वन पर निबंध

Essay on Forest in Hindi : वन हमारे जीवन जीने के लिए बेहद जरुरी हैं। वनों से हमे कई लाभ हैं। इस आर्टिकल में हम आपको  वन पर निबंध ( Essay on Forest in Hindiअलग – अलग शब्द सीमा में बताएंगे। आपके लिए यह निबंध हर परीक्षा में उपयोगी साबित होगा।

Essay-on-Forest-In-Hindi

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

वन पर निबंध | Essay on Forest In Hindi

वन पर निबंध (250 शब्द ) 

वास्तव में देखा जाए तो यह भूमि जिस पर हम रहते हैं वो जमीन का एक टुकड़ा हैं, जिस पर कई प्रकार के पेड़-पौधे, जीव-जंतु और मनुष्य के साथ – साथ कई सजीव और निर्जीव चीज़े विद्यमान हैं। पृथ्वी पर स्थित कुछ चीजों हम छोड़ दे तो जमीन पर ज्यादातर हिस्सा पानी और वनों से ढका हुआ हैं। 

इन सब में हमारे लिए इन सब के साथ वन भी काफी ज्यादा आवश्यक हैं। वन हमारे जीवन के लिए महत्वपूर्ण हैं। जीवन जीने के लिए हमे ऑक्सीजन गैस की आवश्यकता होती हैं, जो हमे पेड़ो से मिलती हैं। इस में भी कई मिथ हैं की एक पेड़ से ज्यादा ऑक्सीजन मिलती हैं तो दुसरे पेड़ो से कम ऑक्सीजन मिलती हैं। 

हमारे देश के भी ज्यादातर हिस्सों में वन फैले हुए हैं। देश और दुनिया में कई तरह के वन हैं जो उसमें रहने वाले जीव जन्तुओ और उगने वाली वनस्पतिओं का घर हैं। वन को हम आमतौर पर एक बड़े से भू-भाग के तौर पर प्रदर्शित करते हैं। एक ऐसा क्षेत्र जिस पर कई सारे पेड़-पौधे और वनस्पति उगती हैं। वनों का महत्व हमारे जीवन में भी काफी महत्वपूर्ण हैं। यह इस बात के लिए मुख्य तौर पर जाने जाते है की वनों में कई तरह के जीव रहते है और कुछ स्थानों पर तो वन प्राकृतिक रूप से दर्शनीय हैं और उनकी सुन्दरता देखते ही बनती हैं। 

हमारे देश के कई हिस्सों में भी वनों की सुन्दरता देखते ही बनती हैं। जहाँ वन ज्यादा हैं वहां पर प्रकृति भी काफी ज्यादा मेहरबान रहती हैं।

वन पर निबंध ( 800 शब्द ) 

प्रस्तावना

वन हमारे लिए बेहद जरुरी है। जैव विविधता में वन का काफी महत्पूर्ण स्थान हैं। वन में उगने वाली वनस्पति और पेड़-पौधे इतियादी हमारे लिए उतनी ही महत्वपूर्ण हैं, जितना पानी हमारे लिए आवश्यक हैं। 

प्रकृति ने हमे इतनी खूबसरत चीज़ दी हैं। हमें इनका सम्मान करना चाहिए। इसके विपरीत लोग पैसों के चक्कर में सोने के समान पेड़ो की कटाई कर रहे हैं और अपने निजी स्वार्थ के लिए उनका उपयोग कर रहे हैं। 

जंगल, प्रकृति द्वारा दिया गया एक खूबसूरत तोहफा हैं, जिसे हम सब स्वीकार करते हैं। जंगल और वन कई प्राणियों और जीव-जन्तुओं को जीने की जगह देता हैं। वनों में कई प्रकार की जड़ी बूटियां पाई जाती हैं। यह जड़ी बूटियां हमारे मेडिकल में काफी जरुरी होती हैं। 

वनों की आवश्यकता

हमे वनों की आवश्यकता क्यों होती हैं। यह हमारे लिए बेहद जरुरी ताकि हम इसे जान सके। वन अगर बचे रहे तो हमारा जीवन भी ऐसे ही चलता रहे रहेगा। वनों से हमे प्राणवायु ऑक्सीजन मिलती हैं। वनों के लाभ 

