दही खाने के फायदे और नुकसान, गुण

दही जो कि हमारे दैनिक भारतीय व्यंजनों में रोज परोसने वाला एक व्यंजन है, जिसे हर घर में खाया जाता है और दही हम सभी भारतीयों की पहली पसंद होती है। भारत के सभी घरों में खास करके रसोई घरों में दही का विभिन्न प्रकार से उपयोग किया जाता है और दही में कई सारे ऐसे गुण होते हैं,जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक सिद्ध होते हैं।

दही को सभी लोग इसलिए ज्यादा पसंद करते हैं क्योंकि वह ठंडी होती है, पेट के लिए सुखदायक होती है, पौष्टिक होती है, हल्की होती है और दही ताजा होती है और दही मलाईदार भी होती है, जो कि आसानी से सभी घरों में पाया जाता है।

Dahi Khane ke Fayde aur Nuksan

दही का बहुत सारे लाभ हैं और दही हमारे दैनिक भोजन का एक अभिन्न अंग भी है, इसीलिए कहा जाता है कि हमें रोज एक कटोरी दही खानी चाहिए। तो आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे की दही खाने के के क्या फायदे हैं, दही के क्या-क्या गुण होते हैं और दही खाने से क्या नुकसान होता है? इन सभी बातों की जानकारी आज आपको इस पोस्ट के माध्यम से मिलेगा।

दही खाने के फायदे और नुकसान, गुण

दही क्या है?

दही एक दुग्ध उत्पाद या डेयरी उत्पाद है क्योंकि दही का उत्पादन दूध से किया जाता है और प्राचीन काल से ही हर भारतीय घरों में दही का उपयोग किया जाता है। दही का उपयोग हम पूजा करने में भी करते हैं, खास करके पंचामृत में एक खास जो पदार्थ होता है वह दही होता है।

हम विभिन्न प्रकार से दही का उपयोग करते हैं और दही हमारे स्वास्थ्य के लिए, हमारे पेट के लिए काफी फायदेमंद होता है। दही हमारे त्वचा के लिए, हमारे बालों के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होता है और दही का उपयोग करके कुछ लोग अपने शुक्र ग्रह को ठीक भी करते हैं। यह हमारे ग्रह से भी संबंधित है। इसलिए कहा जाता है कि हर शुक्रवार को दही का उपयोग विशेष रूप से करनी चाहिए।

दही कैसे बनाते है?

दही बनाने के लिए सबसे पहले दूध में दही के कुछ अंश को मिलाया जाता है क्योंकि दही में बैक्टीरिया जो कि दूध मे किण्वित संस्करण होने के कारण दही का निर्माण होता है। इस प्रकार दही खट्टा और अम्लीय हो जाता है। दही भारतीय भोजन में एक लोकप्रिय आहार है क्योंकि दही कैल्शियम से परिपूर्ण होती है और इसमें लैक्टोज-असहिष्णु है, जो कि लोगों के लिए काफी फायदेमंद होती है। ताजा दही का स्वाद थोड़ा सा तीखा हो सकता है। लेकिन दही खट्टी और अम्लीय होती है।

दही खाने के के क्या फायदे हैं?

दही का उपयोग विभिन्न प्रकार से फायदे करते हैं क्योंकि दही एक ऐसा पदार्थ है जो कि आप बहुमुखी भोजन व्यंजन के साथ प्रयोग कर सकते हैं। दही का उपयोग विभिन्न तरीके से और विभिन्न उद्देश्यों के लिए भी किया जा सकता है, जो कि निम्न है:

