संगीत पर निबंध

Essay on Music in Hindi: हम यहां पर संगीत पर निबंध पर शेयर कर रहे है। इस निबंध में संगीत के संदर्भित सभी माहिति को आपके साथ शेअर किया गया है। यह निबंध सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए मददगार है।

Essay-on-music-in-hindi

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

संगीत पर निबंध | Essay on Music in Hindi

संगीत पर निबंध (200 शब्द)

संगीत एक ऐसी चीज़ है, जिन्हे सुनते है मन में  शांति का सुखद अनुभव होता है। संगीत हर एक के जीवन में अलग-अलग पलों में अलग-अलग भूमिका निभाता है। जब भी मन उदासीनता महसूस करता है, तब संगीत आपको अपार आनंद देता है। संगीत  आत्मा को जीवित रखता है। मनपसंद संगीत सुनने के बाद  शरीर तरोताजा महसूस करता है और शरीर की थकान दूर हो जाती है।

भगवान ने भी हमें पक्षियों की चहचहाहट, जानवरों की गर्जना, बादलों की गर्जना , पवन की सरसराहट जैसे प्राकृतिक संगीत का उपहार दिया है। विभिन्न वाद्ययंत्रों और रागों की मदद से मनुष्य ने भी मानव निर्मित संगीत तैयार किया है। संगीत का मनुष्य पर जादुई प्रभाव पड़ता है। मेडिकल क्षेत्र ने भी साबित किया है कि मधुर संगीत में अनिद्रा, अवसाद , चिंता , तनाव और  विभिन्न रोगों को ठीक करने की शक्ति है। 

संगीत के द्वारा जीवन में सकारात्मक बदलाव लाया जा सकता है। यह भी सिद्ध हो चुका है कि संगीत सुनने से खासकर छोटे बच्चों में बुद्धि बढ़ती है। एक बच्चा जितनी जल्दी संगीत के संपर्क में आता है, उसका तर्क कौशल उतना ही उन्नत होता है । संगीत एक  वैश्विक भाषा है और यह लोगों को करीब लाती है 

संगीत हर किसी के लिए जरूरी है। संगीत जीवन में सुधार करने के लिए प्रेरित करता है। सच में संगीत के बिना दुनिया का मानसिक स्वरूप बहुत अलग होगा।

संगीत पर निबंध (600 शब्द)

प्रस्तावना

सदियों से हमारे जीवन में संगीत की एक विशिष्ट भूमिका रही है। लय, स्वर और भावनाओं की अभिव्यक्ति के मधुर समन्वय  को राग द्वारा प्रकट करने की क्रिया को संगीत कहते हैं। यह सभी कला में सबसे सर्वोत्तम है। संगीत की रचना करना और इसे सुनना दोनों ही मनुष्य के लिए फायदेमंद है।

यह मनोरंजन का  सबसे बड़ा स्रोत है।  संगीत में दैवीय शक्ति होती है। यह हमें अपने आंतरिक स्व से जुड़ने में मदद करता है। संगीत का आनंद अलग अलग माध्यम द्वारा अलग अलग परिस्थितियों में ले सकते है। संगीत एक वैश्विक भाषा साबित हुई है। संगीत से ही संसार का जन्म हुआ है। संगीत संसार के हर एक कण और पल में समाया है। 

संगीत का महत्व

संगीत के सुर की मादकता का जीव जगत को काफी प्रभावित करती है। संगीत हमारे जीवन में आन्तरिक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। धीमी आवाज में संगीत सुनना हमें मानसिक और आत्मिक शांति प्रदान करता है। संगीत इंद्रियों को शांत रखने में मदद करता है।

संगीत के किसी भी परिस्थितियों में बदलाव लाया जा सकता है। ‘संगीत सम्राट तानसेन ‘ अपने सुरों के द्वारा धरती पर बारिश और आग उत्पन करते थे। संगीत हमारी कार्यक्षमता को बढ़ावा देता है। संगीत हमारे जीवन से नकारात्मक विचारों को दूर करने में काफी मदद करता है। अलग अलग बोली बोलने वाले दो लोग भी संगीत के माध्यम से एक दूसरे के साथ जुड़ सकते है। 

