व्यक्तित्व पर अनमोल वचन

Quotes on Personality in Hindi

Quotes on Personality in Hindi
Images:-Quotes on Personality in Hindi

Quotes on Personality in Hindi | व्यक्तित्व पर अनमोल वचन

किसी को धोखा देकर ये मत
सोचो की वो कितना बेवकूफ है,
ये सोचो की उसे तुम पर कितना भरोसा था।

“आप अगर अपने मुसीबतों का सामना
नहीं कर सकते है, तो आप अपने
जीवन में कुछ बड़ा नहीं कर पाएंगे।”

हर एक लिखी हुई बात को हर एक
पढ़ने वाला नहीं समझ सकता,
“क्योंकि” लिखने वाला “भावनाएं” लिखता है
और लोग केवल “शब्द” पढ़ते हैं।

“जितनी पुरानी होती जाती है
उतनी ही खास होती है,
ये इश्क़ है जनाब ये बस बेहिसाब होती है।”

रुकना नहीं है मुसीबतों को देखकर,
नदियाँ कभी चट्टानों को देख
कर रास्ता बदला नहीं करती।

गुजर जायेगा ये दौर भी,
जरा सा सब्र तो रख,
जब खुशियाँ ही नहीं रुकी,
तो गम कि क्या औकात है।

“वो कहता था की मुस्कान बेहद खास है
तुम्हारी, सच ही कहता होगा
इसीलिए साथ ले गया II”

सच कहूँ तो मुझे एहसान बुरा लगता है,
जुल्म सहता हुआ इंसान बुरा लगता है,
कितनी मसरुक हो गयी है ये दुनिया,
एक दिन ठहरे तो मेहमान बुरा लगता है।

मत मांग किसी से सहारे की भीख
तेरी मुसीबतों का सहारा तू खुद है।

जरूरी नहीं की कुछ तोड़ने
के लिए पत्थर ही मारा जाए,
लहजा बदल कर बोलने से
भी बहुत कुछ टूट जाता है।

“अगर आज कल तुम्हें ज्यादा
हिचकियाँ आ रही है,
तो समझ लेना हमने याद किया है।”

ज़िन्दगी में कुछ गम जरुरी है
वर्ना खुदा को कौन याद करता,
मिलता नसीब चाहने से तो
खुदा से फरियाद कौन करता,
होता सुकून हर निगाह में तो
खुदा का दीदार कौन करता।

अब दो ही चीज़े मेरे सबसे क़रीब है
एक मेरा परिवार और दूसरे मेरे दोस्त,
अगर यह दोनों ही नहीं ना हो
तो मेरी जिंदगी सबसे बदक़िस्मत होगी।

घर की सारी परेशानियों को वो,
खिलौनों की तरह बटोर लेता है,
पिता आंसू दिखा नहीं सकता,
इसलिए वो छुप के रो लेता है।

अब हमदर्दी बेवजह है, दिल टूटने के बाद,
हमें ही खैरात दे रहे है, हमें लूटने के बाद।”

हाथ में उसको कलम का आना अच्छा लगता है,
उसको भी स्कूल को जाना अच्छा लगता है,
बड़ा कर दिया मजबूरी ने वक्त से पहले वरना
सर पर किसको बोझ उठाना अच्छा लगता है ।

माँ मेरी वाकई बहुत अनपढ़ है,
मैं मांग बस एक रोटी की करता हूँ
वह मुझे हमेशा ही दो रोटी परोस देती है।

कभी किसी की भावनाओं के साथ मत खेलो,
हो सकता है आप ये खेल जीत जाए,
पर यह पक्का है कि उस इंसान से
आप हमेशा के लिए हार जाओगे।

“आज मैं फिर अच्छी अदाकारी करते
पकड़ा गया, दिल में दर्द था
और अपनों के सामने पकड़ा गया।”

जब कभी मेरा मन उदास होता है,
तब तेरा चेहरा आसपास होता है।
तब मिलता है सुकून और विश्वास,
मां! तेरे आशीर्वाद का अहसास होता है।

