भारत में यातायात के नियम व चिन्हों का अर्थ

प्रत्येक देश के विकास में उसके बेहतर यातायात साधन का भी महत्व होता है। विकास के कार्यों को करने के लिए यातायात की सभी सुविधाएं मानव के कार्यों को आसान रूप दे देती हैं। यही वजह है, कि प्रत्येक देश में यातायात की सुविधाओं के साथ उनकी कुछ नियम कानून (traffic rules in hindi) भी बनाए जाते हैं, जिसकी वजह से सभी प्रकार की सुविधाएं सुचारू रूप से जारी रह सके। मगर सबसे गंभीरता की बात तो यह है, कि सभी प्रकार के यातायात नियमों (yatayat ke niyam in hindi) को लगभग लोग ना के बराबर मानते हैं या उनका पालन (about traffic signals) किया करते हैं।

traffic rules in hindi-featured

यही कारण है, कि आपको न्यूज़ समाचार पत्र या फिर टीवी चैनल न्यूज़ पर प्रतिदिन यातायात दुर्घटना की खबरें सुनने और देखने को मिलती होंगी। हमारे भारत देश में भी यातायात नियमों समेत कई अन्य नियमों का भी उल्लंघन लोग प्रतिदिन करते रहते हैं । नियमों के उल्लंघन करने में किसी भी प्रकार का बड़प्पन नहीं है,  यदि लोग समझे तो नियम इंसान के जीवन को सुरक्षित और उनकी सहायता के लिए ही बनाए जाते हैं।

यह भी पढ़ें:

आज हम भारत देश के यातायात नियमों एवं यातायात के कुछ प्रमुख चिन्हों (traffic signals in hindi) के बारे में इस लेख के माध्यम से बात करने वाले हैं। यातायात या रोड दुर्घटना ज्यादातर नियमों के उल्लंघन या नियमों के जानकारी के अभाव के वजह से ही होते हैं। चलिए जान लेते हैं, कि वह कौन से नियम है ? और वह कौन से चिन्ह है ? जो आपके जीवन समेत आपके परिवार की खुशियों को भी सुरक्षित करते हैं।

विषय सूची

यातायात या सड़क नियम मानव जीवन के लिए क्यों जरूरी है?

जब यातायात सुविधा को प्रारंभ किया गया, तब सबसे पहले यातायात नियमों को तैयार किया गया था। यातायात नियम मानव जीवन के लिए इसलिए जरूरी है, क्योंकि नियम (traffic rules in hindi) पर चल कर कोई भी वाहन चालक अपने आप को सुरक्षित रख सकता है।इसलिए यह आवश्यक है, कि प्रत्येक वाहन चालक को सभी प्रकार के यातायात नियमों (road safety rules in hindi) के बारे में संपूर्ण रूप से जानकारी होनी चाहिए। यातायात के नियमों को उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों को यातायात पुलिस कर्मी चालान भी काटती है। आवश्यक रूप से यातायात के सभी नियमों और यातायात के सभी प्रकार के चिन्ह की जानकारी सभी वाहन चालक को होनी चाहिए। यातायात के सभी नियमों पर चल कर आप खुद को दुर्घटनाग्रस्त होने से बचा सकते हैं।

भारत देश में यातायात के कुछ प्रमुख और महत्वपूर्ण नियम – Traffic Rules in Hindi

अगर प्रत्येक वाहन चालक चाहे तो कुछ प्रमुख और महत्वपूर्ण यातायात नियमों का पालन करके स्वयं और दूसरों के जीवन को भी सुरक्षित रखने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकता है। यहां पर हमने कुछ प्रमुख और महत्वपूर्ण यातायात के नियमों का वर्णन किया है, जो इस प्रकार से निम्नलिखित हैं।

यातायात के नियम – Traffic rules information in hindi

अपने सभी प्रकार के वाहन के पार्किंग पर विशेष रूप से ध्यान रखें

प्रत्येक वाहन चालक को यह ध्यान रखना चाहिए कि अपने वाहन को पार्किंग करते समय उसका विशेष रुप से ध्यान रखें। भले ही आप थोड़े समय के लिए अपने वाहन की पार्किंग कर रहे हो, ऐसे व्यवस्थित स्थान पर आप अपने वाहन की पार्किंग करें, जिससे किसी अन्य व्यक्ति को किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो।

