किस विटामिन की कमी से पैर में दर्द होती है?

Kis Vitamin ki Kami se Pair me Dard Hota Hai: जब शरीर के महत्वपूर्ण अंगों के बारे में बात की जाती है तो सबसे पहले हमारे दिमाग में जो सूची बनती है, उसमें सबसे पहले हमारे आंख, कान, नाक, मुंह, दांत और उसके बाद फेफड़ा, गुर्दा, लिवर, किडनी इन सभी की सूची आती है।

लेकिन जो सबसे जरूरी है, उसे हम सबसे अंतिम सूची में रखते हैं और वे महत्वपूर्ण शरीर का जो हिस्सा है, वह है हमारे पैर। जिसकी तभी याद आती है जब उस में चोट लग जाए या फिर उसमें दर्द हो जाए।

ज्यादातर लोग यह सोचते हैं कि पैर में दर्द हमारे ज्यादा चलने या भागने से हुई है, लेकिन पैर में दर्द ना केवल चलने या भागने से होती है। बल्कि जब हमारे शरीर में किस विटामिन की कमी से भी हमारे हड्डियों में और हमारे पैरों में दर्द उत्पन्न होने लगता है।

Kis Vitamin ki Kami se Pair me Dard Hota Hai
Image: Kis Vitamin ki Kami se Pair me Dard Hota Hai

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि किस विटामिन की कमी से हमारे पैर में दर्द होती है? यह आश्चर्य की बात है कि हमारे शरीर के सभी महत्वपूर्ण अंगों में से एक महत्वपूर्ण अंग हमारे पैर है और सबसे खास बात हमारे पैर की यह है कि हम चाहे कितने भी वजन के हो सभी का भार हमारा पैर ही उठाता है।

जब भी हमारे शरीर में किसी भी चीज की कमी होती है तो इसका संकेत सबसे पहले हमें अपने पैरों के माध्यम से ही मिलता है। लेकिन हम इन सभी संकेतों को नजरअंदाज कर देते हैं।

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों के लिए पैर दर्द एक सामान्य बात हो गई है। क्योंकि लोग आजकल ज्यादा खड़े रहते हैं, ज्यादा चलते हैं और ज्यादा दौड़ते हैं और वह सोचते हैं कि इन सभी के कारण मांसपेशियों में खिंचाव आ गई है और इससे हमें पैर दर्द हो गया है और इस बात को लोग सामान्य बात में ले लेते हैं।

लेकिन इस बात को नजरअंदाज करना आपके लिए घातक बीमारी के रूप में शामिल हो सकती। पैर दर्द की समस्याएं पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में ज्यादा पाई जाती है। पैर में मोच आना, पैर की हड्डियों में दर्द होना या पैर की हड्डी कमजोर होना। यह पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में ज्यादा देखी जाती है और ज़्यादातर लोग पैर दर्द में पेन किलर का सेवन करते हैं और वे सोचते हैं कि इससे पेट दर्द ठीक हो जाएगा।

कुछ देर के लिए पैर दर्द ठीक हो जाता है, लेकिन हमेशा के लिए यही उपाय करना लोगों के लिए घातक साबित हो सकता है। ज्यादा पेन किलर खाने से हमारे लीवर खराब हो सकता है। हमें किसी भी दवाई का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

किस विटामिन की कमी से पैर में दर्द होता है?

शरीर में कई तरह के पोषक तत्व और विटामिन मिनरल्स की आवश्यकता होती है, जिससे कि शरीर स्वस्थ और सुचारू रूप से कार्य कर सके। पैर दर्द में ज्यादातर देखा गया है कि विटामिन डी की कमी से ही पैर में दर्द होता है।

इसकी एक खास वजह यह भी मानी जाती है कि पैर दर्द हड्डियों में दर्द के कारण होता है और हड्डियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण विटामिन डी होती है, जो कि हड्डियों को मजबूत बनाती है और हड्डियों में कमजोरी आने के कारण पैर में दर्द होने की समस्या उत्पन्न हो जाती है। इसीलिए ऐसा कहा जाता है कि पैर में दर्द विटामिन डी की कमी से हो रही है।

