ट्यूशन सेंटर कैसे शुरू करें?

Tution Centre Kaise Shuru Kare: आज के युवाओं को सबसे ज्यादा जरूरत पढ़ाई की है क्योंकि पढ़ाई के बिना कोई भी जॉब करना असंभव है। अगर आप पढ़े-लिखे नहीं है, तो आपके पास कमाई का साधन बहुत ही कम होता है, जिसके जरिए आप को बहुत ही मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है इसीलिए आप के लिए सबसे ज्यादा पढ़ाई लिखाई का महत्व है।

जब हम पढ़ाई कर लेते हैं, तो हमारा फर्ज बनता है कि हम दूसरे लोगों को भी पढ़ाएं और उनका बेहतर भविष्य बनाएं।इसीलिए हमारे गुरु या शिक्षक हमें पढ़ाई करवाते हैं, जिसके जरिए हम अपना भविष्य बेहतर बना सकते हैं। अगर आप ही पढ़ाने का हुनर रखते हैं, तो आपके लिए ट्यूशन सेंटर का बिजनेस करना बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है।

Tution Centre Kaise Shuru Kare
Image : Tution Centre Kaise Shuru Kare

आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए ट्यूशन सेंटर का बिजनेस किस प्रकार शुरू कर सकते हैं। इस बिजनेस के लिए किन-किन चीजों की आवश्यकता होती है। इन सभी के बारे में पूरी जानकारी देंगे। अगर आप पूर्ण जानकारी चाहते हैं तो, इसके लिए आर्टिकल में अंत तक बने रहिए।

ट्यूशन सेंटर कैसे शुरू करें ? | Tution Centre Kaise Shuru Kare

ट्यूशन सेंटर बिजनेस क्या होता है?

आजकल के बच्चे ऐसे बच्चे हैं, जिनको घर में पढ़ाना असंभव सा होता जा रहा है क्योंकि यह जनरेशन पुराने जनरेशन से बिल्कुल ही अलग है, जिसका तालमेल बिल्कुल भी नहीं बैठ पा रहा है। ऐसे में लोग अपने बच्चों को पढ़ने के लिए ट्यूशन सेंटर में भेजते हैं, जिसके जरिए वहां पर बच्चों को पढ़ाया जाता है।

इसी के साथ अच्छे अंक लाने की गारंटी भी ली जाती है और बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए ट्यूशन सेंटर बहुत ही आवश्यक हो गया है।

ट्यूशन सेंटर कैसे खोल सकते हैं?

ट्यूशन सेंटर खोलने के लिए अच्छे प्रशिक्षण और अनुभव की आवश्यकता होती है। अगर आपके पास यह दोनों ही हैं, तो आप बहुत ही आराम से ट्यूशन सेंटर खोल सकते हैं। इसी के साथ इसके लिए थोड़ी सी जगह की आवश्यकता होती है और व्यापार के लिए लाइसेंस की भी आवश्यकता होती है और भी कई अन्य चीजों की आवश्यकता होती है। उन चीजों के बारे में हम आपको आर्टिकल में बताने जा रहे हैं, अंत तक बने रहिए।

ट्यूशन सेंटर के प्रकार

  • ऑनलाइन
  • ऑफलाइन

ट्यूशन सेंटर को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही प्रकार से खोला जा सकता है। कई बार ऐसी समस्या आ जाती है कि हम एक जगह से दूसरी जगह पर नहीं जा सकते।

अगर ऐसी कोई भी समस्या आती है, तब हम ऑनलाइन चीजों का ही इस्तेमाल करते हैं। इसी तरह से ऑनलाइन क्लासेज भी चलाई जा सकती है, जिसके जरिये आपको बहुत ही अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है और यह बहुत ही अच्छा व्यवसाय है।

इसी के साथ आप ऑफलाइन ट्यूशन सेंटर भी खोल सकते हैं। इसके लिए आपको थोड़ी बहुत चीजों की आवश्यकता होती है, उनकी सहायता से आप ऑफलाइन ट्यूशन सेंटर शुरू कर सकते हैं।

यह भी पढ़े: रोज पैसे कैसे कमाए?

