मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनाएं? (योग्यता, दस्तावेज और प्रक्रिया)

Mobile Se Driving Licence Kaise Banaye: यदि आप वाहन खरीदने वाले हैं या आपने वाहन खरीद लिया है और अभी तक आपने ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन नहीं किया है तो, जल्दी ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर दें क्योंकि बिना ड्राइविंग लाइसेंस के सड़कों पर वाहन चलाना गैरकानूनी माना जाता है और ऐसे में आपको जुर्माना भी भरना पड़ सकता है।

Mobile Se Driving Licence Kaise Banaye
Image: Mobile Se Driving Licence Kaise Banaye

हालांकि बहुत से लोग इस परेशानी में रहते हैं कि उन्हें ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन के लिए आरटीओ में जाकर लाइन लगानी पड़ेगी। लेकिन अब लंबी लाइन लगाने का झंझट खत्म हैं क्योंकि भारतीय परिवहन मंत्रालय ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन की सुविधा दी है। अब आप अपने मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं वह भी घर बैठे। तो आज के इस लेख में हम घर बैठे मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में जानेंगे।

मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनाएं? (योग्यता, दस्तावेज और प्रक्रिया) | Mobile Se Driving Licence Kaise Banaye

Driving Licence बनाने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी:

  • पहचान पत्र
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज की फोटो
  • यदि परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर रहे हैं तो लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस का नंबर
  • आधार कार्ड

मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनाएं

यदि आपके पास एंड्राइड फोन है तो आप बिना आरटीओ में जाए घर बैठे ही ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं। जैसा कि आप जानते हैं कि जब भी कोई व्यक्ति ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन करता है तो सबसे पहले उसे लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदन करना पड़ता है जो मात्र 6 महीने तक के लिए ही वैलिड रहता है।

ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने के 1 महीने के बाद वह परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकता है। दोनों ही लाइसेंस में टेस्ट देना पड़ता है। लर्निंग लाइसेंस और परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस दोनों के लिए किस तरीके से आप मोबाइल से आवेदन कर सकते हैं उसकी प्रक्रिया आगे हमने स्टेप बाय स्टेप बताई है। तो सबसे पहले लर्निंग लाइसेंस को बनाने की प्रक्रिया जानते हैं।

मोबाइल से लर्निंग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया

मोबाइल से लर्निंग लाइसेंस बनाने के लिए आप अपने क्रोम ब्राउजर में जाकर परिवहन सर्च कर सकते हैं जिससे आप परिवहन मंत्रालय के ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंच जाएंगे।

परिवहन मंत्रालय की ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंचते ही आपको सबसे पहले ऊपर मेनू बार में आपको बहुत सारे अलग-अलग सेक्शन दिखाई देंगे। इसमें आपको दूसरा सेक्शन ऑनलाइन सर्विस लिखा हुआ दिखाई देगा उस पर क्लिक करना है। जैसे आप इस सेक्शन पर क्लिक करते हैं आपके सामने बहुत सारे विकल्प खुलकर आ जाते हैं जिसमें आपको ड्राइविंग लाइसेंस रिलेटेड सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

उसके बाद आप अगले पेज पर पहुंच जाएंगे, जहां पर अपने राज्य के नाम को सिलेक्ट करना है।

उसके बाद आपको वहां पर अप्लाई ड्राइविंग लाइसेंस का विकल्प देखने को मिलेगा जिसका चुनाव आपको करना है।

अगले पेज पर आपको पांच अलग-अलग स्टेप बताएं जाएंगे जो ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन करते समय पूरा करना होता है जिसके बाद आप कंटिन्यू के विकल्प पर क्लिक कर सकते हैं।

जब आप कंटिन्यू के ऑप्शन पर क्लिक करते हैं तो एक नया पेज खुल जाता है, जहां पर आपको अलग-अलग कैटेगरी देखने को मिलती है। वहां आपको Diplomat (Foreigner) / Repatriate / Refugees / Foreigners (But not Diplomats) / Ex-Servicemen / Physically Challenged जैसे कैटेगरी देखने को मिलेंगी। इनमें से जिस भी कैटेगरी में आप आते हो आप उसे सिलेक्ट कर सकते हैं या फिर इनमें से कोई भी कैटेगरी आपकी नहीं है तो आप इस विकल्प को छोड़ सकते हैं।

