सीबीएसई क्या है? (पात्रता, फुल फॉर्म, स्कूल, फायदे, परीक्षा, मुख्यालय)

CBSE Kya Hai: कॉलेज में एडमिशन लेने के समय में हमको चयन करना होता है की यूपी बोर्ड में प्रवेश लेना है, सीबीएसई बोर्ड में ,या फिर आईसीएससी बोर्ड में। आप में से काफी लोग इन सभी के फुल फॉर्म के बारे में जानकारी रखते होंगे। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होंगे जिनको इसके बारे में अधिक जानकारी नही होती हैं।

CBSE Kya Hai
Image: CBSE Kya Hai

आज के इस लेख में हम आपको CBSE क्या होता हैं ? CBSE का फुल फॉर्म क्या होता हैं ? CBSE में कौन कौन से विषय होते हैं ? यदि आपको इन प्रश्नों के उत्तर के बारे में कोई जानकारी नहीं हैं तो, आपको परेशान होने की कोई जरूरत नही हैं क्योंकि इस लेख में हम आपको सीबीएसई के बारे में सारी जानकारी देंगे। इसके लिए आपको लेख को अंत तक पढ़ना होगा।

सीबीएसई क्या है? (पात्रता, फुल फॉर्म, स्कूल, फायदे, परीक्षा, मुख्यालय) | CBSE Kya Hai

सीबीएसई फुल फॉर्म

यदि इसके फुल फॉर्म की बात करें तो इसका फुल फॉर्म सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन होता हैं। हिंदी में इसको केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड होता हैं। इस बोर्ड का मुख्यालय न्यू दिल्ली में हैं जो देश का सबसे प्रमुख बोर्ड में से एक हैं। भारत के लगभग सभी राज्यों में सीबीएसएस बोर्ड से मान्यता प्राप्त कॉलेज मिल जाते हैं। इसके अलावा देश के बाहर भी सीबीएसई बोर्ड के कॉलेज देखने को मिल जाते हैं।

सीबीएसई बोर्ड के माध्यम से देश के बहुत सारे स्टूडेंट्स पढ़ने के लिए तैयार रहते हैं। यह बोर्ड प्रति वर्ष मार्च महीने में कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा को आयोजित करती हैं। यह बोर्ड सरकारी कॉलेज को तो मान्यता देता ही है, साथ में प्राइवेट कॉलेज को भी मान्यता प्रदान करता हैं।

सबसे ज्यादा फायदा उन छात्रों को होता है जिनके माता-पिता केंद्र सरकार में जॉब करते हैं। इन कर्मचारियों का तबादला सरकार करती रहती हैं। जब उनका ट्रांसफर एक जगह से दूसरे जगह पर होता है तो, वह आसानी से एडमिशन ले सकते हैं।

सीबीएसई बोर्ड की स्थापना वर्ष 1921 में हुई थी। शुरुआत में इसका नाम उत्तर प्रदेश बोर्ड ऑफ हाई स्कूल एंड इंटरमीडिएट एजुकेशनल नाम था। कई बार इसका नाम का बदलाव हुआ। वर्ष 1962 में पूर्ण रूप से इसका गठन किया गया। सीबीएसई का मुख्यालय न्यू दिल्ली में हैं जबकि इसके अन्य छोटे ऑफिस भारत के इलाहाबाद, चेन्नई, पंचकुला आदि जगह पर इसके ऑफिस हैं।

सीबीएसई की परीक्षा में कौन कौन शामिल हो सकता है?

सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा में जो छात्र सीबीएसई कॉलेज में रजिस्टर होंगे, यह सभी लोग इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। परीक्षा में शामिल होने के लिए किसी भी व्यक्ति की जाती, धर्म, जनजाति आदि मायने नहीं रखती हैं। सीबीएसई के नियम के अनुसार कोई भी व्यक्ति इनके द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

सीबीएसई स्कूल को कैसे खोजें?

यदि आप अपने बच्चों को सीबीएसई बोर्ड के द्वारा एडमिशन कराना चाहते है तो, आपकी जानकारी के लिए बता दें की भारत के सभी राज्यों में सीबीएसई बोर्ड के स्कूल मिल जाएंगे।

आपकी जानकारी के लिए बता दे की अभी तक देश में करीब 20,290 से अधिक के कॉलेज हैं। इन कॉलेज की संख्या प्रतिवर्ष बढ़ती रहती हैं।

सीबीएसई बोर्ड के प्रमुख फायदे

 इस बोर्ड के प्रमुख फायदे है जो निम्न हैं।

  • ऐसी बहुत सी प्रतियोगी परीक्षाओं होती है, जिनका कोर्स सीबीएसई पैटर्न के आधार पर होता हैं।
  • सीबीएसई बोर्ड से पढ़ने वाले छात्र अन्य बोर्ड से पढ़ने वाले छात्रों से अंग्रेजी में काफी सहज महसूस करते हैं।
  • यह शिक्षा बोर्ड अन्य बोर्ड से काफी सरल हैं।
  • यह बोर्ड अपने छात्र को प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने के लिए प्रोसाहित करते हैं। ताकि उनके मन से परीक्षा को लेकर भय निकल जाएं।
  • जो छात्र सीबीएसई बोर्ड से शिक्षा ग्रहण करते है, वह उन बोर्ड से अधिक नंबर भी प्राप्त करते हैं।

