दुनिया शायरी

Duniya Shayari in Hindi

दुनिया शायरी (Duniya Shayari in Hindi)

दुनिया पर शायरी

दुनिया के मालिक एक एहसान कर,
जो परेशान है उसे और न परेशान कर.

जाते जाते दुनिया से ये काम कर गये,
हम मरते मरते ये दिल आपके नाम कर गये….

सीख रहा हूँ धीरे-धीरे इस दुनिया के रिवाज,
जिससे मतलब निकल गया उसे दिल से निकाल दो।

बहुत चल दिए दुनिया के पीछे-पीछे,
अब खुद को आगे रखने की बारी है।
दुनिया से दोस्ती तो बहुत कर ली,
अब खुद-से-खुद की यारी है।

Duniya Shayari in Hindi

अपनी खुशियों की वजह
अगर दुनिया को बनाओगे
दुनिया का कुछ नहीं बिगड़ेगा
तुम्ही बाद में पछताओगे

मिली मंजिल तो उनके नाम तक भूल गए
जिनके एहसानों पर आज उनकी इमारत खड़ी है।

दुनिया को अच्छा-बुरा बताने वाले,
ये बदलती रहती है तू इतना जान ले.

दुनिया की बातों का हम ऐतबार नहीं करते हैं,
जमीर का सौदा करके हम प्यार नहीं करते हैं

शाख से तोड़े गए फूल ने हँस कर ये कहा,
अच्छा होना भी बुरी बात है इस दुनिया में।

दुनिया की आदत खराब है,
क्यूँ करते हो इसकी फिक्र।
इसका काम है बस टोकना,
तुम जीयो होके बेफिक्र।

Matlabi Duniya Shayari

गम में भी मुस्कुराना पड़ता है,
ये दुनिया है यहाँ दर्द को भी छुपाना पड़ता है.

तुम्हारी हर अदा पर नजर रखते हैं,
मोहब्बत की दुनिया का हम भी खबर रखते हैं।

भूल शायद बहुत बड़ी कर ली
दिल ने दुनिया से दोस्ती कर ली

दुनिया की सोचोगे,
तो कुछ नहीं कर पाओगे।
अपने मन की सुनो,
तभी जीत पाओगे।

दुनिया वालो के भी
अजीब शौक है
कभी दिल जोड़ने का काम
करते है तो कभी तोड़ने का

वो फरेब करके उनका सबसे खास हो गया
हम ऐतबार करके ‘गुनहगार’ हो गए।

ऐ दिल तू क्यों रोता है,
ये दुनिया है यहाँ ऐसा ही होता हैं.

ये आँखे जब दुनिया को देखती है,
तो ख़्वाब बड़े-बड़े ही दिखाती है

दुनिया जिसे कहते हैं जादू का खिलौना है
मिल जाए तो मिट्टी है खो जाए तो सोना है

ग़म-ए-हयात का झगड़ा मिटा रहा है
कोई चले भी आओ कि दुनिया से जा रहा है कोई

Read Also: विश्वास पर शायरी

Shayari on Duniya Wale

ये दुनिया बड़ी मतलबी है,
मतलब के लिए रिश्ते है बनाती।
जहाँ मतलब निकला नहीं,
वहां सामने वाले को भूल जाती।

काश हम भी माहिर होते मीठा झूठ बोलने में
तो ए रूठे हुए ‘लोग’ हमसे रूठे ना होते।

जब से देखी हैं हमने दुनिया करीब से,
लगने लगे हैं सारे रिश्ते अजीब से.

गाँव की आँख से बस्ती की नज़र से देखा
एक ही रंग है दुनिया को जिधर से देखा

तेरे आज़ाद बन्दों की ना ये दुनिया ना वो दुनिया,
यहाँ मरने की पाबंदी, वहां जीने की पाबंदी।

ये दुनिया बिलकुल वैसी ही है
जैसा आप देखना चाहते है
चाहे तो कीचड में कमल देखलो
या देख लो चाँद पे दाग

तूफ़ान में ताश का घर नहीं बनता,
रोने से बिगड़ा मुकद्दर नहीं बनता,
दुनिया को जीतने का हौसला रखो
एक हार से कोई फ़कीर और
एक जीत से कोई सिकन्दर नही बनता.

