आपके शरीर में नई कोशिका का निर्माण होने में काफी लाभ मिलता है।
  • सब्जा के बीज में आयरन विटामिन के प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाई जाती है।= जिससे कि सब्जा के बीज किसी भी व्यक्ति के स्वस्थ बालों को बनाए रखने में काफी फायदेमंद साबित होती है। जो लोग लंबे और मजबूत बाल चाहते हैं और साथ ही साथ चाहते हैं कि उन्हें एंटीऑक्सीडेंट गुण उसकी त्वचा और बालों में पाया जाए तो वह रोज ही सब्जा के बीज का उपयोग करके अपनी त्वचा और अपने बालों को काफी सुंदर मुलायम और जवान रख सकते हैं।
  • सब्जा के बीज का उपयोग करके आप सर्दी और खांसी जैसे समय में भी खुद को ठीक कर सकते हैं। सब्जा के बीज में एंटीस्पास्मोडिकपा गुण पाया जाता है। सब्जा के बीज मांसपेशियों को भी शांत करता है, उन्हें राहत देता है। एंटीस्पास्मोडिकपा गुण काली खांसी को नियंत्रित करने में मदद करती है और शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में सब्जा के बीज काफी सहायता करती है। इसीलिए सब्जा के बीज खांसी और सर्दी को ठीक करने में आपकी मदद कर सकती है।
  • सब्जा का बीज खनिजों का एक पावर हाउस है। सब्जा के बीज में आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम का एक समृद्ध स्रोत पाया जाता है। जिससे कि आपकी मांसपेशियां हड्डियों की मजबूती के लिए कैल्शियम और मैग्नीशियम की आवश्यकता होती है। आयरन को शरीर में बनाए रखने के लिए हीमोग्लोबिन के स्तर को बनाए रखना होता है। जिससे कि रक्त में ऑक्सीजन का प्रवाह होता रहे। जिसके लिए आयरन एक आवश्यक प्रोटीन है, साथ ही साथ शरीर को एक्टिव रखने के लिए, हमें इन सारे खनिजों की आवश्यकता होती है, क्योंकि हमारे शरीर का पावर हाउस है और यह सारी चीजें हमें सब्जा के बीज से मिलती है।
  • हृदय रोगियों के जोखिम को कम करने में सब्जा के बीज बेहद फायदेमंद होते हैं। सब्जा के बीज में ओमेगा, अल्फा लिनोलेनिक एसिड, वसा और भी बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं। जोकि लिपिड, रक्तचाप, हृदय में संवहनी कार्य ईकोसैनोइडस, जमावट और प्रतिरक्षात्मक जैसी क्रियाओं में काफी प्रभावशील होते हैं, इस प्रकार के वह कोरोनरी हृदय रोग, उच्च रक्तचाप और स्ट्रोक जैसे जटिल बीमारियों के जोखिम को कम करने में सब्जा के बीज काफी फायदेमंद होती है।
  • शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में सब्जा के बीज सहायक हैं। सब्जा के बीज में मौजूद पेक्टिन एक प्रकार का घुलनशील फाइबर होता है, जो हमारे शरीर के कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में काफी महत्व पूर्ण है, इसलिए यह हमारे शरीर के अंदर जाकर आंत में कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को रोकता है।
  • तनाव और चिंता को कम करने के लिए सब्जा के बीज सहायक होते हैं। सब्जा के बीज शरीर के साथ-साथ दिमाग पर भी अपना प्रभाव डालता है। यह न केवल शरीर के तापमान को कम करता है बल्कि दिमाग के भी तापमान को कम करता है। जिससे कि व्यक्ति तनाव चिंता जैसे बीमारियों से दूर होता है और खुद को खुश महसूस करता है।
  • सब्जा के बीज में एंटी ऑक्सीडेंट होती है और टैनिन टेरपेनोइडस, फ्लेवोनोइडस भरपूर होती है जो कि हमारे याद रखने की क्षमता को बढ़ाती है। जैसे कि हमारे मन में जो तनाव आता है वह कम हो जाता है।
  • सब्जा के बीज उपयोग करके शरीर की गर्मी को कम किया जाता है। सब्जा का बीच एक रूप से शीतल पदार्थ है, जो कि आपको चिलचिलाती गर्मी को भी कम करने में आपकी मदद करती है। यह आपकी शरीर की गर्मी को कम करने के लिए और खास करके आपके पेट को शांत रखने के लिए दैनिक रूप से उपयोग किए जाने वाला पेय पदार्थ है।
  • सूजन को कम करने के लिए सब्जा का उपयोग किया जाता है। सब्जा के बीज में एक एंटीऑक्सीडेंट गुण अच्छी तरह से कार्य करता है। जो कि किसी भी प्रकार के दर्द सूजन में राहत देने में मदद करती है और कुछ आयुर्वेदिक दवाइयों में जैसे कि गठिया के रोगों में भी सूजन को कम करने के लिए सब्जा के बीज का उपयोग किया जाता है।
  • सब्जा का उपयोग करके रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जाता है। सब्जा के बीज में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो कि शरीर में प्रतिरक्षा बढ़ाने के लिए काफी महत्वपूर्ण है और जो प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण और उपयोगी पोषक तत्व सब्जा के बीज में पाए जाते हैं।

