प्रेरणादायक कड़वे वचन

Best Kadve Vachan in Hindi

Imagr: Best Kadve Vachan in Hindi

85+ Best Kadve Vachan in Hindi | प्रेरणादायक कड़वे वचन

भले ही लड़ लेना – झगड़ लेना, पिट जाना –
पिट देना, मगर बोल चाल बंद मत करना
क्योकि बोलचाल के बंद होते ही
सुलह के सारे दरवाजे बंद हो जाते हैं।
– मुनिश्री तरुणसागर जी

हर दोस्ती के पीछे कुछ स्वार्थ होता है।
बिना स्वार्थ के दोस्ती नहीं होती।
यह एक कड़वा सच है।

अपने को बदलो, अपने मन को बदलो,
अपने विचारों को बदलो, अपने नज़रिये को बदलो,
अपने दृश्टिकोण को बदलो।
जब नज़रे बदलती हैं तो नज़ारे बदल जाते हैं।

कभी तुम्हारे माँ – बाप तुम्हें डाट दे तो बुरा नहीं मानना।
बल्कि सोचना – गलती होने पर माँ – बाप नहीं डाटेंगे तो
और कौन डाटेंगे, और कभी छोटे से गलती हो जाये और
यह सोचकर उन्हें माफ़ कर देना की गलतिया छोटे
नहीं करेंगे तो और कौन करेंगा। – मुनिश्री तरुणसागर जी

आज कल के लोग कड़वे सच
की बजाए मीठे झूठ को चुनते हैं।

अपनी जुवां पर काबू रखिये। घर परिवार में अधिकतर
झगड़े इस जीभ के कारण हीं होते हैं।
चुप रहना भी जरूरी है। चुप रहने की आदत डालें।
पूरे दिन में एक घंटा मोन रहिये। एक घंटा नहीं रख सकते
तो कम से कम आधे घंटे का मोन रखिये।
नहीं रख सकते तो 15 मिनट का मोन रखिए।
नहीं रख सकते तो कम से कम भोजन तो मोन रह कर करिये।

गुलामी की जंजीरों से स्वतंत्रता की शान अच्छी,
हजारों रूपये की नौकरी से चाय की दुकान अच्छी।

मनुष्य जन्म से नहीं
कर्मों से महान होता है।

जीवन में माता, महात्मा और परमात्मा से बढ़कर कुछ भी नहीं हैं।
जीवन में तीन आशीर्वाद जरुरी हैं – बचपन में माँ का,
जवानी में महात्मा का और बुढ़ापे में परमात्मा का।
माँ बचपन को संभाल देती हैं, महात्मा
जवानी सुधार देता हैं और बुढ़ापे को परमात्मा संभाल लेता हैं।

न तो इतने कड़वे बनो की कोई थूक दे,
और ना तो इतने मीठे बनो की कोई निगल जाये।

इस दुनिया में केवल दो ही लोग आपको आपके बारे में
सच बताएंगे- पहला आपका दुश्मन जो
अपना आप्पा खो चुका है या फिर एक
दोस्त जो आपको बहुत प्यार करता है।

धन का अहंकार रखने वाले हमेशा इस बात का
ध्यान रखे की पैसा कुछ भी हो सकता हैं,
बहोत कुछ हो सकता हैं, लेकिन सबकुछ
नहीं हो सकता हार आदमी को धन की
अहमियत समझना बहोत जरुरी हैं।
– मुनिश्री तरुणसागर जी

व्यक्ति को ज्यादा ईमानदार भी नहीं होना चाहिए
इस दुनिया में सीधे पेड़ पहले काटते हैं
और ईमानदार लोग पहले बेवक़ूफ़ बनते हैं।

धनाढ्य होने के बाद भी यदि लालच और पैसों का मोह हैं,
तो उससे बड़ा गरीब और कोई नहीं हो सकता।
प्रत्येक व्यक्ति ’लाभ’ की कामना करता हैं,
लेकिन उसका विपरीत शब्द अर्थात ‘भला’
करने से दूर भागता हैं।

