प्रेरणादायक भाषण

Motivational Speech in Hindi: हर व्यक्ति को जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा मिलनी बेहद जरुरी है। प्रेरणादायक भाषणों में काफी शक्ति होती है, जो किसी भी व्यक्ति को जड़मूल से बदल सकती है और एक सफल इंसान बनाती है। आज हम इस आर्टिकल में प्रेरणादायक भाषण अर्थात मोटिवेशन स्पीच (Motivational Speech in Hindi) प्रस्तुत कर रहे हैं। बेहद सरल और सीधी भाषा में लिखा गया यह भाषण आपके लिए काफी मददगार साबित होगा।

प्रेरणादायक भाषण | Motivational Speech in Hindi

प्रेरणादायक भाषण (500 शब्द )

यहाँ उपस्थित सभी श्रोतागणों को मेरा नमस्कार।

दोस्तों अगर आप जीवन में सफल होना चाहते है तो को आपको हर हाल में एक सकारात्मक अभिगम रखना पड़ेगा। सकारात्मक अभिगम रखने के लिए आपको किसी भी पॉजिटिव स्रोत का उपयोग करना पड़ेगा। प्रेरणा अर्थात मोटिवेशन आप कही से भी ले सकते हो। आप अच्छी किताब पढ़ सकते हो, या आप पॉजिटिव लोगों के संपर्क में रह सकते हो या फिर मोटिवेशन पर कोई फिल्म देख सकते हो और गाने सकते हो। आज में यहाँ आपके साथ ज़िंदगी सफलता के बारे में कुछ बातें शेयर करना चाहूंगा, जो आपको सफलता के शिखर पर पहुँचने के लिए काफी मददगार होगी।

दोस्तों, अगर आप जिंदगी में कुछ हांसिल करना चाहते हो तो सबसे पहले खुद को बदलना होगा। आपकी ज़िंदगी की हर वो छोटी सोच और आदत को बदलना होगा जो आपके लक्ष्य में रुकावटें डालती हो। आपको खुद पर विश्वास करना होगा। ज़िन्दगी में जीत और हार हमारी सोच बनाती है इसलिए यह बेहद जरुरी है की हम अपने आप को हमेशा सकारात्मक बनाए रखें। क्योंकि जो मान लेता है वो हार जाता है और जो ठान लेता है वो ही जीत जाता है।

स्वामी विवेकानंद का वो प्रसिद्ध स्लोगन तो आप सबने सुना होगा कि  उठो, जागो, और ध्येय की प्राप्ति तक मत रूको। हमें अपने लक्ष्य की प्राप्ति तक रुकना नही है।केवल चलते ही जाना है। इस मामले में हम नदी का उदाहरण ले सकते है। नदी हमेशा आगे की तरफ बहती रहती है। वो कभी भी पीछे नही मुडती। उसकी मंज़िल सागर होता है और सागर में मिलने के लिए वो हर हाल में किसी भी पथ पर अवितरत बहती रहती है। हमें भी अपने जीवन में सदा नदी के जैसा बनना है।

अल्बर्ट आइंस्टीन ने एक बार कहा था कि यदि आप कभी असफल नहीं हुए हैं, तो इसका सीधा सा मतलब है कि आपने कुछ नया करने की कोशिश नहीं की है। इसलिए खुद अकेले चलो। दूसरों के रास्ते पर नहीं चलना चाहिए। हमें भेड़ बकरियों की तरह नहीं लेकिन एक शेर की तरह अपना रास्ता खुद बनाना चाहिए। आप को किसी से भी कमजोर नहीं समझना चाहिए। जीवन में लक्ष्य बड़े बनाओ और उन लक्ष्यों को पाने के लिए दिन रात एक कर दो। अपनी संवाद की कला को बहेतर बनाओ। जीवन में अनुशासन को बढ़ावा दो। 

किसी ने कहा है कि जीवन में जब महेनत हमारी आदत बन जाती है, तब कामियाबी हमारी किस्मत बन जाती है। ज़िंदगी में हमें कई बार ऐसी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है, जो हमें अंदर से खोखला कर देती है। लेकिन कभी भी हमें ऐसी परिस्थितियों में झुकना नहीं है। याद रखना एक बार आपके जितने की तब तक उम्मीद बनी हुई है, जब तक अपने हार नहीं मानी। जिस दिन अपने हार मान ली उस दिन आप जीती हुई बाजी भी हार जाते है।

