मोबाइल एप्प बनाकर पैसे कैसे कमाए?

App Banakar Paise Kaise Kamaye: वर्तमान समय में इस डिजिटल दुनिया में सभी लोग स्मार्टफोन, लैपटॉप, कंप्यूटर, इंटरनेट का उपयोग करते हैं। ऐसे में बहुत से लोग घर बैठे ऑनलाइन बिजनेस करके पैसे भी कमा रहे हैं। यदि आप ऑनलाइन बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, तो आपको अपनी एक वेबसाइट या फिर अपने कंपनी का खुद का एक एप्लीकेशन बनाना होगा।

यदि आप एक छोटे सिरे से अपने बिजनेस को शुरू करना चाहते हैं तो आपको खुद ही एप्लीकेशन बनाना होता है। आप इसी समस्या को लेकर इंटरनेट पर इधर-उधर सर्च करते रहते हैं, आखिर मोबाइल एप्लीकेशन होता क्या है और इसे कैसे बनाया जाता है।

App Banakar Paise Kaise Kamaye
Image: App Banakar Paise Kaise Kamaye

आपकी इसी समस्या का समाधान लेकर हम अपने इसलिए के साथ प्रस्तुत हुए हैं। आज आप सभी लोगों को हमारे द्वारा लिखे गए इस महत्वपूर्ण लेख में जानने को मिलेगा कि मोबाइल एप्लीकेशन कैसे बनाए? मोबाइल एप्लीकेशन क्या होता है? मोबाइल एप्लीकेशन बनाने के लिए आवश्यक मशीनें इत्यादि।

यदि आप भी इच्छुक है, मोबाइल एप्लीकेशन बनाने के लिए तो कृपया आप हमारे द्वारा लिखे गए इस महत्वपूर्ण लेख को अवश्य पढ़ें।

मोबाइल एप्प बनाकर पैसे कैसे कमाए? | App Banakar Paise Kaise Kamaye

एप क्या होते हैं?

ऐप एक ऐसा प्लेटफार्म होता है, जिसे लोग अपने जरूरत की चीजों को बड़ी ही आसानी से करने के लिए उपयोग करते हैं। मोबाइल एप्लीकेशन ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों प्रक्रियाओं पर कार्य करते हैं। यदि आप अपने मोबाइल एप्लीकेशन के गतिविधियों को ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों प्रकार से रखते हैं, तो यह आपके लिए काफी अच्छा होगा, क्योंकि लोग ज्यादातर ऐसे ही एप्लीकेशंस को ढूंढते रहते हैं, जिनमें वह संबंधित कार्य को ऑनलाइन करने के साथ-साथ ऑफलाइन भी कर सकें।

कभी भी किसी निष्कर्ष को ढूंढने के लिए वेबसाइट पर अलग-अलग प्रकार के नतीजे देखने हो पढ़ते हैं, परंतु मोबाइल एप्लीकेशन में ऐसा नहीं है। आप मोबाइल एप्लीकेशन संबंधित कार्य के लिए इंस्टॉल कर सकते हैं और उस एप्लीकेशन से सटीक एवं आवश्यक जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं और इन एप्लीकेशन के माध्यम से अपना कार्य भी कर सकते हैं।

मोबाइल एप्लीकेशन से पैसों की कमाई कैसे होती है?

यदि आप कोई भी मोबाइल एप्लीकेशन बनाना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले इस बारे में जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए कि ऐप से कमाई कैसे होती है। आपको बता देना चाहते हैं कि आप से कमाई तभी होती है, जब आपके एप्लीकेशन पर एडवरटाइजिंग नेटवर्क शुरू होता है।

हमारे भारतवर्ष में जो भी android app बनाने वाले हैं, वह अपने सभी एंड्राइड एप्लीकेशन को बनाने के बाद ऐड प्रोवाइडर कंपनी से साइन अप कर लेते हैं, अतः वहां से डेवलपर्स को एक कोड मिलता है और इस कोड को वे अपने बनाए गए एंड्राइड ऐप में जोड़ देते हैं।

मोबाइल एप्लीकेशन में इस कोड को जोड़ने के बाद आपके एप्लीकेशन में एडवरटाइजिंग शुरू हो जाती है और एडवरटाइजिंग शुरू होने के बाद आप बड़ी ही आसानी से पैसे कमाना शुरू कर देते हैं।

Android.app बनाने की प्रक्रिया क्या है?