  • वनों में उगने वाले वाली वनस्पति भी काफी लाभदायक होती हैं। 
  • वनों में उगने वाले पेड़-पौधे से हम प्राणवायु मिलती हैं। 

इन सब के अलावा हमे वनों से कई प्रत्यक्ष लाभ होते हैं। प्राचीन समय में जब मानव की उत्पत्ति हुई थी, उस समय मानव इन जंगलों में ही अपना जीवन व्यतीत करते थे। इसी जंगल में खाते और जिन्दा रहते थे। वनों में उगने वाले पेड़ो से आज हमारे दैनिक जीवन में इस्तेमाल होने वाली चीज़े बनाई जाती हैं जैसे कुर्सी, टेबल इतियादी। इसके साथ ही हम जो कंप्यूटर से प्रिंट करने के लिए पेपर का इस्तेमाल करते हैं वो भी हमे वनों में उगने वाले पेड़ो से ही प्राप्त होते हैं। 

वनों का सरंक्षण

जिस प्रकार वन हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं। उसी प्रकार हे वनों का सरंक्षण करना चाहिए, वनों के बचाने के लिए हमारे देश में वन सरंक्षण अधिनियम बना हुआ हैं। वन सरंक्षण अधिनियम के तहत वनों से बिना वन विभाग की इजाजत के कोई पेड़ की एक पत्ती भी नही तोड़ सकता हैं। यह तो सरकार का फैसला हैं। 

हम इस प्रकार से वन का सरंक्षण कर सकते हैं। इसके बारे में भी हमें विचार करना चाहिए। हमें पेड़ो को बचाने के लिए प्रयास करना चाहिए। 

वनों का बचाव

वनों की कटाई से जहाँ एक तरफ हमें प्रत्यक्ष लाभ होता हैं, वही इसके दूसरी और पेड़ो की कटाई से हमे कई तरह के नुकसान भी होते हैं। वनों से हमे होने वाले नुकसान जैसे सांस की कमी, बढती गर्मी इन सब के जिमेदार हम ही हैं। इन सब से बचने के लिए जरुरी हैं की हम पेड़ो का बचाव करे। अब हम कैसे पेड़ो का बचाव कर सकते हैं। 

  • आपके आसपास वनों और बाग-बगीचों की जानकारी आप नजदीकी वन विभाग को दे ताकि वे उस स्थानों को अपने संरक्षण में ले सके। 
  • वनों से अगर कोई पेड़ पौधे काटे या आप का कोई मित्र भी ऐसा काम करे तो उनको पेड़ का महत्त्व समझाए। पेड़ के बिना हमारा जीवन वैसे हो जाता हैं सिलेंडर बिना गैस। 
  • वनों की कटाई अगर कोई करता है तो उनको एक पेड़ की जगह 2 पेड़ लगाने के लिए प्रेरित करे ताकि पेड़ो को बचाया जा सके। ऐसे करने से हमारे पेड़ भी बच जायेंगे और हमारी दैनिक फर्नीचर की मांग भी पूरी हो जायेगी। 
  • हम यह भी जानते हैं की वनों में जीव जन्तुओ का निवास रहता हैं। ऐसे में आगर हम वनों का बचाव करते हैं तो इससे हम तो सुखी रहते ही हैं उसके साथ बिना बोलने वाले जीव जंतु भी खुश रहते हैं। 

वन्य जीव अगर जीवित और सुरक्षित रहेंगे तो हम भी बचे रहेंगे। 

वनों का सरंक्षण करना बेहद जरुरी हैं। आप भी इसका मतलब समझे और दुसरो को भी यह सन्देश बताएं। जय हिन्द! आज की बचत, कल की कमाई।

निष्कर्ष

हमे प्राणवायु यानी ऑक्सीजन पेड़ से ही मिलती हैं। ऐसे में अगर हम पड़ो और वनों का सरंक्षण नही करेंगे तो फिर तो कोई बात नही होगी। हमारा पहला उदेश्य पेड़-पौधे को बचाना चाहिए।

अंतिम शब्द  

हमने यहां पर “वन पर निबंध (Essay on Forest in Hindi)” शेयर किया है। उम्मीद करते हैं कि आपको यह निबंध पसंद आया होगा, इसे आगे शेयर जरूर करें। आपको यह निबन्ध कैसा लगा, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here