सबसे बड़ा गुरुमंत्र ये है के अपने
सीक्रेट्स किसी के साथ शेयर मत
करो ये आपको नष्ट कर सकता है।

हर हाल में मुस्कुराने की आदत डाल तो तो जीवन सत्यम,
शिवम्, सुंदरम का परियाये बन जायेगा –
औरों की मदत करें बिना फायदे दे।
मिलना जुलना सीखिए बिना मतलब के,
जीवन जीना सीखिए बिना दिखावे के
और मुस्कुराना सीखिए बिना सेल्फी के।

जीवन में शांति पाने के लिए क्रोध पर काबू पाना सिख लो।
जिसने जीवन से समझौता करना सिख लिया वह संत हो गया।
वर्तमान में जीने के लिए सजग और सावधान रहने की आवश्यकता हैं।

भगवान् मूर्तियों में मौजूद नहीं है आपकी भावनाएं
ही आपका भगवन है
और आपकी आत्मा ही मंदिर है।

अगर कोई हँसता हुआ जानवर दिख जाये तो
समझ लेना वो इंसांन होने वाला है
और कोई इंसान हंसी की बात पर भी न
हँसे तो समझ लेना वह वो बनने वाला है।

खिल सको तो फुल की तरह खिलो।
जल सको तो दीप की तरह जलो।
मिल सको तो दूध में पाणी की तरह मिलो।
ऐसी ही जीवन की नीति हो,
रीती हो और प्रीति हो। – मुनि प्रज्ञासागर

Best Kadve Vachan in Hindi

हम उम्र से नहीं बल्कि ठोकरों
और नुक्सान से परिपक्व होते हैं।

सुंदर रूप वाला, यौवन से युक्त ऊचें कुल में उत्पन्न होने
पर भी विद्या से हिन् मनुष्य सुगंध रहित
फुल के समान रहता हैं। – आचार्य चाणक्य

एक बेवक़ूफ़ व्यक्ति के लिए किताबें उतनी ही
उपयोगी हैं जितना एक अंधे व्यक्ति के लिए आइना।

जहाँ अधिकार के साथ कर्तव्यपालन नहीं
सिखाया जाता है, वहाँ अधिकार
लोगों को उदंड बना देता है.

भले ही सांप जहरीला न हो,
उसे विषैला होने का नाटक करना चाहिए।

माँ बच्चे के पेट पर देखती है की पेट भरा है
या नहीं और पत्नी हमेशा पति की जेब देखती है।

किसी के उपर भी बहुत अधिक
भरोसा नहीं करना चाहिए,
क्योंकि न जाने कब सामने
वाला व्यक्ति बदल जाये.

हमारी सबसे अच्छी मित्र हमारी शिक्षा है
एक शिक्षित व्यक्ति का हर
जगह पर सम्मान होता है.

किसी के Professional Life की सफलता देखकर हीं
उसके दीवाने मत बन जाइए. क्योंकि बुरा व्यक्ति
घातक और मक्कार हीं होता है
चाहे वह कितना हीं सफल क्यों न हो गया हो.

इस दुनिया में चापलूसी करने से
आसान और सच बोलने से कठिन कुछ भी नहीं।

परम्पराओं और कुप्रथाओं में
बारीक़ फर्क होता है.

अपने बारे में सच्चाई की खोज
करने में पूरी उम्र लग जाती है.

अपना तन-मन अपने परिवार को देना चल जायेगा।
अपना धन सगे सम्बन्धियों को देना चल जायेगा।
लेकिन अपना दिल ईश्वर के सिवाए किसी को मत देना।

Shortcut से मिली हुई
चीज टिकाऊ नहीं होती है.

कहीं उनका भ्रम नष्ट न हो जाए इस
लिए कुछ लोग सच सुन्ना नहीं चाहते।

संघर्ष के बिना मिली सफलता को
सम्भालना बड़ा मुश्किल होता है.