सड़क मार्ग पर वाहन चलाते समय किसी अन्य वाहन चालक को ओवरटेक करने का प्रयास ना करें

सड़क मार्ग पर कभी भी वाहन चलाते समय किसी अन्य वाहन चालक से रेस ना करें। ऐसा करने से आप यातायात के नियमों का उल्लंघन तो करते ही हैं, साथ ही में आप किसी अन्य वाहन चालक के जीवन के साथ भी खिलवाड़ करते हैं । कभी भूल कर भी ऐसी गलती आप ना करें।

वाहन चलाते समय बार-बार वाहन के होर्न का प्रयोग नहीं करना चाहिए

कभी भी आप वाहन चलाते वक्त बार-बार उसके होने का प्रयोग ना करें, ऐसा करने से आप अपने सामने वाले वाहन चालक के ध्यान को खराब करते हैं। इसके साथ ही आप ध्वनि प्रदूषण जैसी समस्या को भी बढ़ावा देते हैं।

एक तरफा रोड के नियम का पालन करें

जब कभी भी आप एक तरफा रोड पर अपने वाहन को चला रहे हो, तो उस रोड को आप को निरंतर रूप से फॉलो करना चाहिए। ऐसे रोड बस कुछ ही दूरी के लिए बनाए गए होते हैं, जो चालक की सुविधा के लिए ही होते हैं।

चालक अपने दिशा के लेन अनुसार ही अपने वाहन को चलाएं

वाहन चालक जिस विदिशा के लेन से जा रहे, हो उसी दिशा के लेन का अपने पूरे ड्राइविंग समय में उसे फॉलो करना चाहिए। यदि वाहन चालक शीघ्रता के वजह से लेन के नियमों को तोड़ता है, तो वह रोड पर चल रहे अन्य वाहन को भी अपने इस कार्य से प्रभावित करता है। इसीलिए हमेशा सही लेन का प्रयोग करके वाहन को चलाना चाहिए।

सुरक्षा की दृष्टि से यू-टर्न का पालन करना चाहिए

यू-टर्न ने जैसी सुविधाएं केवल वाहन चालक की सहायता के लिए ही होती है यह वाहन चालक का अधिकार नहीं होता है, कि वह कभी भी कहीं पर यू-टर्न ले ले। यू-टर्न लेते समय वाहन चालक को पूरी सावधानी रखनी चाहिए, इस दौरान उसे ट्रैफिक को देखकर यू-टर्न लेना चाहिए वरना पीछे से आ रही गाड़ियों से आप का एक्सीडेंट भी संभव है।

ड्राइविंग के दौरान समय हाथ के सिग्नल का सही इस्तेमाल करें

चालक को वाहन चलाने के दौरान यदि आपको दाएं ओर या फिर तरफ जाना हो, तो आप इस समय अपने हाथों के सिग्नल का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसे आपके पीछे आ रहे वाहन चालक को आपके ड्राइविंग का सही संकेत मिलेगा और वह सुरक्षित तरीके से ड्राइविंग कर सकेगा।

वाहन गति पर प्रतिबंध

ज्यादातर वाहन चालक अच्छी सड़क मिलने पर अपने वाहन की गति को अधिक रफ्तार दे देते हैं। यहां तक तो ठीक है, परंतु ऐसे चालक शहर में भी अपने वाहन के रफ्तार को धीमा नहीं करते और वह बड़ी दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं। इसीलिए कभी भी शहर में वाहन चलाते समय अपने वाहन की रफ्तार को यातायात के नियम के अनुसार ही रखें।

हमारे देश में ट्रैफिक सिग्नल के क्या संकेत होते हैं

ट्रैफिक सिग्नल के नियम को फॉलो करना वाहन चालकों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। आप सभी लोगों को यातायात के मुख्य तीन संकेतों पर अवश्य ही ध्यान देना चाहिए यह तीन संकेत तीन अलग-अलग रंगों के माध्यम से पता लगाए जा सकते हैं। यह तीन रंगों वाले यातायात संकेत आपको शहर के चौराहों पर हमेशा दिखाई देंगे। यातायात के प्रमुख रंगो वाले संकेतों का वर्णन हमने इस प्रकार निम्नलिखित किया है।

