खनिज किसे कहते हैं (प्रकार व वर्गीकरण)

खनिज किसे कहते हैं (Khanij Kise Kahte Hain): नमस्कार दोस्तों, आज हम यहां पर खनिज के बारे में जानकारी प्राप्त करने वाले है। खनिज के किसे कहते है, खनिज के कितने प्रकार के होते है आदि के बारे में विस्तार से जानने के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े।

Khanij Kise Kahte Hain
Khanij Kise Kahte Hain

खनिज किसे कहते हैं?

ऐसे पदार्थ जो क्रिस्टलीय हो और वह पदार्थ जो क्रिस्टलीय हो भौगोलिक परिस्थितियों की परिणामस्वरूप बना हो, उन पदार्थों को खनिज कहा जाता है। आपको बताते चले पदार्थ को खनिज होने के लिए ठोस और क्रिस्टलीय होना जरूरी होता है।

खनिज पदार्थ खान से निकले हुए होते हैं। यह भौतिक पदार्थ होते हैं, बॉक्साइट, कोयला, अभ्रक, लोहा यह खान से निकले हुए पदार्थ होते हैं। यह खनिज पदार्थ उपयोगी होते हैं, एल्युमिनियम भी इन्ही पदार्थो से मिलता है।

खनिज शब्द की उत्पत्ति

खनिज शब्द की उत्पत्ति (खनि+ज)। खनि का संस्कृत भाषा मे अर्थ होता है खान और इसी का अंग्रेजी भाषा मे अर्थ मिनरल्स होता है। यही से ही खनिज शब्द की उत्पत्ति हुई।

खनिज का वर्गीकरण

खनिज 2 प्रकार के होते हैं और इनके प्रकारों को अनेक उपवर्गों में विभाजित किया गया है। आज के समय मे खनिज पदार्थों को विकास के नज़रिए के रूप में देखा जा सकता है। खनिज का वर्गीकरण निम्न प्रकार से है:

  • धात्विक खनिज
  • अधात्विक खनिज

धात्विक खनिज

धात्विक खनिज के प्रकार

  • बहुमूल्य धातु: ऐसे धातु जो सोना, चांदी और प्लैटिनम के वर्ग की धातु होती है, वे बहुमूल्य धातु होती है। जैसे – प्लेटिनम, रोथेनियम, पैलेडियम, इरीडियम आदि।
  • हल्की धातु: मैग्नीशियम, टाइटेनियम, एलुमिनियम ये धातु हल्की धातु होती हैं।
  • लोहास खनिज: यह लौह धातु होती है जैसे- पाइराइट, हेमाटाइट, लिमोनाइट, सिडेराइट।
  • साधारण धातु: तांबा, जस्ता, सीसा, पारा, रांगा आदि धातु साधारण धातु होती है।
  • विरल धातु: यह धातु अणुशक्ति से संबंधित होती हैं। यह धरती पर विरल रूप से प्राप्त की जाती हैं। युरेनियम, लीथियम, थोरियम धातु विरल धातु होती है।

अधात्विक खनिज

अधात्विक खनिज के प्रकार

  1. खनिज उर्वरक: सल्फ्यूरिक एसिड, गंधक, पोटाश, नाइट्रेट, फास्फेट आदि खनिज उर्वरक होते हैं।
  • शक्ति के स्त्रोत: पेट्रोलियम, प्राकृतिक व खनिज गैस, कोयला स्त्रोत हैं।
  • भू द्रव खनिज: नमक, कंकड़, बालू, गंधक, जिप्सम और खनिज पदार्थ के पत्थर भू द्रव खनिज होते हैं।

एलुमिनियम के मुख्य अयस्क व प्रमुख केंद्र

एल्युमिनियम का मुख्य अयस्क बॉक्साइट है व इसके प्रमुख खनन केंद्र निम्न प्रकार हैं:

  • ऑस्ट्रेलिया – वाइप क्षेत्र, केपयार्क प्रायद्वीप
  • दक्षिण अफ्रीका – उत्तरी नेटाल प्रान्त
  • पूर्व सोवियत संघ – कोला प्रायद्वीप
  • यू. एस. ए. – अर्कांसस राज्य के सेलाइन काउंटी क्षेत्र

सोना के मुख्य खनन व प्रमुख क्षेत्र : प्रमुख खनन केंद्र

  • ऑस्ट्रेलिया – कालगूर्ली व कुलगार्डी
  • यू. एस. ए. – साल्ट लेक क्षेत्र और अलास्का
  • दक्षिण अफ्रीका – किम्बरले, जोहान्सबर्ग, बोक्सबर्ग व ऑरेंज फ्री स्टेट

प्रमुख उत्पादक देश

सोना (Gold) के प्रमुख उत्पादक देश क्रमशः चीन, ऑस्ट्रेलिया, रूस और अमेरिका हैं।

चांदी के मुख्य अयस्क व प्रमुख खनन केंद्र

चांदी का मुख्य अयस्क अर्जेंटाइट है और इसके प्रमुख केंद्र निम्न प्रकार हैं:

  • दक्षिण अफ्रीका – ट्रांसवाल व नेटाल प्रान्त
  • यू. एस. ए. – एरिजोना, मोंटाना, यूटाह
  • कनाडा – क्यूबेक, ओंटारियो, कोलंबिया
  • बोलिविया – पोटोसी

प्रमुख उत्पादक देश: चांदी (silver) के प्रमुख उत्पादक क्रमश ऑस्ट्रेलिया, रूस, पेरू, मैक्सिको, चीन हैं।

हमने क्या सीखा?

हमने यहां पर खनिज के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की है। उम्मीद करते हैं कि आपको यह जानकारी आपको अच्छे से समझ आ गई होगी। आपको यह कैसी लगी, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

यह भी पढ़े

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here