स्वतंत्रता दिवस पर भाषण – Independence Day Speech in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए यहां पर इंडिपेंडेंस डे स्पीच इन हिंदी लेकर आये हैं। यहां पर हम अलग-अलग 15 अगस्त पर भाषण (15 August on Speech) शेयर करेंगे, जिससे आप आसानी से Independence Day Speech in Hindi अपने विद्यालय या फिर किसी अन्य जगह पर आयोजित 15 अगस्त के कार्यक्रम में बोल सकेंगे।

independence-day-speech

Read Also: स्वतंत्रता दिवस – Independence Day Quotes, Shayari, Status, SMS And Wishes in Hindi

यहां पर शब्दों की सीमा को देखते हुए 15 August Bhashan शेयर करेंगे, जिससे आपको The Independence Day Speech बोलने में काफी मदद मिलेगी। तो आइये जानते हैं सरल से शब्दों में Speech on 15 August.

स्वतंत्रता दिवस पर भाषण – Independence Day Speech in Hindi

15 अगस्त पर भाषण – Best Speech on Independence Day

सुप्रभात, यहां पर पधारे प्रधानाचार्य, शिक्षक और मेरे प्यारे साथियों आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं!

आज पूरे भारत देश में 73वां स्वतंत्रता दिवस मनाया जा रहा है। आज का दिन हमारे देश के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण और गौरवान्वित करने का दिन है। 1947 में आज ही के दिन यानि 15 अगस्त 1947 को हमारा देश ब्रिटिश शासन से आजाद हुआ था। हमारे देश के आजाद होने के पीछे कई महापुरूषों का कठोर संघर्ष हैं। कई महापुरूषों ने आजादी के पीछे अपने प्राण न्योछावर किये हैं। वहीं महान पुरूष गान्धी जी ने भी भारत को आजादी दिलाने में अपनी अहम भूमिका अदा की।

आजादी मिलने से पहले ब्रिटिश सरकार ने भारतीयों पर कई प्रकार से अत्याचार किये थे। आजादी के पीछे हमारे कई महापुरूषों की मेहनत है। 1947 में आज ही दिन आधी रात में पंडित जवाहरलाल ने हमारी आजादी को चिन्हित करके लाल किले पर तिरंगा फहराया था। उस दिन भारत के सभी लोग ख़ुशी से झूम उठे थे।

आज के दिन हम आजादी के लिए शहीद हुए हजारों स्वतंत्रता सेनानियों को याद करते हैं और उनको नमन करते हैं। स्वतंत्रता दिवस हमें याद दिलाता है कि हम एक स्वतंत्रत देश के स्वतंत्रत नागरिक है और हमें देश की एकता को कायम रखने की पूरी कोशिश करनी चाहिए।

हमें अपने राष्ट्र गान और राष्ट्र ध्वज का सम्मान करना चाहिए और हमें भी उन महान लोगों की तरह बनना चाहिए जिन्होंने अपने देश की आजादी के लिए अपनी जान की चिंता किये बिना लड़ाई लड़ी और हमें आजादी दी।

जय हिन्द, जय भारत।

Read Also: दिवाली पर निबंध – Diwali Essay in Hindi

15 अगस्त पर भाषण हिन्दी में – 15 August Speech in Hindi

सुप्रभात, आदरणीय अतिथिगण और शिक्षकगण आप सभी को स्वतंत्रता की बहुत बहुत बधाई।

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि आज हम यहां पर हमारे देश की आजादी का जश्न मनाने के लिए एकत्रित हुए है। आज का दिन हमारे देश के इतिहास का सबसे महत्वपूर्ण दिन है। आज के दिन ही हमारे देश को आजादी मिली थी।

आज ही के दिन 1947 में हमारे देश को अंग्रेजों के अत्याचार से मुक्ति मिली थी। आज ही दिन Pandit jawaharlal Nehru ने दिल्ली के लाल किले पर मध्य रात्रि में राष्ट्रिय ध्वज फहराया था। आज का दिन हम सभी भारतीयों के लिए शुभ अवसर है।

wikimedia.org

भारत में स्वतंत्रता दिवस का दिन सबसे महत्वपूर्ण और ख़ुशी का दिन है। क्योंकि इस दिन भारत की आजादी के लिए कई स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने कठिन परिश्रम से भारत को ब्रिटिश शासन से आजादी दिलाई थी। सभी भारतीय अपनी आजादी का पहला दिन याद रखने के लिए आज के दिन यानि 15 अगस्त के दिन को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं। आज के दिन आजादी के लिए शहीद हुए हजारों सेनानियों को नमन करते हैं।