अपना खुद का मोबाइल एप्लीकेशन बनाने के लिए आपको काफी मेहनत का काम करना पड़ता है। आपको एक अच्छा सा एप्लीकेशन बनाने के लिए वेबसाइट के साथ लॉगिन होना पड़ता है और उनके तहत आपको अपना वेबसाइट तैयार करना होता है।

एप्लीकेशन बनाने के लिए आपको साधारणतया नीचे बताए गए कुछ महत्वपूर्ण चरणों का पालन करना होगा, तो चलिए शुरू करते हैं यह स्टेप्स:

  1. अपना खुद का मोबाइल एप्लीकेशन बनाने के लिए सबसे पहले आपको appgayser वेबसाइट पर चले जाना है।
  2. अब आपको यहां पर एक ऑप्शन देखने को मिलेगा, जोकि क्रिएट नाउ का होगा।
  3. आपको साधारणतया creat now के बटन पर देख कर देना है और आगे बढ़ना है।
  4. इसके बाद आपको जिस भी प्रकार का एप्लीकेशन बनाना हो उस एप्लीकेशन की कैटेगरी का चयन करना है।
  5. कैटेगरी चयन करने के बाद आपको अपने एप्लीकेशन का नाम, एप्लीकेशन आईकॉन, एप्लीकेशन का डिस्क्रिप्शन इत्यादि सभी आवश्यक चीजों को फिल अप करना होगा और क्रिएट के बटन पर क्लिक कर देना।
  6. अब आप सभी लोगों को अपने एप्लीकेशन को स्वयं के साथ लॉगिन करने के लिए अपनी ईमेल आईडी दर्ज करनी होगी और ईमेल आईडी के साथ-साथ आपको एक नया पासवर्ड भी साइन अप करना होगा।
  7. इन सभी प्रक्रियाओं के बाद आपको आपकी मेल आईडी पर एक कन्फर्मेशन मेल मिल जाएगा, अतः आपको इस लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई कर लेना है।
  8. इन सभी प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद आपको फिर से appgayser के डैश बोर्ड में चले जाना है।
  9. इस वेबसाइट के डैशबोर्ड में जाने के बाद आपको दिए गए लिंक से ऐप डाउनलोड कर लेनी है।

ऐप बन जाने के बाद एप डेवलपर्स की सहायता ले

यदि आपने अपना एप्लीकेशन बना लिया है और अपने एप्लीकेशन को कस्टमाइज करके अच्छा लुक देना चाहते हैं और इसके साथ-साथ अपने एप्लीकेशन को प्ले स्टोर पर अपडेट करना चाहते हैं तो आपको इन सभी कार्यों के लिए एप डेवलपर से संबंध कर संपर्क करना होगा।

यदि आप इन सभी कार्यों को करना जानते हैं तो आपको एप डेवलपर्स की कोई आवश्यकता नहीं पड़ेगी। आपको एप डेवलपर्स आपके द्वारा तैयार किए गए डिजाइन इत्यादि के अनुसार ही आपकी वेबसाइट एक ऐसे तरीके से कस्टमाइज करेंगे, जिससे कि आप की वेबसाइट खोलने के बाद सभी यूजर्स काफी इंगेज होंगे। अपने मोबाइल एप्लीकेशन को ऐसे डेवलपर्स को देना चाहिए, जिनके पास 3 से 4 वर्षों का एक्सपीरियंस हो।

यह डेवलपर्स आपके एप्लीकेशन को इतने अच्छे तरीके से डिजाइन करेंगे कि आप कैपिटेशन की डिजाइन और कार्यप्रणाली को देखकर लोग ज्यादा से ज्यादा आपके एप की तरफ आकर्षित होंगे। हम आपकी जानकारी के लिए आपको बता देना चाहते हैं कि सभी एप डेवलपर्स आप से प्रत्येक एप्लीकेशन के कुछ चार्ज कर सकते हैं।

यह सभी मोबाइल फोन डेवलपर्स आपसे कम से कम 15 सो रुपए से लेकर 8 से ₹10000 तक का चार्ज कर सकते हैं। हालांकि या चार इस बात में निर्धारित करता है कि आपके एप्लीकेशन की क्वालिटी क्या है और आपने इसकी डिजाइन कैसे करवाई है।

ऐप डिजाइन होने के बाद क्या करें?