  • दही का सरल उपयोग यह होता है कि हम दही को सीधे नमक या चीनी मिलाकर खा सकते हैं। लोग रोज ही अपने खाने के बाद दही में थोड़ी सी चीनी या मीठे व्यंजन के रूप में दही में चीनी मिलाकर उसका उपयोग करते हैं और खास करके बंगाल में दही को मिष्टी दही का उपयोग काफी लोकप्रिय है। जब लोगों को पेट का गैस होता है तो, लोग अपने रोज के व्यंजन के बाद ही में थोड़ा सा नमक मिलाकर खा लेते हैं, जिससे कि उसका पेट का गैस निकल जाता है
  • दही का उपयोग करके वजन को भी घटाया जा सकता है क्योंकि दही में बहुत सारे पोषक तत्व पाएं जाते हैं और इसमें कैल्शियम की उच्च मात्रा पाई जाती है जो कि बीएमआई के स्तर को नियंत्रित रखने में मदद करती है।
  • इसके अलावा दही में प्रोबायोटिक्स होता है जो कि शरीर के पाचन शक्ति में सुधार लाती है और चयापचय यानी कि पाचन में मदद करती है। पाचन की शक्ति को बढ़ाती है और दही में बेहतर मेटाबॉलिज्म होता है, जो कि वजन घटाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। एक छोटे से उदाहरण के रूप में दही में एक चम्मच शहद मिलाकर दही को खाना एक बहुत ही अच्छा व्यंजन है।
  • उच्च रक्तचाप को दही खाकर कम किया जा सकता है। दही उच्च रक्तचाप को कम करने में काफी मदद करती है क्योंकि दही के सेवन से जिन लोगों को उच्च रक्तचाप का खतरा रहता है, उसे कम करने के दही खाने का सलाह देते हैं, क्योंकि दही में अधिक वसा नहीं होता है। इसी कारण उच्च रक्तचाप होने की संभावना कम हो जाती है। जिस वजह से जिन लोगों को उच्च रक्तचाप है, उन्हें कम करने में दही एक बहुत ही फायदेमंद व्यंजन साबित है।
  • दही खाने से योनि संक्रमण को भी रोकने में मदद मिलती है क्योंकि दही बहुत ही फायदेमंद होती है। इसमें लैक्टोबैसिलस होती है जो कि एक अच्छा बैक्टीरिया होती है, जो शरीर में या योनि में खमीर को संतुलित करने में बहुत ही अच्छा व्यवहार करती है। यह शरीर में संक्रमण के विकास को भी नियंत्रित करती है और हाइड्रोजन पेरोक्साइड का उत्पादन करके खमीर को मारती भी है। इसीलिए दही शरीर के लिए बहुत ही अच्छा और पोषक तत्व माना जाता है।
  • शरीर के हड्डियों के लिए भी दही खाना एक अच्छा विकल्प माना गया है क्योंकि हम सभी जानते हैं कि दही में भारी मात्रा में कैल्शियम पाई जाती है। इसीलिए जो लोग रोजाना दही खाते हैं उनकी हड्डियां मजबूत होती है।
  • नियमित दही के सेवन से हड्डी को जो खनिज पदार्थ खनिज कैल्शियम की जरूरत होती है। वह हड्डी के माध्यम से हड्डी को मिलती है, जिसमें की एक कप दही से 275 मिलीग्राम कैल्शियम मिलता है जो हड्डी के स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है।
  • दही हमारे शरीर के इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत करता है। दही में पाए जाने वाले सक्रिय कल्चर रोग पैदा करने वाले किटाणु से लड़ता है और हमारी आंखों और आंतों को सुरक्षित रखने में हमारी मदद करता है। ऐसा माना जाता है कि दही के एक कप रोजाना खाने से इम्यूनिटी बढ़ाने में काफी मदद मिलती है।
  • पाचन के लिए भी दही एक अच्छा भोजन विकल्प है क्योंकि दही में फायदेमंद बैक्टीरिया होती है जो कि हमारे घर आंत के गतिविधियों को सुधारती है। पाचन तंत्र को शांत करती है। पेट की खराबी को भी ठीक करती है और खट्टी डकार आ रहे हो तो इसमें भी यही हमारी बहुत ही मदद करती है।
  • सुंदर और स्वस्थ त्वचा के लिए भी दही एक अच्छा विकल्प माना गया है क्योंकि यही हमारी त्वचा को मॉइश्चराइजिंग करती है। यह हमारी रूखी त्वचा को प्राकृतिक रूप से मॉइश्चराइजर करके ठीक करती है। जिन लोगों को ज्यादा मुहासे आते हैं उनके लिए भी दही एक अच्छा विकल्प है।
  • दही में सक्रिय बैक्टीरिया होती है, जो हमारे त्वचा के मृत कोशिकाओं को दूर करती है और हमारी त्वचा को स्वस्थ बनाती है।कुछ लोग दही का उपयोग विभिन्न प्रकार के तरीकों से फेस पैक के रूप में करते हैं। जैसे की दही को बेसन के साथ मिलाकर या दही शहद मिलाकर या दही मुल्तानी मिट्टी मिलाकर अपने चेहरे पर लगाते हैं।
  • दही में लैक्टिक एसिड होता है जो कि एक एक्सफोलिएटिर के रूप में काम करता है। जो हमारे शरीर के मरी कोशिकाओं और दोषों को दूर करता है और यह एक अच्छा ब्यूटी सामाग्री है, जिसे लोग आसानी से घर में उपयोग में ला सकते हैं।
  • दही का उपयोग करके वालों को भी सुंदर और मुलायम बनाया जा सकता है। दही का उपयोग करके बालों में हो रहे रूसी को भी दूर किया जा सकता है। दही का बाल पर पैक के रूप में प्रयोग करके कुछ देर छोड़ने के बाद उसे ठंडे पानी से धो दिया जाता है, जिसके बाद बाल सुंदर मुलायम और घने हो जाते हैं।