‌यदि आपके पास लर्नर लाइसेंस नहीं है मतलब यदि आप लर्नर लाइसेंस के लिए अप्लाई कर रहे हैं, तो आपको Applicant does not hold Driving/ Learner Licence के विकल्प का चयन करना होगा। उसके बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

जैसे ही आप सबमिट के बटन पर क्लिक करते हैं वैसे ही आपके सामने ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन का फॉर्म खुलकर आ जाता है।

यहां पर आप चाहे तो इस फॉर्म को डाउनलोड करके इसका प्रिंट आउट निकाल सकते हैं और इस फॉर्म को भरने के बाद आरटीओ ऑफिस में जाकर जमा कर सकते हैं।

लेकिन यदि आप ऑनलाइन ही इस फॉर्म को सबमिट करना चाहते हैं तो यहीं पर आप इस फॉर्म में मांगी गई सभी प्रकार की जानकारी को भर सकते हैं। इस फॉर्म में आपको कुछ कुछ मांगे गए जानकारी पर लाल रंग में स्टार का चिन्ह दिखेगा जिसका मतलब है कि आपको निश्चित रूप से उस जानकारी को भरना है और जिन विकल्पों पर किसी भी प्रकार का चीन्ह नहीं दिखेगा वह चाहे तो आप छोड़ सकते हैं।

जब आप फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी भर लेते हैं तो, फॉर्म के साथ आपको आवश्यक सभी डाक्यूमेंट्स को अपलोड करना होगा उसके बाद सबमिट करना होगा।

इसके बाद आपको लर्निंग लाइसेंस टेस्ट के लिए स्लॉट बुक करना होगा।

आप जिस आरटीओ ऑफिस लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदन किए थे, वहां पर जिस दिन का स्लोप आपने प्लॉट बुक किया है उस दिन जाकर आपको लर्निंग लाइसेंस के लिए टेस्ट देना होगा। जब आप टेस्ट में पास हो जाते हैं, तब आपका लर्निंग लाइसेंस बन जाएगा।

लर्निंग लाइसेंस का टेस्ट किस तरह होता है?

कोई भी व्यक्ति जो पहली बार ड्राइविंग लाइसेंस बनाता है उसे सबसे पहले लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदन करना पड़ता है। लर्निंग लाइसेंस बनाने के लिए भी टेस्ट देना पड़ता है हालांकि इसमें ड्राइविंग टेस्ट नहीं होता इसमें कंप्यूटर स्क्रीन पर कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं जो ट्रैफिक से जुड़े नियमों से संबंधित होते हैं।

स्क्रीन पर जो प्रश्न पूछे जाते हैं उनके सही जवाब देने होते हैं। जब आप इस टेस्ट में पास हो जाते हैं तब लर्निंग लाइसेंस बन पाता है। इसीलिए लर्निंग लाइसेंस का टेस्ट देने से कुछ दिन पहले आप ट्रैफिक से जुड़े सभी नियमों की जानकारी ले लें। आप चाहे तो इंटरनेट पर मॉक टेस्ट भी दे सकते हैं।

परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए मोबाइल से आवेदन करने की प्रक्रिया

सबसे पहले आप लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदन करते हैं यदि आपका लर्निंग लाइसेंस बन चुका है तो उसके एक महीने के बाद आप परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं। ध्यान रहे लर्निंग लाइसेंस की समय सीमा खत्म होने से पहले ही ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर लेना चाहिए। तो चलिए जानते हैं परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए मोबाइल से किस तरह आवेदन कर सकते हैं।

ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन के लिए सबसे पहले तो आपको भारतीय परिवहन मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना पड़ेगा।

जैसे आप वेबसाइट के होम पेज पर पहुंचेंगे, वहां पर आपको अपने राज्य के नाम को सिलेक्ट करना है।

उसके बाद अगले पेज पर आपको अप्लाई ऑनलाइन पर क्लिक करना है जिसके बाद आपको न्यू ड्राइविंग लाइसेंस के विकल्प का चयन करना होगा।

अगले पेज पर ड्राइविंग लाइसेंस के लिए स्टेज दिए होंगे आपको नीचे कंटिन्यू का विकल्प दिखाई देगा उसे सिलेक्ट करना है।

उसके बाद आपसे लर्निंग लाइसेंस का नंबर और जन्मतिथि मांगा जाएगा। लर्निंग लाइसेंस का नंबर और जन्मतिथि भरने के बाद आपको ओके के विकल्प पर क्लिक करना है।

उसके बाद अगले पेज पर आपके सामने परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन का फॉर्म खुलकर आ जाएगा।