ट्यूशन सेंटर के लिए मार्केट रिसर्च

जब कोई भी व्यापार शुरू किया जाता है, तब शुरू करने से पहले हमें मार्केट रिसर्च करना बहुत ही आवश्यक होता है। मार्केट में सर्च करके हम यह पता लगा सकते हैं कि किस प्रकार के ट्यूशन सेंटर की मार्केट में ज्यादा से ज्यादा डिमांड है। इसी के साथ आप जगह का भी पता लगा सकते हैं, कि आपको कैसी जगह पर कोचिंग सेंटर खोलना चाहिए।

इसी के साथ आप यह भी पता लगा सकते हैं कि आपके सामने कितने और कैसे-कैसे प्रतिनिधित्व हैं क्योंकि हर व्यापार में प्रतियोगी बहुत ही अधिक होते हैं और आपको उनका सामना करना पड़ता हैऔर चुनौतियों का सामना करने के लिए आपको पूरी तरह से मार्केट रिसर्च की आवश्यकता होती है।

ट्यूशन सेंटर खोलने की प्रक्रिया

कोई भी व्यापार हो या कोई भी चीज हो सभी चीज की या व्यापार की कोई ना कोई प्रक्रिया जरूर होती है। इसी तरह से ट्यूशन सेंटर खोलने की भी एक प्रक्रिया होती है। अगर आप उसके अनुसार ही काम करेंगे तो, आपका ट्यूशन सेंटर का बिजनेस बहुत ही अच्छा चलेगा। जैसे कि;-

  • शिक्षा की व्यवस्था को पूरी तरह से समझना

सबसे पहले आपको शिक्षा के बारे में पूरी तरह से समझना होगा शिक्षा की व्यवस्था किस प्रकार होती है और आप किस प्रकार का कोचिंग सेंटर खोलना चाहते हैं।

आपको यह सब पहले से ही निर्धारित करना होगा। इसी के साथ आप उस ट्यूशन सेंटर में किस तरह के विद्यार्थी को पढ़ाना चाहते हैं और उन्हें किस तरह की ट्यूशन देना चाहते हैं क्योंकि ट्यूशन कई विषयों पर पढ़ाई जा सकती है इसीलिए यह सब चीजें पहले से ही निर्धारित करनी होगी।

  • उसके बाद विषय का चयन करें

ट्यूशन सेंटर खोलने से पहले विषय का चयन चयन अवश्य करें। आप उन विषयों को चुने, जिनमें आपको रुचि हो और आपको उस विषय के बारे में अच्छी तरह से पूरी जानकारी हो।

अगर आपके पास पूरी जानकारी नहीं होगी और अनुभव नहीं होगा तो आप किसी भी विषय को पढ़ाने में सक्षम नहीं हो पाएंगे इसीलिए यह पहले से ही निर्धारित करें और पूरे आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़े।

ट्यूशन सेंटर खोलने के लिए जगह का चयन

ट्यूशन सेंटर खोलने के लिए एक अलग प्रकार की जगह की आवश्यकता होगी, जैसे कि ट्यूशन सेंटर भीड़भाड़ वाले इलाके में होना चाहिए। इसी के साथ ट्यूशन सेंटर ऐसी जगह होना चाहिए, जहां पर अधिक से अधिक कॉलेज या स्कूल हो क्योंकि, ऐसी जगह पर कोचिंग सेंटर बहुत ही अच्छे चलते हैं।

आपका ट्यूशन सेंटर ऐसी जगह पर होना चाहिए, जहां पर कोई भी विद्यार्थी आसानी से आ जा सके। इसी के साथ आपको ट्यूशन सेंटर की जगह पर पार्किंग की भी व्यवस्था रखनी होगी। इसी के साथ आपको ऐसी जगह का चयन करना होगा, जहां पर ज्यादा शोर शराबा ना हो मतलब, बड़े-बड़े साउंड सिस्टम इत्यादि वहां पर ना बजते हो।

इसी के साथ आप किराए पर भी रूम लेकर या अन्य जगह लेकर ट्यूशन सेंटर शुरू कर सकते हैं।

ट्यूशन सेंटर खोलने में आवश्यक जगह

आपका ट्यूशन सेंटर इतनी बड़ी जगह में होना चाहिए कि, आप वहां पर आराम से 10 से 15 विद्यार्थी एक बार में बिठा सकें। इसी के साथ आपके कमरे में बैठने के लिए कुर्सी, बेंच इत्यादि होनी आवश्यक है।

साथ ही साथ कमरे में अन्य प्रकार की सुविधाएं भी होनी चाहिए जैसे कि वॉशरूम, पीने का पानी, ब्लैकबोर्ड, पंखा अन्य चीजें होनी भी आवश्यक है। इसी के साथ आपको और चीजों की भी आवश्यकता पड़ सकती हैं। जैसे कि;-