लाल लाइट का संकेत

यातायात के तीन रंगों वाले संकेतों में सबसे पहला और सबसे महत्वपूर्ण यह लाल रंग वाले लाइट का संकेत होता है। अगर आपको यह रंग की लाइट दिखाई दे, तो आपको उसी स्थान पर रुक जाना है, जहां पर आप की गाड़ी खड़ी रही होगी।

पीली लाइट का संकेत

पीली लाइट का सिग्नल यदि आपको दिखाई दे तो आप समझते हैं, कि आप को चलने के लिए तैयार हो जाना है। जिस प्रकार से लाल लाइट रुकने का संकेत देती है उसी प्रकार से पीली लाइट चलने के लिए वाहन चालकों को तैयार होने का संकेत देती है।

हरी लाइट का संकेत

जिस प्रकार से पीली लाइट आपको आगे चलने के लिए तैयार होने का संकेत देती है, उसी प्रकार से हारी लाइट जलने पर आपको आगे जाने की अनुमति प्रदान कर देती है।

ध्यान दें

यातायात की इन सभी 3 रंगों वाली लाइटों के नियम (yatayat ke rules) का पालन करना चाहिए यह आपकी सुरक्षा के लिए ही होते हैं।

भारतीय यातायात नियम के महत्वपूर्ण चिन्ह व उनके अर्थ – Traffic Signs Chart in Hindi

कुछ ऐसे गंभीर क्षेत्र होते हैं जैसे: अस्पताल, स्कूल आदि इन सभी क्षेत्रों के अंतर्गत वाहनों के चालकों को बार-बार हॉर्न का प्रयोग नहीं (traffic signs in hindi) करना चाहिए।

क्रमांकयातायात का चिन्हचिन्ह का नामचिन्ह का अर्थ
1traffic signs chartएक तरफा ट्रैफिकयदि आपको वाहन चलाते समय इस प्रकार का चिन्ह दिखाई दे रहा है, तो मतलब आप समझ जाइए कि गलत साइड से वाहन चलाना दंडनीय अपराध हो सकता है।
2traffic signs-2एक तरफा ट्रैफिकइस चिन्ह का भी मतलब आप गलत साइड में वाहन चला नहीं सकते हैं।
3traffic signs-3दोनों दिशा में वाहन चलाना वर्जित हैयातायात के इस चिन्ह का मतलब होता है, कि दोनों तरफ से आवागमन वर्जित है।
4traffic signs-4बाएँ हाथ में नहीं मुड़ना हैयदि आपको यह चिन्ह दिखाई दे, तो आप समझ ले कि आप के बाएं हाथ के तरफ वाहन चलाना पूरी तरह वर्जित है।
5traffic signs-5दाएँ हाथ में नहीं मुड़ना हैयदि आपको यह चिन्ह नजर आता है, तो आप समझ ले, कि दाएं हाथ की तरफ वाहन को चलाना वर्जित किया गया है।
6traffic signs-6नो ओवरटेकिंगयदि आपको यह चिन्ह दिखाई दे, तो आप समझ ले कि किसी भी वाहन को ओवरटेक करके आगे नहीं जा सकते हैं।
7traffic signs-7नो पार्किंगयदि चालक को यह चिन्ह दिखाई देता है, तो इसका मतलब होता है, कि किसी भी क्षेत्र में पार्किंग करना बिल्कुल भी अलाउड नहीं है।
8traffic signs-8नो स्टॉपिंगइस चिन्ह का मतलब है, कि चलते वाहन को उस क्षेत्र के अंतर्गत रोकने की अनुमति नहीं है।
9traffic signs-9यू – टर्नइस चिन्ह का मतलब होता है, कोई भी वाहन चालक किसी भी वाहन को वापस यूटन नहीं ले सकता है।
10traffic signs-10ट्रक वर्जित हैंयदि यह चिन्ह आपको यातायात मार्ग में नजर आए तो आप समझ ले, कि इस क्षेत्र में ट्रक को चलाना पूरी तरह से बाधित किया गया है।
11traffic signs-11साइकिल वर्जित हैंनिशान का मतलब होता है, कि उस क्षेत्र के यातायात मार्ग पर आपको साइकिल चलाना वर्जित है।
12traffic signs-12बैल गाड़ी, तांगा या हाथ गाड़ी वर्जित हैंइस प्रकार के चिन्ह का मतलब होता है, किसी भी प्रकार के हाथ गाड़ी जैसे कि : बैलगाड़ी, टांगा या फिर रिक्शा चलाना अलाउड नहीं है।
13traffic signs-13पैदल चलने वाले व्यक्ति वर्जित हैंमार्ग पर पैदल चलने वालों को यदि यह चिन्ह नजर आता है, तो आप समझ ले कि पैदल चलने वालों लोगों के लिए यह मार्ग पूरी तरह से बाधित है।
14traffic signs-14सभी मोटर वाहन वर्जित हैंइस चीज का अर्थ होता है, कि किसी भी प्रकार के मोटर वाहनों को इस क्षेत्र के अंतर्गत आने जाने की अनुमति नहीं है।
यातायात संकेत