अंत मैं बस इतना कहना चाहता हूँ की आपको खुद पर भरोसा करना होगा और चाहे कुछ भी हो जाये आपको आपकी मंजिल तक पहुँचना ही होगा। कठिनाइयां चाहे कितनी भी हो कभी भी उम्मीद नहीं छोड़ना।

धन्यवाद।

मोटिवेशन स्पीच (500 शब्द )

आदरणीय अतिथि, सम्मानीय शिक्षक गण और मेरे प्यारे मित्रों सभी को मेरा नमस्कार। में आप सभी का आभार व्यक्त करना चाहता हूँ की मुझे इस अवसर पर मोटिवेशन स्पीच देने का मौका मिला।

दोस्तों, आज मैं आपको पूंछू की एक ऐसी चीज़ जो हर जगा है और कहीं भी नही हैं। एक ऐसी चीज़ जिसके बारे में हम रोज़ बात करते है, वो चीज़ शरीर के हर हिस्से में रहती है और अपने शरीर का कंट्रोल भी उसके पास में होता है और वो चीज़ है हमारा मन। हम जो करते है अपने मन के हिसाब से करते है। इसलिए अगर हम जिंदगी में सफल होना चाहते है तो सबसे पहले हमें अपने मन पर काबू पाना बेहद जरुरी है। हमारे मन में कोई भी नेगेटिव विचार नहीं आने चाहिए। हम जीवन में कुछ करना चाहते हैं और अपने सपनों को पूरा करना चाहते हैं, जिसके लिए हमें एक ऊर्जा की आवश्यकता होती है, वह ऊर्जा हमें अपने पॉजिटिव मन से मिलती है।

एक सफल व्यक्ति बनने के लिए हमें ज़िदगी के अच्छे और बुरे हालात को हमारे कंट्रोल में करना सीखना होगा। यह चीज़ हमें किसी स्कूल और विद्यालय में नहीं सिखाते बल्कि हम यह चीज़ महेनत, निष्फलता और विविध प्रयोग के जरिये सीखते है। सफल बनने के लिए हमें कोई भी कार्य का आरंभ करना जरुरी होता है क्योंकि अगर हमें सोचते ही रहेंगे तो कभी आगे नहीं बढ़ पाएंगे। कहते हैं कि इंसान जो सोच सकता है वो कर भी सकता है। आप वो सब कर सकते हैं जो आप सोच सकते हैं। खेल सिर्फ सोच का है  क्योंकि इंसान गरीब भी ओर अमीर भी अपनी सोच से ही होता है।

किसी भी क्षेत्र में सफलता पाने के लिए टाइम मैनेजमेंट का होना बेहद जरुरी है। सफल लोग दूसरों से ज्यादा स्मार्ट नहीं होते बस वो अनुशासन प्रिय होते है। वो आज काम काम आज ही करते है। आपको भी सफल होने के लिए सबसे पहले जरुरी काम की एक यादी बनानी होगी। आलस को अपने जीवन से त्यागना होगा। जीवन एक कबड्डी के खेल की तरह हैं। जब आप जीत की लाइन पर टच करने वाले होते हैं तब पीछे से आपकी टांग खींचने वाले लोग होते हैं। अगर आपने पूरा जोर लगा कर उस लाइन को टच कर लिया तब आपको सफलता से कोई नहीं रोक सकता।

आपने एक बार लोगों की बातों को नजरअंदाज किया और अपने लक्ष्य पर अडिग रहे तो आपको अपनी सफलता पाने से भी कोई नहीं रोक सकता।हमेशा परिस्थितियों को दोष देने वाले व्यक्ति कभी सफल नहीं होते इसलिए कभी परिस्थितियों को दोष मत दें। आप जैसी भी परिस्थिति में है वहीं से अपनी सफलता की राह को शुरू करें। एक दिन आप अपनी मंजिल तक जरूर पहुंच जाएंगे।

हमें बिना किसी परिणाम की परवाह किए अपना कार्य करते रहने चाहिए। निष्फलता के कभी नहीं घबराना चाहिए। निष्फलता के बिना सफलता की कहानी अधूरी होती है। काम के प्रति ईमानदारी हमें सफलता के शिखर पर ले जाएँगी।

