गणतंत्र दिवस की शायरी

Republic Day Shayari in Hindi

47188922 – india symbol indian flag against blue sky

गणतंत्र दिवस की शायरी | Republic Day Shayari in Hindi

मेरे जज़्बातों से इस कदर वाकिफ है,
मेरी कलम मैं इश्क भी लिखना चाहूँ,
तो भी, इंकलाब लिख जाता है ! – भगत सिंह।

ना जियो धर्म के नाम पर,
ना मरों धर्म के नाम पर,
इंसानियत ही है धर्म वतन का,
बस जियो वतन के नाम।

आज शहीदों ने है तुमको, अहले वतन ललकारा,
तोड़ो गुलामी की जंजीरें, बरसाओ अंगारा,
हिन्दू-मुस्लिम-सिख हमारा, भाई-भाई प्यारा,
यह है आजादी का झंडा, इसे सलाम हमारा

Republic Day Shayari in Hindi

बलिदानों का सपना जब सच हुआ,
देश तभी आजाद हुआ,
आज सलाम करे उन वीरों को,
जिनकी शहादत से ये भारत गणतंत्र हुआ।

अलग है भाषा, धर्म जात,
और प्रांत, भेष, परिवेश,
पर हम सब का एक ही गौरव है,
राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ

याद रखेंगे वीरो तुमको हरदम,
यह बलिदान तुम्हारा है,
हमको तो है जान से प्यारा यह गणतंत्र हमारा है

कुछ नशा तिरंगे की आन है,
कुछ नशा मातृभूमि की शान का है,
हम लहराएँगे हर जगह ये तिरंगा,
नशा ये हिंदुस्तान की शान का है।

तिरंगा हमारा है शान-ए-जिंदगी,
वतन परस्ती है वफ़ा-ए-जिंदगी,
देश के लिए मर मिटना कबूल है हमें,
अखण्ड भारत के स्वप्न का जूनून है हमें।

Republic Day Shayari in Hindi

देश भक्तो की बलिदान से
स्वतंत्रा हुए है हम
कोई पूछे कोन हो
तो गर्व से कहेंगे
भारतीय है हम

Read Also: गणतंत्र दिवस स्टेटस

republic day shayari

चलो फिर से खुद को जगाते है,
अनुसासन का डंडा फिर घुमाते है,
सुनहरा रंग है गणतंत्र का शहीदों के लहू से,
ऐसे शहीदों को हम सब सर झुकाते है।

वो शमा जो काम आये अंजुमन के लिए,
वो जज्बा जो कुर्बान हो जाये वतन के लिए,
रखते है हम वो हौसले भी,
जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए।

चढ़ गये जो हंसकर सूली,
खाई जिन्होंने सीने पर गोली,
हम उनको प्रणाम करते हैं,
जो मिट गए देश के लिए,
हम उनको सलाम करते हैं।

Republic Day Shayari in Hindi

आओ झुक कर सलाम करे उनको,
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है,
खुशनसीब होता है वो खून जो,
देश के काम आता है।

तिरंगा लहरायेंगे,
भक्ति गीत गुनगुनाएंगे,
वादा करो इस देश को,
दुनिया का सबसे प्यारा देश बनायेंगे।

ना पूछो ज़माने से कि क्या हमारी कहानी है
हमारी पहचान तो बस इतनी है
कि हम सब हिन्दुस्तानी हैं

संस्कार, संस्कृति और शान मिले,
ऐसे हिन्दू, मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले,
रहे हम सब ऐसे मिल – झुल कर,
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में भगवान मिले।

मैं तो सोया था गहरी नींद मैं,
सरहद पर था जवान जगा रात सारी,
ये सोच कर नींद मेरी उड़ गयी,
जवान कर रहा रक्षा हमारी।

26 january shayari

वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये,
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये,
दिल एक है एक है जान हमारी,
हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है

ना मरो सनम बेवफ़ा के लिए,
2 गज जमीन नही मिलेगी दफन के लिए,
मरना है तो मरो अपने वतन के लिए,
हसीना भी दुपट्टा उतार देगी कफ़न के लिए।

तैरना है समुद्र में तेरो,
नदी नालों में क्या रखा हैं,
प्यार करना है तो वतन से करों,
इन बेवफा लोगों में क्या रखा हैं।