भारत देश यातायात के करने के दौरान कुछ प्रमुख और महत्वपूर्ण चिन्हों को अवश्य ध्यान में रखना चाहिए

हमारे देश में कुछ ऐसे यातायात के चिन्ह (traffic rules in hindi) ने दिए होते हैं, जिन्हें अगर आप समझ ले तो आगे का मार्ग आपको पता चल जाएगा कि किस प्रकार से है। ऐसे ही कुछ प्रमुख और महत्वपूर्ण चुनाव का वर्णन हमने इस प्रकार निम्नलिखित किया है।

यातायात नियम चिन्ह – Traffic Rules and Road Symbol in hindi

क्र।म।यातायात के प्रतीकयातायात के प्रतीक का नामयातायात के प्रतीक का अर्थ
1 speed-limitहाई लिमिट इस नियम का मतलब होता है, कि उस क्षेत्र में जिस में वाहन चालक अपने वाहन को चला रहा है, वहां पर सभी वाहनों की एक लिमिट निर्धारित है, मतलब कि यदि कोई चार वाहन की अनुमति दी गई है, तो वहां पर सिर्फ चार वाहनों के आवागमन रह सकती है।
2 left-hand-1बयां मोड़किस चिन्ह का मतलब होता है, कि आगे जाकर आपको बाई तरफ मोड़ना होगा।
3 animal-sign-roadपशुइस प्रकार के चिन्हों का मतलब होता है, कि आगे पशु पक्षियों का डेरा हो सकता है, इसलिए पहले से ही सावधान रहकर वाहन चलाएं।
4 bicycleसाइकिल क्रासिंगइस प्रतीक का मतलब होता हैं,कि आगे साइकिल क्रासिंग हैं
5 danger-signचट्टानों का गिरनाइसका मतलब यह होता हैं, कि आगे के रास्ते में मौसम के कारण चट्टानें रोड पर गिर सकती हैं।
6 t004011460नौकाइस प्रकार के प्रतीक का मतलब होता है, कि आगे साइकिल चालकों के लिए क्रॉसिंग मौजूद है।
7 road-sign-hair-pinबाएँ हैर्पिन मोड़यह तब उपयोग किया जाता है जब दिशा में परिवर्तन इतना महत्वपूर्ण होता हैं कि वह दिशा के रेवेर्सल के बराबर होता हैं। यहाँ यह संरेखण के आधार पर बाएँ ओर झुका हुआ हैं।
8 बाएँ हाथ का कर्वइसका उपयोग तब किया जाता है, जब संरेखण की दिशा बदलती हैं, यह गति को कम करने और सावधानी से चलने के लिए चेतावनी होता हैं।
9 बाएँ रिवर्स मोड़इसका उपयोग तब होता है, जब रिवर्स मोड़ की प्रकृति आवागमन तक पहुँचने के लिए स्पष्ट नहीं हैं।
10 Loose Gravel Signखुली बजरीइसका उपयोग तब किया जाता है जब तेजी से आने वाले वाहनों द्वारा बजरी को फेंक दिया जा सकता है।
11 man-at-workकार्य प्रगति पर हैइसका उपयोग तब होता है जब पुरुषों या मशीनों के द्वारा सड़क पर कोई काम चल रहा होता है। काम पूरा हो जाने के बाद यह हटा दिया जाता हैं।
