डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनाएं? (योग्यता, दस्तावेज और प्रक्रिया)

Duplicate Driving Licence Kaise Banaye: आप लोगों को इतना तो अवश्य ही पता होगा कि प्रत्येक वाहन को चलाने के लिए एक लाइसेंस की आवश्यकता पड़ती है और जैसे वाहन के चालक के पास उसका ड्राइविंग लाइसेंस नहीं है तो, वह किसी भी वाहन को नहीं चला सकता है अर्थात उसे किसी भी वाहन को चलाने की अनुमति नहीं है। आपको वाहन चलाने के लिए लाइसेंस का होना बहुत ही आवश्यक है।

क्या आपका भी लाइसेंस गुम हो गया है, फट गया है चोरी हो गया है तो घबराने की कोई बात नहीं है। आज हम इस लेख के माध्यम से आपको डुप्लीकेट लाइसेंस के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे। डुप्लीकेट लाइसेंस तब बनता है जब आपका पुराना लाइसेंस खो गया हो, फट गया हूं या फिर चोरी हो गया है।

Duplicate Driving Licence Kaise Banaye
Image: Duplicate Driving Licence Kaise Banaye

तो हम आज इस लेख के माध्यम से आपको डुप्लीकेट लाइसेंस के बारे में संपूर्ण जानकारी बताएंगे डुप्लीकेट लाइसेंस क्या होता है? डुप्लीकेट लाइसेंस बनवाने के लिए क्या क्या डाक्यूमेंट्स लगेंगे, डुप्लीकेट लाइसेंस ऑनलाइन तरीके से कैसे बनवाएं, डुप्लीकेट लाइसेंस ऑफलाइन तरीके से कैसे बनवाएं इत्यादि डुप्लीकेट लाइसेंस से जुड़ी जानकारियां बताएंगे तो हमारे द्वारा लिखे गए इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनाएं? (योग्यता, दस्तावेज और प्रक्रिया) | Duplicate Driving Licence Kaise Banaye

डुप्लीकेट लाइसेंस क्या होता है?

यदि आपका पुराना वाला लाइसेंस खो गया है, फट गया है या फिर चोरी हो गया है और आप सोच रहे हैं कि अब आपको नया लाइसेंस जारी करवाना होगा, बहुत दौड़ भाग करना होगा, क्या नया लाइसेंस जारी हो पाएगा या नहीं? तो हम आपको बता दें की यदि आपका पुराना लाइसेंस खो गया है, गुम गया है या किसी कारणवश फट गया है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है। ऐसी स्थिति में आप डुप्लीकेट लाइसेंस बनवा सकते हैं।

डुप्लीकेट लाइसेंस आपके उस लाइसेंस की कॉपी होती है, जो फट गई है या फिर गुम हो गई है। डुप्लीकेट लाइसेंस तभी जारी किया जाता है जब आपका पुराना लाइसेंस गुम हो गया हो या फिर फट गया हो तथा साथ ही साथ आप अपना डुप्लीकेट लाइसेंस वहीं से बनवा सकते हैं। जहां से आपने अपना मौजूदा ड्राइविंग लाइसेंस बनवाया था।

डुप्लीकेट लाइसेंस का क्या महत्व होता है?

डुप्लीकेट लाइसेंस का भी वही महत्व होता है जो कि आपके मौजूदा ड्राइविंग लाइसेंस का होता है अर्थात यदि आपके पास डुप्लीकेट लाइसेंस ओरिजिनल लाइसेंस है तो वाहन चलाते समय कोई भी दुर्घटना घर जाने पर आप बीमा के लिए क्लेम कर सकते हैं। यदि आपके पास ना डुप्लीकेट लाइसेंस है नाओरिजिनल लाइसेंस है तो आप बीमा के लिए कभी भी क्लेम नहीं कर पाएंगे।

ऊपर पढ़ कर आप समझ गए होंगे कि डुप्लीकेट लाइसेंस का क्या महत्व है?, आपका डुप्लीकेट लाइसेंस एक ओरिजिनल लाइसेंस की तरह है कार्य करता है, जो वाहन चलाते समय बहुत मायने रखता है। ओरिजिनल ड्राइविंग लाइसेंस या डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस न केवल वाहन चलाते वक्त काम आता है तथा यह आपके आईडी प्रूफ की तरह कार्य करता है।