दोस्ती प्यार और दान कभी
धर्म देख कर नहीं किया जाता

प्यार मे कोई दिल तोड़ देता है,
दोस्ती मे कोई भरोसा तोड़ देता है,
ज़िंदगी जीना तो कोई गुलाब से सीखे,
जो खुद टूट कर दो दिलों को जोड़ देता है।

“जान बुझ के जो पिया,
उस जहर का नाम इश्क़ है।”

जो था तुझ पर, तेरी बातों पर,
अब किसी और पर नहीं होता।
इस कदर टूटा हूं तेरे इश्क में,
की अब तो यकीन पर भी यकीन नहीं होता।

अक्सर जुबां पर हलकी-सी हसी लेकर
घूमने वालो का दिल बहुत भारी होता है।

पानी में पत्थर मत मारो उसे भी कोई पिता होगा,
जिंदगी में उदास कभी ना रहना यारों,
क्योंकि तुम्हें भी देख कर कोई जीता होगा।

“ज़िंदगी का व्यापारी वो है
जो अपनी ज़िंदगी अपने आप
पर अपनी ज़िंदगी खर्च करते है।”

टूटे हुए सपनो और छुटे हुए
अपनों ने मार दिया,
वरना ख़ुशी खुद हमसे
मुस्कुराना सिखने आया करती थी।

इश्क़ दिल से किया जाता है
साहब जिस्म से तो
बस मतलब पूरे होते हैं।

इतना भी आसान नहीं होता,
अपनी ज़िन्दगी जी पाना,
बहुत लोगो को खटकने लगते है,
जब हम खुद को जीने लगते है।

“घाव से नहीं बल्कि लोगों के
लगाव से डर लगता है II”

दुनिया के बड़े से बड़े साइंटिस्ट ये ढूँढ रहे है
की मंगल ग्रह पर जीवन है या नहीं ,
पर आदमी ये नहीं ढूँढ रहा कि
जीवन में मंगल है या नही।

माँ बाप के त्यागों को कभी फ़र्ज़ मत
समझ लेना वरना
ज़िन्दगी में बहुत पछताओगे।

कोई खुशियों की चाह में रोया,
कोई दुखों की पनाह में रोया,
अजीब कहानी है ये “ज़िंदगी” का
कोई भरोसे के लिए रोया,
कोई भरोसा करके रोया।

“जब से लोगों ने लोगों को भूलना सिखाया,
तब से हमने भी किसी को याद नहीं किया है।”

भूल कर भी अपने दिल की
बात किसी से मत कहना,
यहाँ कागज भी जरा सी देर
में अखबार बन जाता है।

नसीहत देते लोग साथ नहीं देता
कोई. वादा करके
तो ऐसे तोड़ देते है जैसे नेता हों।

“अपने आप से एक सौदा किया की अ
ब बस लोगों से सौदा ही करना है।”

ज़माना भी सिर्फ़ उसे याद रखता है
जो कामयाबी की बुनियाद रखता है।

कुछ रिश्ते ऐसे होते हैं,
जिनको जोड़ते जोड़ते
इन्सान खुद टूट जाता है।

“आज कल अखबार छप के नहीं बिक ते,
बल्कि बिक के छपते है II”

लोग आपके बारे में अच्छा
सुनने पर शक करते हैं
और बुरा सुनने पर तुरंत
यकीन कर लेते हैं।

दौलत और शौहरत से नहीं
खुशियाँ अपनों से मिलती है।

किसी के नजर में अच्छा हूँ,
किसी की नजर में बुरा हूँ,
हकीकत तो ये है कि जो जैसा है,
उसकी नजर में वैसा हूँ।

*****

“फुर्सत कहाँ होती है
उन्हें जो अपने लिए काम करते है।”

फर्क होता है खुदा और फ़क़ीर मे,
फर्क होता है किस्मत और लकीर में,
अगर कुछ चाहो और न मिले तो समझ लेना,
कि कुछ और अच्छा लिखा है तक़दीर में।

दुनिया के सारे शौर शराबों से दूर जब
अकेला बैठा तब खुद से
मिलने का कहीं मौका मिला।

