क्वारंटाइन का अर्थ और मतलब

Quarantine Meaning In Hindi: आज के कोरोना काल में आपने Quarantine का नाम जुरूर सुना होगा। Quarantine का पूरा नाम क्या है और इस शब्द का हिंदी अर्थ किया होता है, इसके बारे में इस आर्टिकल में पूरी जानकारी मिलने वाली है।

Quarantine Meaning In Hindi | हिंदी में क्वारंटाइन का मतलब
इमेज: Quarantine Meaning In Hindi

क्वारंटाइन का मतलब और अर्थ (Quarantine Meaning In Hindi)

आज कल एक शब्द Quarantine बहुत अधिक चर्चा में है। आपको Quarantine के बारे में सोशल मीडिया, टेलीविज़न, मोबाइल, न्यूज़ पेपर इत्यादि में सुनने को मिला होगा। लेकिन इस शब्द को बार-बार सुनने के बाद बहुत सारे लोगों के मन में ख्याल आया होगा कि Quarantine का मतलब किया होता है?

Quarantine शब्द के उच्चारण की बात की जाए हो ‘क्वारंटाइन/क्वारन्टीन‘ के नाम से इसको उच्चारित किया जाता है।

विश्व में जब से कोरोना का कहर छाया हुआ है। तब से अभी तक लाखों लोगों ने अपनी जान गवा दी है और वर्तमान में भी इस वायरस की वजह से बहुत सारे लोग आज भी मर रहे हैं। आज के समय में कोरोना वायरस भारत में बहुत ज्यादा फैला हुआ है। इस वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए घर में रहना और बार-बार हाथ थोडा जरुरी है।एल्कोहोल बेस हैण्ड सेनिटैज़ेर का उपयोग करें।

इस कोरोना महामारी के बीच में आप सभी ने Quarantine के बारे में जरुर सुना होगा और आपने इसके बारे में भी सुना होगा कि लोगों को कोरोना सक्रमण होने पर लोगों को Quarantine किया जाता है। लेकिन Quarantine का मतलब क्या होता है? इसकी जानकारी नीचे देखने को मिलने वाली है।

Quarantine Meaning In Hindi

Quarantine के दो से तीन अर्थ होते है। Noun और Verb के आधार पर क्वारंटाइन के मतलब के बारे में नीचे निम्नलिखित रूप दिया गया है:

NounVerb
संगरोधनसंगरोधन करना
अलग कमरापृथक करना
संगरोधसंगरोध करना
चालीस दिन का समयअलग करना

Quarantine की परिभाषा

इस शब्द को verb के रूप में प्रयोग किया जाता है और नाउन के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। लेकिन verb और नाउन में शब्द के अर्थ में थोड़ा फर्क हो जाता है। नाउन में Quarantine का मतलब देखा जाए तो मतलब सगरोधं होता है। लेकिन दूसरी तरफ verb में इस शब्द का मतलब सगरोधं करना होता है।

अब कुछ लोगों को सगरोधं के मतलब से भी पता नहीं चल पा रहा होगा कि वाकई Quarantine शब्द का मतलब किया होता है। तो इसके बारे में डिटेल में जानकारी नीचे दी गयी है।

अब आपको यदि Quarantine के बारे में साधारण शब्दों में बताया जाए तो आपने भी यह अक्षर सुना होगा कि जब व्यक्ति इस वायरस के चपेट में आ जाता है तो उस व्यक्ति को 14 दिन के लिए अलग रखा जाता है। इससे एक बात तो जरुर पता चलती है कि Quarantine शब्द का मतलब अकेला रहना हो सकता है। साथ ही साथ जब व्यक्ति इस वायरस के संपर्क में आता है तो उसको किसी भी अन्य व्यक्ति से मिलने की अनुमति नहीं दी जाती है।

इसका मतलब है कि आपको अन्य स्वस्थ लोगों से दूर रहने की सलाह दी जाती है। ताकि वायरस और अधिक नहीं फैले। इसके अलावा उन लोगों को भी Quarantine किया जाता है, जिन लोगों को इस वायरस से संक्रमित होने की आशंका होती है।

Quarantine का मतलब अब आपको पता चल गया होगा कि इस शब्द के अर्थ सगरोधं करना/अलग रहना होता है।

Quarantine शब्द का अविष्कार

ऊपर जो जानकारी दी गयी है उससे आपको क्वारंटाइन के मतलब के बारे में जानकरी मिल गयी होगी। अब हम Quarantine के शब्द का आविष्कार कब और कैसे हुआ? इसके बारे में बात करने वाले है।

हाल में जो क्वारंटाइन शब्द लोकप्रिय हुआ है, यह कोई नया शब्द नहीं है, यह बहुत ही पुराना शब्द है। इस शब्द की उत्पति की बात की जाए तो 13वीं शताब्दी में क्वारंटाइन शब्द का अविष्कार लेटिन भाषा से हुआ है। इस शब्द को लेटिन भाषा के शब्द Quadraginta और इटली भाषा के Quaranta से मिलकर बनाया गया है।

13वीं शताब्दी में यूरोप में एक वायरस बहुत तेजी से फेला था और उसी समय इस शब्द का आविष्कार हुआ। सन 1443 में यूरोप में ब्लैक डेथ नामक वायरस का संक्रमण जबरदस्त फेला था। यह वायरस सन 1347 से 1350 के बिच में फैलनी शुरु हुई थी।

लेकिन 1443 में इसका प्रकोप दुनिया के कई देशों में देखने को मिलने लगा। सन 1443 में यह वायरस यूरोप के एक तिहाई हिस्से में फ़ैल चूका था। उसके बाद में यूरोप के अधिकारियों ने सोच समझ कर कई कदम उठाये। उनमें से इस कदम संक्रमित मरीजो को अन्य लोगों से अलग रखना भी शामिल था। अधिकारियों ने यूरोप में Quarantino लागू करके इस वायरस को फैलने से बचाना शुरु किया।