संगीत में भी तापीय और प्रकाशीय ऊर्जा होती है, जो ना सिर्फ मनुष्यों बल्कि वनस्पतियों को भी प्रभावित करता है। 

संगीत के प्रकार

संगीत को राग, लय, वाद्य -वाजिंत्रों के अनुसार अलग अलग तरीकों से शैलियों में विभाजित किया जाता है।  दुनिया भर में कई प्रकार का संगीत मौजूद है लेकिन भारतीय संगीत को लोक संगीत, शास्त्रीय संगीत, उपशास्त्रीय संगीत, सुगम संगीत, फिल्मी संगीत जैसी श्रेणियों में विभाजित किया गया है।

संगीत का इतिहास

प्राचीन काल से भारत में  संगीत की समृद्ध  प्रणाली रही है। भारतीय संगीत का इतिहास लगभग  4००० वर्ष पुराना है। भारतीय महाकाव्यों -रामायण और महाभारत की रचना में संगीत का मुख्य प्रभाव रहा है। वैदिक युग में आर्यो के लिए  संगीत आमोद-प्रमोद का मुख्य साधन था।

सिंधु घाटी की सभ्यता में भी संगीत की शैली का उपयोग करके ईश्वर की पूजा और अर्चना की जाती थी।  वेदों में भी संगीत का महत्व बताया गया है। टेक्नोलॉजी में बदलाव आने से संगीत में भी काफी बदलाव आये है, लेकिन हमारे जीवन में संगीत का आज भी उतना की महत्व रहा है। अब लोग संगीत टीवी, इंटरनेट, वीडियो गेम ,रेडियो और विविध उपकरणों के जरिये सुनते है।

संगीत के लाभ

संगीत के लाभ बेशुमार हैं। प्रायोगिक तरीके से यह साबित किया गया है की मधुर संगीत सुनने वाले बच्चों के शरीर में श्वेत रक्त कणिकाओं की संख्या अधिक पाई गई हैं। शास्त्रीय संगीत सुनकर लोग तनावरहित महसूस करते हैं। संगीत सुनने से गणित भी अच्छा होता है। सुनने से हमारी ध्यानशक्ति बढ़ती है, जो हमारे आत्मविश्वास के स्तर को ऊँचा ले जाती है।

डॉक्टरों भी अब संगीत चिकित्सा को सबसे बेहतर मानने लगे है क्योंकि मनपसंद संगीत सुनने से शरीर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, जिससे शारीरिक और मानसिक बीमारियों को ठीक होती है। संगीत  सुनने से हमारे शरीर में हार्मोन का संतुलन बना रहता है, जिससे दिमाग शांत रहता है।

निष्कर्ष

ऐसा कहना बिलकुल बह गलत नहीं होगा कि संगीत का महत्व हमारे जीवन में योग से भी ज्यादा है क्योंकि यह शरीर और दिमाग दोनों में सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करता है। आज संगीत अपने शिखर पर हैं। हर व्यक्ति के जीवन के लिए संगीत के अलग अलग मायने होते है।

अपने व्यस्त जीवन में से हमें समय निकालकर एक या आधा घंटा संगीत जरूर सुनना चाहिए और उनसे जुड़े लाभों के फायदे उठाने चाहिए।

अंतिम शब्द

हमने यहां पर “संगीत पर निबंध (Essay on Music in Hindi)” शेयर किया है। उम्मीद करते हैं कि आपको यह निबंध पसंद आया होगा, इसे आगे शेयर जरूर करें। आपको यह निबन्ध कैसा लगा, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also

प्रकृति पर निबंध

मेरी प्रिय पुस्तक पर निबंध

टेलीविजन पर निबंध

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here