Read Also: गणतंत्र दिवस के लिए बधाई सन्देश

Republic Day Shayari in Hindi

नहीं सिर्फ जश्न मनाना, नहीं सिर्फ झंडे लहराना,
ये काफी नहीं है वतन पर, यादों को नहीं भुलाना,
जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना,
खुदा के लिए नही ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना,
हम लाएं है तूफ़ान से कश्ती निकाल के,
इस देश को रखना मेरे बच्चों संभाल के

Republic Day Shayari in Hindi

काँटों में भूल खिलाएं,
इस धरती को स्वर्ग बनायें,
आओ सबको गले लगायें
हम गणतंत्र का पर्व मनाएं।

भारत के गणतंत्र का, सारे जग में मान,
दशकों से खिल रही, उसकी अद्भुत शान,
सब धर्मो को देकर मान रचा गया इतिहास का,
इसलिए हर देशवासी को इसमें है विश्वास

गाँधी स्वप्ना जब सत्य बना,
देश तभी जब गणतंत्र बना,
आज फिर से याद करे वह मेहनत,
जो थी की वीरो ने और भारत गणतंत्र बना।

नफरत करना है बुरी बात,
देश की उन्नति के लिए चाहिए सब का साथ,
न करो तेरा-मेरा ये देश तो है हम सब का।

republic day shayari in hindi

वतन हमारा ऐसे ना छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसे ना तोड़ पाए कोई,
दिल हमारा एक है एक है हमारी जान.
हिन्दुस्तान हमारा है हम है इसकी शान

देशभक्तों से ही देश की शान है,
देशभक्तों से ही देश का मान है,
हम उस देश के फूल हैं यारों,
जिस देश का नाम हिंदुस्तान है।

आज़ादी का जोश कभी कम ना होने देंगे
जब भी ज़रूरत पड़ेगी देश के लिए जान लुटा देंगे
क्योंकि भारत हमारा देश है
अब दोबारा इस पर कोई आंच ना आने देंगे

happy republic day shayari

आन देश की शान देश की,
देश की हम संतान है,
तीन रंगों से रंगा तिरंगा,
अपनी ये पहचान हैं।

Republic Day Shayari in Hindi

ये नफरत बुरी है ना पालो इसे
दिलों में नफरत है निकालो इसे
ना तेरा, ना मेरा, ना इसका, ना उसका
ये सब का वतन है बचालो इसे

सीमा पर लोग मरते हैं वो,
खुशनसीब अमर हो जाते हैं,
मेरी बदकिस्मती हैं ये,
हम आम ज़िन्दगी जिएचले जाते हैं।

गणतंत्र दिवस पर शायरी

आजादी का जोश कभी कम न होने देंगे,
जब भी जरुरत पड़ेगी देश के लिए जान लूटा देंगे,
क्योंकि भारत हमारा देश है,
अब दोबारा इस पर कोई आंच न आने देंगे।

इंडियन होने पर करीए गर्व,
मिलके मनाएं लोकतंत्र का पर्व,
देश के दुश्मनों को मिलके हराओ,
हर घर पर तिरंगा लहराओ

Read Also: गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं संस्कृत में

26 january desh bhakti shayari

ना सरकार मेरी है,
ना रौब मेरा है,
ना बड़ा सा नाम मेरा है,
मुझे तो एक छोटी सी बात का गर्व है,
मैं “हिन्दुस्तान” का हूँ और “हिन्दुस्तान” मेरा है।

लहराएगा तिरंगा अब सारे आसमां पर,
भारत का नाम होगा सब की जुबान पर,
ले लेंगे उसकी जान या दे देंगे अपनी जान,
कोई जो उठाएगा आँख हमारे हिंदुस्तान पर।

Republic Day Shayari in Hindi

26 जनवरी पर शायरी

वतन हमारा मिसाल मोहब्बत की,
तोड़ता है दीवार नफरत की,
खुशनसीबी हमारी जो मिली जिंदगी इस चमन में,
भुला न सकेंगे इसकी खुशबु सातों जन्म में।

दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान हैं,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका
जब तक दिल में जान हैं..!!
जय हिन्द, जय भारत

भूख, गरीबी, लाचारी को, इस धरती से आज मिटायें,
भारत के भारतवासी को, उसके सब अधिकार दिलायें
आओ सब मिलकर नये रूप में गणतंत्र मनायें