हमें गर्व होना चाहिए कि हमने भारत देश में जन्म लिया है और हम एक सच्चे भारतीय है। ब्रिटिश सरकार से आजादी कितनी मुश्किल से मिली है हम इसका अन्दाजा भी नहीं लगा सकते हैं। हमारे इतिहास से ये पता चलता हैं कि कितनी मुश्किल परिस्तिथियों में हमारे पूर्वजों ने अंग्रेजों की क्रूरता भरे अत्याचार का सामना किया है।

हमारे देश में भगत सिंह, खुदी राम बोस और चंद्रशेखर आजाद जैसे कई स्वतंत्रता सेनानी हुए हैं, जिन्होंने अपने देश को आजाद कराने के लिए अपनी जावानी में ही अपने प्राण न्योछावर कर दिए। हम उन महान वीरों को नमन करते हैं।

महात्मा गान्धी एक महान व्यक्ति थे जिन्होंने पूरे भारत को अहिंसा का सबक सिखाया था। पूरे देश का गान्धी जी ने अहिंसा के माध्यम से आजादी दिलाने के लिए नेतृत्व किया। अंत में 15 August 1947 को भारत को सम्पूर्ण रूप से आजादी मिल गई और भारत अंग्रेजों के क्रूर अत्याचार से मुक्त हो गया।

हमें हमारे पूर्वजों ने एक शांति पूर्ण और आजाद देश दिया है जिसमें हम आजादी से रह सकते हैं और कुछ भी काम अपनी आजादी से कर सकते हैं।

आज देश आजाद होने के कारण बहुत से क्षेत्रों में विकास कर रहा है। यदि देश आजाद न होता तो ये सभी असंम्भव था। हम एक आजाद देश के नागरिक है। हमें अपने देश जिम्मेदारी को नहीं भूलना चाहिए और इसका सम्मान करना चाहिए। हर आपात्काल स्थिति में देश के लिए तैयार रहना चाहिए।

भारत माता की जय।

Read Also: हिन्दी दिवस पर भाषण और निबन्ध

स्वतंत्रता दिवस पर भाषण – Hindi Speech for Independence Day

प्रधानाचार्य जी, अध्यापकगण, पधारे अतिथिगण और मेरे प्यारे साथियों आपको स्वतंत्र भारत की स्वतंत्र सुबह का नमस्कार।

मेरा ये भाग्य है कि मुझे आज 15 अगस्त के शुभ अवसर पर आप लोगों के बीच में भाषण देने अवसर मिला है।

भारत में कई प्रकार के त्यौहार मनाये जाते हैं। इन्हीं में से आज का दिन विशेष महत्व रखता है। क्योंकि आज के दिन ही हमारे देश को आजादी मिली थी। इस दिन हमारे बीच में कोई जात या धर्म बीच में नहीं आता। सभी स्वतंत्रता दिवस को बड़ी ख़ुशी के साथ मनाते हैं।

हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के कारण ही आज हम यहां पर आजादी से अपना जीवन जी रहे हैं। उन्होंने हमारी आजादी के लिए अपने प्राण त्याग दिए थे। हमारी आजादी हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान का ही परिणाम है।

हम अहसानमंद है उन स्वतंत्रता सेनानियों के जिन्होंने अग्रेजों से लड़कर अपनी जान गंवा दी और हमें आजादी दिलाई। आज हम उन सभी सेनानियों को सलाम करते हैं।

भारत पर ब्रिटिश सरकार ने 200 सालों तक अपनी हुकूमत चलाई और भारत पर राज किया। लेकिन हमारे साहसी स्वतंत्रता सेनानियों ने कठिन परिश्रम करके अपना बलिदान कर हमें उनसे आजादी दिलाई।