  • आप अपने ट्यूशन सेंटर में अन्य प्रकार की प्रेरणादायक किताबें भी रख सकते हैं। इससे बच्चों को पढ़ने में आसानी होगी और बहुत मदद मिल सकती है।
  • इसी के साथ आपको अपने ट्यूशन सेंटर में फोन इत्यादि रखने की भी आवश्यकता होगी क्योंकि कई बच्चे साथ में फोन लेकर भी आते हैं, तो जब वह पढ़ाई करते हैं तो उन्हें फोन इस्तेमाल नहीं करने देना चाहिए। इसी के साथ आपके कंप्यूटर भी रख सकते हैं।
  • कई प्रश्न ऐसे होते हैं जिनका जवाब बहुत ही मुश्किल से मिल पाता है। ऐसी मुश्किलों से बचने के लिए आप कंप्यूटर सिस्टम का इस्तेमाल कर सकते हैं। इंटरनेट की मदद से बच्चों को अलग अलग तरीके से पढ़ा सकते हैं।

ट्यूशन सेंटर खोलने में लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन

अगर आप इस बिजनेस को छोटे स्तर पर शुरू कर रहे हैं, तो इसके लिए आपको किसी भी प्रकार के लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं होती है।

अगर आप बड़े स्तर पर शुरू करते हैं, तो इसके लिए आपको लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता जरूर होगी। अन्यथा आपके ऊपर कानूनी कार्यवाही भी हो सकती है क्योंकि बड़ा बिजनेस करने में टर्नओवर अच्छा खासा बन जाता है और जैसे-जैसे टर्नओवर बढ़ता है, आपको टैक्स भी भरना जरूरी होता है।

इसीलिए आपको ट्रेड लाइसेंस और टैक्स रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता बहुत ही ज्यादा बढ़ सकती है, इसीलिए आप कानूनी कार्यवाही करके इन दोनों के लाइसेंस अवश्य प्राप्त कर लें।

ट्यूशन सेंटर खोलने में कर्मचारी और स्टाफ

ट्यूशन सेंटर एक ऐसा बिजनेस है, जिसमें आपको स्टाफ की आवश्यकता जरूर पड़ेगी क्योंकि अकेले आप बड़ा ट्यूशन सेंटर नहीं संभाल सकते हैं। इसके लिए आपको अन्य टीचर और फैकलिट्टी स्टाफ की आवश्यकता पड़ सकती है।

कई माता-पिता ऐसे होते हैं, जिन्हें अच्छे अध्यापक की आवश्यकता होती है इसीलिए आप ऐसे टीचर को रख सकते हैं, जो हर तरह के जवाब देने में सक्षम हो इसीलिए आप जब भी अध्यापक की नियुक्ति करें तो, अच्छी तरह से और पूरी जानकारी करके ही करें।

आप हर विषय से संबंधित अलग-अलग अध्यापक रख सकते हैं। इसी के साथ आप अलग-अलग कक्षा के लिए भी अलग-अलग अध्यापक रख सकते हैं। यह सब आपके बजट के ऊपर निर्भर करता है।

ट्यूशन सेंटर खोलने में कुल निवेश

कुल निवेश आप पर निर्भर करता है कि आप कितना इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं क्योंकि यह ऐसा बिजनेस है जिसे आप बिना पैसे की भी शुरू कर सकते हैं और अगर आप बड़े स्तर पर शुरू करते हैं, तो इसके लिए आपको 40 से 50 हजार और अधिकतम ₹100000 तक भी खर्च आ सकता है।

इसीलिए यह आप पर निर्भर करता है कि आप किस प्रकार का बिजनेस करना चाह रहे हैं।

निर्धारित फीस

यह बहुत ही आसान काम है। आप इतनी फीस निर्धारित करें कि लोगों को आपका कोचिंग सेंटर महंगा ना लगे क्योंकि अगर आपका ट्यूशन सेंटर महंगा होगा तो कम से कम बच्चे आएंगे। अगर आप ट्यूशन सेंटर में फीस अच्छी रख रहे हैं तो इसी के लिए आप अच्छे अध्यापक की भी व्यवस्था करके रखें क्योंकि जब माता-पिता फीस अच्छी देते हैं, तो उन्हें पढ़ाई और रिजल्ट भी अच्छा ही चाहिए होता है।

सबसे ज्यादा मार्केट में साइंस, इकोनॉमिक्स, मैथ्स, इतिहास, भूगोल इत्यादि चीजों की डिमांड ज्यादा रहती है। इसी के साथ आप मनचाही फीस भी ले सकते हैं, परंतु विषयों के हिसाब से और कक्षा के हिसाब से ही सीख लेनी चाहिए क्योंकि कक्षा 8 से 12 के लिए सामान्यता ही फीस ली जाती है और बड़ी-बड़ी क्लास के लिए अलग अलग विषयों की अलग अलग चीज होती हैं। इस विषय का रेट ₹300 से ₹400 के बीच का होता है।

यह भी पढ़े: बिना पैसे लगाए घर बैठे बिजनेस कैसे करें?