अंत में यही बात बोलना चाहता हूँ की “जिसने भी खुद को खर्च किया है, दुनिया ने उसी को Google पर Search किया है।

Great Speeches In Hindi (500 शब्द )

प्रिय साथियों,

सबको मेरा प्यार भरा नमस्कार।

किसी ने कहा है कि अगर आप 1000 बार भी असफ़ल हुए है, तो एक बार और प्रयास करें।

दुनिया में कोई ऐसा मुक़ाम या मंज़िल ऐसी नहीं है, जो इंसान की पहुँच से दूर हो। आप भी अपने जीवन के तय किये हुए लक्ष्य तक पहुँच सकते है। लेकिन आपको उसके लिए अपने मन से सभी प्रकार के डर को निकालने होंगे क्योंकि डर के आगे जीत है। दूसरे लोगों की गलतियों को देखने की बजाय आप अपने कर्म पर ध्यान दें। कुछ लोगों को सफलता तुरंत मिल जाती है और कुछ लोगों को देर से क्योंकि सफलता मेहनत के साथ साथ मौके भी लाती है। मौके की परख हर इंसान में भिन्न भिन्न होती है।

जीवन में सफलता की राह इतनी आसान नहीं है । कई बाधाएं और विपरीत परिस्थितियां सफलता की राह पर जन्म लेगी लेकिन कुछ भी हो जाये आपको इसके आगे झुकना नही है। आपको अपनी मज़बूत इच्छा शक्ति से उसका सामना करना होगा और अंत तक अपना संघर्ष जारी रखना होगा। एक बार चन्द्रगुप्त ने चाणक्य से पूछा की, “अगर किस्मत पहले लिखी जा चूकी है, तो कोशिश करने से क्या मिलेगा?” चाणक्य ने जवाब दिया, “क्या पता किस्मत में लिखा हो कोशिश करने से ही मिलेगा” इसीलिए हम भी कहते है सफल होना है तो कोशिश तो करनी ही पड़ेगी।

माना की कामयाबी रातों रात तो नहीं नहीं मिलती लेकिन एक दिन मिलती जरूर है। इसके लिए जरुरी के खुद पर विश्वास रखना। इतिहास भी गवाह है की बिना असफलता के आज तक कोई सफल नहीं हुआ है। बड़ी बड़ी महान हस्तियां भी अपने जीवन में कई बार नाकामियाब रही है लेकिन उन्होंने खुद पर विश्वास किया। असफलता हमें एक मौका देती है की हम अपनी गलती को कैसे सुधारें।

असफलता से घबराने की और लोगों के ताने सुनने की कोई जरुरत नहीं है। आपको बस अपने लक्ष्य पर ही ध्यान देना है। किस्मत को कोसते रहने से कुछ नहीं होगा। नदी किनारे बैठ कर सोचते रहने से कोई तैराक नहीं बन जाता। इसलिए उठो और फिर से प्रयास करो। तब तक प्रयास करते रहो करो ज़ब तक कामयाबी ना मिल जाए। ज़ब भी आपको लगे की आप चारों तरफ से घिर गए हो और आपके पास बाहर निकलने के लिए कोई ऑप्शन नहीं है। उस वक्त याद रखना की यही वो मूवमेंट है, जहाँ से आपकी तकदीर बदलने वाली है। हर मुश्किल से मुश्किल परिस्थिति में आप सकारात्मक सोच को बनाए रखें।

आपको अपने अंदर की कमजोरी पर विजय प्राप्त करना होगा। अगर आपको जिंदगी में कुछ पाना है, तो कुछ खोना ही पड़ेगा। अगर सोने की तरह चमकना चाहते हो, तो आग खुद को जलाना होगा। सबसे पहले अपने काम पर ध्यान देना होगा। खुद को बेहतर बनाना होगा।अगर आपने कुछ करने को ठान लिया तो नामुमकिन कुछ भी नहीं। तो फिर उठो, जागो और इस दुनिया में अपनी मिशाल कायम करो।

जिंदगी मे अगर आगे बढ़ना है, तो कभी निर्भर मत रहना गैरों पर!

क्योंकि मंजिल उन्हीं को मिलती है जो खड़े होते हैं अपने पैरों पर!!

