मकर संक्रांति पर संस्कृत श्लोक

Makar Sankranti Wishes in Sanskrit: मकर संक्रांति हर वर्ष 14/15 जनवरी को एक निश्चित दिवस पर मनाई जाती है। भारतीय महीनो में यह त्योहार माघ माह में आता हैं। मकर संक्रांति सर्दियो के जाने का ओर गर्मियों के आने का भी संकेत हैं। मकर संक्रांति भारत के हर कोने ने अलग अलग कल्चर के अनुसार मनाया जाता हैं, कही मकर संक्रांति को माघा तो कही इसे मेला कह कर पुकारते है।

यहां पर हमने मकर संक्रांति की शुभकामनएं सन्देश संस्कृत में शेयर किये है। आप संस्कृत श्लोक को अपने परिवार, दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ शेयर करके उन्हें मकर संक्रांति की बधाई दे सकते हैं।

Read Also

मकर संक्रांति पर संस्कृत श्लोक – Makar Sankranti Wishes in Sanskrit

मकर संक्रांति पर बधाई सन्देश संस्कृत श्लोक

मकरसंक्रांतिशुभाशयाः।

भावार्थः
मकर संक्रांति की शुभकामनाएं।

*****

Makar Sankranti Sanskrit SMS

मकरसंक्रमण उत्सवस्य शुभाशयाः।

भावार्थः
मकर संक्रांति पर्व की शुभकामनाएं।

Makar Sankranti Wishes in Sanskrit

Read Also: मकर संक्रांति पर संस्कृत निबंध

*****

Makar Sankranti Sanskrit Quotes

‘यथा भेदं’ न पश्यामि शिवविष्ण्वर्कपद्मजान्।
तथा ममास्तु विश्वात्मा शंकर: शंकर: सदा।।

भावार्थः
‘मैं शिव एवं विष्णु तथा सूर्य एवं ब्रह्मा में अन्तर नहीं करता, वह शंकर, जो विश्वात्मा है, सदा कल्याण करने वाला है। दूसरे शंकर शब्द का अर्थ है – शं कल्याणं करोति।

Makar Sankranti Wishes in Sanskrit

Read Also: मकर संक्रांति पर कविता

*****

Makar Sankranti Sanskrit Status

तिलवत् स्निग्धं मनोऽस्तु वाण्यां गुडवन्माधुर्यम्।
तिलगुडलड्डुकवत् सम्बन्धेऽस्तु सुवृत्तत्त्वम्।।

भावार्थः
मकर संक्रांति पर तिल समान हम सभी के मन स्नेहमय हो, गुड़ समान हमारे शब्दों में मिठास हो और जैसे लड्डू में तिल और गुड़ कि प्रबल घनिष्ठता है वैसे हमारे संबंध हो।

*****

Makar Sankranti Sanskrit Shlok

सत्यं ब्रूयात् प्रियम् ब्रूयात् ब्रूयात् सत्यमप्रियम्।
प्रियम् च नानृतं ब्रूयादेष धर्मः सनातनः।।
मकरसंक्रांतिशुभाशयाः।

भावार्थः
सत्य बोलना चाहिए और प्रिय बोलना चाहिये। अप्रिय सत्य नहीं बोलना चाहिये और प्यारा झूठ भी नहीं बोलना चाहिये। यही सनातन धर्म है। मकर संक्रांति की शुभकामनाएं।

Makar Sankranti Wishes in Sanskrit

*****

भास्करस्य यथा तेजो मकरस्थस्य वर्धते।
तथैव भवतां तेजो वर्धतामिति कामये।।

भावार्थः
जैसे मकरराशी में सूर्य का तेज बढता है, उसी तरह आपके स्वास्थ्य और समृद्धि की हम कामना करते हैं।

Makar Sankranti Sanskrit Quotes

*****

मकर संक्रांति संस्कृत श्लोक

माघे मासे महादेव: यो दास्यति घृतकम्बलम।
स भुक्त्वा सकलान भोगान अन्ते मोक्षं प्राप्यति।।