कैसी है ये आज की दुनिया,
जहां किसी को न तो कायदे पसंद हैं,
न तो वादे पसंद हैं,
बस सिर्फ और सिर्फ फायदे पसंद हैं।

“आजकल दुनिया में आबाद होने से
पहले बर्बाद होना पड़ता है।”

जब प्यार से किसी के दिल
को कोई छू जाता है तो,
सब कुछ कितना प्यारा है,
यही एहसास उस दिल को छू जाता है।

कभी-कभी क्षमताओं का पता
जीतने के बाद पता लगता है।

“दुनिया में रहने की सबसे महफूज़
जगह किसी का दिल होता है।”

ये नामुमकिन है कोई
मिल जाए तुम जैसा,
पर इतना आसान ये भी नहीं,
तुम ढूंढ लो हम जैसा।

Read Also: मोटिवेशनल शायरी

Quotes on Personality in Hindi

माना की पैसा बोलता है
पर मैं बहरा हूँ।

इस दुनिया के लोग भी
कितने अजीब है ना,
सारे खिलौने छोड़ कर
जज़बातों से खेलते हैं।

बिछड़ कर आप से हमको ख़ुशी अच्छी नहीं लगती,
लबों पर ये बनावट की हँसी अच्छी नहीं लगती,
कभी तो खूब लगती थी मगर ये सोचते हैं हम,
कि मुझको क्यों मेरी ये ज़िन्दगी अच्छी नहीं लगती।

कुछ अजीब-सा हादसा हुआ है
मेरे साथ जिन-जिन को मैंने अच्छे समय
से मिलाया था आज उनके
पास ही वक़्त नहीं मेरे लिए।

इंसान घर बदलता है,
रिश्ते बदलता है, दोस्त बदलता है,
फिर भी परेशान क्यों रहता है,
क्योंकी वो खुद को नहीं बदलता।

सच्चे प्यार की यही पहचान है,
लड़ते है, झगड़ते हैं फिर भी
एक दूसरे की फ़िक्र बहुत करते हैं।

मामूली हूँ मैं पर हर कोई मेरे लिए ख़ास है,
धोखे खाये काफी पर आज भी
मुझे विशवास पर विशवास है।

कदर वो होती है,
जो किसी की मौजूदगी में हो,
जो किसी के जाने के बाद हो,
उसे पछतावा कहते है।

कुछ से माफ़ी मांग लेना और कुछ
को माफ़ कर देना यही बड़े
दिल की निशानी होती है।

कभी-कभी पत्थर की
ठोकर से भी नहीं आती खरोंच
और कभी जरा सी
बात से इंसान बिखर जाता है।

मुझे छोड़कर वो खुश है,
तो शिकायत कैसी
अब मैं उन्हे खुश भी ना
देखूं तो मोहब्बत कैसी।

धरम को अलग रख दे सभी एक हैं
और लालच हटा दोगे
तो बन्दे सारे नेक हैं।

जरुरत के मुताबिक जिंदगी जिओ,
ख्वाहिशों के मुताबिक नहीं,
क्योंकि जरुरत तो फकीरों की भी पूरी हो जाती है
और ख्वाहिशें बादशाहों की भी अधूरी रह जाती है।

पूरी उम्र सीख न सके जो किताबे पढ़कर,
करीब से कुछ चेहरे पड़े तो
न जाने कितने सबक सीख लिए।

अत्यधिक गुरूर आ जाये तो याद रखना इंसान
और अखबार पुराने हो ही जाते हैं,
पर अच्छी खबरे और मीठे बोल बस याद रह जाते हैं।

ढल जाती है हर चीज अपने वक़्त पर
बस एक व्यव्हार और लगाव ही है
जो कभी बूढ़ा नहीं होता।

अपनी कमजोरियां उन्ही लोगों को बताइये,
जो हर हाल में आपके साथ
मजबूती से खड़े होना जानते है”
” क्यूँकि रिश्तों में विश्वास,
और मोबाईल में नेटवर्क ना हो,
तो लोग Game खेलना शुरू कर देते हैं।