सच्चाई से की हुई कमाई सुख देती है
और छल कपट से की हुई
कमाई केवल दुःख ही देती है।

सच्ची नींद और सच्चा स्वाद चाहियें तो पसीना
बहाना मत भूलिए। बिना पसीने
की कमाई पाप की कमाई है।

दूसरों के भरोसे जिंदगी जीने वाले लोग हमेशा दुखी रहते हैं.
इसलिए अगर हम सूखी जीवन जीना चाहते हैं,
तो हमें आत्मनिर्भर बनने की कोशिश करनी चाहिए.

अगर हाथ मिलें और दिल न मिलें
तो इसमें हमेशा नुक्सान ही होगा।

Best Kadve Vachan in Hindi

चार बातों को कचरे के डिब्बे में डाल दो –
(1) लोग क्या कहेंगे। (2) मुझसे नहीं होगा।
(3) मेरा तो भाग्य ही ख़राब है
और (4 ) अभी मेरा मूड नहीं है।

या तो उसी से शादी कीजिए जिससे आप प्यार करते हैं.
और अगर आप अपने प्रेमी / प्रेमिका से शादी
नहीं कर पाते हैं, तो ईमानदारी से
अपने पति / पत्नी से प्यार कीजिए.

इस दुनिया में लोग नफरत खुल कर करते हैं
और प्यार छिप कर करते हैं।

वैसा मजाक किसी के साथ मत कीजिए
जैसा मजाक आप सहन नहीं कर सकते हैं.

इंसान का असली रूप तभी दिखाई देता है
जब वो नशे में होता है- वो नशा चाहे
शराब का हो, रूप का हो, या फिर चाहे रुतबे का।

आप जिससे प्यार करते हैं अगर उससे शादी
करने की हिम्मत नहीं कर पाते हैं…….
तो आपको अपने प्रेमी या प्रेमिका की शादी के बाद
अपने प्रेमी या प्रेमिका से प्रेम सम्बन्ध रखना अंत
में कई लोगों की जिंदगी बर्बाद कर देता है.

तारीफों के पुल के नीचे
अब मतलबों की नदी बहती है।

लोग केवल अपने गलत कामों को सही ठहराने के
लिए कहते हैं कि “प्यार और जंग में सब जायज है.

अब अपनी फ़िक्र करना अच्छा सा लगता है
कदर ही गवा ली लोगों का अच्छा करते करते।

नाजायज चीजें हमेशा नाजायज होती हैं…….
चाहे बात प्यार या जंग की हीं क्यों न हो.
प्यार और जंग में भी नाजायज चीजें,
नाजायज हीं होती है.

ज़िन्दगी में एक बात तय है
की तय कुछ भी नहीं।

वोट नहीं डालने वाले लोग……
वोट नहीं डालकर भ्रष्ट लोगों
की मदद करते हैं.

पुरषों की बात छोडो यदि औरत औरत को
समझने लग जाए तो दुनिया के
आधे झगडे ख़तम हो जाएँ।

भले हीं आपकी राजनीति में रूचि न हो,
लेकिन आपमें राजनितिक समझ जरुर होनी चाहिए.

मदद करनी हो तो गैरों की करो
अपने तो कई बार इसे फ़र्ज़ समझ लेते हैं।

एक कुप्रथा को खत्म करने के
नाम पर नई कुप्रथा को जन्म देना महामूर्खता है.

बिना मतलब के कोई किसी को नहीं पूछता
बिना रूह के तो घर वाले भी जिस्म नहीं रखते।

कांटे तो नाम से ही बदनाम हैं
वरना चुभती तो निगाहें
और काटती जुबान है।

जिस पर माया का जादू चल गया वो संसारी हो
गया और जिस पर प्रभु का
जादू चल गया वो संत हो गया।

जेब में छोटा सा छेद क्या हो
जाए सिक्कों से ज्यादा रिश्ते गिर जाते हैं।

Best Kadve Vachan in Hindi

झूठ भी बड़ी अजीब चीज़ है
बोलना अच्छा लगता है और सुन्ना बुरा।

जिस दिन हमारे देश की नीति के साथ नियत
अच्छी हो जायगी, अच्छे दिन आ जायेंगे।
और नीति के साथ नियत अच्छी नहीं होगी
तो भगवान भी कुछ नहीं कर सकते।