12 Narrow_bridge_sign_Indiaनैरो ब्रिजयह प्रतीक पुल आने के पहने लगाया जाता हैं। जहाँ प्रतिबंध या पहिया गार्ड के बीच की चौड़ाई गाड़ी की सामान्य चौड़ाई से कम है।
13 Narrow_road_sign_Indiaनैरो रोडयह संकेत अधिकतर ग्रामीण क्षेत्र में पाया जाता है, जहाँ फूटपथ की चौड़ाई में अचानक कमी से यातायात के लिए खतरा पैदा होता है।
14 pedistrian-crossingपैदल चलने वालों की क्रासिंगयह प्रतीक ज़ेबरा क्रासिंग आने के पहले बनाया जाता हैं। ताकि वाहन की रफ्तार कम की जा सकें।
15 दाएँ हैर्पिन मोड़यह तब उपयोग किया जाता है जब दिशा में परिवर्तन इतना महत्वपूर्ण होता हैं कि वह दिशा के रेवेर्सल के बराबर होता हैं। यहाँ यह संरेखण के आधार पर दाएँ ओर झुका हुआ हैं।
16 दाएँ रिवर्स मोड़इसका उपयोग तब होता है जब रिवर्स मोड़ की प्रकृति आवागमन तक पहुँचने के लिए स्पष्ट नहीं हैं।
17 दाएँ हाथ का कर्वइसका उपयोग तब किया जाता है जब संरेखण की दिशा बदलती हैं यह गति को कम करने और सावधानी से चलने के लिए चेतावनी होता हैं।
18 सड़क मार्गयह संकेत अधिकतर ग्रामीण क्षेत्र में पाया जाता है, जहाँ चौड़ाई में अचानक वृद्धी से यातायात के लिए खतरा पैदा होता है। जैसे कि दो लेन की सड़क, अचानक दोहरी गाड़ी के मार्ग को चौड़ा कर देती हैं।
19 school-areaस्कूलजहाँ स्कूल की इमारतें व मैदान सड़क के आस – पास होते हैं वहाँ यह प्रतीक लगाया जाता है ताकि स्कूल से बच्चे सुरक्षित रहें।
20 slippery-road-signसड़क में फिसलनइसका उपयोग फिसलन वाली सड़क आने के पहले किया जाता है।
21 steep-ascentखड़ी चढ़ाई यह प्रतीक तेजी से आने वाले वाहनों के लिए चढ़ाई आने वाली रोड के पहले लगाया जाता हैं। ताकि ट्रैफिक के लिए खतरा पैदा न हो।
22 steep-descentढलानयह प्रतीक तेजी से आने वाले वाहनों के लिए उतार आने वाली रोड के पहले लगाया जाता हैं। ताकि ट्रैफिक के लिए खतरा पैदा न हो। और वाहन नियंत्रित रहे

वाहन चालकों के लिए आवश्यक और मुख्य दिशानिर्देश – Driving Rules in Hindi

यदि वाहन चालक कुछ आवश्यक और महत्वपूर्ण दिशा निर्देशों (traffic rules in hindi) का पालन करें, तो उनको स्वयं की सुरक्षा के साथ-साथ उनकी आर्थिक स्थिति भी सुरक्षित रह सकती है। कुछ महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश इस प्रकार से नीचे दर्शाए गए हैं।