ट्यूशन सेंटर से होने वाला लाभ

इसके अंतर्गत आपको एक बार निवेश करना पड़ता है और इसके जरिए आपको लाभ ही लाभ प्राप्त होता है। परंतु यह लाभ आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप किस तरह से बच्चों को पढ़ा रहे हैं। अगर आप का तरीका बेहतर होगा तो आपका कोचिंग सेंटर अच्छे से अच्छा चलने लगेगा, जिसके जरिए आप की कमाई बढ़ती हुई दिखाई देगी।

इसी के साथ आप 1 दिन में 6 से 7 बैच रख सकते हैं। अगर एक बैच में 20 विद्यार्थी भी हैं और उनकी फीस ₹500 है, तो आप इसके जरिए प्रतिमाह 1 लाख कमा सकते हैं और अगर आप इसे ज्यादा बच्चों को पढ़ाते हैं, तो आप 1 दिन में 20 से ₹30000 आराम से कमा सकते हैं।

ट्यूशन सेंटर खोलने में मार्केटिंग

  • मार्केटिंग करने के लिए आप लोकल समाचार पत्र में अपने कोचिंग सेंटर की एडवर्टाइजमेंट दिलवा सकते हैं, जिसके जरिए लोगों को आपके ट्यूशन सेंटर के बारे में आसानी से पता चल जाएगा।
  • इसी के साथ आप ट्यूशन सेंटर की छोटी-छोटी वीडियो बनाकर लोकल केबल ऑपरेटर को भी दे सकते हैं। वह टीवी के जरिए लोगों तक आपके की ट्यूशन सेंटर के बारे में जानकारी देंगे।
  • अधिक प्रमोट करने के लिए आप कोचिंग के पंपलेट भी बनवा सकते हैं। यह टेंपलेट आप स्कूल के बाहर, कॉलेज के बाहर इत्यादि जगह पर बटवा सकते हैं।
  • कोचिंग सेंटर को अच्छी तरह से चलाने के लिए आप फ्री डेमो क्लास भी रख सकते हैं, जिसके जरिए आप बच्चों को बुलाकर उन्हें अच्छी तरह से डेमो देकर बच्चों को अपने ट्यूशन सेंटर में पढ़ने के लिए बुला सकते हैं।
  • इसी के साथ आप सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस इत्यादि जगह पर भी अपने कोचिंग सेंटर का प्रचार प्रसार कर सकते हैं।

ट्यूशन सेंटर खोलने में रिस्क

देखा जाए तो यह ऐसा बिजनेस है, आपको इस बिजनेस में किसी भी प्रकार का कोई जोखिम नहीं उठाना पड़ता है क्योंकि यह बिजनेस 12 महीने चलने वाला बिजनेस है और आने वाले समय में इसकी डिमांड बढ़ती हुई नजर आएगी।

FAQ

ट्यूशन सेंटर कैसी जगह पर खोलना चाहिए?

आप ट्यूशन सेंटर ऐसी जगह पर खोले जहां पर आप आसानी से पढ़ा सके, इसी के साथ विद्यार्थी आसानी से आ जा सके।

क्या ट्यूशन सेंटर खोलना बेहतर विकल्प साबित हो सकता है?

जी हां।

ट्यूशन सेंटर खोलने में कितना निवेश करना चाहिए?

आप चाहे तो ट्यूशन सेंटर बिना निवेश करें अपने घर परभी शुरू कर सकते हैं।

ट्यूशन सेंटर में कितनी फीस रखी जा सकती है?

यह आप पर निर्भर करता है, इसी के साथ आप ₹300 से ₹400 तक विषय फीस रख सकते हैं।

ट्यूशन सेंटर में लाभ मिलने की संभावना होती है?

जी हां, यह एक बेहतर विकल्प है और कमाई का बहुत ही अच्छा साधन है।

निष्कर्ष

ट्यूशन सेंटर का बिजनेस करना बहुत ही आसान है, और बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है। अगर आप इस बिजनेस को करने का विचार कर रहे हैं, तो यह बहुत ही अच्छा विचार है।

आशा करते हैं आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर आप को इस आर्टिकल से संबंधित अन्य कोई भी जानकारी चाहिए तो कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

यह भी पढ़े:

101+ कम खर्च और अधिक मुनाफे वाले बिजनेस

आयात निर्यात का बिजनेस कैसे शुरू करें?

लघु उद्योग कैसे शुरू करें?

कम पैसे में ज्यादा कमाई कैसे करें?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here