तलाश कर रहे हो प्यार की एक बार माँ
के पास बैठो तो सही तलाश
ख़त्म न हो जाये तो कहना।

खुशियों से नाराज है मेरी जिंदगी,
प्यार की मोहताज़ है मेरी ज़िन्दगी,
हँस लेता हूँ लोगों को दिखाने के लिए,
वरना दर्द की किताब है मेरी ज़िन्दगी।

मेरी आंखों को देख कर
एक शख्श बोला, की
तेरी खामोशी बताती है,
तुझे कभी हँसने का शौक था।

जब दर्द हमदर्द से मिलने लगे तो
ज़िन्दगी झरनुम-सी लगने लगती है।

जब किसी की जिंदगी में आपका होना
और ना होना बराबर हो जाए,
तो आपका ना होना ही बेहतर होता है,
ये अभिमान नहीं स्वाभिमान है।

दुश्मनों ने जो दुश्मनी की है,
दोस्तों ने भी क्या कमी की है।
दर्द की भी अपनी एक अदा है,
वो भी सहने वालों पर ही फिदा है।

मोहोब्बत उसकी जगह अगर खुद से की
होती तो अकेला पन
ज़रूर होता पर ये दर्द नहीं।

एक बात बोलू इस दुनिया
में सब कीमती है,
पाने से पहले और खोने के बाद।

ऐ आईने तेरी भी हालत अजीब है,
मेरे दिल की तरह तुझे भी बदल देते है
यह लोग तोड़ने के बाद।

कुछ बात लफ्ज़ो से बेहतर
खामोशियाँ बयाँ कर दिया करती है।

अगर जिंदगी में कुछ बुरा हो
तो थोड़ा सबर रखो दोस्तों,
क्योंकि रो कर फिर हसने
का मज़ा ही कुछ और होता है।

जिन्हें मालूम है
कि अकेलापन क्या होता है,
वो लोग हमेशा दूसरों
के लिए हाज़िर रहते है।

कौन कहता है वक़्त किसी का नहीं होता,
मैने मेरे ही वक़्त को मुझे बर्बाद करते देखा है।

****

दिल के रिश्ते तो किस्मत से मिलते है,
वरना मुलाकात तो हज़ारो से होती है।

मुस्कुराते रहोगे तो दुनिया
आपके क़दमों में होगी,
वरना आंसुओं को तो तो
आँखें भी पनाह नहीं देती।

भीख के शहरी किले मुझे नहीं भा,
ते मैं तो जीता हूँ अपने गांव
की कुटिया में नवाबों की तरह।

आपको जिससे खुशी मिले आप उसी से बात करो,
हमारा क्या है हम कल भी अकेले थे
और आज भी अकेले है।

अभी ज़रा वक़्त है उसे मुझे आज़माने दो
वह रो-रो के पुकारेगी
बस मेरा वक़्त तो आने दो।

समुंदर की चाहत में कहीं दरिया को ना भूलना तुम,
बेशक लाख दर्द सहना
पर किसी अपने को बेवजह ना रुलाना तुम।

Quotes on Personality in Hindi

मौसम भी मेरी ज़िन्दगी का अजीब बदला,
सब बदल गए पर ना जाने क्यों मैं ना बदला।

रिश्ते चाहे कितने भी बुरे क्यों न हो,
लेकिन कभी भी उन्हें तोड़ना मत,
क्योंकि पानी चाहे कितना भी गंदा हो,
प्यास नहीं तो आग तो बुझा ही देता है।

बैठा हूँ आज कुछ रिश्तों का हिसाब करने,
गर वफाओं में तुझे रख दिया
तो बाकी रिश्ते नाराज़ हो जेएंगे।

नफ़रत हो जायेगी तुझे अपने ही किरदार से,
अगर मैं तेरे ही अंदाज में तुझसे बात करुं।

सोचता हूँ अगर कुछ ख्वाहिशे अधूरी
न होती तो, जीने में मज़ा क्या आता।

जख्म वही है जो छुपा लिया जाए,
जो बता दिया जाए वो तमाशा बन जाता है।

जब पैसा पास था सारे सांप रेंग कर मेरे
तलवे चाटा करते थे,
अब पैसा जाते ही मानो मेरे हाथ में लाठी आ गई है।

