दांया और बांया हाथ कौनसा होता है?

Daya aur Baya Hath konsa Hota Hai: बाएं और दाएं हाथ को लेकर बच्चों से लेकर कभी-कभी बड़ों को भी कंफ्यूजन हो जाता है। बहुत ही शुभ कार्यों में बाएं हाथ का प्रयोग किया जाता है। ऐसे में बहुत से लोगों को समझ में नहीं आता कि कौन सा हाथ बायां है और कौन सा दायां है।

ऐसे समय में बहुत बार उन्हें मजाक का पात्र भी बनना पड़ता है। यहां तक कि बहुत से लोगों को बायां और दायां पैर के बारे में भी नहीं पता चलता है। यदि आपको भी बाएं और दाएं हाथ के बारे में पता चल जाए तो आपको बाएं और दाएं पैर के बारे में भी पता चल जाएगा। क्योंकि जो हाथ दायां होता है, वही बायां पैर भी होता है और बाएं हाथ का पैर बायां पैर कहलाता है।

आज की इस लेख में हम आपको बाएं और दाएं हाथ की पहचान करने की बहुत आसान तरीका बताने वाले हैं। जिससे आप कभी भी नहीं भूलेंगे कि आपका बायां और दायां हाथ कौन सा है और आपको कभी भी कंफ्यूजन नहीं होगा। तो चलिए इस लेख में आगे बढ़ते हैं।

बाएं और दाएं का मतलब (Daya aur Baya Hath konsa Hota Hai)

अक्सर हमें बाएं और दाएं हाथों को पहचाने की जरूरत पड़ जाती है क्योंकि हम इंसानों ने बाएं और दाएं को शुभ और अशुभ से जोड़ दिया है। ज्यादातर लोग बाएं का मतलब हमेशा नकारात्मकता से लेते हैं, हर बुरी और गंदी चीजें बाएं हाथ से ही करते हैं। दाएं हाथ को शुभ माना जाता है, पूजा पाठ करते वक्त भी दाएं हाथ का प्रयोग किया जाता है। यहां तक कि रक्षाबंधन में बहन अपने भाई को राखी भी दाएं हाथ में ही बांधती है।

यहां तक कि बहुत से लोग बाएं हाथ से कुछ लेना भी नहीं पसंद करते हैं, चाहे किसी मेहमान को पानी देना हो या कुछ और चीज देना हो। यहां तक कि किसी दूकानदार को बोहनी के समय बाएं हाथ से पैसे लेने से वह मना कर देता है और दाहिने हाथ से ही पैसा लेता है।

इस तरह लोगों की मानसिकता बन चुकी है कि दाएं हाथ शुद्ध होता है जबकि बाएं हाथ अशुभ होता है और यह न केवल लोगों की मानसिकता है बल्कि लोगों के जीवन शैली पर भी इस विचार का काफी ज्यादा प्रभाव पड़ता है। यहां तक कि बहुत सारे प्रोडक्ट भी दाएं हाथ को ही ध्यान में रखकर बनाए जाते हैं जैसे की कैंची, दरवाजे की कुंडी आदि।

हालांकि बहुत से लोग लेफ्टी होते हैं, जो दाएं की तुलना में बाएं से ज्यादातर काम करना पसंद करते हैं। ऐसे में उन लोगों को बहुत सारी समस्याएं आ जाती हैं। यह इसलिए होता है क्योंकि 100 में से शायद एक-दो लोगों ही लेफ्टी होते हैं। ऐसे में यदि कोई लेफ्टी बच्चा अपने क्लास रूम में अन्य दोस्तों के साथ बैठा है तो निश्चित है कि उसका और उसके दोस्त की कूहनी एक दूसरे से सट जाएगी, जिससे उसे लिखने में दिक्कत होगा।

मेडिकल साइंस के अनुसार माना जाता है कि 6 साल की उम्र तक बच्चों के दोनों हाथों में बराबर ताकत रहती है। ऐसे में बहुत से बच्चे दाएं के बजाय बाय हाथों से लिखना शुरु करते हैं। ऐसे में बहुत से माता-पिता बच्चों को डांट ना फटकारना शुरू कर देते हैं, उन्हें दाएं हाथ से लिखना पढ़ना सिखाते हैं।

