तुलसीदास पर संस्कृत निबंध

नमस्कार दोस्तों, आज हम इस पोस्ट में तुलसीदास का जीवन परिचय संस्कृत में (Essay on Tulsidas in Sanskrit) शेयर करने जा रहे हैं। उम्मीद करते हैं आपको यह तुलसीदास पर संस्कृत निबंध पसंद आएगा।

essay on tulsidas in sanskrit

Read Also: संस्‍कृत में अन्य महत्वपूर्ण निबंध

तुलसीदास का जीवन परिचय संस्कृत में – Essay on Tulsidas in Sanskrit

Tulsidas Biography in Sanskrit

“तुलसीदास:”

गोस्वामी तुलसीदास: हिन्दी साहितस्य शिरोमणि: कवि: आसीत्। गोस्वामी तुलसीदासस्य जन्म: उतरप्रदेशस्य बाँदा नगरे १५८९ विक्रमी संवत्सरे अभवत्। अस्य पितुः नाम आत्माराम दुबे मातुश्च हुलसी देवी आस्ताम्।

तुलसीदास: हिन्दीसाहित्यस्य महान विभूति: अस्ति। अस्य विरचितं “रामचरितमानस” जगति प्रसिद्धम् अस्ति। अस्य रचनाषु भक्तिभावनाया: सर्वाधिक समावेश: प्राप्यते।

अयं भक्तिकालस्य प्रसिद्धं कवि: आसीत्। गोस्वामी तुलसीदासेण विरचिता: ग्रन्था: सन्ति “रामचरितमानस, गीतावली, जानकी मंगल, पार्वती मंगल, कृष्णगीतावली इत्यादि।

Read Also

5 lines on tulsidas in sanskrit

हम उम्मीद करते हैं आपको यह 10 lines on tulsidas in sanskrit पसंद आई होगी। इन्हें आगे शेयर जरूर करें और हमारे फेसबुक पेज को लाइक जरूर कर दें।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here