बाबा रामदेवजी का भादवा मेला कब है?

भादवा मेला राजस्थान के प्रसिद्ध लोक देवता बाबा रामदेव जी के मंदिर में आयोजित किया जाता है, जिसमें देश के कोने-कोने से श्रद्धालु आते हैं। राजस्थान की आस्था में भादवा मेला महत्वपूर्ण स्थान रखता है क्योंकि बाबा रामदेव जी को हिंदू ही नहीं बल्कि मुस्लिम धर्म के लोग भी मानते हैं, उनकी इबादत करते हैं।

लोक देवता बाबा रामदेव जी हिंदू-मुस्लिम एकता के प्रतीक माने जाते हैं। हिंदू धर्म के लोग बाबा रामदेव जी महाराज कहते हैं जबकी मुस्लिम धर्म के लोग रामसापीर कहते हैं। राजस्थान में विशेष रूप से भादवा का महीना अत्यंत महत्व रखता है, क्योंकि इस महीने के शुरुआत में बाबा रामदेव जी का मेला लगता है, जो पूरे महीने भर चलता है।‌

bhadwa mela kab hai

वर्तमान समय में राजस्थान के कोने-कोने में बने हुए मंदिरों पर अलग-अलग तारीख को मेला का आयोजन होता है। लोगों में बाबा रामदेव जी के प्रति अत्यंत एवं अद्भुत श्रद्धा और आस्था देखने को मिलती है। पूरे 1 महीने तक बाबा रामदेव जी के मुख्य मंदिर तथा समाधि स्थल जैसलमेर जिले के रामदेवरा गांव मे मेला चलता है।

बाबा रामदेवजी का भादवा मेला कब है?

लोक देवता बाबा रामदेव जी महाराज

राजस्थान के सुप्रसिद्ध लोक देवता बाबा रामदेव जी को राजस्थान की तरह गुजरात के लोग भी घर-घर पूजते हैं। गुजरात वासी बाबा रामदेव जी के दर्शन करने के लिए हर वर्ष रामदेवरा आते हैं। आमतौर पर हर वर्ष श्रावण मास से ही लोग रामदेवरा में भादवा मेला के लिए पैदल यात्रा शुरू कर देते हैं।

बता दें कि बाबा रामदेव जी के समाधि स्थल रामदेवरा पर आयोजित होने वाले भादवा मेला में पैदल यात्रा करके सम्मिलित होने का रिवाज कई वर्षों से चल रहा है। लोगों की मान्यताओं के अनुसार जो भी व्यक्ति पैदल चलकर बाबा रामदेव जी की समाधि स्थल पर भादवा के महीने में उपस्थित होता है, उसकी सभी मनोकामनाएं बाबा पूर्ण करते हैं।

बाबा रामदेव जी का जीवन परिचय एक नजर में

नामबाबा रामदेव जी
अन्य नामरामसा पीर, रूणीचा रा धणी, बाबा रामदेव
जन्म और जन्मस्थानचैत्र सुदी पंचमी, विक्रम संवत 1409, रामदेवरा
निधन (जीवित समाधी)भादवा सुदी एकादशी, विक्रम संवत 1442 (33 वर्ष), रामदेवरा
समाधी-स्थलरामदेवरा (रुणिचा नाम से विख्यात)
पिता का नामअजमल जी तंवर
माता का नाममैनादे
भाई-बहनभाई-बीरमदेव, बहिन-सगुना और लांछा
पत्नीनैतलदे
संतानसादोजी और देवोजी (दो पुत्र)
मुख्य-मंदिररामदेवरा, जैसलमेर (राजस्थान)
प्रसिद्धिलोकदेवता, समाज सुधारक
वंशतंवर
सम्प्रदाय/पंथकामड़िया
धर्महिन्दू
घोड़े का नामलीलो

यह भी पढ़े: बाबा रामदेव जी (रामसा पीर) का सम्पूर्ण जीवन परिचय

भादवा मेला कब है?