यदि आपका एप्लीकेशन तैयार हो चुका है तो आपको साधारणतया अपने एप्लीकेशन के लिए एडवरटाइजिंग का उपयोग करना है, जिसके लिए आपको ऐडस प्रोवाइडर कंपनी से संपर्क करना होगा। हमने एड्स प्रोवाइडर कंपनी के बारे में कुछ जान लिया, परंतु आप बात याद आती है कि कौन-कौन सी कंपनियां हैं, जो ऐड प्रोवाइड करती है।

आप सभी लोगों को इंटरनेट पर बहुत से ऐसे ही ऐड प्रोवाइडर कंपनियों के नाम मिल जायेंगी, हमारे द्वारा नीचे कुछ ऐड प्रोवाइडर कंपनियों के नाम दिए गए हैं, जिनसे आप ऐड कोड के लिए साइन अप कर सकते हैं। आपको इन सभी में से सबसे पॉपुलर एवं सबसे जाने-माने कंपनी का चयन करना है और कंपनी की वेबसाइट में जाकर एडवरटाइजिंग कोड के लिए साइन अप करना है।

इन सभी प्रक्रियाओं के बाद आपको आपके ईमेल एड्रेस पर ऐड कर दे दिया जाता है, आपको रिकॉर्ड अपने मोबाइल एप्लीकेशन के साथ जोड़ना होता है।

  • यूट्यूब
  • Facebook
  • गूगल
  • गूगल पे
  • Phonepe
  • Unacademy
  • Byju’s

अपने मोबाइल एप्लीकेशन का प्रचार कैसे करें?

एंड्राइड एप्लीकेशन तैयार हो जाने के बाद आपको सबसे महत्वपूर्ण कार्य करना होता है, आपके एप्लीकेशन का प्रचार। आपको अपने एप्लीकेशन का प्रचार करने के लिए अलग-अलग सोशल मीडिया अकाउंट पर एक ग्रुप बनाना चाहिए और अपने ग्रुप के साथ साथ अन्य ग्रुप के साथ जॉइन होकर भी उसमें अपने एप्लीकेशन के बारे में लिखना चाहिए।

मोबाइल एप्लीकेशन बनाकर तैयार कर लेने के बाद आपको सोशल मीडिया के साथ-साथ मोबाइल एवं टीवी पर अपने एप्लीकेशन को लेकर ऐड तैयार करवाने चाहिए।

मोबाइल एप्लीकेशन से कमाए गए पैसे को बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कैसे करें?

यदि आपने मोबाइल एप्लीकेशन बना लिया है और एडवरटाइजिंग नेटवर्क के माध्यम से पैसे कमा लिए हैं और आपके पैसे आपके मोबाइल एप्लीकेशन के अकाउंट में ही है, तो आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है, आपने जिस भी एडवरटाइजिंग कंपनी का उपयोग किया है, उसके अकाउंट में चले जाना है, आपको वहां पर वह इनकम दिखाई देगी, जो आपने अर्न की होगी।

आपको यहां पर अपने बैंक अकाउंट की डिटेल्स देनी है। इन सभी काम को पूरा करने के बाद अब आपको किसी भी प्रकार की किसी काम की जरूरत नहीं है, अब प्रत्येक महीने के 26 से 30 तारीख के मध्य में आपके बैंक अकाउंट में आपकी सारी इनकम ऑटोमेटिकली आ जाएगी।

ऐप बनाने के बाद हमें कितनी कमाई हो सकती है?

एप्लीकेशन के प्रचलन के हिसाब से आपको ₹50000 से लेकर लाखों रुपए तक की कमाई प्रतिमाह हो सकती है।

ऐप कैसे बनाएं?

ऐप बनाने के लिए आप किसी भी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं, जैसा कि ऊपर बताया गया है।

ऐप बनाने के बाद पैसे कब प्राप्त होंगे?

ऐप बनाने के बाद पैसों की कमाई तभी होगी जब आप अपने एप्लीकेशन में एड्स प्रोवाइड करेंगे।

भारत में सबसे अच्छी कौन सी ऐसी कंपनी है, जो ऐड प्रोवाइड करती है?

इसके लिए लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

एप्लीकेशन बनाने में कितनी लागत आ सकती है?

यदि आप एप्लीकेशन बनाने के विषय में सभी जानकारी जानते हैं, तो आपको किसी भी लागत की जरूरत नहीं होगी और यदि आप अपने एप्लीकेशन को डेवलपर्स की मदद से डेवलप करना चाहते हैं, तो आपको लगभग 10 से ₹15000 तक खर्च करने पड़ सकते हैं।

निष्कर्ष

हम आप सभी लोगों से उम्मीद करते हैं, आप सभी लोगों के लिए हमारे द्वारा लिखा गया महत्वपूर्ण लेख “मोबाइल एप्प बनाकर पैसे कैसे कमाए? (App Banakar Paise Kaise Kamaye)” अवश्य ही लाभदायक सिद्ध होगा। यदि हां! तो कृपया आप हमारे द्वारा लिखे गए इस महत्वपूर्ण लेख को अवश्य शेयर करें।

यह भी पढ़े

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here