Motivational Speech in Hindi (500 शब्द )

नमस्कार।

आदरणीय अतिथि और मेरे प्यारे साथियों। में आपका दिल से शुक्रिया करना चाहता हूँ की अपने मुझे इस मंच पर मोटिवेशन स्पीच पर बोलने का मौका दिया। कहते है की दुनिया मे लगभग हर इंसान दिखने मे एक जैसा ही होता है। तो फिर ऐसा क्यों है की दुनिया में 95% लोग सिर्फ 5% लोगो के लिए काम कर रहे होते है। उन 5% लोगो मे ऐसा क्या है, जो 95% लोगो के पास नहीं है। उनके पास है एक एक सकारात्मक सोच, जो उन लोगों में कूट कूट के भरी होती है। मनुष्य जो सोचता है वह भी कर सकता है।

अगर आप सफल बनना चाहते हो तो आप सिर्फ सफल लोगों को फॉलो करना चालू कर दो। वो क्या करते है?, क्या सोचते है?, उनकी जीवन शैली कैसी है? उसके बारे में जानो। हर पल नवीनतम चीजें सीखना चालू करो क्योंकि अगर आप सबसे अलग कुछ कर पाएंगे तभी आप कुछ बन पाएंगे। जिन्‍दगी एक साइकिल चलाने जैसी ही है यदि आपको बैलेंस बनाये रखना है, तो  लगातार चलते रहना होगा, यदि रूक गए तो तुरंत गिर जाओगे। हमेशा अपनी बात सुनें क्योंकि 95% लोगों की सलाह मनोबल गिराने वाली होती है।

इस दुनिया में कुछ भी असंभव नही होता। यह मात्र एक कल्पना है। जो आप सोच सकते है, वो आप कर सकते हैं। सफलता पाने के लिए हमें पहले विश्‍वास करना होगा की हम कर सकते हैं। हमेंशा ध्‍यान रखो कि एक मिनट में जिंदगी नहीं बदल सकती लेकिन एक मिनट में लिया गया निर्णय आपकी पूरी जिंदगी बदल सकता है। यह बात तो सच है की बिना रातें जागे नसीब नहीं जागता।

अगर आपके जीवन में कुछ अप्रत्याशित घटित हो जाए तो घबराएं नहीं, क्योंकि यह कठिनाइयां अस्थायी हैं और जो इस कठिनाई को पार कर आगे बढ़ता है, चमकता है, सफल होता है। अगर जीवन में कुछ बनना चाहते हो तो परेशानियां तो आएंगी क्योंकि सफलता का रास्ता सीधा नहीं है। एक छोटा सा बदलाव एक बड़ी सफलता की शुरुआत है। आत्मविश्वास ही सफलता का पहला रहस्य है।

तो दोस्तों अगर आपने भी अपने जीवन के लिए कुछ लक्ष्य या उद्देश्य बनाए हैं तो बिना कुछ सोचे समझे, बिना किसी की सुने पूरे साहस के साथ उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आगे बढ़ें और उसे अपने मन में बना लें कि जब तक मैं इस लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर लेता, तब तक मैं किसी के लिए नहीं रुकूंगा। अपने आप को इतना मजबूत बनाएं कि नकारात्मक लोग आपको हरा न सकें।

क्‍यों हिम्‍मत हार जाते हो, उठो और एक बार फिर कोशिश करो क्‍योंकि हिम्‍मत के साथ की मेहनत बेकार नहीं होती और कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती। जीवन को एक लक्ष्य मानकर चलिए। केवल वही सफल होता है जो अपने लक्ष्य और अपने जीवन को समझता है। योद्धा वही होता है, जो हार कर भी जीतने की ताकत रखता है।

अंत में मैं यही कहना चाहूंगा कि जीवन में आप कभी भी हार मत मानना, कौन जाने आपका अगला प्रयास आपको सफलता की ओर ले जाता है। कल गिरो, तो आज उठो और आगे बढ़ो।

धन्यवाद।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको प्रेरणादायक भाषण (Motivational Speech in Hindi) पसंद आये होंगे। इसे आगे शेयर जरूर करें और कोई सुझाव या सवाल हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also:

हिन्दी दिवस पर निबन्ध व भाषण

गाँधी जयंती पर भाषण

आत्मनिर्भर भारत पर भाषण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here