भादवा मेला राजस्थान के जैसलमेर जिले के रामदेवरा गांव में बाबा रामदेव जी के समाधि स्थल और मुख्य मंदिर पर भाद्रपद सुदी बीज को शुरू होता है, जिसे स्थानीय भाषा में “बाबा का मेला” या “भादवा का मेला” कहते हैं।

हर वर्ष इस मेले का आयोजन बड़े पैमाने पर होता है। यह मेला लोगों के उत्साह और धूमधाम के साथ पूरे 1 महीने तक चलने के बाद संपन्न होता है। इस वर्ष भादवा मेला सोमवार के दिन 29 अगस्त 2022 को भादवा सुदी बीज के दिन है।

बाबा की बीज कब है?

बाबा रामदेव जी की दुज 29 अगस्त 2022 सोमवार के दिन है। इस दिन बाबा रामदेव जी महाराज के मुख्य मंदिर तथा समाधि स्थल जैसलमेर के रामदेवरा गांव में भव्य और दिव्य मेले का आयोजन किया जाता है, जो पूरे 1 महीने भर तक चलता है।

इस मेले में देश के कोने-कोने से श्रद्धालु आते हैं। गुजरात और राजस्थान के कोने-कोने से लोग पैदल चलकर इस मेले में सम्मिलित होने के लिए आते हैं ताकि उनकी मनोकामनाएं पूर्ण हो सकें।

यह भी पढ़े: बाबा रामदेव जी की बीज कब है?

भादवा मेला कब और कहां भरता है?

श्रावण मास की शुरुआत से ही गुजरात और राजस्थान के कोने-कोने से लोग पैदल यात्रा करके पश्चिम राजस्थान की तरफ निकल जाते हैं, क्योंकि पश्चिम राजस्थान मे पोकरण के पास रामदेवरा गांव में राजस्थान के प्रसिद्ध लोक देवता बाबा रामदेव जी (जिन्हें रामसापीर भी कहते हैं) का मुख्य और प्रसिद्ध मंदिर स्थित है।

यहां पर ही बाबा रामदेव जी महाराज ने जीवित समाधि ली थी, इसीलिए रामदेवरा में रामदेव जी का मेला भरता है। रामदेवरा को स्थानीय भाषा में रुणिचा भी कहते हैं। इस वर्ष रामदेवरा में 29 अगस्त 2022 को सोमवार के दिन भादवा मेला का आयोजन होगा।

इस मेले में मन्दिर प्रशासन और स्थानीय लोगों का विशेष योगदान रहता है। मंदिर प्रशासन द्वारा मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को कोई असुविधा ना हो, इसके लिए कई प्रकार की सुविधाएँ की जाती है।

निष्कर्ष

भादवा मेला राजस्थान के सुप्रसिद्ध लोक देवता बाबा रामदेव जी के समाधि स्थल और मुख्य मंदिर पर आयोजित किया जाता है। यह राजस्थान का सबसे बड़ा मेला हैं, क्योंकि इस मेले में लोक देवताओं के प्रति बड़ा उत्साह और आस्था देखने को मिलती है। राजस्थान के सभी जाति धर्म के लोग बाबा रामदेव जी को अपनी श्रद्धा से पूजते हैं।

बड़े पैमाने पर राजस्थान के अलावा गुजरात समेत कई राज्य भी बाबा रामदेव जी की पूजा करते हैं। इसके अलावा भारत के कोने-कोने से लोग रामदेवरा में बाबा रामदेव जी समाधि स्थल पर सर झुकाकर मनोकामना पूर्ण करने का आशीर्वाद प्राप्त करते हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको रामदेवरा पर भादवा मेला कब है? इस बारे में जानकारी बता चुके हैं। हमें उम्मीद है यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। इससे जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं।

यह भी पढ़े

रामदेवजी की आरती और चालीसा

बाबा रामदेव जी स्टेटस

पाबूजी महाराज का इतिहास

वीर तेजाजी महाराज का परिचय और इतिहास

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here