डुप्लीकेट लाइसेंस बनवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज

क्या आपका भी मूल लाइसेंस अर्थात ओरिजिनल लाइसेंस गुम हो गया है या फिर फट गया है और आप अभी डुप्लीकेट लाइसेंस बनाना चाहते हैं? तथा आप सोच रहे हैं कि डुप्लीकेट लाइसेंस बनवाने के लिए कौन कौन से डॉक्यूमेंट होनी चाहिए? तो हमारे द्वारा बताए गए इन्हें दस्तावेजों की सहायता से आप अपने डुप्लीकेट लाइसेंस को बड़ी ही आसानी से बना पाएंगे और वे दस्तावेज निम्नलिखित हैं।

  • आवेदक को डुप्लीकेट लाइसेंस लाइसेंस बनवाने के लिए आवेदन पत्र एल एल डी की आवश्यकता होगी (इसकी आवश्यकता इसलिए होती है कि आपका मूल लाइसेंस फटे या फिर गंदे अवस्था में है तो डुप्लीकेट लाइसेंस के लिए फट या खो जाने की सूचना तथा डुप्लीकेट लाइसेंस के लिए आवेदन के रूप में कार्य करता है।
  • आपको अपना मूल लाइसेंस भी जमा करना होगा चाहे वह फटे या फिर गंदे अवस्था में ही क्यों ना हो।
  • यदि आपका मूल लाइसेंस खो गया है तो, उसकी एक सत्यापित फोटोकॉपी की आवश्यकता होगी।
  • आवेदक के लाइसेंस का संपूर्ण विवरण।
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो।

तथा इतनी ही डॉक्यूमेंट की आवश्यकता नहीं होगी बल्कि हमने नीचे कुछ और दस्तावेजों की सूची दी है जिन की भी आवश्यकता आपको अपने डुप्लीकेट लाइसेंस को बनवाने के लिए पड़ेगी और दस्तावेज निम्नलिखित है।

  • आयु प्रमाण पत्र की भी आवश्यकता होगी जिसमें आपकी जन्मतिथि छपी हो (आधार कार्ड, पैन कार्ड, जन्म प्रमाण पत्र इनमें से कोई एक) जैसे आईडी प्रूफ की आवश्यकता होगी।
  • केवल आयु प्रमाण पत्र होना आवश्यक नहीं है बल्कि आपके पास आपके पते का भी प्रमाण पत्र होना चाहिए (निवास प्रमाण पत्र, मतदाता पहचान पत्र, राशन कार्ड, एलआईसी का पॉलिसी बांड, आधार कार्ड, पासपोर्ट इनमें से कोई एक) जैसे आईडी प्रूफ की आवश्यकता होगी, जिसमें आपका स्थाई पता होना अनिवार्य है।

घर बैठे ऑनलाइन तरीके से डुप्लीकेट लाइसेंस कैसे बनाएं?

सबसे पहले आपको यह पता लगाने की आवश्यकता है कि आरटीओ आपके राज्य में ऑनलाइन डुप्लीकेट लाइसेंस बनवाने की ऑनलाइन सुविधा दे रहा है या नहीं क्योंकि आरटीओ ने डुप्लीकेट लाइसेंस बनाने की ऑनलाइन सुविधा कुछ ही राज्यों में दे रही है।

आप अपने डुप्लीकेट लाइसेंस को घर बैठे ऑनलाइन तरीके से बना सकते हैं और यदि आप अपना डुप्लीकेट लाइसेंस घर बैठे ऑनलाइन तरीके से बनाना चाहते हैं तो हमारे द्वारा बताए गए इन स्टेप्स को फॉलो करें जिनकी मदद से आप अपने डुप्लीकेट लाइसेंस को घर बैठे ऑनलाइन तरीके से बड़ी ही आसानी से बना पाएंगे वे चरण निम्नलिखित हैं।

Step 1

सबसे पहले आपको राज्य परिवहन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट को ओपन कर लेना है।

