छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल विचार

Shivaji Maharaj Quotes in Hindi

shivaji maharaj quotes in hindi
Image: shivaji maharaj quotes in hindi

छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल विचार | Shivaji Maharaj Quotes in Hindi

स्वतंत्रता एक ऐसा वरदान है
जिसे पाने का हर किसी को हक़ है।

“एक छोटा कदम छोटे लक्ष्य पर,
बाद मे विशाल लक्ष्य भी हासिल करा देता है।”
~ छत्रपति शिवाजी महाराज

नारी के सभी अधिकारों में,
सबसे महान अधिकार माँ बनने का है.

हमे अपने दुश्मन को कभी कमजोर नही समझना चाहिए
और अपने से अधिक ताकतवर
समझकर भयभीत भी नही होना चाहिए।

“जरुरी नही कि विपत्ति का सामना,
दुश्मन के सम्मुख से ही करने मे,
वीरता हो। वीरता तो
विजय मे है।”
~ छत्रपति शिवाजी महाराज

इस दुनिया में हर व्यक्ति
को स्वतंत्र रहने का अधिकार है
और वह अधिकार को पाने के लिए वह
किसी से लड़ सकता है।

जब हौसले बुलन्द हो, तो पहाङ
भी एक मिट्टी का ढेर लगता है।

“शत्रु को कमजोर न समझो,
तो अत्यधिक बलिष्ठ समझ कर डरना भी नही चाहिए।”
~ छत्रपति शिवाजी महाराज

यह जरुरी नही कि खुद गलती करके ही सीखा जाए,
दुसरो की गलती से भी बहुत कुछ सीखा जा सकता है।

जब लक्ष्य जीत की हो, तो हासिल करने के लिए
कितना भी परिश्रम, कोई भी मूल्य क्यों न हो
उसे चुकाना ही पड़ता है।

सर्वप्रथम राष्ट्र, फिर गुरु, फिर माता-पिता, फिर परमेश्वर।
अतः पहले खुद को नही राष्ट्र को देखना चाहिए।

Shivaji Maharaj Quotes in Hindi

आप एक छोटे कदम से, छोटे से लक्ष्य की
शुरुआत करके भी बड़े बड़े लक्ष्य
को आसानी से पा सकते है।

अगर मनुष्य के पास आत्मबल है,
तो वो समस्त संसार पर अपने हौसले से
विजय पताका लहरा सकता है।

“इस जीवन मे सिर्फ अच्छे दिन की आशा नही रखनी चाहिए,
क्योकी दिन और रात की तरह अच्छे दिनो को
भी बदलना पङता है।”
~ छत्रपति शिवाजी महाराज

जो मनुष्य समय के कुच्रक मे भी पूरी शिद्दत से,
अपने कार्यो मे लगा रहता है।
उसके लिए समय खुद बदल जाता है।

मनुष्य को प्रतिशोध लेने की
भावना अंदर ही अंदर जलाती रहती है
लेकिन इस पर संयम से प्रतिशोध
पर काबू पाया जा सकता है।

शत्रु चाहे कितना ही बलवान क्यो न हो,
उसे अपने इरादों और उत्साह मात्र से
भी परास्त किया जा सकता है।

जो व्यक्ति अपने आत्मबल को जान लेता है,
खुद को पहचान लेता है,
जो मानव जाति के कल्याण को सोच रखता है
वही व्यक्ति पूरे विश्व पर राज्य कर सकता है।

आत्मबल, सामर्थ्य देता है,
और सामर्थ्य, विद्या प्रदान करती है।
विद्या, स्थिरता प्रदान करती है, और स्थिरता,
विजय की तरफ ले जाती है।

“प्रतिशोध मनुष्य को जलाती रहती है,
संयम ही प्रतिशोध को काबू करने का उपाय होता है।”
~ छत्रपति शिवाजी महाराज

एक पुरुषार्थी भी, एक तेजस्वी विद्वान के सामने झुकता है।
क्योंकि पुरुर्षाथ भी विद्या से ही आती है।

जीवन में सिर्फ अच्छे दिन हमेशा नही रह सकते है।
जिस प्रकार रात दिन आते जाते रहते हैं
उसी प्रकार सुख दुःख भी आते जाते रहते हैं।

जो धर्म, सत्य, क्षेष्ठता और परमेश्वर के सामने झुकता है।
उसका आदर समस्त संसार करता है।

Shivaji Maharaj Quotes in Hindi

“एक सफल मनुष्य अपने कर्तव्य की पराकाष्ठा के लिए,
समुचित मानव जाति की चुनौती
स्वीकार कर लेता है।” ~ छत्रपति शिवाजी महाराज

हर इन्सान को सबसे पहले राष्ट्र,
फिर अपने गुरु और माता पिता की तरफ ध्यान देना चाहिए
क्योकि राष्ट्र से बढ़कर कुछ भी नही है।

अंगूर को जब तक न पेरो वो मीठी मदिरा नही बनती,
वैसे ही मनुष्य जब तक कष्ट मे पिसता नही,
तब तक उसके अन्दर की सर्वोत्तम प्रतिभा बाहर नही आती।

किसी भी कार्य को करने से पहले उसके परिणाम को
सोच लेना भी बेहतर होता है क्योकि
आने वाली पीढ़ी आपका ही अनुसरण करती है।

एक स्त्री के सभी अधिकारों में
सबसे महान अधिकार उसका माँ बनना है।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here