बहुत शौक था मुझे सबको खुश रखने का,
होश तब आया जब खुद को
ज़रूरत के वक़्त अकेला पाया।

जुबां आईने-सी साफ़ रखने वाले
अक्सर लोगो की आँखों
में कांच से चुभा करते हैं।

प्यार करने से पहले पैसा कमा लेना यारों,
क्योंकि गरीब का प्यार अक्सर
चौराहे पर नीलाम होता है।

कुछ करना चाहते हो तो खुद करना होगा
और सारी दुनिया से लड़ने से
पहले खुद ही से युद्ध लड़ना होगा।

तेरी मोहब्बत की लकीरे मेरे हाथो में नहीं तो क्या,
दिल में बसी तेरी तस्वीर भी काफी है,
मेरे जीने के लिए।

क्यों न नाज़ हो मुझे अपनी मोहोब्बत पर वो
अपनी माँ की मोहब्बत की लाज रख कर,
मेरी मोहब्बत को भुला रहा है।

नहीं शिकायत रही अब मुझे तेरी नजर अंदाजी से,
तू बाकियों को खुश रख हम तन्हा ही अच्छे है।

Read Also: समय पर सुविचार

गर्म कपड़ों के सारे बैग खुल गए
प्यार से बुना कोई स्वेटर नहीं निकला।

रुक जाए मेरी धड़कन इसे मौत न समझना,
कई बार ऐसा हुआ है तुझे याद करते करते।

अगर जिस्म से लिपटना ही मोहब्बत है
तो अज़गर से बड़ा कोई महबूब नहीं।

किस्मत दोस्त नहीं फिर भी रूठ जाता है,
बुद्धि लोहा नहीं फिर भी जंग लग जाती है,
आत्मसम्मान शरीर नहीं फिर भी घायल हो जाता है
और इंसान मौसम नहीं फिर भी बदल जाता है।

गरीब अक्सर तबयत का बहाना
बनाकर मजबूरियाँ छुपा जाते हैं।

मत पूछना कभी दोबारा,
कि तुम मेरे क्या लगते हो,
जैसे दिल के लिए धड़कन जरूरी है,
वैसे मेरी साँसों के लिए तुम जरूरी हो।

थक कर बैठना मंज़ूर है मुझे,
राहो में पर गिरकर हार
जाना यह मंज़ूर नहीं।

चार दोस्त, दो साइकिलें,
खाली जेब और पूरा शहर,
एक खूबसूरत दौर ये भी था जिंदगी का।

हवा के रुख बदलने से कैसा खौफ,
मैने तो अपनों को भी
वक़्त पर बदलते हुए देखा है।

किसी ने पूछा,
लड़की होने का सबसे कठिन हिस्सा क्या है?
उसने आँसू के साथ जवाब दिया,
शादी के बाद अपने ही घर में मेहमान बनना।

मेरी क़ाबिलियत का अंदाजा इसी बात से
लगा लो की लोग मुझे गिराने की
कोशिश नहीं साजिश किया करते हैं।

जिंदगी में ऐसे दो मीठे शब्द है,
जो किसी से कहना बहुत मुश्किल है,
किसी अनजान व्यक्ति को पहली बार हाय बोलना
और किसी अपने को आखरी बार बाय बोलना।

फरेब की आशिकी का ज़माना है
अब कपड़े उतरा करते है
जिस्म से इश्क़ के नाम पर।

Read Also: जीवन से जुड़े प्रेरणादायक वचन

*****

दूरियाँ किसी भी रिश्ते को तोड़ नहीं सकती,
नज़दीकियों किसी भी रिश्ते को जोड़ नहीं सकती,
दिल में एक दूसरे के लिए भावना होनी चाहिए,
और विश्वास होना चाहिए,
तभी रिश्ते बने रहते है।

लड़को की ज़िन्दगी आसान कहाँ साहब
खुअहिशे मर जाती है
उनकी ज़िम्मेदारियों के नीचे आ कर।