स्वतंत्रता सेनानियों में बहुत से ऐसे रहे हैं जिन्होंने अपने जीवन को पूरी तरह से देखा भी नहीं था फिर उनके लिए उनका देश सबसे पहले था। हमें भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद और खुदी राम बोस के बलिदान को नहीं भूलना चाहिए। आज हम उनके बलिदान पर ही आजाद देश में रह रहे हैं।

आज हम स्वतंत्रता दिवस के मौके पर उन हजारों स्वतंत्रता सेनानियों को नमन करते हैं और उन्हें सलाम करते हैं, जिनकी वजह से ही हम अपने जीवन का सही आनंद ले रहे हैं।

जय हिन्द, भारत माता की जय।

Read Also: शिक्षक दिवस पर सरल निबन्ध

15 अगस्त पर भाषण – Independence Day Speech for Students

यहां पर मौजूद सभी अतिथिगण, शिक्षकगण और मेरे प्यारे साथियों सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं।

आज पूरा भारत देश 73वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। ये दिन भारत के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है। 15 अगस्त 1947 को भारत को आजादी मिली थी। इसी दिन से हमारा देश 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाता आ रहा है।

भारत पर 200 वर्षों तक ब्रिटिश सरकार का शासन रहा। इस शासन के दौरान भारतवासियों पर ब्रिटिश सरकार द्वारा कई प्रकार से अत्याचार किया जाता था और उनके अधिकारों से वंचित रखा जाता है। लेकिन हमारे महापुरूषों ने अंग्रजों से आजादी के लिए लड़ना कभी नहीं छोड़ा। अंत में अंग्रेजों को भारत छोड़ कर जाना ही पड़ा।

इस आजादी के पीछे हमारे कई स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान गये हैं और इनके बलिदान के कारण ही हम आजाद भारत में रह रहे हैं।

आज के दिन भारत में सभी जगहों पर शान से तिरंगा फहराया जा रहा है और सभी ख़ुशी मना रहे हैं। इस ख़ुशी के पीछे हमारे स्वतंत्रता सेनानी है।

देश को स्वतंत्रता के बाद कई क्षेत्रों में बड़ी कामयाबी हासिल हुई है और आजादी के बाद भारत में विकास भी बहुत होने लगा है जो आजादी से पहले संभव नहीं था। आज भारत हर दिन कुछ नया काम कर रहा है और सभी देशों को कुछ नया सिखा रहा है।

विश्व के सफ़ल देशों में भारत की भी गिनती होने लगी है। आजादी के बाद भारत ने कई प्रकार से दूसरे देशों की सहायता की है और हमें हमारे देश पर गर्व होना चाहिए।

हमें गर्व होना चाहिए कि हम एक आजाद देश के आजाद नागरिक है जो अपनी जिन्दगी आजादी से जी रहे हैं। हमें अपने राष्ट्र का राष्ट्र गान का सम्मान करना चाहिए। साथ हमें उन सभी का सम्मान करना चाहिए, जिनसे हमारे देश की पहचान होती है।

आज हम उन स्वतंत्रता सेनानियों को सलाम करते हैं जिन्होंने अपने प्राण त्याग कर अपना बलिदान देकर हमें ये आजादी दिलाई और एक आजाद भारत दिया।

जय हिन्द जय भारत।

Read Also: शिक्षक दिवस पर बेहतरीन भाषण व सुविचार

स्वतंत्रता दिवस पर स्पीच – Speech on 15th August in Hindi

यहां पर विराजमान आदरणीय प्रधानाचार्य जी, शिक्षकगण, अतिथिगण और मेरे प्यारे साथियों सभी को मेरा नमस्कार!

सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई।

आज हम यहां पर स्वतंत्रता दिवस को मनाने के लिए इकठ्ठा हुए है और आज पूरे भारत देश में स्वतंत्रता दिवस बहुत ही ख़ुशी के साथ मनाया जा रहा है। ये दिन हम सभी भारतीयों के लिए गर्व का दिन है और इस दिन का भारतीय इतिहास में बहुत महत्व है और रहेगा।

क्योंकि इसी दिन हमारा देश आजाद हुआ था। हमारे देश में ब्रिटिश सरकार ने धीरे-धीरे अपना शासन स्थापित कर दिया था और धीरे-धीरे हमारे पर भी वह शासन करने लगे, अत्याचार करने लगे। उनका अत्याचार बढ़ता ही जा रहा था। लेकिन हमारे देश के लोगों को गुलामी मंजूर नहीं थी।