जनाब धोखा उन्हीं से मिला
जो मेरा अपना होने का दावा
सबसे ज्यादा करते थे।

बदल रहे हैं ज़माने के रंग क्या क्या देख
नज़र उठा कि ये दुनिया है देखने के लिए

इश्क़ के सिवा कुछ भी नहीं है इस दुनिया में,
कम्बख्त पता तब चल, जब मेरा दिल टूटा

मतलबी लोग शायरी

सिर्फ़ अंदाज़-ए-बयान बात बदल देता है,
वरना दुनिया में कोई नई बात नहीं होती।

बेवफा दुनिया में कौन सारी ज़िन्दगी साथ देगा,
लोग दफना के भूल जाते हैं कि कब्र कौन सी थी।

बुरे ख्यालों से ये दुनिया नहीं जलती हैं,
यहां हवाएं भी खुदा के इशारे से चलती हैं.

जनाब कोयले को हीरे की तरह पूजोगे
तो ‘धोखा’ ही मिलेगा।

किसी की याद में दुनिया को हैं भुलाए हुए,
ज़माना गुज़रा है अपना ख़याल आए हुए

बारूद के इक ढेर पे बैठी हुई दुनिया,
शोलों से हिफ़ाजत का हुनर पूछ रही है।

तुझ तक ही मेरी टुनिया है,
तेरा दिल जीत लिया तो मैंने दुनिया जीत ली

तुम मेरी दुनिया हो,
इसमें कोई शक मत करना।
ये इंतज़ार की घड़िया है,
इन घड़ियों में कभी मत थकना।

जब दिल की दुनिया बर्बाद होती है,
तब इश्क़ के कर्ज से रूह आबाद होती है

दुःख, दर्द, गम, आंसू और फ़रियाद है,
पता नहीं इस दुनिया में कितने लोग आजाद हैं.

Zalim Duniya Shayari

दुनिया विरोध करे तो तुम डरो मत
क्यूंकि दुनिया पत्थर उसी
पेड़ को मारती है
जिसपे फल लगते है।

ईमानदारी की उम्मीद किससे करें
यहां चमड़ों से बने लोग
पन्नों में बिक जाते हैं।

इंसानों की इस दुनिया में,
बस यहीं तो इक रोना हैं,
दिल अपने हो तो ही दिल हैं,
दूजों के हो तो खिलौना हैं!

मीठे बोल बोलकर ख़ूबसूरत रिश्तें बनाना है,
क्योंकि इक दिन इस दुनिया को छोड़ के जाना है

गमों की धूप हो या ख़ुशी के छाँव हो,
इस दुनिया में सुकून को कोई तो गाँव हो।

तेरे लिए दुनिया छोड़ दी हैं,
तुझपे ही साँस आके रुके,
मैं तुझको कितना चाहता हूँ
ये तू कभी सोच ना सके।

पूरी दुनिया देखती ख़्वाब महलो की,
और जो महलों में है उन्हें नींद नहीं आती है

दुनिया की बातों से कोई पार नहीं पाता,
दुनिया को तो बस कहना आता।
इन्हे तो बस चाहिए कोई बकरा,
जिसका दे ये सिर चकरा।

जब अपने ही शामिल हों गैरों की चाल में
तो मैं क्या शेर भी फस जाए मकड़ी के जाल में।

दिल की दुनिया को खामोश मत रखना,
तकलीफ़ होगी पर हमेशा सच ही कहना।
प्यार वो नहीं जो दुनिया को दिखाया जाए,
बल्कि वो हैं जो दिल से निभाया जाए

