ख़ुशी शायरी

Khushi Shayari in Hindi

Khushi Shayari in Hindi
Images :-Khushi Shayari in Hindi

ख़ुशी शायरी | Khushi Shayari in Hindi

चलो कोई निशाँ ढूँढ़ते हैं,
दिल का बहता हुआ कारवाँ ढूँढ़ते हैं,
मुद्दत हो गयी है मुस्कराये हुए,
चलो खुशी का कोई जहां ढूँढ़ते हैं।

कहीं अंधेरा तो कहीं शाम होगी,
मेरी हर खुशी तेरे नाम होगी,
कभी माँग कर तो देख हमसे ऐ दोस्त,
होंठों पर हँसी और हथेली पर जान होगी।

दुआओं पे हमारे ऐतबार रखना
दिल में अपने ना कोई सवाल रखना
देना चाहते हो अगर खुशियां हमें
बस आप खुश रहना अपना ख्याल रखना !!

ख़ुशी मेरी तलाश में दिन-रात
यूँ ही भटकती रही,
कभी उसे मेरा घर ना
मिला कभी उसे हम घर ना मिले।

हर पल में प्यार है,
हर लम्हे में खुशी है,
कह दो तो यादें है,
जी लो तो जिन्दगी है।

मैं बद-नसीब हूँ मुझ को न
दे ख़ुशी इतनी
कि मैं ख़ुशी को भी ले कर
ख़राब कर दूँगा !!

जीने की उसने हमे नई अदा दी है,
खुश रहने की उसने दुआ दी है,
ऐ खुदा उसको खुशियाँ तमाम देना,
जिसने अपने दिल मे हमें जगह दी है।

यूं आये जिंदगी में कि ख़ुशी मिल गई,
मुश्किल राहों में चलने की वजह मिल गई,
हर एक लम्हा खुशनुमा बना दिया,
मेरी उम्मीद को नई मंजिल मिल गई।

रिश्ते निभाना हर किसी के,
बस की बात नहीं,
अपना दिल दुखाना पड़ता है,
दूसरों की खुशी के लिए।

ना ख़ुशी खरीद पाता हूँ
ना ही गम बेच पाता हूँ
फिर भी ना जाने मैं क्यूँ हर
रोज कमाने जाता हूँ !!

आपकी पसंद हमरी चाहत बन जाये,
आपकी मुस्कान दिल की राहत बन जाये,
खुदा खुशियों से इतना खुश कर दे आपको,
कि आपको खुश देखना हमारी आदत बन जाए।

ना जाने वक्त खफा है
या खुदा नाराज है हमसे,
दम तोड़ देती है हर
खुशी मेरे घर तक आते-आते।

ना जीने की खुशी ना मरने का गम,
बस तुमसे मिलने की दुआ करते हैं हम,
जीते हैं इस आस पर के एक दिन तुम आओगे,
मरते इसलिए नहीं क्योंकि तुम अकेले रह जाओगे।

नए पत्ते आते है वृक्ष ख़ुशी
से झूम जाते हैं
ऐसे मौसम में ही तो नया
आगाज होता हैं !!

Read Also: मुस्कान पर अनमोल विचार

जब भी उनकी गली से गुजरते हैं,
मेरी आँखें एक दस्तक दे देती हैं,
दुःख ये नहीं वो दरवाजा बंद कर लेते हैं,
खुशी ये है वो मुझे पहचान लेते हैं।

हम तो खुशियाँ उधार देने का
कारोबार करते हैं… साहब
कोई वक़्त पे लौटाता नहीं है
इसलिए घाटे में हैं..!

खशी के लिए काम करोगे तो,
खुशी नहीं मिलेगी,
मगर खुश होकरकाम करोगे तो,
खुशी जरूर मिलेगी।

दिल दे तो इस मिज़ाज का परवरदिगार दे
जो रंज की घड़ी भी ख़ुशी से गुज़ार दे !!