भावार्थः
मकर संक्रांति के दिन जो व्यक्ति कम्बल और शुद्ध घी को दान के रूप में देता है वह व्यक्ति अपने जीवन-मरण के सम्बन्ध से मुक्त होने के बाद अर्थात् अपनी मृत्यु के पश्चात मोक्ष को प्राप्त करता है।

Makar Sankranti Sanskrit Shlok

Read Also: मकर संक्रांति पर निबंध

*****

Sanskrit Shlok on Makar Sankranti

नमोऽसत विद्यावितताय चक्रिणे।
समस्तधीस्थानकृते सदा नमः।।

भावार्थः
जो समस्त विद्याओं के आश्रय, चक्रधारी तथा समस्त ज्ञानेन्द्रियों को व्याप्त करके स्थित हैं (यहां ब्रहमा जी का सर्वव्यापक स्वरूप वर्णित है), उन ब्रहमा जी को सदा नमस्कार है।

Makar Sankranti Sanskrit Status

Read Also: बसंत ऋतु पर कविता

*****

Makar Sankranti Par Sanskrit Shlok

उद्यमेन हि सिद्धयन्ति कार्याणि न मनोरथैः।
न हि सुप्तस्य सिंहस्य प्रविशन्ति मुखे मृगाः।।
मकरसंक्रांतिशुभाशयाः।

भावार्थः
कार्य परिश्रम से ही पूर्ण होते हैं, मन में सोचने से नहीं। जैसे सोते हुए सिंह के मुख में हिरण नहीं आते हैं। मकर संक्रांति की शुभकामनाएं।

*****

मकर संक्रांति की बधाई संस्कृत में

सहस्रकिरणोज्ज्वल। लोकदीप नमस्तेऽस्तु नमस्ते कोणवल्लभ।।
भास्कराय नमो नित्यं खखोल्काय नमो नमः। विष्णवे कालचक्राय सोमायामिततेजसे।।

भावार्थः
हे देवदेवेश! आप सहस्र किरणों से प्रकाशमान हैं। हे कोणवल्लभ! आप संसार के लिए दीपक हैं, आपको हमारा नमस्कार है। विष्णु, कालचक्र, अमित तेजस्वी, सोम आदि नामों से सुशोभित एवं अंतरिक्ष में स्थित होकर सम्पूर्ण विश्व को प्रकाशित करने वाले आप भगवान भास्कर को हमारा नमस्कार है।

Read Also: लोहड़ी पर शायरी व स्टेटस

*****

संस्कृत में मकर संक्रांति की शुभकामनाएं

भास्करस्य यथा तेजो मकरस्थस्य वर्धते।
तथैव भवतां तेजो वर्धतामिति कामये।।
मकरसंक्रांन्तिपर्वणः सर्वेभ्यः शुभाशयाः।

Makar Sankranti Sanskrit Quotes

*****

मकर संक्रांति की शुभकामनाएं संस्कृत में

अष्टादशपुराणेषु व्यासस्य वचनद्वयम्।
परोपकारः पुण्याय पापाय परपीडनम्।।
मकरसंक्रांतिशुभाशयाः।

भावार्थः
अठारह पुराणों में व्यासजी के दो वचन सार के हैं – परोपकार करो-पुण्य के लिए है।। दूसरे को पीड़ा पहुँचाना-पाप के लिए है। मकर संक्रांति की शुभकामनाएं।

*****

हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा शेयर किये गये यह “मकर संक्रांति पर संस्कृत श्लोक (Makar Sankranti Wishes in Sanskrit)” आपको पसंद आये होंगे, इन्हें आगे शेयर जरूर करें। आपको यह कैसे लगे, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

2 COMMENTS

  1. Dear Rahul,

    Thank you for this QB page. Found it really helpful as I’m ardent Sanskrit user and was looking for wishes in Sanskrit.

    Apologies for using English as I’m not comfortable using Hindi keyboard, hence missing in my phone.

    Wish you lots of luck!!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here