मखाने खाने के फायदे और नुकसान

Makhane Khane ke Fayde aur Nuksan: भारत में मखाने को ड्राई फ्रूट की तरह उपयोग में लाया जाता है। भारत में मखाने को लोग अपने दैनिक आहार में तो लेते ही हैं लेकिन मखाने का महत्व तब ज्यादा बढ़ जाता है, जब कोई त्यौहार या उत्सव हो जैसे कि नवरात्रि।

नवरात्रि में लोग फलाहारी में मखाने का विभिन्न प्रकार के व्यंजनों के रूप में प्रयोग करते हैं। मखाने से खीर बनाते हैं और भी विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाने में प्रयोग करते हैं। मखाना एक प्राकृतिक स्नेक के रूप में भी बहुत अच्छा विकल्प है।

Makhane Khane ke Fayde aur Nuksan
Image: Makhane Khane ke Fayde aur Nuksan

मखाने में कई प्रकार के पोषक तत्व कैल्शियम, फाइबर, आयरन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, प्रोटीन और भी बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो कि हमारे सेहत के लिए काफी फायदेमंद है। आज के इस पोस्ट में हम मखाने के खाने से होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में जानेंगे। तो आप इस पोस्ट को अंतक ध्यान से जरूर पढ़ें।

मखाने खाने के फायदे और नुकसान | Makhane Khane ke Fayde aur Nuksan

मखाना क्या है?

मखाना कमल का बीज है। कमल के बीजों को जब भूना जाता है तब जाकर मखाना तैयार होता है और खाने योग्य बन पाता है। मखाने को कई औषधीय गुण और पोषक तत्व प्राकृतिक रूप से प्राप्त है। मखाना एक तरह का स्वादिष्ट और पौष्टिक खाद्य पदार्थ है। मखाने को बहुत सारे नाम प्राप्त है, जिनमें कुछ निम्न हैफॉक्स नट, फूल-मखाना, लोटस सीड और गोर्गन नट आदि।

मखाने से होने वाले फायदे

  • मखाने में एंटीऑक्सीडेंट और कैल्शियम की मात्रा भरपूर पाई जाती है, इसीलिए अगर आप मखाने को सुबह सुबह खाली पेट खाते हैं तो यह आपके कोलेस्ट्रॉल, फैट और सोडियम के लेवल को कम कर सकती है।
  • मखाने में calcium भरपूर मात्रा में पाई जाती है, इसीलिए मखाने को खाने से आपकी हड्डी मजबूत होती है।
  • मखाने के सेवन करने से व्यक्ति के शरीर में ब्लड शुगर लेवल भी कम हो जाता है।
  • मखाने में कई पोषक तत्व है, जिनमें एक है एंटीऑक्सीडेंट। एंटीऑक्सीडेंट व्यक्ति के शरीर में हार्ट संबंधी बीमारियों को कम करने में मदद करती है। मखाना खाने से व्यक्ति के हाथ संबंधी बीमारियों में लाभ मिलता है और बीमारी बढ़ने से भी कम होता है।
  • मखाने को अगर आप अपने दैनिक सुबह के भोजन में शामिल करते हैं तो व्यक्ति के हृदय संबंधी बीमारियों में काफी राहत मिलती है और लोगों को हृदय संबंधी बीमारी में लाभ पहुंचता है।
  • मखाना खाने से शरीर में कई तरह के फायदे होते हैं, जिनमें से एक महत्वपूर्ण फायदा यह है कि जिन व्यक्तियों को हाय बीपी है, उनके लिए मखाना काफी फायदेमंद है। क्योंकि मखाने के सेवन करने से बीपी कंट्रोल में रहता है।
  • आपने सुना ही होगा कि हमें सुबह-सुबह हल्का और प्रोटीन युक्त भोजन करना चाहिए, जिसमें मखाना सबसे अच्छा विकल्प है। क्योंकि मखाना हल्का भी होता है और कई सारे पोषक तत्व प्रोटीन से भरा होता है। आप यदि रोज सुबह के नाश्ते में थोड़े से मखाने को भी में पोस्ट करके खाएंगे तो यह आपके शरीर में कैल्शियम मैग्नीशियम पोटेशियम आयरन और भी बहुत सारे पोषक तत्वों की कमी को पूरा करेंगे और साथ ही साथ यह ग्लूटेन फ्री होता है।
  • मखाने का उपयोग करके वजन को भी घटाया जा सकता है। क्योंकि मखाने में फैट सेल्स को नियंत्रित करने की शक्ति होती है, जिससे कि शरीर में बढ़ रहे फैट सेल्स को मखाना खाकर कम किया जा सकता है और मोटापे को कम किया जा सकता।
  • मखाना डायबिटीज के लिए भी बहुत फायदेमंद है क्योंकि मखाने में कई सारे ऐसे पोषक तत्व है, जो कि डायबिटीज को कंट्रोल करता है।
  • मखाने में प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है, इसलिए मखाने को खाकर शरीर में हो रहे प्रोटीन की कमी को पूरा किया जा सकता है।
  • गर्भावस्था में भी मखाने का उपयोग करके कई सारे फायदे मिल सकते हैं क्योंकि मखाने में कई प्रकार के पोषक तत्व जैसे आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, प्रोटीन, जो कि गर्भावस्था में महिलाओं को काफी आवश्यक होता है और गर्भावस्था के दौरान शिशु के विकास में भी इन सारे पोषक तत्वों की काफी भागीदारी होती है और गर्भावस्था के बाद भी महिलाओं में होने वाली कमजोरियों को दूर करने के लिए मखाना एक अच्छा विकल्प है। इसीलिए गर्भावस्था में महिलाओं को विभिन्न प्रकार के व्यंजनों में या फिर मखाने को हल्का सा घी में भूनकर भी रोज एक मुट्ठी मखाना खाना चाहिए।
  • मखाना खाने से जिन व्यक्तियों को अनिद्रा यानी कि नींद कम आने की समस्या होती है, उसमें भी राहत मिलती है। क्योंकि मखाने में कई सारे पोषक तत्व होते हैं, जो कि हमारे शरीर में होने वाली कमी या फिर जो भी बुराई है उसे दूर करते हैं और नींद की कमी कभी कभी कुछ प्रोटीन की कमी से भी हो सकती है। इसीलिए मखाने को खाकर अनिद्रा जैसी गंभीर बीमारी में भी राहत मिल सकती है।
  • मखाने में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-माइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं, जो कि मसूड़ों के लिए काफी फायदेमंद है। मसूड़ों में होने वाली सूजन और बीमारियों को दूर करने के लिए मखाने का सेवन किया जा सकता है। मखाना एंटीबैक्टीरियल भी होता है, इसीलिए मखाने का उपयोग करके मखाना की होने वाली समस्याओं में राहत मिलती है।
  • मखाने का सेवन करने से किडनी में भी होने वाली समस्याओं में राहत मिलती है। मखाने में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाया जाता है, जिससे कि त्वचा संबंधी समस्याओं में मखाना खाने से काफी राहत मिलती है।