  • हमेशा वाहन चालकों को वाहन में दिए गए गति निर्देशों (poem on traffic rules in hindi) का पालन करना चाहिए, ऐसा करके वह अपने फ्यूल का भी बचत करेंगे, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में भी निरंतरता बनी रहेगी।
  • अन्य वाहन चालकों के साथ सम्मान पूर्वक यातायात सड़क पर वाहन चलाना चाहिए और उन्हें भी शिष्टाचार पूर्वक सम्मान देना चाहिए।
  • पैदल चलने वाले व्यक्तियों के लिए जेबरा क्रॉसिंग (essay on traffic rules) पर थोड़े समय इंतजार करें, ताकि वह अपने पैदल यात्रा को सुरक्षित रूप से पूरा कर सकें।
  • आधारित लेन (indian traffic rules in hindi) में वाहन चलाने से गाड़ी के फ्यूल में भी बचत होती है।
  • सभी वाहन चालकों को अपनी निर्धारित लेन में चलना चाहिए यदि उनको लेन बदलना है, तो इस परिस्थिति में उनको इंडिकेटर या फिर हाथ के संकेतों का इशारा करना चाहिए।
  • सभी वाहन चालकों को अपने वाहन (slogans on traffic rules in hindi) का विशेष रूप से देखरेख करना चाहिए, क्योंकि वाहन चलाने के दौरान कभी भी अचानक खराबी आने पर आपके लिए दुर्घटना का विषय भी हो सकता है।
  • दोपहिया चलाते समय हेलमेट और चार पहिया चलाते समय सीट बेल्ट का आवश्यक प्रयोग करना चाहिए, ऐसा करने से आप अपने आपको बड़ी दुर्घटना होने से सुरक्षित रख सकते हैं।
  • सभी वाहन चालकों को सभी प्रकार के आवश्यक दस्तावेज जैसे: ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन पंजीकरण प्रमाण पत्र, इंसुरेंस प्रमाण पत्र, प्रदूषण नियंत्रण प्रमाण पत्र इत्यादि को अपने साथ यातायात यात्रा के दौरान अवश्य रखें।
  • ट्रैफिक पुलिस (about traffic rules in hindi) द्वारा दिए गए सभी प्रकार के दिशा निर्देशों का पालन करना चाहिए।
  • वाहन चलाते समय वाहन चालक को किसी भी प्रकार का नशा जैसे: शराब, सिगरेट, बीड़ी आदि का सेवन नहीं करना चाहिए, ऐसा करने से आप खुद को एवं अन्य वाहन चालक को दुर्घटनाग्रस्त कर सकते हैं।
  • सभी वाहन चालकों को कभी भी वाहन चलाते समय मोबाइल फोन का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • जब भी वाहन चालक अपने वाहन को स्टार्ट करें उस समय हैंडब्रेक को हटाना बिल्कुल भी ना भूले।

Download all Traffic Rules Signs in English PDF

आप पीडीऍफ़ फाइल डाउनलोड करके सभी नियमों की जानकारी विस्तार से ले सकते हैं, अंग्रेजी में पीडीऍफ़ डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

इसके साथ ही हमनें यूट्यूब विडियो का लिंक भी सलंग्न किया हैं, जिसे आप देख सकते हैं।

निष्कर्ष

हमारे देश में लगभग बहुत काम ही ऐसे वाहन चालक होंगे, जिनको यातायात के चिन्ह एवं यातायात के नियमों (traffic rules in hindi) के बारे में संपूर्ण रूप से जानकारी होगी। अगर हर एक वाहन चालक यातायात के नियम और यातायात के मुख्य चिन्हों के बारे में जानकारी रखें, तो वह खुद के समेत अन्य वाहन चालकों के भी जीवन की सुरक्षा करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकता है।

इसीलिए यह आवश्यक है, कि हमारे देश के प्रत्येक वाहन चालक को हमारे देश के यातायात नियम (traffic rules in hindi) एवं यातायात के चिन्हों का जानकारी होना चाहिए। हमारे इस लेख को आप सबके समक्ष प्रस्तुत करने का उद्देश्य केवल यातायात के क्षेत्र में हो रहे सही जानकारी के अभाव में दुर्घटना को रोकने का विचार है।

इसीलिए हम आप सभी से निवेदन करते हैं, कि इस लेख को सभी प्रकार के अपने मित्र जन एवं परिजन के साथ साझा करें।यदि आपके कोई विचार हो या फिर आपके कोई सुझाव हो तो हमें आप आवश्यक कमेंट बॉक्स में बताएं।

यह भी पढ़ें:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here