पुष्कर सिंह धामी का जीवन परिचय

पुष्कर सिंह धामी बायोग्राफी (Pushkar Singh Dhami Biography in Hindi): पुष्कर सिंह धामी को आज सभी लोग जानते है, यह उत्तराखंड के सबसे युवा मुख्यमंत्री हैं।

Pushkar Singh Dhami Biography in Hindi
Image: Pushkar Singh Dhami Biography in Hindi

इनको उत्तराखंड विधान सभा मंडल द्वारा सर्वसहमति से नेता के रूप में चुने गए है। इन्होंने बहुत ही कम उम्र में राजनीती में इस पद को प्राप्त किया है।

पुष्कर सिंह धामी का जीवन परिचय | Pushkar Singh Dhami Biography in Hindi

पुष्कर सिंह धामी की जीवनी एक नज़र में

नामपुष्कर सिंह धामी
जन्म16 सितंबर 1975, हरखोला (कनालीछिना ब्लॉक), पिथौरागढ़ जिला, उत्तराखंड
शिक्षास्नातक – BA, वकालत (LLB), डीपीए (डिप्लोमा इन पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन)
स्नानकोत्तर – मानव संसाधन प्रबंधन और औद्योगिक संबंध (MHRM & IR)
परिवारशेर सिंह धामी (पिता), बिशना देवी (माता), गीता धामी (पत्नी), दिवाकर और प्रभाकर (पुत्र)
पार्टीभारतीय जनता पार्टी
पेशाराजनेता

पुष्कर सिंह धामी का व्यक्तिगत जीवन

पुष्कर सिंह धामी का जन्म 16 सितंबर 1975 में खटीमा में हुआ था। उनका पैतृक गांव हरखोला (कनालीछिना ब्लॉक), पिथौरागढ़ जिला, उत्तराखंड है। उनके परिवार से उनके पिता शेर सिंह धामी (पूर्व सैनिक) सेना में थे और सूबेदार के पद से सेवानिवृत्त हुए थे।

उनकी माता का नाम बिशना देवी है जो गृहणी है, उनके परिवार में उनकी पत्नी गीता धामी और उनके दो पुत्र दिवाकर और प्रभाकर है। उन्होंने भारतीय राजनीतिज्ञ और भारतीय जनता पार्टी के सदस्य के रूप में शुरुआत की। इस सफर को वह उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बनाने तक लेकर आये है।

पुष्कर सिंह धामी शिक्षा

पुष्कर सिंह धामी ने शुरूआती शिक्षा पिथौरागढ़ उत्तराखंड के स्कूल से की है। उसके बाद उन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय से स्नानकोत्तर से मानव संसाधन प्रबंधन और औद्योगिक संबंध (MHRM & IR) मे मास्टर डिग्री किया और स्नातक BA, वकालत (LLB), डीपीए (डिप्लोमा इन पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन) से की है। उन्हें इसके साथ ही राजनीती का भी अच्छा अनुभव रहा है।

पुष्कर सिंह धामी का राजनीतिक कैरियर

राजनीतिक कैरियर की बात करें तो इनका राजनीतिक कैरियर बहुत ही शानदार रहा है, इन्होंने कम उम्र में राजनीतिक में अपनी एक अलग ही पहचान बनाई है। इन्होंने अपने राजनीतिक कैरियर की शुरुआत 1990 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से की थी।

इसके बाद उन्होंने 2008 में भारतीय जनता युवा मोर्चा में काम किया और उन्हें यहां पर राज्य अध्यक्ष के रूप में चुना गया। इस दौरान पुष्कर सिंह धामी ने फेक्ट्रियों और ऑफिस लेवल पर उद्योगों में स्थानीय युवाओं के लिए 70% पद आरक्षित करने के लिए राज्य सरकार पर काफी जोर दिया।

इसके बाद में यह युवाओं के बिच काफी पसंद किये जाने लगे। पुष्कर सिंह उधमसिंह नगर के खटीमा से विधायक रहे है। इसके साथ ही इन्होंने पुबीते विधानसभा चुनाव को भी जीता था। यहां से वह लगातार दूसरी बार विधायक पद के रूप में चुने गए और यहां की विधानसभा के लिए उन्होंने बेहतर कार्य किये।

उत्तराखंड के 11 वें सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री

पुष्कर सिंह धामी आज के समय में सबसे युवा मुख्यमंत्री है। उनके रिश्ते काफी समय से संघ के साथ रहे है और वह आज 45 साल की उम्र में मुख्यमंत्री बनकर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। संघ से उनके साथ करीबी रिश्ते होने के कारण पुष्कर सिंह धामी को केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह का करीबी माना जाता है। राजनाथ सिंह के साथ शुरू से उनके अच्छे संबंध रहे है।