उसके हाथों का खिलौना ही सही खुश हूँ मैं,
कुछ देर के लिए ही सही मुझे चाहता तो है।

जो ख़ुशी सब को देता है,
आखिर में वही रोता है,
जो मिल ना सके उम्र भर,
क्यों प्यार उसीसे होता है।

खुशी मिली तो कई दर्द मुझसे रूठ गए,
दुआ करो की मैं फिर से उदास हो जाऊं।

कभी ख़ुशी से खुशी की तरफ़ नही देखा,
तुम्हारे बाद किसीकी तरफ़ नही देखा,
ये सोच कर कि तेरा इंतज़ार लाज़िम है,
तमाम उम्र घड़ी की तरफ़ नहीं देखा।

अब तो ख़ुशी का ग़म है न
ग़म की ख़ुशी मुझे
बे-हिस बना चुकी है बहुत ज़िंदगी !!

******

इन्हीं ग़म की घटाओं से
खुशी का चाँद निकलेगा,
अँधेरी रात के पर्दों में
दिन कि रौशनी भी है।

मेरी खुशी के लम्हें,
इस कद्र छोटे हैं यारों,
गुजर जाते हैं मेरे,
मुस्कुराने से पहले।

आपकी पसंद हमारी चाहत बन जाये
आपकी मुस्कान दिल की राहत बन जाये
खुदा खुशियों से इतना खुश कर दे आपको
कि आपको खुश देखना हमारी आदत बन जाए !!

Khushi Shayari in Hindi

दिल में खुशी हो तो छलक जाती है,
मुस्कुराहटें बजह की मोहताज नहीं होती।

अपने बच्चों को हर,
मुमकिन खुशी देता है,
एक पिता बस बच्चों के,
लिए ही सांसे लेता है ।

माँग कर तुझ से ख़ुशी लूँ मुझे मंज़ूर नहीं
किस का माँगी हुई दौलत से भला होता है !!

मिल जाती है कितनो को ख़ुशी,
मिट जाते हैं कितनो के गम,
मेसेज इसलिए भेजते है हम,
ताकि न मिलने से भी अपनी दोस्ती न हो कम।

ख़ुशी कहाँ हम तो गम चाहते हैं
ख़ुशी उसको दे दो जिसको
हम चाहते हैं !!

ज़िन्दगी ने एक चीज़,
ज़रूर सीख दी है,
एक अपने में खुश रहना और,
दूसरों से उम्मीद न रखना।

Read Also: द सीक्रेट बुक के सुविचार

ख़ुशी की आँख में आँसू की भी
जगह रखना
बुरे ज़माने कभी पूछकर नहीं आते !!

किसी के साथ रहना है,
तो खुशी से रहो,
मजबूरी से साथ रहने,
का कोई मतलब नहीं।

शिकायत नहीं ज़िन्दगी से की,
तेरा साथ नहीं,
बस तुम खुश रहना यार,
हमारी तो कोई बात नहीं।

पता न चला कि इश्क के जाल
में फँसे कब थे
मरते वक्त याद न आया कि
हँसे कब थे !!

फूल के साथ कटे भी नसीब होते हैं,
खुशी के साथ गम भी नसीब होते हैं,
मजबूरी ही ले डूबती है हर आशिक को,
वरना खुशी से बेवफा कौन होता है.?

मुझे ख़बर नहीं ग़म क्या है
और ख़ुशी क्या है
ये ज़िंदगी की है सूरत तो
ज़िंदगी क्या है !!

******

तेरी निगाहों से, दूर जा रहे हैं,
खुदा से सिर्फ तेरी ख़ुशी चाह रहे हैं।

अब अगर खुशी मिल भी,
गयी तो कहां रखेंगे हम,
आंखों में हसरतें हैं और,
दिल में किसी का गम।

ख़ुशी में न सही, गम में मुस्कुरा देता हूँ,
किसी को नहीं में तुम को,
याद कर लेता हूँ।

Khushi Shayari in Hindi

ये चेहरे की ख़ुशी सिर्फ़ तेरे
इन्तजार की हैं
क्योकि दिल में आज भी उम्मीद
तेरे दीदार की हैं !!

दो पल की ख़ुशी मिली उसके प्यार में,
फिर मैं उम्र भर रोया,
आँसू तब जाकर थमे मेरे,
जब मैं मौत की आगोश में सोया

जरुरी नहीं की हर रिश्तें का
अंत लड़ाई ही हो
कुछ रिश्ते किसी की ख़ुशी के लिए
भी छोड़ने पड़ते है !!