Selfish World Quotes

इस दुनिया की पुरानी आदत है
जिंदा लोगों की चुंगुलियां करना
और मरे लोगों की तारीफ करना

सौ बार चमन महका सौ बार बहार आई,
दुनिया की वही रौनक दिल की वही तन्हाई।

सिर्फ उन्हें दुनिया की
सुननी पड़ती है
जो खुद की सुनते है

दुनिया भर के मतलबी रिश्तो ने
बस यही बात सिखाई
मां बाप से बड़ा इस ‘दुनिया’ में
और कोई नहीं भाई।

दुनिया के लोग मंदिरों-मस्जिदों में मांगते मन्नत हैं,
जो खुद को पहचान लिया, उसके लिए ये धरती ही जन्नत है.

दुनिया का यह दस्तूर मुझे जरा भी नहीं भाता है,
जख्म उसको मिलता है जिसे सहना आता है।

जब मन करे तो बोलती है,
तो कभी शब्दों को तोलती है।
ऐसे ही राजनीति के खेल खेलती है,
ये दुनिया है कभी भी पल्ला झाड़ लेती है।

ये दुनिया जज्बातों को तराजू पर तोलती है,
जेब में पैसा हो तो बाते बड़ी मीठी-मीठी बोलती है

मत फिक्र करो इस
ज़माने की
इन्हें तो आदत है
कुछ ना कुछ सुनाने की

व्यक्ति के जीवन की कमाई
उसके जनाजे की भीड़ बताती है।

Read Also: 20+ Best Sab Moh Maya Hai WhatsApp DP

दुनिया शायरी

दुनिया की बातों में ना आओ,
उनसे तो अपनी बातें मनवाओ।
दुनिया की परवाह किये बिना,
जो पसंद वो करते जाओ।

सिर्फ़ अज्ञानता का अभाव है इस दुनिया में,
खुश-नसीब या बद-नसीब कोई नहीं है दुनिया में।

दुनिया का दस्तूर है
कभी ज़मीन से उठाकर
पलकों पे बिठाएगी
तो कभी नजरो से गिराकर
ज़मीन पे ले आएगी

सिर्फ़ ख़्वाबों से गुजारा नहीं होता है,
इस दुनिया में कोई किसी का सहारा नहीं होता है

उन सभी को शुक्रिया
जो मुझसे नफरत करते हैं
चलो कैसे भी यार
पर आप लोग मेरी फिक्र तो करते हैं।

दुनिया का दस्तूर ही
कुछ ऐसा है,
वही खिची चली जाती
जहां पैसा है।

इस अनजान सी दुनिया में
मेरे दोस्त बहुत है,
मगर सभी मतलबी है
इस बात का अफ़सोस बहुत है।

जालिम दुनिया में जरा संभल कर रहना मेरे यार,
यहाँ पलकों पे बिठाया जाता हैं नजरों से गिराने के लिए

जो दुनिया के पीछे चलते है
उन्हें मालुम ही नहीं कि वो
अपने पीछे दुनिया को
चलाने का हुनर रखते है

बड़े शौक से गम को सुनती है ये दुनिया,
कोई गम में हो तो मुँह फेर लेती है ये दुनिया

दुनियादारी पर शायरी

मतलबी दुनिया की ये दास्तान है,
यहां तो भाई-भाई से परेशान है।

दुनिया का क्या है आज कुछ कहेगी,
कल चुप हो जाएगी।
तुम अपने मन की सुनो,
नहीं तो तुम्हारी शामत आएगी।

दुनिया का उसूल हैं, जब तक काम है,
तब तक नाम हैं वरना दूर से ही सलाम हैं
ए शायरी वायरी हम जैसे पागलों का काम है
तुम ‘समझदार’ लोग हो बस वाह-वाह करो।

दुनिया की बातों को तवज़्ज़ो नहीं देना,
उन्हें ही नहीं पता उन्हें क्या कहना।
ये दुनिया अपनी चित और पट पर चलती,
इनको आदत है निकालने की गलती।

