सूर्य लाल क्यों दिखाई देता है?

Sury Laal Kyo Dikhai Deta Hai: जब हम प्रातः काल में सूर्य को देखते हैं तब वह हमें लाल दिखाई देता है। जब हम दिन के समय सूर्य को देखते हैं तब हमें पीला दिखाई देता है और फिर जब शाम के समय सूर्य ढलता है तो उस समय फिर से सूर्य लाल रंग का दिखाई देता है।

Sury Laal Kyo Dikhai Deta Hai
Image: Sury Laal Kyo Dikhai Deta Hai

सूर्य के इस तरह से रंग बदलने के पीछे क्या कारण है?, सूर्य हमें लाल रंग की क्यों दिखाई पड़ती है? आज के इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे।

सूर्य लाल क्यों दिखाई देता है? | Sury Laal Kyo Dikhai Deta Hai

जब सूर्य के प्रकाश की किरण हमारे वायुमंडल में प्रवेश करती है तो हमारे वायुमंडल में मौजूद धूल कणों में विभिन्न गैसों का मिश्रण मौजूद होता है, जिससे प्रकाश की किरण टकराती है।

प्रकाश की किरण में 7 रंग होते हैं और जिन रंगों का तरंगदैर्ध्य कम होता है, वह ज्यादा दिखाई देते हैं और जिन रंगों का तरंगदैर्ध्य कम होता है, वह कम दिखाई पड़ते हैं।

प्रातः काल जब सूर्य के प्रकाश की किरण हमारी पृथ्वी पर पड़ती है तो उस समय लाल रंग का बिखराव हमारी पृथ्वी पर ज्यादा होता है। इस वजह से हमें सूर्य लाल रंग की दिखाई पड़ता है। क्योंकि उस समय सूर्य हमारी पृथ्वी से दुगनी दूरी पर होती है, जिस वजह से जिस रंग का तरंग धैर्य सबसे अधिक होता है, वही रंग हमें दिखाई पड़ता है।

इस कारण सूर्य में सुबह के समय लाल रंग की दिखाई पड़ता है और जब सूर्य ढल रहा होता है, उस समय सूर्य हमारी पृथ्वी से दोगुनी दूरी पर जा रहा होता है, जिस वजह से उस समय भी लाल रंग का तरंगदैर्ध्य ढल रहा होता है। उस समय सूर्य हमारी पृथ्वी से दोगुनी दूरी पर जा रही होती है, जिस वजह से उस समय भी लाल रंग का तरंगदैर्ध्य अधिक हो जाता है। जिस वजह से हमें उस समय भी सूर्य लाल रंग की दिखाई पड़ती है।

निष्कर्ष

हमने यहाँ पर नाक से खून निकलना किन कारणों से होता है? (कारण, लक्षण और उपाय) के बारे में बताया हैं। उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी पसंद आई होगी, इसे आगे शेयर जरुर करें। यदि आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

यह भी पढ़े

महाराणा प्रताप के हाथी का क्या नाम था?

भारत में कितने जिले हैं?

महाराणा प्रताप का पूरा नाम क्या था?

स्वामी विवेकानंद की मृत्यु कैसे और कब हुई थी?

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।