न पूछो दर्द मंदों से,
हंसी कैसी, खुशी कैसी,
मुसीबत सर पे रहती है,
कभी कैसी – कभी कैसी।

सजते रहे ख़ुशियों की महफ़िल
हर खुशियाँ सुहानी रहे
आप जिन्दगी में इतना ख़ुश रहे कि
हर ख़ुशी आपकी दिवानी रहे !!

रब से आपकी खुशी मांगते हैं,
दुआओं में आपकी हंसी मांगते हैं,
सोचते हैं आपसे क्या मांगें चलो,
आपसे उम्र भर की मोहलत मांगते हैं।

दो दिल जब साथ होते है ना,
तब ख़ुशी ही ख़ुशी होती है।

बिन तेरे मेरी हर ख़ुशी अधूरी है,
फिर सोच मेरे लिए तू कितनी ज़रूरी है।

बड़े घरो मे रही है बहुत
ज़माने तक
ख़ुशी का जी नही लगता
ग़रीब ख़ाने मे !!

शब्दों के इत्तेफाक़ में यूँ बदलाव करके देख,
तू देख कर न मुस्कुरा बस मुस्कुरा के देख।

Read Also: शुभ रात्रि सुविचार

कभी ख़ुशी की आशा कभी मन की निराशा
कभी ख़ुशियों की धूप कभी हकीकत की छाँव
कुछ खोकर कुछ पाने की आशा
शायद यही हैं जीवन की परिभाषा !!

ख़ुशी में न सही गम में मुस्कुरा देता हूँ
किसी को नहीं में तुम को
याद कर लेता हूँ !!

जो आपकी खुशी के लिये हार मान लेता है,
उससे आप कभी जीत नही सकते।

अहबाब को दे रहा हूँ धोका
चेहरे पे ख़ुशी सजा रहा हूँ !!

जिनके मिलते ही दिल को ख़ुशी
मिल जाती हैं
वो लोग क्यों जिन्दगी में कम
मिला करते हैं !!

सफ़ेद-पोशी-ए-दिल का
भरम भी रखना है
तेरी ख़ुशी के लिए तेरा ग़म
भी रखना है !!

चलिये कुछ बचकानी बातें करते है
हर वक्त की समझदारी तो बोझ है !!

एक वो हैं कि जिन्हें अपनी
खुशी ले डूबी
एक हम हैं कि जिन्हें गम ने
उभरने न दिया !!

*******

ग़म खुद ही खुशी में बदल जायेंगे
सिर्फ़ मुस्कुराने की आदत होनी चाहिए !!

उम्र कहती है अब संजीदा हुआ जाये
दिल कहता है कुछ नादानियॉ और सही !!

दूर हूँ तुझसे तेरी ख़ुशी के लिए
ये मत समझना कि दिल
दुखता नहीं मेरा !!

आप आए तो जीवन में खुशी
मिल गई मुश्किल राहों में चलने
की वजह मिल गई हर एक पल
खुशियों का मेरा लक्ष्य और मेरी
मंजिल मिल गई !!

Khushi Shayari in Hindi

मुझे क्या पता था कि मोहब्बत
क्या होता है लेकिन तुम से मिलने पर
लाइफ में इश्क हो गया !!

गम में खुशी का मजा नहीं होता है
उस पगली के बिना जिंदगी जीने
मैं कोई मजा नहीं है !!

मुस्कुरा के देखो तो सारा जहॉ रंगीन है
वरना भीगी पलकों से तो आईना
भी धुंधला दुखता है !!

खामोशी मे जो सुनोगे वो आवाज मेरी होगी
जिंदगी भर साथ रहे वो वफा मेरी होगी
दुनिया हर ख़ुशी तुम्हारी होगी
क्योंकि इन सबके पीछे दुआ हमारी होगी !!

जिंदगी मे कोई खास है
तन्हाई के सिवा कुछ ना पास है
पा तो लेंगे जिंदगी की हर खुशी
पर हर खुशी मे तेरी कमी का एहसास है !!

ग़म और ख़ुशी में फ़र्क़ न
महसूस हो जहाँ
मैं दिल को उस मक़ाम पे
लाता चला गया !!

मैंने उस पगली को हंसाने की कोशिश
की थी लेकिन नजरों में थोड़ी
नमी रह गई थी !!

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here