यहां पर आवेदन फॉर्म में आवश्यक मांगी गई सभी जानकारी को भरना है उसके बाद जितने भी आवश्यक दस्तावेज उन्हें आपको अपलोड करना है और फिर नेक्स्ट के बटन पर क्लिक करना है।

अब आपको ड्राइविंग लाइसेंस के टेस्ट के लिए स्लॉट बुक करना होगा। इसके लिए यहां पर आपको अपना लर्निंग लाइसेंस का नंबर और जन्मतिथि भरना होगा और फिर कैप्चा कोड भरकर सबमिट करना होगा।

उपरोक्त जानकारी भरने के बाद आपको Proceed to book पर क्लिक करना होगा । इसके बाद यहां पर आपको उपलब्ध तारीख और समय देखने को मिलेगा। आप अपनी सुविधा के अनुसार दिन और समय का चयन कर सकते हैं। इसके बाद आपके मोबाइल पर सिक्योरिटी कोड आएगा जिससे आपको भरकर सबमिट करना है।

उपरोक्त सभी जानकारी यहां पर आपको पीडीएफ में दिखेगी जिसे आप डाउनलोड करके अपने पास रख सकते हैं और जिस दिन आप ड्राइविंग टेस्ट के लिए जाएंगे। उस दिन उसे अपने साथ में जरूर लेकर जाएं।

अब आपको एप्लीकेशन नंबर और जन्मतिथि को भरने की जरूरत है। जिन्हें एप्लीकेशन नंबर के बारे में नहीं पता तो बता दे कि जब आप लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदन करते हैं तो, उस समय लाइसेंस ट्रेक करने के लिए आपको एक एप्लीकेशन नंबर दिया जाता है। उसी नंबर को आपको यहां पर भरना है।

अब आपको फीस भरने की प्रक्रिया से गुजारना है इसलिए यहां पर आपको Click here to calculate fee पर क्लिक करना होगा।

इसके बाद आप ऑनलाइन फीस का भुगतान कर सकते हैं।

इस तरह परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं। उसके बाद जिस दिन का आपने स्लॉट बुक किया था उस दिन आपको आरटीओ ऑफिस में जाना होगा जहां पर आपका ड्राइविंग टेस्ट होगा।

FAQ

क्या लर्निंग लाइसेंस बनाने के लिए ड्राइविंग टेस्ट देना होता है?

लर्निंग लाइसेंस बनाने के लिए ड्राइविंग टेस्ट नहीं देना पड़ता है। लर्निंग लाइसेंस बनाते वक्त केवल सीबीटी टेस्ट देना होता है जिसमें ट्राफिक के नियमों से जुड़े प्रश्न पूछे जाते हैं।

ड्राइविंग लाइसेंस के फॉर्म में कौन-कौन सी जानकारी भरनी होती है?

ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन फॉर्म में आवेदक का पूरा नाम,उम्र, जन्म तारीख, राज्य का नाम, क्वालीफिकेशन, आरटीओ ऑफिस, पिन कोड, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, उसका परमानेंट एड्रेस इत्यादि जानकारी भरनी होती है।

ड्राइविंग लाइसेंस को रिन्यू न करवाने पर क्या होगा?

ड्राइविंग लाइसेंस को एक निश्चित समय के बाद उसका रिन्यू कराना पड़ता है। यदि समय सीमा के अंदर ड्राइविंग लाइसेंस को रिन्यू ना कराया जाएं तो फिर दोबारा लर्निंग लाइसेंस का आवेदन करना पड़ता है।

निष्कर्ष

आज के लेख में हमने आपको मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस के आवेदन की प्रक्रिया स्टेप बाय स्टेप बताई। हमें उम्मीद है कि मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनाएं? (योग्यता, दस्तावेज और प्रक्रिया)( Mobile Se Driving Licence Kaise Banaye) उपरोक्त बताए गए प्रक्रिया को फॉलो करके आप आसानी से घर बैठे ऑनलाइन अपने मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर पाएंगे। यदि यह लेख आपको पसंद आया हो तो इसे अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए अन्य लोगों के साथ जरूर शेयर करें।

यह भी पढ़े :

नाम से ड्राइविंग लाइसेंस नंबर कैसे चेक करें?

ड्राइविंग लाइसेंस एप्लीकेशन से कैसे चेक करें?

ड्राइविंग लाइसेंस एप्लीकेशन से कैसे चेक करें?

ड्राइविंग लाइसेंस कितने दिन में आता है?