शुरुआत में Quarantino के तहत लोगों को 30 दिन तक अलग रखने का फैसला लिया गया और Quarantino की अवधि 30 दिन तक निर्धारित की गयी। Quarantino लागू होने के बाद यूरोप में कई जगह पर इसका फायदा देखने को मिलना शुरु हुआ। तब यूरोप के अधिकतर देशों में इस रूल को लागू किया गया।

इसके बाद आगे चलकर Quarantino की अवधि को बढ़ाकर 40 दिन तक कर दिया। यूरोप के कई जगहों में Quarantino को आइसोलेशन के नाम से भी जाना जाता है। जब लोगों को शुरुआत में आइसोलेशन किया गया तो उनको जहाजों में रखा गया था। आइसोलेशन की अवधि के दोरान किसी भी व्यक्ति को जहाज में जाने की अनुमति नहीं दी गयी थी।

14वीं शताब्दी में जो आइसोलेशन और Quarantino की शुरुआत की गयी थी, उसको वर्तमान में Quarantine के नाम से जाना जाता है और इसकी अवधि 14 दिन कर दी गयी है।

क्वारंटाइन से फायदा

लोगों को किसी भी महामारी से बचाने के लिए इस क्वारंटाइन फोर्मुले का प्रयोग किया जाता है। इस फोर्मुले के तहत लोगों को इस दूसरे से मिलने की अनुमति नहीं दी जाती है। ताकि वायरस की सक्रमण चैन को आसानी से तोड़ा जाये। वर्तमान समय में इस फोर्मुले का प्रयोग कोरोना से बचाव के लिए किया जा रहा है।

जो व्यक्ति कोरोना से संकमित हो चूका है या फिर व्यक्ति में कोरोना के लक्षण दिखाई दे रहे हैं। उन लोगों को Quarantine किया जाता है। ताकि अन्य व्यक्ति इस वायरस से संक्रमित होने से बच सके। हालाँकि Quarantine की अवधि 14 दिन रखी गयी है। पर लोगों को वायरस के संक्रमण के आधार पर लम्बे समय तक भी Quarantine किया जा सकता है।

कई लोगों में वायरस के लक्षण बहुत जल्दी दिखने शुरु हो जाते है। लेकिन कई लोगों में वायरस के लक्षण काफी दिनों बाद में दिखना शुरु होते है। इसलिए वायरस के संक्रमण के आधार पर और तबीयत के ठीक होने तक लोगों को 14 दिन से भी अधिक Quarantine किया जा सकता है।

Quarantine के उदाहरण

उदाहारण के माध्यम से यदि इस Quarantine शब्द को समझा जाए तो एक Quarantine का उदाहरण नीचे दिया गया है।

उदहारण के तौर पर मान लीजिये कि राकेश अपने सभी दोस्तों के साथ चाइना गुमने गया हुआ है। चाइना से जब राकेश अपने दोस्तों के साथ वापस आया तो उसको लगा कि उसकी तबीयत थोड़ी बिगड़ गयी है और वह अपने आप में कोरोना के लक्षण देख रहा है। जब उसने कोरोना की रिपोर्ट निकलवाई तो पता चला कि वह कोरोना संक्रमित हो चूका है।

ऐसे में राकेश को और उसके सभी दोस्तों को Quarantine कर दिया गया। क्योंकि राकेश कोरोना वायरस से संक्रमित हो चूका था और उसके दोस्तों में वायरस के संक्रमण के चांस थे। इन सभी को Quarantine करते हुए बाहर आने जाने से प्रतिबन्धित कर दिया। ताकि बाकि अन्य लोगों को यह वायरस संक्रमित नहीं कर सके। ऐसा भी कह सकते है कि Quarantine करने के बाद दूसरें लोगों को इस वायरस के संक्रमण से बचाया जा सकता है। इसलिए Quarantine किया गया है।

सामान्य तौर पर आपने देखा होगा कि जब लोगों को वायरस के सक्रमित होने की सम्भावना के चलते क्वारंटाइन किया जाता है तो लोग क्वारंटाइन से डरने लग जाते हैं। लेकिन आपको बताना चाहुगा कि इसमें डरने की कोई बात नहीं है। इस महामारी को रोकने के लिए वायरस के संक्रमित और संभावित लोगों को क्वारंटाइन करना जरुरी हो गया है।

Home Quarantine Meaning in Hindi (Home Quarantine का मतलब क्या है)

Quarantine का नाम जब आपने सुना होगा तो देखा होगा कि इस वायरस के चलते लोगों को 14 दिन होटल, हॉस्पिटल, स्कूल इत्यादि जगह रखा जाता है। लेकिन अब लोगों को वायरस के संक्रमण की संभावना होने पर घर पर भी क्वारंटाइन किया जाता है, जिसको Home Quarantine के नाम से जाना जाता है।

Home Quarantine के तहत मरीजों को घर में अलग रहने की सलाह दी जाती है। ताकि परिवार के अन्य सदस्य इस वायरस के अपने आप को बचा सके।

निष्कर्ष

Quarantine का नाम आज के समय में बहुत जयादा लोकप्रिय है। आपने इस नाम को कोरोना के फैलने के बाद बहुत अधिक सुना होगा। परन्तु इस क्वारंटाइन का अविष्कार बहुत साल पहले हो चूका था। ज्यादातर जनता इस शब्द के बारे कोरोना के फैलने के वाकिफ हुई है।

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको क्वारंटाइन का मतलब क्या होता है? इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी आप तक उपलब्ध करवाई है। उम्मीद करता हूँ कि हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। आपको यह जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here