दही में क्या-क्या गुण होते हैं?

दही में बहुत सारे गुण पाए जाते हैं, बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं और दही का उपयोग करके हम विभिन्न प्रकार के बीमारियों से भी निजात पा सकते हैं। खासकर के दही में कैल्शियम, विटामिन डी, प्रोटीन और सक्रिय बैक्टीरिया, फाइबर होती है, जो कि हमारे शरीर में अच्छे बैक्टीरिया के रूप में काम करती है।

इसीलिए दही बेहद ही पोषक तत्व है और इसमें कैलोरी की मात्रा भी काफी कम होती है, तो जो लोग अपने वजन को कम करना चाहते हैं। उनके लिए दही एक बहुत ही अच्छा खाद्य पदार्थ है। जिसे की आसानी से लोग अपने वजन को कम कर सकते हैं।

दही किस-किस प्रकार से उपयोग में लाई जा सकती है?

दही बहुत ही प्रकार से उपयोग में लाई जा सकती है। जैसे कि दही सलाद में उपयोग करके खाई जा सकती है, दही का लस्सी बनाकर पिया जा सकता है, दही में मसाला डालकर बनाया जाता है और विभिन्न प्रकार से देश के विभिन्न विभिन्न हिस्सों में दही का विभिन्न प्रकार से प्रयोग किया जाता है।

जैसे कि भारतीय घरों में दही का उपयोग करके कडी बनाई जाती है, सब्जियां बनाई जाती है और भी विभिन्न प्रकार के प्रयोग करके दही को अपने दैनिक आहार में उपयोग किया जाता है।

दही में फाइबर की मात्रा भी पाई जाती है, जो कि हमारे पेट को स्वस्थ रखने के लिए बहुत ही फायदेमंद है क्योंकि दही दूध से बना है और दूध में कैल्शियम, विटामिन B2, विटामिन B12, पोटेशियम और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में पाई जाती है।

इस प्रकार दही के रूप में हम इन सारे विटामिन और कैल्शियम, मैग्नीशियम का भी उपयोग कर पाते हैं क्योंकि एक अच्छा मॉइश्चराइजर होता है। इसीलिए ही हमारी त्वचा के लिए हमारे बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है।

दही हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक और प्रभावशाली खाद्य पदार्थ है और गर्मी के दिनों में दही हम विभिन्न प्रकार के ठंडे शरबतों के माध्यम से उपयोग में ला सकते हैं। क्योंकि दही ठंडी होती है, जो हमारे पेट के पाचन तंत्र को ठंडा करता है।