दिल एक है जान एक है हमारी,
हिंदुस्तान हमारा है ये शान है हमारी।

Republic Day Shayari in Hindi

Read Also: देशभक्ति पर बेहतरीन स्टेटस

Republic Day Shayari in Hindi

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये

इस दिन के लिए वीरो ने अपना खून बहाया है,
झूम उठो देशवासियों गणतंत्र दिवस फिर आया है

कुछ कर गुजरने की गर तमन्ना उठती हो दिल में,
भारत माँ का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में

गणतंत्र दिवस पर शायरी हिंदी में

दाग गुलामी का धोया है जान लुटा कर,
दीप जलाये है कितने दीप भुझा कर,
मिली है जब यह आज़ादी तो फिर इस आज़ादी को,
रखना होगा हर दुश्मन से आज बचाकर।

सारे जहाँ से अच्छा,
हिन्दोस्ताँ हमारा
हम बुलबुलें हैं इसकी,
यह गुलिस्ताँ हमारा

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें
शहीदों के दिलो में थी जो वो ज्वाला याद कर लें
जिसमें बहकर आजादी पहुची थी किनारे पे
देशभक्ति के खून की वो धारा याद कर लें

जमाने भर में मिलते है आशिक कई,
मगर वतन से खुबसूरत कोई सनम नही होता।

कुछ कर गुजरने की अगर,
तमन्ना उठती हो दिल में,
तो भारत माँ का नाम सजाओ,
दुनिया की महफिल में।

26 जनवरी शायरी

तीन रंग का है तिरंगा
ये ही मेरी पहचान है
शान देश की, आन देश की
हम तो इसकी ही सन्तान हैं

बता दो आज इन हवाओं को
जला कर रखो इन चिरागों को
लहू देकर जो ली आजादी
टूटने ना देना ऐसे प्रेम के धागों को

shayari on republic day

राष्ट्र के लिए मान-सम्मान रहे
हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे
देश के लिए एक-दो तारीख नही
भारत माँ के लिए ही हर सांस रहे

मैं इसका हनुमान हूँ,
ये देश मेरा राम है,
छाती चीर के देख लो,
अन्दर बैठा हिन्दुस्तान है।

मै भारतवर्ष का हरदम अमित सम्मान करता हूँ,
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ

Republic Day Shayari in Hindi

शायरी रिपब्लिक डे

हम भम्न चाहते हैं
मगर जुल्म के खिलाफ,
अगर जंग लाजमी है
तो फिर जंग ही सही।

भारत माता तेरी गाथा, सबसे उँची तेरी शान,
तेरे आगे शीश झुकाए, दे तुझको हम सब सम्मान।

देश भक्तो की बलिदान,
से स्वतंत्रा हुए है हम,
कोई पूछे कोन हो तो,
गर्व से कहेंगे भारतीय है हम

किसकी राह देख रहा,
तुम खुद सिपाही बन जाना,
सरहद पर ना सही,
सीखो आंधियारो से लढ पाना।

Republic Day Shayari in Hindi

सबके अधिकारों का रक्षक,
अपना ये गणतंत्र पर्व है,
लोकतंत्र ही मंत्र हमारा,
हम सबको इस पर्व पर गर्व है।

मेरे हर कतरे-कतरे में हिंदुस्तान लिख देना,
और जब मौत हो, तन पे तीरंगे का कफन देना,
यही ख्वाहिश खुदा हर जन्म हिन्दुस्तान वतन देना,
अगर देना तो दिल में देशभक्ति का चलन देना।

बंद करो ये तुन आपस में,
खेलना अब खून की होली,
उस मा को याद करो,
जिसने खून से चुन्नर भिगोली।

shayari republic day in hindi

ना सर झुका है कभी और ना झुकायेंगे कभी,
जो अपने दम पे जियें सच में ज़िन्दगी है वही।

मेरे देश का मान हमेशा बनाये रखूँगा,
दिल तो क्या जान भी इस पर न्योछावर करूँगा,
अगर मिले मौका देश के काम आने का,
तो बिना कफ़न के ही देश के लिए सो जाऊंगा।

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है,
देखना है ज़ोर कितना बाजू ए कातिल में हैं।

टूथपेस्ट में नमक हो या न हो,
लेकिन खून में देश का नमक होना जरूरी हैं।

वतन हमारा ऐसा ना छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसा ना तोड़ पाए कोई,
दिल हमारा एक है, एक है हमारी जान,
हिन्दुस्तान हमारा है और हम है इसकी शान।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here