जब भी हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी होती है तो उससे हमारी हड्डियों में वृद्धि होने में कमी आने लगती है। हमारे हड्डियों की विकास में विटामिन डी महत्वपूर्ण और हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी होती है तो उससे हमारी हड्डियों में वृद्धि होने में कमी आने लगती है।

हमारे हड्डियों की विकास विटामिन डी कम हो जाती है और उसमें कमी आ जाती है, इसीलिए धीरे-धीरे पैर में दर्द बढ़ने लगता है और जो व्यक्ति इस चीज की नजर अंदाज ही दिखाता है उससे पैर दर्द किया यह घातक रोग से सामना करना पड़ता है।

विटामिन डी की कमी को शरीर में कैसे पूरा करें?

विटामिन डी की कमी को शरीर में पूरा करने के लिए जो सबसे सरल और आसान उपाय है, वह आप सुबह के समय धूप की हल्की-हल्की किरण में टहले। सुबह-सुबह टहलने से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है और हमारे शरीर के विटामिन डी की कमी पूरी हो जाती है।

दूसरे स्रोत से भी विटामिन डी की कमी को पूरा किया जा सकता है। इसके लिए आपको पोषक युक्त भोजन करना चाहिए, जिसमें कि अंडा, मछली, दूध, पनीर आदि शामिल है।

पोषक युक्त भोजन को करने से आपके शरीर में विटामिन डी की कमी पूरी होगी और विटामिन डी से आपको रोगों से लड़ने की क्षमता में वृद्धि होती है। आपके शरीर में ऊर्जा बनी रहती है। तनाव और हमेशा चिड़चिड़ा रहने वाले लोगों के शरीर में भी विटामिन डी की कमी होती है।

विटामिन डी का सेवन करने से इन सभी बीमारियों से राहत मिलती है। विटामिन डी आपको कैंसर से लड़ने की क्षमता देती है। विटामिन डी से आपके शरीर में एनर्जी लेवल डिवेलप होता है।

इन विटामिन डी की कमी उन लोगों में ज्यादा होती है, जो कि धूप से बिल्कुल ही संपर्क में नहीं रहते हैं, जो भी व्यक्ति धूप के संपर्क में नहीं रहता है। उसके शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है और जिस व्यक्ति की आयु 50 वर्ष से अधिक हो गई है, उसे भी विटामिन डी की कमी होने लगती है।

क्योंकि अधिक शरीर हो जाने के बाद उस उसका शरीर धूप से विटामिन डी बनाने में असमर्थ हो जाता है। इसलिए इस वर्ष की आयु में लोगों को विटामिन डी की कमी होने लगती है और उन व्यक्तियों को भी विटामिन डी की कमी होती है, जिनका वजन ज्यादा होता है। मोटे व्यक्ति के शरीर में चर्बी ज्यादा होने के कारण विटामिन डी की कमी होने लगती है।

ध्यान दें: यह जानकारी केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए बताई गई है। इसमें बताई गई किसी भी सलाह को अपनाने या फिर उस पर अमल करने का निर्णय स्वयं का व्यक्तिगत निर्णय होगा। इसके निष्कर्ष तक पहुँचने से पहले एक बार विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

निष्कर्ष

हमने यहाँ पर किस विटामिन की कमी से पैर में दर्द होता है और विटामिन की पूर्ति कैसे करें? (Kis Vitamin ki Kami se Pair me Dard Hota Hai) के बारे में बताया हैं। उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी पसंद आई होगी, इसे आगे शेयर जरुर करें। यदि आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

यह भी पढ़े

पेरासिटामोल किस काम आती है?

माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है? (उपचार, दवा, बचाव)

देसी घी के फायदे, उपयोग और नुकसान

ज्यादा सोने के नुकसान क्या है?, इसकी आदत कैसे छोड़े?

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।