कलेजा धक् धक् करना मुहावरे का अर्थ और वाक्य में प्रयोग

कलेजा धक् धक् करना मुहावरे का अर्थ और वाक्य में प्रयोग (Kaleja Dhak Dhak Karna Muhavre Ka Arth Aur Vakya Pryog)

कलेजा धक-धक होना का अर्थ है (Kaleja Dhak Dhak Karna Muhavre Ka Arth) – घबराहट होना या भयभीत होना।

दिए गए मुहावरे का हिंदी वाक्य में प्रयोग:-

वाक्य प्रयोग: हवाई जहाज में बैठकर मेरा कलेजा धक-धक करने लगता हेंl

वाक्य प्रयोग: जंगल में घूमते समय हम सभी के कलेजे धक-धक कर रहे थे।

1000+ हिंदी मुहावरों के अर्थ और वाक्य प्रयोग का विशाल संग्रह 

अन्य महत्वपूर्ण मुहावरे

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here