दही बहुत ही हल्की और पौष्टिक होती है, जिसे हम अपने दैनिक भोजन में डालकर हम अपने भोजन के पोषक तत्व को पूर्ण करते हैं। दही का उपयोग मीट और कबाब में भी करते हैं इस प्रकार हम देखते हैं कि दही एक स्वादिष्ट पदार्थ है, जो हमारे भोजन के स्वाद को भी चार चांद लगा देती है।

हमें अपने स्वास्थ्य के लिए हमें अपने चेहरे के लिए अपने बालों के लिए और अपने पाचन शक्ति को ठीक रखने के लिए भी दही का इस्तेमाल रोज किसी न किसी रूप में करनी चाहिए क्योंकि दही में वह फायदेमंद बैक्टीरिया पाई जाती है जिससे कि हमारे शरीर के अंदर फैल रहे बीमारी को दूर करने में दही बहुत ही मदद करती है।

दही खाने के क्या क्या नुकसान है?

दही में बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक है। लेकिन दही के कुछ नुकसान भी हैं जो कि निम्न है:

  • सबसे पहले दही खाने का एक समय होता है। दही सुबह खाली पेट नहीं खाना चाहिए। सुबह सुबह खाली पेट दही खाने से पेट संबंधी बीमारी हो सकती है और दही रात में भी नहीं खानी चाहिए। रात में दही खाने से आपको सर्दी बुखार जैसी बीमारी हो सकती है।
  • अगर आप मांस मच्छी खा रहे हैं, तो उस समय भी दही का उपयोग नहीं करनी चाहिए। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको त्वचा संबंधी बीमारी उत्पन्न हो सकती है।
  • ऐसा माना जाता है कि दही में चीनी के बजाय मिश्री का उपयोग करनी चाहिए, चीनी डालकर दही खाने से आपको हानि हो सकती है।
  • दही में सफेद नमक की वजह सेंधा नमक या काला नमक मिलाकर खानी चाहिए नही तो आपके पेटे मे पाचन संबंधी बीमारी हो सकती है।
  • भूल कर भी दूध के साथ दही का उपयोग नहीं करनी चाहिए, यह बहुत ही शरीर को नुकसान देती है।
  • दही के साथ अगर आप खट्टे फलों का सेवन करते हैं तो यह आपको बहुत नुकसान पहुंचाती है क्योंकि दही ठंडी तासीर वाली भोजन होती है, अगर आप इस के साथ गर्म तासीर वाली भोजन का उपयोग करते हैं, तो यह आपके शरीर को हानि पहुंचाती है।
  • जिन लोगों को डायबिटीज होती है या जो लोग मोटापे से परेशान हैं, उन्हें दही चीनी के साथ नहीं खाने चाहिए। इससे उनकी परेशानी बढ़ सकती है।
  • कुछ लोगों को दूध से परेशानी होती है तो उन्हें दही का भी सेवन करने से बचना चाहिए या रोज दही का सेवन नहीं करनी चाहिए। उन लोगों को दही का सेवन करने से त्वचा रोग जैसे की जलन खुजली फुलसी इस प्रकार के रोग हो सकते हैं।

ध्यान दें: यह जानकारी केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए बताई गई है। इसमें बताई गई किसी भी सलाह को अपनाने या फिर उस पर अमल करने का निर्णय स्वयं का व्यक्तिगत निर्णय होगा। इसके निष्कर्ष तक पहुँचने से पहले एक बार विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको दही खाने के के क्या फायदे हैं, दही के क्या-क्या गुण होते हैं? और दही खाने से क्या नुकसान होता है?के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी है। आर्टिकल पसंद आये तो उन्हें लाइक और शेयर जरुर करें। आर्टिकल के सम्बंधित कोई भी सुझाव हो तो हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं। आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद।

यह भी पढ़ें:

रस्सी कूदने के फायदे, सही तरीका, समय और नियम

काली मिर्च के फायदे, उपयोग और नुकसान

दौड़ने के फायदे और नियम

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।