कभी गुरूर नहीं करना चाहिए
आज मिटटी के ऊपर हैं
कल मिटटी के नीचे होंगे।

भले ही लड़ लेना, झगड़ जाना, पिट जाना या पीट
देना पर कभी भी बोलचाल बंद मत करना
क्योंकि बोलचाल बंद करने से सुलह
के सारे दरवाज़े बंद हो जाते हैं।

आधे रिश्ते तो लोग इस लिए निभा रहे हैं
के उनके कभी आपसे काम पड़ सकता है।

आज के टाइम में लोग रिश्ते
छोड़ देते हैं लेकिन ज़िद्द नहीं।

मोबाइल के बड़ी माया है। सब ख़त्म कर दिया।
घडी, टार्च, कैलेंडर, कैमरा, चिठ्ठी पत्री, जिंदगी
का सुकून सब ख़त्म और बीबी
के हाँथ लग गया तो आप भी ख़त्म।

ज़िन्दगी की रेस में लोग आपको
दौड़ कर नहीं तोड़कर कर हराना चाहते हैं।

मनुष्य भाषा, मजहब, जाति, धर्म, क्षेत्र
के नाम पर मनुष्य को बांटता आ रहा है।
मनुष्य को मनुष्य से बांटता आ रहा है।

जिस रिश्ते को आप दुनिया के सामने ज़ाहिर
नहीं कर सकते तो उस रिश्ते को तोड़ देना चाहिए
क्यूंकि एक न एक दिन वो रिश्ता आपको बर्बाद कर देगा।

ज़िन्दगी में तूफ़ान आने के बाद पता चलता है
के कोण आपका हाथ पकड़ता है
और कोण आपका हाथ छोड़ता है।

आदमी की औकात एक मुट्ठी राख से ज्यादा नहीं है
पर अपने को चक्रवर्ती का बाप समझता है –
एक माचिस की चिल्ली, एक लोटा घी, लकड़ियों के
ढेर पर कुछ घंटे में बस राख बस
इतनी सी है आदमी की औकात।

ज़िंदगी का सबसे कड़वा सच ये है
के अच्छी चीज़ें आसानी से नहीं मिलती।

इस देश को विवेकानंद जैसे हिन्दू और
अब्दुल कलाम जैसे मुसलमान मिल जायें तो
दुनिया की कोई ताकत हमारे देश की
तरफ आँख उठा कर भी नहीं देख सकती।

हमारा जन्म एक गेम जैसा है
ये अमीर के घर गरीब के घर,
खुशहाल के घर या फिर अपमानजनक परिवार
में भी हो सकता है. इसे हम कण्ट्रोल नहीं कर सकते।

हम चाहते हैं के लोग अच्छा
करें पर हमारे से ज्यादा नहीं।

शादी करना है तो जागते हुए करो।
परिजनों की मर्जी को दरकिनार कर
घर से भागने की प्रवृत्ति आपके जीवन
को अंधकारमय बना सकती है।

अपनी परेशानियों के बारे में दूसरों को बताने
का कोई फायदा नहीं. 20% के पास टाइम नहीं है
और बाकि इस बात से खुश होंगे।

आपका जीवन आपकी जिम्मेदारी है
आपको बचाने कोई नहीं आएगा.
अपने आप को बचाना सीखना होगा।

कईं बार मौत इंतज़ार नहीं
करती बस आ ही जाती है।

असफल होने पर लोग
आपको ज्यादा नोटिस करते हैं।

एक न एक दिन कोई न कोई
आपका आखरी बार नाम लेगा।

कोई फर्क नहीं पड़ता के आप क्या करते हैं
कुछ लोग आपको बिना
मतलब के भी नफरत करेंगे।

टेक्नोलॉजी हमें पहले से कहीं
अधिक स्वार्थी बना रही है।

एक दिन मानव भी
हमेशा के लिए विलुप्त हो जाएगा।

Reed also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here