Step 2

यहां पर मांगे गए सभी जानकारियों को भरे जैसे आवेदक का पूरा नाम, आवेदक का फोन नंबर, मजेदार डाइविंग लाइसेंस नंबर आदि जानकारियां भरने के बाद एलएलबी फॉर्म को भी भर दें।

Step 3

अब आप आपके द्वारा भरे गए फॉर्म का प्रिंट आउट निकाल लेना है तथा उसके साथ जरूरी दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, आयु प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र जैसे दस्तावेजों को संलग्न करें।

Step 4

अब आपको संलग्न किए हुए फॉर्म का स्कैन करना है तथा उसे ऑनलाइन सबमिट कर देना है तथा इतना करने के बाद आप अपने डुप्लीकेट लाइसेंस को प्राप्त कर सकेंगे।

ऑफलाइन तरीके से डुप्लीकेट लाइसेंस कैसे बनाएं?

यदि आप अपना डुप्लीकेट लाइसेंस ऑफलाइन तरीके से प्राप्त करना चाहते हैं तो, आप अपना डुप्लीकेट लाइसेंस ऑफलाइन तरीके से बड़ी आसानी से कर पाएंगे और ऑफलाइन तरीका ऑफलाइन तरीके से डुप्लीकेट लाइसेंस बनाने की तुलना में बहुत ही आसान होता है और यदि आरटीओ ऑफिस आपके घर के पास है तो आपको डुप्लीकेट लाइसेंस बनवाने में और ज्यादा आसानी होगी। ऑफलाइन तरीके से डुप्लीकेट लाइसेंस बनाने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें।

  • आपको उसी आरटीओ कार्यालय में जाना है, जहां पर आपने अपना मूल ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त किया था वहां जाने के बाद आपको q फॉर्म प्राप्त करें तथा उसमें मांगे गए सभी जानकारियों को करें तथा जहां पर हस्ताक्षर की आवश्यकता है वहां पर हस्ताक्षर भी करें।
  • अब आपको एलएलडी फार्म के साथ अपने सभी दस्तावेजों को संलग्न करना है तथा उसे आरटीओ ऑफिस में वहां जमा करना है, जहां से आपने अपना मूल ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त किया था।
  • आपको अपने डुप्लीकेट लाइसेंस बनवाने के लिए आरटीओ कार्यालय में मांगे गए शुल्क को भर देना है तथा शुल्क को बढ़ने के पश्चात आपको एक राशिद दी जाती है, आप उस रसीद का उपयोग तब तक कर सकते हैं जब तक कि आपका डुप्लीकेट लाइसेंस डाक के द्वारा ना जाए।

डुप्लीकेट लाइसेंस को प्राप्त करने के लिए कितना समय लगता है?

ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीके से डुप्लीकेट लाइसेंस के लिए आवेदन करने के पश्चात आपका डुप्लीकेट लाइसेंस डाक के द्वारा 30 दिनों में या फिर 30 दिनों के भीतर ही भेजा जाता है।

निष्कर्ष

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख में हमने आपको बताया कि डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस क्या होता है?, क्या डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस का क्या महत्व होता है?, डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने के लिए आवश्यक दस्तावेज डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस को ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों तरीकों से कैसे बनाएं जैसी जानकारियां दी।

हम उम्मीद करते हैं हमारा लिखा गया यह लेख डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनाएं? (योग्यता, दस्तावेज और प्रक्रिया) ( Duplicate Driving Licence Kaise Banaye) आपको अवश्य पसंद आया होगा और यदि हमारे द्वारा लिखा गया यह आलेख आपको वाकई में पसंद आया हो तो, इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य साझा करें तथा इस लेप को लेकर आपके मन में कोई भी सवाल या सुझाव हो तो कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं।

यह भी पढ़े :

ड्राइविंग लाइसेंस एप्लीकेशन स्टेटस कैसे चेक करें?

ड्राइविंग लाइसेंस ऑनलाइन डाउनलोड कैसे करें?

ड्राइविंग लाइसेंस नंबर कैसे चेक करें?

नाम से ड्राइविंग लाइसेंस नंबर कैसे चेक करें?