सब्जा के बीज का उपयोग

सब्जा के बीज में प्रोटीन, फाइबर, विटामिन ए, विटामिन के, कार्बोहाइड्रेट, ओमेगा 3 फैटी एसिड पाए जाते हैं और सब्जा के बीज का तासीर काफी ठंडा होता है। इसलिए इसे गर्मियों में ठंडी ड्रिंक फालूदा बनाने में सब्जा का उपयोग किया जाता है।

सब्जा के बीज का उपयोग करके आप कई तरह की परेशानी दिमागी टेंशन, डिप्रेशन, दिमागी थकान, माइग्रेन जैसी बीमारियों से दूर हो सकते हैं और जिनका मूड हमेशा खराब रहता है, उनके लिए भी सब्जी का बीज बहुत ही फायदेमंद है। इससे उसके मूड स्विंग कम होते हैं, मूड हमेशा अच्छा रहता है।

सब्जा के बीज का उपयोग करके बाल को खूबसूरत बनाया जाता है, क्योंकि इसमें प्रोटीन आयरन भरपूर मात्रा में होती है। जो कि बाल को मजबूत लंबे घने तेजी से बढ़ने में काफी सहायता करती है। सब्जा के बीज का उपयोग करके वजन को कम किया जाता है क्योंकि इन में भरपूर मात्रा में फाइबर पाई जाती है।

सब्जा के बीज में किन-किन गुणों की मात्रा पाई जाती है

सब्जा के बीज में कैलोरी, टोटल फैट, प्रोटीन, सोडियम, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर ,शुगर, कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम, विटामिन सी,नियासीन, कॉपर, मैग्नीशियम मैग्नीज, विटामिन ए विटामिन बी, विटामिन के की अच्छी मात्रा पाई जाती है।

सब्जा के बीज का नुकसान

जहां सब्जा के बीज का इतने सारे फायदे हैं, तो सब्जा के बीज के कुछ नुकसान भी है जो हमारे शरीर में हो सकती है।

  • सब्जा का बीज प्रोटीन का एक प्राकृतिक और शाकाहारी स्रोत है। यह आपकी हड्डियों मांसपेशियों त्वचा को मजबूत करती है और शरीर के लिए जो कामकाजी लोग होते हैं उनको एंजाइम हार्मोन और शरीर के अन्य रसायनों के उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए सब्जा के बीज का उपयोग रोजाना कर सकते हैं।
  • जिन व्यक्तियों का कोई चिकित्सीय इलाज चल रहा हो या उसे कोई चिकित्सीय बीमारी हो तो उसके लिए सबसे पहले उन्हें डॉक्टर से सलाह लेकर ही सब्जा के बीज का उपयोग करना चाहिए।
  • सब्जा के बीज का उपयोग गर्भवती महिलाओं को नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से मासिक पीरियड आने की संभावना बनी रहती है, जिससे की माता और उनके शिशु दोनों के स्वास्थ्य को हानि पहुंच सकती है।
  • सब्जा के बीज का अत्यधिक सेवन करने से आपको उल्टी, सिरदर्द, पेट दर्द और भूख लगने में कमी हो सकती है। सब्जा के बीज का अत्यधिक सेवन करने से रक्त में शर्करा की मात्रा बढ़ सकती है और जो व्यक्ति डायबिटीज के रोगी होते हैं, उनके लिए यह बेहद हानिकारक साबित होती है।
  • सब्जा के बीज को अच्छी तरह से भिगोकर ही खाना चाहिए नहीं तो यह आपके गले में अटक सकता है और इसे निकलने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
  • सब्जा के बीज का तेल रक्त के थक्के को जमने में धीमा कर देता है। यदि किसी व्यक्ति का हाल ही में सर्जरी हुआ हो यदि वह किसी कारण घायल हुआ हो। तो इसके सेवन से आपको हानि पहुंच सकती है। इसीलिए इसके सेवन करने से हमें बचना चाहिए। यदि कोई निर्धारित सर्जरी कम से कम 2 सप्ताह पहले हुआ हो तो उसके पहले ही सब्जा के बीज का उपयोग बंद कर देना चाहिए।
  • सब्जा के बीज आपके शरीर में खून को पतला कर देता है। अगर आपने किसी प्रकार की दवाई का सेवन करते हैं या किसी प्रकार की सर्जरी करवाई है ,तो सब्जा के बीज का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर ले लो।

निष्कर्ष

सब्जा के बीज को हम एक प्रकार का सुपर फूड भी कह सकते हैं क्योंकि यह छोटा सा बीज इतने सारे औषधीय गुणों से भरा हुआ है, कि यह हमारे स्वास्थ्य को कई तरीके से बेहतर बनाने में हमारी मदद करता है।

दोस्तों हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को सब्जा सीड्स के फायदे, उपयोग और नुकसान और  सब्जा सीड्स के अन्य महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में विस्तार पूर्वक से बताया हुआ है और हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई आज की जानकारी आप लोगों के लिए काफी ज्यादा हेल्पफुल और यूज़फुल साबित हुई होगी।

अगर आपको सब्जा सीड्स क्या है? के ऊपर प्रस्तुत किया गया हमारा यह लेख पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले।

अगर आपके मन में हमारे आज के इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। हम आपके द्वारा दिए गए प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का पूरा प्रयास करेंगे और हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आपका कीमती समय शुभ हो। 

यह भी पढ़ें:

काली मिर्च के फायदे, उपयोग और नुकसान

दही खाने के फायदे और नुकसान, गुण

रस्सी कूदने के फायदे, सही तरीका, समय और नियम

दौड़ने के फायदे और नियम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here