वृक्ष का पर्यायवाची शब्द

वृक्ष का पर्यायवाची शब्द ( Vriksh ka Paryayvachi Shabd )

वृक्ष का पर्यायवाची शब्द – गाछ, दरख्त, शाखी, विटप, द्रुम, पर्णी, तरु, बूटा, पुष्पद, रुख, तरू, अगम, पेड़, पादप, विटप, पुष्प

Vriksh ka Paryayvachi Shabd – Gaanch, Darkhat, Shakhi, Vitap, Drum, Parni, Taru, Buta, Pushad, Rookh, Taru, Agam, Ped, Padam, Vitap, Pushp

वृक्ष के पर्यायवाची शब्द (Synonyms of Vriksh in Hindi) और उनके अर्थ में थोड़ा अंतर हो सकता है। 

इसीलिए एक वाक्य में सभी पर्यायवाची शब्दों का प्रयोग हो जाए, यह जरूरी नहीं है। स्थिति के आधार पर वाक्य में अलग अलग पर्यायवाची का प्रयोग अलग अलग स्थान पर किया जा सकता है।

नीचे हम उदाहरण के माध्यम से वृक्ष और वृक्ष के पर्यायवाची शब्द को और अधिक गहराई से जानने का प्रयास करेंगे।

  • विटप – संसार विटप नमामहे है’ देता है है मानस में प्राप्त वृक्ष रूपक में वाक्यों के चारों भावों से साम्य स्थापित होता है।
  • शाखा – उन्होंने पुन: वृक्ष की उसी शाखा की ओर देखा।
  • तरु – पर इन पाँच वर्षों में मैं सूखता गया हूँ, पल्लवहीन तरु जैसा।” – तरु शब्द का उपयोग लाल्टू ने अपनी कहानी निताई भिखमंगा, प्रेमिका और कविता एक मौत की इस प्रकार किया है. “उसके आने से तरु पात पात हो जाती है।
  • बूटी – मायण में लक्ष्मण के घायल होने के बाद हनुमान के संजीवनी बूटी लाकर उन्हें बचाने का प्रसंग किसे याद नहीं होगा। त्रेता युग में जिस संजीवनी बूटी को बजरंग बली ने खोजा।
  • पुष्प – विविध प्रकार के सुन्दर-सुन्दर पुष्प और पौधे लगाये जाने लगे।” – पुष्प शब्द का उपयोग प्रेमचंद ने अपनी कहानी स्नेह पर कर्त्तव्य की विजय इस प्रकार किया है.
  • पादप पादप रूपांकन मिलते हैं मकबरे की निचली दीवारों पर।

पर्यायवाची शब्द परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई पर्यायवाची शब्द हो सकते हैं। यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिए गए शब्द वृक्ष का पर्यायवाची ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी समानार्थक शब्दों में से किसी का भी पर्यायवाची शब्द पूछा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द

चंद्रमारातवीर
मोरहवाआम
चाँदघरआकाश

1000+ पर्यायवाची शब्दों के विशाल संग्रह के लिए यहां पर क्लिक करें।

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here