सीबीएसई परीक्षा में शामिल होने के लिए आवश्यक पात्रता

  • जो छात्र सीबीएसई बोर्ड से 10वीं और 12वीं कक्षा को पास कर लेता हैं, वो सीधे ही AISEE की परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। इस परीक्षा के लिए किसी भी वर्ग, जाति, धर्म, आर्थिक स्थिति, लिंग, जाति के लोग शामिल हो सकते हैं।
  • सीबीएसई के 12वी के स्टूडेंट को AISSE बोला जाता हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे, की सीबीएसई बोर्ड राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा आयोजित करती हैं।

सीबीएसई का मुख्य उद्देश्य

  • इसका उद्देश्य उन संस्थान को मान्यता प्रदान करना, जो इसकी मापदंड को पूरा करते हों।
  • परीक्षा के प्रारूप को नियंत्रित करना और उसको ठीक समय पर करवाना।
  • नई शिक्षा को लागू करना, जिससे छात्र को आने वाले समय में किसी भी प्रकार की दिक्कत न हों।
  • शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता को बनाए रखना।

सीबीएसई द्वारा आयोजित परीक्षा

सीबीएसई बोर्ड प्रतिवर्ष कई प्रकार की परीक्षा को आयोजित करवाती हैं। यह परीक्षा निम्न प्रकार की होती हैं।

  • यह बोर्ड सेंट्रल शैक्षिक स्कूल के लिए नियुक्त होने वाले शिक्षक के लिए सीईटी यानी केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा को करवाती हैं।
  • इसके अलावा सीबीएसई नेट की परिक्षा भी सीबीएसई बोर्ड कराती हैं। इस परीक्षा के द्वारा विश्व विद्यालय में प्रोफेसर की नियुक्ति की जाती हैं।
  • यह अपने बोर्ड के 10वीं और 11वीं के छात्र के लिए बोर्ड परीक्षा का आयोजन करवाती हैं।
  • एनएनटी की परीक्षा का आयोजन भी सीबीएसई के द्वारा किया जाता हैं।

सीबीएसई बोर्ड का मुख्यालय

इसका मुख्यालय न्यू दिल्ली में बना हुआ हैं, जहां से देश के सभी राज्यों के कार्य की देख रेख करते हैं। इसके अलावा बहुत से राज्यो में छोटे छोटे कार्यालय बने हुए हैं। जहां से कई प्रकार के कार्य किए जाते हैं।

FAQ

क्या सीबीएसई बोर्ड बहुत कठिन हैं ?

नही, ऐसा नही हैं। यह बोर्ड काफी आसान हैं। यहां पर आपको अधिक सीखने को मिलता हैं।

सीबीएसई बोर्ड में एडमिशन को कैसे पाएं?

सीबीएसई बोर्ड में एडमिशन को प्राप्त करने के लिए आपको अपने निकट के सीबीएसई कॉलेज को खोजना होगा। इसके अलावा आजकल बहुत से प्राइवेट कॉलेज भी सीबीएसई बोर्ड से मान्यता प्राप्त किए हुए हैं।

सीबीएसई बोर्ड में एडमिशन को प्राप्त करने के लिए कौन कौन सी योग्यता होनी चाहिए ?

यदि आप सीबीएसई बोर्ड से पढ़ना चाहते हैं इसके लिए आपको एडमिशन को करवाना होगा। हमने आपको उप्पर के लेख में सारी जानकारी दी हैं, जिससे आप आसानी से बोर्ड में एडमिशन करवा सकते हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के इस पोस्ट में हमने आपको सीबीएसई क्या है? (पात्रता, फुल फॉर्म, स्कूल, फायदे, परीक्षा, मुख्यालय)( CBSE Kya Hai) के बारे में सारी जानकारी दी, जिससे आपको इस बोर्ड के बारे में जानकारी ज्ञात हो गई होगी। उम्मीद करता हूं, यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा। यदि लेख में दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

यह भी पढ़ें:

B.Sc क्या हैं?, पूरी जानकारी (फुल फॉर्म, फीस और समय)

आईआईटी (IIT) क्या है और कैसे करें? (योग्यता, फायदे, फीस, कॉलेज)

एमबीए (MBA) कैसे करें? (योग्यता, प्रक्रिया, फीस, करियर, जॉब, सैलरी)

एक्टर कैसे बने? (योग्यता, प्रक्रिया, सुविधा और इनकम)

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।