यदि आपके बच्चे में नैसर्गिक रूप से ही बाएं हाथ में ज्यादा ताकत है तो माता-पिता के द्वारा दबाव पूर्वक उन्हें दाएं हाथ को ज्यादा उपयोग में लाने के लिए मजबूर करना सही नहीं होता है। ऐसे में बहुत बार बच्चों के दोनों ही हाथ कमजोर हो जाते हैं और वह दोनों हाथ से ही लिख नहीं पाते। कोई फर्क नहीं पड़ता कि कोई बच्चा किस हाथ से लिख रहा है वह जिस हाथ से लिखने में कंफर्टेबल महसूस करता है, उसके लिए वह सही है कि नहीं।

बाएं और दाएं हाथ को पहचानने का तरीका

बाएं और दाएं हाथ को पहचानने के लिए आप अंग्रेजी वर्णमाला का छोटा अक्षर “b” और “d” से बहुत आसानी से याद कर सकते हैं। जब आप अपने बाएं हाथ के उंगली की तर्जनी उंगली और अंगूठे के नोख को एक दूसरे से मिलाएंगे तो अंग्रेजी वर्णमाला का छोटा “b” आकार बनेगा। चूंकि बायां में अंग्रेजी वर्णमाला का स्माल लेटर “b” आता है। इससे आप बहुत आसानी से जान सकते हैं कि यह बायां हाथ है।

इसी तरह जब आप अपने दाहिने हाथ की तर्जनी उंगली और अंगूठे के नोट को एक दूसरे से मिलाते हैं तब “d”आकार बनेगा। चूँकि दाया में अंग्रेजी वर्णमाला का छोटा “d” आता है, इससे आप समझ सकते हैं कि आपका दाया हाथं कौन सा है।

Daya aur Baya Hath konsa Hota Hai
बाएं और दाएं हाथ को पहचानने का तरीका

इस ट्रीक को फॉलो करके आप कभी नहीं भूलेंगे कि आपका दायां और बायां हाथ कौन सा है और इसी से आप यह भी अंदाजा लगा पाएंगे कि आपका दायां और बायां पैर कौन सा है।

लेफ्टी लोग बाएं और दाएं हाथ की पहचान कैसे करें?

वैसे हमने आपको यह तो ट्रिक बता दिया कि आप किस तरीके से बाएं और दाएं हाथ की पहचान कर सकते हैं। लेकिन बहुत से लोग इस तरह भी पहचान करते हैं कि जो हाथ किसी भी कार्य को करने के लिए सक्षम होते हैं, उसी को भी दायां हाथ मानते हैं और जिससे वे सारे काम नहीं कर पाते हैं उसे बायां हाथ मानते हैं।

उदाहरण के लिए ज्यादातर लोग दाएं हाथ से लिखते हैं जबकि बाएं हाथ से नहीं लिख पाते और बहुत से काम बाएं हाथ से नहीं हो पाता है। ऐसे में बहुत से लोगों के मन में यह समझ प्रश्न रहता है कि क्या जो लोग लेफ्ट होते हैं यानी कि जो दाएं की तुलना में बाएं हाथ से काम अच्छे से कर सकते हैं और दाएं हाथ से अच्छे से नहीं कर पाते तो क्या उनके लिए बायां हाथ दायां हाथ होगा और दाया हाथ बायां हाथ होगा?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बहुत से लोगों में अनुवांशिकता के कारण भी इस तरह के गुण आ जाते हैं। लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि जो व्यक्ति बाएं हाथ से काम को अच्छे से कर सकता है तो उसके लिए वह हाथ दायां हो जाएगा। जो हाथ दायां है, वह हमेशा दाया ही रहेगा। चाहे आप बाएं हाथ से ही ज्यादातर काम क्यों ना करें।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में बाया हाथ कौन सा होता है (baya hath konsa hota hai) और दाया हाथ कौन सा होता है (daya hath konsa hota hai) इन्हें पहचानने का बहुत ही आसान तरीका बताया।

हमें उम्मीद है कि इस तरीके को फॉलो करके आप बहुत आसानी से बाएं और दाएं हाथ की पहचान कर पाएंगे। इस तरह बाएं और दाएं हाथ का कन्फ्यूजन आपके लिए हमेशा के लिए दूर हो गया होगा। यदि यह लेख आपको पसंद आया हो तो इसे अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए अन्य लोगों के साथ जरूर करें।

यह भी पढ़े

ब्लड ग्रुप क्या होता है और कितने प्रकार के होते हैं?

माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है? (उपचार, दवा, बचाव)

जन्म कुंडली कैसे देखें? कुंडली देखने का तरीका

हस्त रेखा देखने की विधि चित्र सहित

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here