पुष्कर सिंह के संबंध में रोचक जानकारियां

  • 2005 में पुष्कर सिंह के द्वारा 11 जनवरी 2005 को 90 युवाओं के साथ विधानसभा का घेराव किया था, जिसे काफी चर्चा मिली थी। यह आयोजन एक ऐतिहासिक रैली के रूप में देखा गया था।
  • 2001 से 2002 तक पुष्कर सिंह विशेष कार्यकारी अधिकारी के रूप में उत्तराखंड में अपना कार्यभार सम्भाल चुके है।
  • 2010 से 2012 तक शहरी विकास परिषद के उपाध्यक्ष के रूप में भी उन्होंने बेहतर कार्य को अंजाम दिया है।
  • यह दो बार विधायक के पद पर रहे है। 
  • 2012 में  खटीमा विधानसभा उत्तराखंड से चुनाव लड़े थे और अपने विरोधी को भारी मतों से हराया था।
  • पुष्कर सिंह धामी का उद्देश्य उत्तराखंड को सभी कार्यो में नंबर 1 बनाना है और उत्तराखंड की सभी जनता को सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध करवाना है।
  • वर्तमान में भी खटीमा विधानसभा के विधायक के रूप में पदस्थ है।
  • दिनांक 3 जुलाई 2021 को मुख्यमंत्री तीरथ सिंह के इस्तीफा देने के बाद बीजेपी ने उन्हें उत्तराखंड का मुख्यमंत्री बना दिया था।
  • भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने से पहले 33 वर्षों तक पुष्कर सिंह धामी आरएसएस के विभिन्न पदों पर कार्यत थे। यें 10 साल तक एबीवीपी पार्टी के भी हिस्सा रहे थे।
  • खबरों के अनुसार बताया जाता है कि पुष्कर सिंह धामी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बीच काफी अच्छी करीबी है। जिसके कारण कुछ लोगों का मानना है कि राजनाथ सिंह के सुझाव के बाद ही पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री के पद के लिए नियुक्त किया गया।
  • पुष्कर सिंह धामी ने कानून में स्नातक की डिग्री लखनऊ विश्वविद्यालय से हासिल की है।
  • साल 2022 के उत्तराखंड के विधानसभा चुनाव में पुष्कर सिंह खटीमा की सीट से हार का सामना करना पड़ा। वे कांग्रेस के भूवनचंद्र कापड़ी से 6951 मतों से हार गए। लेकिन पुष्कर सिंह के शानदार नेतृत्व में बीजेपी ने उत्तराखंड में धमाकेदार जीत हासिल की, जिसके कारण खटीमा विधानसभा क्षेत्र से हार होने के बावजूद बीजेपी ने पुष्कर सिंह धामी को दोबारा मुख्यमंत्री नियुक्त कर दिया और इसे बीजेपी ने यह भी साफ कर दिया कि नेतृत्व क्षमता के पैमाने पर यदि कोई खरा साबित होता है तो उसे फिर से अवसर जरूर दिया जाना चाहिए।

पुष्कर सिंह का राजनीती करियर हमेशा जनता की सेवा करने के लिए रहा है। वह हमेशा से ही जोशीले और कर्मठ व्यक्तित्व के इंसान रहे हैं। इन्होंने कई कार्य संघ के साथ रहकर और भारतीय जनता पार्टी में किये है।

पुष्कर सिंह धामी से जुड़े विवाद

पुष्कर सिंह को उत्तराखंड के दसवें मुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त करने की जब खबर आई थी। उस वक्त पुष्कर सिंह का एक ट्वीट आया था, जिसे उन्होंने 14 अगस्त 2015 को पोस्ट किया था। उसमें भारत के नक्शे के साथ पड़ोसी देश का नक्शा जुड़ा हुआ था और वे सभी भगवे रंग में रंगे हुए थे।

नक्शे के बीचो-बीच अखंड भारत लिखा हुआ था। ट्वीट को पुष्कर सिंह ने अखंड भारत-हर राष्ट्रभक्त की इच्छा कैप्शन के साथ पोस्ट किया था।

यह ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो गई और उसके बाद कई लोगों ने इनके विचारधारा की आलोचना की तो कई लोगों ने इनका समर्थन भी किया। यहां तक कि जवाहर सरकार जो आईएएस के पूर्व अधिकारी थे, उन्होंने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए पुष्कर सिंह को मुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त करने पर विरोध भी जताई थी।

FAQ

पुष्कर सिंह धामी कितने पढे है?

इन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय से स्नानकोत्तर से मानव संसाधन प्रबंधन और औद्योगिक संबंध (MHRM & IR) मे मास्टर डिग्री किया और स्नातक BA, वकालत (LLB), डीपीए (डिप्लोमा इन पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन) से की है।

पुष्कर सिंह धामी कौन है?

पुष्कर सिंह धामी को आज सभी लोग जानते है, यह उत्तराखंड के सबसे युवा मुख्यमंत्री हैं। वर्तमान में यह उत्तराखंड के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल को शुरु करेंगे। आज इनको उत्तराखंड विधान सभा मंडल द्वारा सर्वसहमति से नेता के रूप में चुने गए है।

पुष्कर सिंह धामी किस पार्टी के है?

भारतीय जनता पार्टी

पुष्कर सिंह धामी कहाँ के विधायक है?

पुष्कर सिंह उधमसिंह जिले के खटीमा से विधायक हैं। इसके साथ ही इन्होंने पुबीते विधानसभा चुनाव को भी जीता था। यहां से वह लगातार दूसरी बार विधायक पद के रूप में चुने गए और यहां की विधानसभा के लिए उन्होंने बेहतर कार्य किये।

निष्कर्ष

आज के लेख में हमने आपको उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के जीवन परिचय के बारे में बताया, जिसमें उनके पारिवारिक जीवन, उनकी शिक्षा, उनसे जुड़े रोचक तथ्य, उनके विवाद, उनकी राजनीतिक क्षेत्र में कार्य इत्यादि संबंधित सभी जानकारी दी।

हमें उम्मीद है कि आज का लेख आपको अच्छा लगा होगा। लेख से संबंधित कोई भी प्रश्न या सुझाव हो तो कमेंट में लिखकर जरूर बताएं और इस लेख को अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here