कोई भी हमारे आँसुओ पर ध्यान नहीं देता,
कोई भी हमारे दुखों पर ध्यान नहीं देता,
कोई भी हमारे दर्द पर ध्यान नहीं देता,
सब सिर्फ हमारे ग़लतियों पर ध्यान देते हैं।

सीख जाते अगर मीठे झूठ बोल पाने का हुनर,
तो ना जाने कितने रिश्ते बच जाते टूटने से।

दूसरों पर उम्मीद करने के बजाय,
कभी खुद पर उम्मीद रख कर देखो,
वह भी दर्द बहुत देते हैं।

ज़िम्मेदारियों के बाज़ार में फ़ुरसतें
न जाने कहा खो कर रह गई मेरी।

खुद को व्यस्त रखना सीखो,
क्योंकि चिंता करने से कुछ नहीं मिलता,
जो थोड़ी खुशी होती है,
वह भी दूर हो जाती है।

डूब रहा था जब तो समंदर को भी
हैरानी हुई सोचने लगा कैसा शक्श है
किसी को पुकारता ही नहीं।

विश्वास दुनिया का सबसे कीमती चीज है,
इसे कमाने यह पूरे साल लग जाते हैं,
पर इसे खोने में कुछ वक्त सिर्फ काफी होता है।

Quotes on Personality in Hindi

वक़्त के दलदल में ज़िन्दगी कब
सिमट जाती है खबर ही नहीं मिलती।

वक्त नदी के पानी की तरह है,
नदी के बहते पानी को छू सकते हैं,
पर जिस पानी को छू रहे हैं,
उस पानी को दोबारा छू नहीं सकते,
वैसे ही वक्त है,
वक्त हर बार आता है,
पर वही वक्त बार-बार नहीं आता।

हर दलदल से बहार निकल आता हूँ
शायद मेरी माँ मेरे लिए
दुआओं में याद कर रही है।

नहीं आता मुझे झूठ बोलने का हुनर,
मेरे सच बोलने से पता नहीं,
मेरे अपने कितने नाराज है।

समझ गया कलियुग चल रहा है,
जब दोस्त और मौसम
दोनों बेमौसम बदलने लगे।

छोटे बच्चे के निकले आँसू और
प्यार में निकले आँसू दोनों एक सामान हैं,
दोनों को पता है कि दर्द कहा है,
लेकिन किसी को बता नहीं सकतें।

सिर्फ़ तेरा होकर रह नहीं सकता मैं
मुझे तो सारे ज़माने को
अपना दीवाना बनाना है।

तेरी डिब्बे की वो दो
रोटिया कही बिकती नहीं माँ,
मेहेंगे होटलों में
आज भी भूख मिटती नहीं।

क़त्ल के लिए खंजर की क्या
ज़रूरत मेरे लफ्ज़
ही काफी हैं तुम्हारे लिए।

कोई किसी का नही होता,
जब दिल भर जाता है,
तो लोग याद करना भी भूल जाते हैं।

ज़िन्दगी सोचकर गुज़ारने वालो कभी
इसे जीकर देखो मजा
न आ जाये तो कहना।

हर सागर के दो किनारे होते है,
कुछ लोग जान से भी प्यारे होते है,
ये ज़रूरी नहीं हर कोई पास हो,
क्योंकी जिंदगी में यादों के भी सहारे होते है।

रास्ता क्या तुमने बदला
मेरी तो मंज़िल ही बदल गई।

अपने गमो की तू नुमाइश न कर,
यूँ क़ुदरत से लड़ने की कोशिश न कर,
जो है कुदरत ने लिखा वो होकर रहेगा,
तू उसे बदलने की आजमाइश न कर।

उंचाईओं पर पहुंच कर घमंड मत करना
दोस्त याद रखना तुमसे
ऊपर भी एक मालिक है।

गलती उनकी नहीं थी,
कसूरवार मेरी गरीबी थी दोस्तों,
हम अपनी औकात भूलकर
बड़े लोगों से दिल जो लगा बैठे।

