फलों के राजा आम पर निबंध – Essay on Mango in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस आर्टिकल ‘Essay on Mango in Hindi’ में आम की जानकारी देंगे। यहां पर हम आपको इस निबन्ध में आम के फायदे, आम की कितनी किस्में होती है और Mango Fruit की सभी जानकारी के बारे में बताएंगे।

Essay on Mango in Hindi
Essay on Mango in Hindi

Information About Mango in Hindi के बारे में जानने के लिए इस पोस्ट Aam Par Nibandh को पूरा जरूर पढ़ें और अंत में कमेंट बॉक्स में हमें इसके बारे में जरूर बताएं कि आपको यह जानकारी ‘Mango Essay in Hindi’ कैसी लगी।

Read Also: राष्ट्रीय पक्षी मोर पर निबंध – Essay on Peacock in Hindi

फलों के राजा आम पर निबंध – Essay on Mango in Hindi

Essay on Mango in Hindi for Kids

हमारे में से शायद ही ऐसा कोई होगा जिसने आम नहीं खाया होगा। आम का नाम सुनते ही हमारे मुंह में पानी आना शुरू हो जाता है। आम का स्वाद कभी हमें मीठा लगता है तो कभी खट्टा। यह विश्व के स्वादिष्ट फलों में से एक है।

आम शुरू में जब पूरा पक्का हुआ नहीं होता तो ये खट्टा लगता है। लेकिन जब पूरा पक्क जाता है तो ये बहुत ही मीठा हो जाता है। आम फलों का राजा कहलाता है और यह हमारा राष्ट्रिय फल भी है।

आम का सीजन गर्मियों का होता है। यदि आपको आम के स्वाद के मजे लेने है तो आप इसका आनंद गर्मियों में आसानी ले सकते हैं और यह हर जगह उपलब्ध भी होता है। इसके लिए आपको कहीं पर जाने के भी जरूरत नहीं होती है। आज के समय में आम का आनंद लेने के लिए आपको गर्मियों का इंतजार नहीं करना पड़ता। क्योंकि अब इसका स्टोक रखा जाता है।

Essay on Mango in Hindi
Essay on Mango in Hindi

जब आम पूरा पक्का हुआ नहीं होता तो ये खाने में मीठा नहीं होता, इसका स्वाद खट्टा होता है। जब आम पूरा पक्का हुआ नहीं होता तो इसे कच्चा आम (Raw Mango) या फिर कैरी कहा जाता है। इसका अचार बनाया जाता है, जिसे आम का आचार (Aam ka Achar) कहा जाता है और यह बहुत स्वादिष्ट भी होता है।

आज के समय में आम की बर्फी (Mango Burfi) बनाई जाती है, आम की आइसक्रीम बनाई जाती है और भी आम से कई प्रकार के खाने के व्यंजन बनाए जाते हैं। आम को सुखाकर इसका चूर्ण भी बनाया जाता है।

आम स्वादिष्ट होने के साथ साथ हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक भी होता है। यदि किसी को लू लग जाती है तो कच्चे आम का पानी पीने से उसे बहुत ही राहत मिलती है और कम समय में लू की समस्या भी चली जाती है।

हर व्यक्ति आम का दीवाना होता है। आम खाना सभी को पसंद होता है इसलिए बड़ी-बड़ी कम्पनियां आम के रस (Mango in Hindi) को बोतलों में बंद करके बाजारों में बेचती है। जिससे आपको आम का रस भी मिल जाता है और उस कम्पनी की इनकम भी हो जाती है। इसका खास फायदा यह है कि ये बोतलें हमें किसी भी मौसम में मिल जाती है। इसके लिए गर्मियों का इंतजार नहीं करना पड़ता।

Essay on Mango in Hindi, About Mango in Hindi

आम एक ऐसा फल है जो विश्व के हर जगह पर पाया जाता है। पूरे विश्व में आम की प्रजातियां 1500 से अधिक है और यह कई लोगों का पसन्दीदा फल भी है। पूरे विश्व में से 60% आम की पैदवार तो भारत में ही की जाती है और भारत में 1500 आम की किस्मों में से 1000 आम की किस्में तो भारत में ही पाई जाती है।

Essay on Mango in Hindi
Essay on Mango in Hindi

आम कई प्रकार के रंगों में पाया जाता है जैसे नारंगी, पीला, हरा आदि। आम की कुछ प्रजातियां बहुत प्रसिद्ध है जिनमें लंगड़ा आम (Langda Aam), हाफुस आम (Hapus Mango), फजली आम (Fazli Mango), सुन्दरी आम (Sundari Mango), मालदा आम (Malda Mango), दशहरी आम (Dasheri Mango) प्रमुख है।

ये सभी आम खाने में बहुत ही मीठे होते हैं। लेकिन इनमें लंगड़ा आम (Langra Mango) अधिक लोगों द्वारा पसंद किया जाता है और यह खाने भी बहुत मीठा होता, ज्यादातर ये आम ही खाया जाता है।