इस दुनिया में अजीब सा मेला है,
हर कोई महसूस करता अकेला है।

इस दुनिया में हर चेहरे पर नकाब है,
शायद इसलिए पूरे होते नहीं।

दुनिया सिर्फ कहती है
ज़रूरी नहीं कि सही कहती हो।

लोग खोजने है तो
परवाह करने वालों को खोजिए
यूज करने वाले तो आपको
खुद ही खोज लेंगे।

ख़ुदा करे तेरे लिए सिर्फ़ में ही होऊँ
तुमसे बिछड़कर बिलख बिलख कर रोऊँ
बस तेरी सादगी से मेरी जिंदगी निसार हो
ख़ुदा करें तुझे सिर्फ़ मुझसे ही प्यार हो।

मतलबी लडकी से अच्छी तो मेरी सिगरेट हे यारो,
जो मेरे होठ से अपनी जिंदगी शुरू करती हे,
ओर मेरे कदमो के नीचे अपना दम तोड देती हे…!

Duniya Status in Hindi

अपने मतलब के लिये लोग, अक्सर बदल जाते हैं
वे अपनो को पीछे छोड़ कर, आगे निकल जाते हैं
कोई मरता भी हो तो उनकी बला से,
वो तो मरे पर कदम रखकर, आगे बढ़ जाते हैं।

इस मतलबी दुनिया में हर कोई बदल जाता है,
जब उनको कोई आपसे बेहतर मिल जाता है।

ये दुनिया बड़ी मदारी हैं,
रोज नये करतब सिखाती हैं।

जब दुनियादारी से पाला पड़ा
तब मां-बाप की
ठुकराई नसीहत याद आई आई।

तेरी आँखों के नूर में खो जाने का मन करता है
सब कुछ भूलकर बस तेरा हो जाने को मन करता है।

कोहनी पर टिके हुए लोग,
टुकङों पर बिके हुए लोग,
करते हैं बरगद की बातें
ये गमले में उगे हुए लोग।

कड़वा है मगर सच है-
आज की दुनिया में इंसान ख्वाहिश से नहीं,
जरुरत के लिए प्यार करते हैं,
जरुरत ख़तम तो प्यार ख़तम।

इस ‘दुनिया’ में दो ही लोग अपने हैं
एक मौत और दूसरे मां-बाप।

ऐ खुदा मुझे अपनी पनाह में ले,
अब मुझे दुनिया का जंजाल न दे।

तुझको खबर नहीं मगर एक बात सुन ले
बरबाद कर दिया है तेरे दो दिन के प्यार ने।

Read Also: कॉलेज शायरी और स्टेटस

मतलबी दुनिया शायरी

दुनिया बहुत मतलबी है,
साथ कोई क्यों देगा,
मुफ्त का यहाँ कफ़न नहीं मिलता,
तो बिना गम के प्यार कौन देगा।

दिक्कत यह भी है इस कातिल दुनिया का
कोई अगर अच्छा भी है तो वो अच्छा क्यों है

हम वो नहीं जो दिल तोड़ दे
थाम कर हाथ छोड़ दे
हम प्यार करते है मछली और पानी की तरह
कोई जुदा करना चाहे तो दम तोड़ दे।

खुश बहुत हूँ कि दिल दुःखा है मेरा,
ये दुनिया किसी की नहीं, क्या होगा ये तेरा।

मै सूरज के साथ रहकर भी भूला नही अदब
लोग जूगनू का साथ पाकर मगरूर हो गये

छोटे से दिल में गम बहुत है,
जिन्दगी में मिले जख्म बहुत हैं,
मार ही डालती कब की ये दुनियाँ हमें,
कम्बखत दोस्तों की दुआओं में दम बहुत है।

आज की मतलबी दुनिया में कौन किसे दिल में जगह देता है,
यहां तक के पेड़ भी अपने सूखे पत्ते गिरा देता है।

जिंदगी के लिए ‘पैसा’ कमाने निकले
तो एहसास हुआ
कि पैसे के लिए जिंदगी छोड़ आए।

पत्थर की दुनिया ज़ज्बात नहीं समझती,
दिल में क्या है वो बात नहीं समझती,
तन्हा तो चाँद भी है सितारों के बीच
पर चाँद का दर्द वो रात नही समझती.