लोगों ने इस अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाई। सभी लोग आजादी चाहते थे लेकिन आजादी मिलना बहुत मुश्किल काम था। फिर भी लोगों ने कठिन संघर्ष किया और आजादी को हासिल किया।

dishapublication.com

इस आजादी के पीछे हमारे कई स्वतंत्रता सेनानियों ने अपना पूरा जीवन लगा दिया। कई सेनानी अपनी जवानी में ही अंग्रेजों से संघर्ष करते हुए शहीद हो गये। आज हमें जो आजादी मिली हुई है ये स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान से मिली हुई है। उन्होंने हमें आजाद देखने के लिए खुद का बलिदान दिया है। हमें उनका बलिदान हमेशा याद रखना चाहिए।

महात्मा गान्धी ने अहिंसा से आजादी के लिए प्रयत्न किया, सभी का नेतृत्व किया। भगत सिंह, सुखी राम बोस और चंद्रशेखर आजाद जैसे महान क्रांतिकारी अपने प्राणों की चिंता किये बिना ही अंग्रेजों से संघर्ष किया और आजादी के लिए शहीद हुए। हमें इन क्रांतिकारियों के साथ शहीद हुए और क्रांतिकारियों को भी सम्मान देना चाहिए और उनको सलाम करना चाहिए।

आज हम उनकी वजह से एक आजाद जीवन का आनंद ले रहे हैं। हमें उनके बलिदान का सम्मान करना चाहिए।

जय हिन्द जय भारत।

Read Also: पेड़ों के महत्त्व पर निबंध

15 अगस्त पर स्पीच – speech in 15 august in hindi

आदरणीय प्रधानाचार्य, शिक्षकगण, अतिथिगण और मेरे प्यारे साथियों आज मुझे बहुत ही ख़ुशी हो रही है कि स्वतंत्रता दिवस के पावन पर्व पर मुझे अपने सुविचार व्यक्त करने का मौका मिला है। आज मैं आपको स्वतंत्रता दिवस के बारे में कुछ जानकारी बताने जा रहा हूं।

आज का दिन एक एतिहासिक दिन है। क्योंकि आज से 73 वर्ष पहले हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने हमारे देश को अंग्रेजों से आजादी दिलाई थी और भारत को एक नई पहचान दी। अंग्रेज भारत में व्यापार के लिए आये थे। लेकिन उन्होंने धीरे-धीरे हमारी कमजोरियों को देखते हुए हमारे पर अधिकार करना शुरु कर दिया। अंग्रेजों ने हमारे पर 200 वर्षों तक शासन किया और अपना अधिकार बनाए रखा।

हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने स्वतंत्रता के लिए कई भीषण लड़ाइयां लड़ी। जिससे हमें 15 अगस्त 1947 को आजादी मिल पाई। उस दिन से लेकर आज तक पूरा भारत 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में बड़ी ख़ुशी और धूमधाम से मनाता है।

आजादी पाने के लिए हमारे वीर क्रांतिकारी लोगों ने अपना पूरा जीवन आजादी पाने के पीछे लगा दिया, खुद बलिदान हो गये और हमें आजादी दी। हमें ऐसे वीर क्रांतिकारियों का सम्मान करना चाहिए और उनके प्रति प्रेम की भावना रखनी चाहिए।

जय हिन्द भारत माता की जय।

महान लोगों के प्रेरणादायक सुविचार पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें <Click Here>

हमनें यहां पर 6 अलग-अलग Hindi Independence Day Speech लिखे हैं। आप इनकी मदद से और भी Best Speech on Independence Day आसानी से बना सकते हैं। Speech on Independence Day in Hindi हमने बहुत ही आसान से शब्दों में लिखे हैं। इनमें लगभग स्वतंत्रता दिवस की सभी जानकारी आ गई है।

Read Also: अशोक स्तंभ का इतिहास

हम उम्मीद करते हैं कि आपको यह Independence Day Speech in Hindi का संग्रह पसंद आया होगा। इसे आगे शेयर जरूर करें और इससे जुड़ा कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

धन्यवाद!

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here