Few Lines About Mango

आम फल (Aam Fal) खाने में तो बहुत स्वादिष्ट होता ही है इसे खाने से हमारे शरीर को कई प्रकार के लाभकारी तत्व भी मिलते है। आम में काफी मात्रा में विटामिन, आयरन और मिनरल्स पाए जाते हैं। आम खाने से हमें कार्बोहाइड्रेट भी मिलता है जो एनर्जी प्रदान करता है। आम में इनके अलावा प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम और सोडियम भी काफी मात्रा में पाए जाते हैं।

Read Also: तोते पर निबंध – Essay on Parrot in Hindi

Mango Tree Information In Hindi

आम का पेड़ (Aam ka Ped) एक सदाबहार पेड़ होता है जो कई वर्षों तक हमें फलों का आनंद देते है। इसके पड़े की पतियां नुकीली और बाकि पेड़ों की पतियों से लम्बी होती है। इस पेड़ की ऊंचाई भी बहुत होती है। ये लगभग 10 वर्ष का हो जाने के बाद फल देना शुरू करता है जैसा कि पहले बताया आम की सबसे ज्यादा पैदावार भारत ही करता है।

आम की खेती (Aam ki Kheti) के लिए आप आम की गुटली (Aam ki Guthli) का प्रयोग कर सकते हैं।

About Mango in Hindi Language

आम के फल में एक Aam ki Guthli होती है। आम की गुटली और छिलके के बीच के हिस्से को खाया जाता है। इसका रस भी निकाला जाता है। आम के छिलके हटाकर आप इसे सीधा भी खा सकते हैं।

आम की गुटली को सुखाया जाता है और बाद में इसका अमचुर (Amchur) बनाया जाता है, कच्चे आम का आचार (Mango Pickle) भी बनाया जाता है और आम का मुरब्बा (Mango Jam) भी बनाया जाता है। आम का मुरब्बा (Aam ka Murabba) हमारे शरीर के लिए बहुत ही लाभकारी होता है।

Essay on Mango in Hindi
Essay on Mango in Hindi

यदि हम बात करें इसके इतिहास की तो इसका इतिहास 5000 वर्ष से भी पुराना है। भगवान बुद्ध को जिस पेड़ के नीचे ज्ञान की प्राप्ति हुई थी वो पेड़ आम का पेड़ ही था।

आम खाने के फ़ायदे – Benefits Of Mango In Hindi

  • आम में एंटीऑक्साइड, मिनरल्स, एंजाइम और विटामिन पाए जाते हैं।
  • Mango में विटामिन ए, बी, सी और फाइबर पाया जाता है जो पेट कि कई समस्याओं के लिए लाभकारी होता है।
  • आम खाने से कब्ज से राहत मिलती है। आम में साइट्रिक अम्ल (Citric Acid) होता है जिससे पाचन शक्ति सही से काम करती है।
  • इस फल को खाने से कैंसर होने की सम्भावना कम होती है, समय से पहले बुढ़ापा नहीं आता है और हृदय से सम्बंधित बीमारी भी दूर होती है।
  • ब्लडप्रेशर के रोगियों के लिए आम का फल बहुत फायदेमंद होता है।
  • आम के पेड़ की पतियों का यदि हम सेवन करते हैं तो हमारे खून में इन्सुलिन की कमी नहीं होती और शुगर की बीमारी की सम्भावना कम हो जाती है।
  • Aam ke Sevan हमारी त्वचा कोमल और सुन्दर हो जाती है। हमारे झड़ते हुए बालों को भी रोकता है।
  • आम खाने से हमारी आंखों की रोशनी बढ़ती है और याद रखने की क्षमता भी बढ़ती है।
  • Aam ka Sevan करने से दुबले लोगों का वजन भी बढ़ता है।

आम के नुकसान – Aam ke Nuksan

  • गर्मियों में ज्यादा आम खाने से हमारे चेहरे पर किल-मुहांसे निकल जाते हैं।
  • आज के समय में हमें बिना सीजन के भी आम बाजार में मिल जाते हैं। ये आम केमिकल्स द्वारा पकाए जाते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होते हैं।
  • जिन लोगों को मधुमेह की बीमारी है, उन्हें डॉक्टर की सलाह के बाद ही आम का सेवन करना चाहिए।
  • आम में ज्यादा मात्रा में शर्करा पाई जाती है जिससे वजन बढ़ता है। जो पहले से ही मोटे हैं उन्हें आम का सेवन कम करना चाहिए। ज्यादा आम का सेवन करने से दस्ते भी लग सकती है।
  • आम गर्भवती महिलाओं को नहीं खाने चाहिए इससे बच्चे पर बुरा असर पड़ता है।

Read Also: दिवाली पर निबंध – Diwali Essay in Hindi

हमने यहां ‘Essay on Mango in Hindi’ में आम की पूरी जानकारी शेयर की है। हम उम्मीद करते हैं कि आपको यह पसंद आएगी। हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और इसे आगे शेयर जरूर करें। हमारे Facebook Page को लाइक जरूर कर लें।

Read Also

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here