कोई समझे तो एक बात कहू साहब,
तनहाई सौ गुना बेहतर है मतलबी लोगो से।

दुनिया पर हिंदी शायरी

दुनिया का बोझ जरा दिल से उतार दे,
छोटी सी जिन्दगी हैं हंस के गुजार दे।

अजी ‘आज’ को रुसवा मत करना
आने वाले कल का क्या भरोसा।

प्यासी ये निगाहे तरसती रहती है
तेरी याद मे अक़्सर बरसती रहती है
हम तेरे खयालों मे डूबे रहते है
और ये ज़ालिम दुनिया हम पर हसती रहती है

कोई दिखता नहीं ऐसा जो मोहब्बत के सिवा रहता हो।
तुम निकले हो तलाश ने काफिर दिल का तलाश लो शायद ही मिलता हो

मतलबी दुनिया है, फरेबी हैं लोग यहां,
इंसानियत खो गयी है, अपनों की परवाह कहाँ

आज से खुश रहेंगे मस्त रहेंगे
हमने क्या जिंदगी भर
रोने का ठेका ले रखा है।

वक़्त वक़्त की बात है,
आज आपका है तो उड़ लीजिये,
कल हमारा होगा तो उड़ा देंगे।

स्वयं की कमियों को बताता कोई नहीं
अपने मतलब के बगैर हाथ मिलाता कोई नहीं
प्यार से सभी करते हैं आपसे
मगर किसी का साथ निभाता कोई नहीं

कुछ सुकून सा मिलता है
तुम्हें सोचकर ही…!
कैसे कह दे
ये रिश्ता बेवजह है।

जब बात दौलत की होती है
तो मैं अपने अंदर इक फ़क़ीर को जिन्दा करता हूँ,
बड़े प्यार से, बड़े अदब से
मैं इस दुनिया को शर्मिंदा करता हूँ.

तुम्हें उसी दिन भूल पाऊंगा
जिस दिन दुनिया से जाऊंगा।

मतलबी दुनिया में लोग अफसोस से कहते है की,
कोई किसी का नही…?
लेकीन कोई यह नहीं सोचता की हम किसके हुए…!

बदला हुआ वक़्त है, ज़ालिम ज़माना है..
यहा मतलबी रिश्ते है, मगर निभाना भी है..!

कभी मतलब के लिए
तो कभी बस, दिल्लगी के लिए
हर कोई इश्क ढूढ रहा है
यहाँ ज़िन्दगी के लिए

वक़्त कहाँ है किसी के पास,
जब तक मतलब न हो ख़ास..

हसरत बन के ठहरा हुआ है तू,
हकीकत बन के मेरे संग बह जा।

तुझे नहीं पता क्या तेरा हाल है,
क्यों पूछता उस खुदा से सवाल है?

जनाब जिंदगी ने इतना तो सिखाया है
ये छोटे लोग बड़े मौके पर काम आ जाते हैं
और बड़े लोग छोटी सी बात पर
औकात दिखा जाते हैं

मतलबी ‘दुनिया’ का इतना सा फ़साना है
जिसका टाइम हो उसका खास बन जाना है।

मतलब का भार
काफी ज्यादा होता है
तभी तो मतलबी निकलते है
तो रिश्ते हल्के हो जाते हैं।

बाज़ार के बाज़ार नीलाम हो जायेंगे गालिब!!
जरा दर्द-ए-दिल की दवा बाज़ार में आने दो।।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here