मखाने से होने वाले नुकसान

  • यदि व्यक्ति मखाने का ज्यादा उपयोग कर ले तो उसके पेट में ऐठन और कब्ज जैसी बीमारियां उत्पन्न हो जाती है।
  • मखाने का ज्यादा सेवन करने से व्यक्ति को त्वचा संबंधी बीमारी भी उत्पन्न हो जाती है। क्योंकि मखाने में स्टार्च पाया जाता है और ज्यादा मखाना खाने से व्यक्ति के शरीर में स्टार्च की मात्रा बढ़ जाती है और इससे एलर्जी जैसी बीमारियां उत्पन्न हो जाती है।
  • मखाने का सेवन उस व्यक्ति को ज्यादा करना चाहिए, जो दस्त से परेशान हो रहा हो। इसीलिए मखाने का सेवन करने से कभी-कभी व्यक्ति को कब्ज जैसी बीमारियां भी हो जाती है।
  • यदि व्यक्ति किसी प्रकार के फ्लू, डायरिया, कॉमन फ्लू जैसी बीमारियों से जूझ रहा हो तो उसे मखाने का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि मखाने के सेवन करने से आपकी इन सारी बीमारियां में बढ़ोतरी हो सकती है।
  • यदि व्यक्ति किसी प्रकार के दवाई का उपयोग कर रहा है तो उसे भी मखाने का उपयोग नहीं करना चाहिए। क्योंकि मखाने का उपयोग करने से व्यक्ति के दवाई का असर कम हो जाता है। इसीलिए व्यक्ति को मखाने का उपयोग नहीं करना चाहिए।
  • मखाना गर्म होता है। यह शरीर को अत्यधिक गर्म करती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को मखाने का अत्यधिक सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे उसके गर्भ में पल रहे बच्चे पर असर पड़ता है। इसीलिए गर्भवती महिलाओं को ज्यादा मखाने खाना नहीं खाना चाहिए।
  • जिन व्यक्तियों को डायबिटीज है, उन्हें भी ज्यादा मखाना नहीं मखाना चाहिए।
  • जिन व्यक्तियों को स्टोन होता है, उन्हें भी मखाने का उपयोग नहीं करना चाहिए। क्योंकि मखाने में अत्यधिक मात्रा में क्या उसे हम पाई जाती है, जो व्यक्ति के स्टोन को बड़ा कर सकती है।

ध्यान दें: यह जानकारी केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए बताई गई है। इसमें बताई गई किसी भी सलाह को अपनाने या फिर उस पर अमल करने का निर्णय स्वयं का व्यक्तिगत निर्णय होगा। इसके निष्कर्ष तक पहुँचने से पहले एक बार विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

निष्कर्ष

हमने यहाँ पर मखाने खाने के फायदे और नुकसान (Makhane Khane ke Fayde aur Nuksan) के बारे में बताया हैं। उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी पसंद आई होगी, इसे आगे शेयर जरुर करें। यदि आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

यह भी पढ़े

दही खाने के फायदे और नुकसान, गुण

देसी घी के फायदे, उपयोग और नुकसान

केला खाने के फायदे, नुकसान, गुण, कैसे खाएं और खाने का सही समय

शहद के फायदे, नुकसान और उपयोग

सब्जा सीड्स के फायदे, उपयोग और नुकसान

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।