पैर ज़मीन पर है मेरे पर नज़रे
और हौसले आसमान छू रहे है।

ज़िंदगी में प्यार क्या होता है,
ये उस शख्स से पूछो,
जिसने दिल टूटने के बाद भी इंतज़ार किया हो।

कर लूँगा मैं इतना काबिल खुद को
की खुदा ज़मीन पर आकर
आशीर्वाद भी देगा और शाबाशी भी।

अजीब-सी बस्ती में ठिकाना है
मेरा जहाँ लोग मिलते कम
और झांकते ज़्यादा है।

बिन बात के ही रोने की आदत है,
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है,
आप खुश रहें मेरा क्या है
मैं तो आइना हूँ,
मुझे तो टूटने की आदत है।

वफ़ा की तलाश में निकले थे
घर से वफ़ा तो मिली नहीं
अब घर भी कहीं खो कर रह गया।

अभी सूरज नहीं डूबा जरा सी शाम होने दो,
मैं खुद लौट जाऊंगा मुझे नाकाम तो होने दो,
मुझे बदनाम करने का बहाना ढूंढ़ता है जमाना,
मैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले मेरा नाम तो होने दो।

हम चाहे लाख बुरे पर नफरत करने
वालों तुम भी तो अच्छे कहाँ हो।

आज बहुत रोए हम
पुरानी तस्वीर में खुद
को ख़ुश देख कर।

सलाहकार तो सभी बने हुए हैं ज़माने में,
मेरा मक़सद तो कलाकार बनने का है।

नाराज हो मुझसे तो कह दिया करो,
चुप रहने से रिश्ते उलझ के टूट जाते है।

कुछ दोस्त क्या ज़हरीले निकले,
लोगो दोस्तों की तुलना साँपों से करने लगे।

अक्सर जख्म वही लोग देकर जाते है,
जो शुरुवात में बड़े प्यार से पेश आते है।

समझ नहीं आया उनके लफ्ज़ थे
या तीर सीधा सीने पर आ कर चुभ गए।

अजीब पहेली है की कही
रिश्तों के नाम ही नहीं होते
और कही पर सिर्फ
नाम के ही रिश्ते रह जाते है।

बस कुछ लिहाज़ अपने माँ बाप की
परवरिश का है मुझे वरना कड़वे
शब्दों का पिटारा तो मेरे पास भी है।

गमो की धुप में भी
मुस्कुरा कर चलना पड़ता है,
ये दुनिया है यहाँ चेहरा
सजा कर चलना पड़ता है।

हाथो की लकीरों पर इतना विश्वास मत
कर बन्दे तक़दीर तो उनकी भी
होती है जिनके हाथ नहीं होते।

शिकायत क्या करुँ दोनों
तरफ गम का फ़साना है,
मेरे आगे मोहब्बत है तेरे आगे ज़माना है।

जिस दिन दिया धोखा मुझे मेरी वफ़ा ने,
उस दिन मेरे अंदर की
अच्छाई का कत्ले आम हो गया।

Read Also: कॉफ़ी पर अनमोल विचार

कितना इश्क़ है तुमसे,
कभी कोई सफाई नहीं दूंगा,
साये की तरह दूँगा तुम्हारा साथ,
लेकिन दिखाई नहीं दूँगा।

दम घुट गया मेरे अरमानों का,
जब माँ ने कहा पूरी घर की
ज़िम्मेदारियाँ अब तेरे कन्धों पर है।

प्यार कभी किसी से इसलिए मत करो,
की आप उसे कंट्रोल कर सके,
इसलिए करो की आप उसे दुनिया की
हर फ्रीडम दे सको।

जब ज़िन्दगी की अदालत में मुक़दमा एक
दूसरे का साथ देने का था,
तभी मेरे अपनों ने ही दी मेरे खिलाफ गवाही।

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से।

ज़माना पीठ पीछे बुराई
ही करता रह गया,
और हम आगे निकल गए।

अब इश्क भी करो तो ज़ात पूछकर करना,
मज़हबी झगड़ो में मोहब्बत हार जाती है।

साजिश की ज़माने ने गिराने की बहुत
शायद तभी मेरे सर उठा के
चलने पर उन्हें ताज़्ज़ुब होता है।