बुरी लत पर निबंध

Essay On Addiction In Hindi: आपने अक्सर देखा होगा कि लोगों को किसी न किसी चीज की लत रहती है। लत जिसे हम दूसरी शब्दों में नशा भी कह सकते हैं। बुरी लत के शिकार होने के पश्चात व्यक्ति अपने जिंदगी के लक्ष्य को भूल कर अपने जिंदगी को बर्बाद कर बैठते हैं। हम यहां पर बुरी लत पर निबंध शेयर कर रहे है। इस निबंध में बुरी लत के संदर्भित सभी माहिति को आपके साथ शेअर किया गया है। यह निबंध सभी कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए मददगार है।

Essay-On-Addiction-In-Hindi

Read Also: हिंदी के महत्वपूर्ण निबंध

बुरी लत पर निबंध | Essay On Addiction In Hindi

बुरी लत पर निबंध (250 शब्द)

क्या होती है बुरी लत ? तो जब किसी व्यक्ति को कोई वस्तु,सामग्री या खाद्य पदार्थ के ना मिलने पर असहज महसूस हो एवं असामान्य व्यवहार करें, तो यह इस बात का संकेत है कि उस  व्यक्ति को उस वस्तु या पदार्थ की लत लग गई है। बुरी लत का किसी भी व्यक्ति के मानसिक संतुलन पर बहुत ही गहरा प्रभाव पड़ता है। ऐसा व्यक्ति ना तो अपने भविष्य की चिंता करता है। ना वर्तमान पर ध्यान देता है। उसे सही और गलत में अंतर समझ नहीं आता। जिसका उसके मानसिक संतुलन पर गहरा प्रभाव पड़ता है।

यदि वस्तु या पदार्थ जिसकी व्यक्ति को लत लगी हुई है, ना मिले तो वह बेचैन हो जाता है। लत से व्यक्ति को क्षणिक आनंद की प्राप्ति होती है। परंतु इससे उसके शरीर पर बहुत ही हानिकारक प्रभाव पड़ता है। यदि एक बार व्यक्ति को किसी भी चीज की लत लग जाए तो, उससे छुटकारा पाना बहुत ही मुश्किल होता है।लत एक आवृत्ति प्रक्रिया  है। जो व्यक्ति के बार- बार दोहराए जाने से विकसित हो जाती है और जब यह व्यक्ति को नहीं मिलती है। तो वह व्यक्ति के मस्तिष्क और शरीर पर प्रभाव दिखाना शुरू कर देती है। जैसे नशीले पदार्थ का सेवन करने से व्यक्ति का शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य खराब होता है।

लत लगने का मुख्य कारण आज आसामान्य जनजीवन, चिंता,शोक, अवसाद होता है। जिससे व्यक्ति बचने के लिए इन चीजों का सहारा लेता है और जब यह चीजें लंबे समय तक व्यक्ति उपभोग करता है। चाहे वह नशा हो किसी भी प्रकार का पदार्थ तो व्यक्ति को इसकी लत लग जाती है। लत से बचने का एक ही उपाय है कि, व्यक्ति अपनी दिनचर्या को सुधारें, व्यायाम करें, सात्विक भोजन ग्रहण करें एवं एक अच्छे वातावरण में रहे।

बुरी लत पर निबंध (800 शब्द)

प्रस्तावना

बुरी लत को ही बुरी आदत भी कहते है। आदत को अंग्रेजी में ‘habit ‘ कहते हैं। यह लैटिन भाषा के ‘habitus /habere  शब्द से मिलकर बना है। जिसका अर्थ होता है प्राप्त करना।
जब कोई व्यक्ति उसी काम को बार-बार करता है। तो उसे उस चीज की लत लग जाती है। उसे ही बुरी लत लगना कहते हैं। किसी आदत की सीमा को पार कर जाने से वह लत का रूप ले लेती है। नसीले पदार्थों का सेवन करने से लोगों को बुरी लत लग जाती है। कई व्यक्तियों को तो नशीले पदार्थों का लत उनकी संगती के द्वारा उनके मित्रों के कारण उनको बुरी चीज़ो की लत लगती है।

बुरी लत पड़ने के मुख्य कारण

कुछ लोगों को संगति का उनके ऊपर बुरा प्रभाव पड़ता है। व्यक्ति की संगति का प्रभाव उनके व्यक्तित्व पर बहुत गहरा प्रभाव डालता है। हम अपने मित्रों के साथ रहते हैं, कुछ ऐसे मित्र भी होते हैं। जो बुरी चीजों का सेवन करते हैं, और हम उनको बुरी चीजों का सेवन करते देखते हैं और हमारा मन भी प्रभावित होता है, कि यह तो नशीले पदार्थों का सेवन करके आनंद ले रहा है, क्यों ना हम भी करके देखे और हम भी नशीले पदार्थों का एक बार सेवन करलेते है। तो फिर हमारा मन भी  नशीले पदार्थ  का सेवन करने का मन बार -बार करता है। ऐसे मे धीरे -धीरे संगति का आसार हो जाता है और हमें भी नशीले पदार्थों की बुरी लत लग जाती है।

बुरी लत लगने से जीवन पर प्रभाव

वास्तव में यदि किसी व्यक्ति के पास सब कुछ होने के बावजूद भी बुरी लत लग गई है। बुरी लत लगने से जीवन पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है। तो उसके पास सब कुछ होते हुए भी अपना सब कुछ खो देता है।
बुरी लत लग जाने से व्यक्ति अपना मानसिक संतुलन खो बैठता है। जिसके कारण  वह अपने परिवार वालों के साथ अपनी बीवी और बच्चों के साथ मारपीट करने लगता है क्योंकि उसे बुरी आदत के कारण उसे और कुछ नजर नहीं आता।

जिस व्यक्ति को जुआ खेलने की लत लग जाती है। वह व्यक्ति अपना घर -वार सब कुछ गिरवी रख देता है क्योंकि यह एक ऐसी लत है। जो उसके जीवन को बर्बाद करके रख देती है। इंसान को चाहे किसी भी चीज की लत लग जाए, तो वह उसके जीवन को बर्बाद करने में मुख्य भूमिका निभाती है। किसी भी चीज की बुरी लत लग ना जिंदगी बर्बाद करना एक ही समान है। व्यक्ति कई बार अपने दोस्तों के चक्कर में गलत संगत का शिकार हो जाता है और उस व्यक्ति को बुरी लत पड़ जाती है। तो ऐसे में भी व्यक्ति अपने जीवन को खराब कर सकता है। बुरी लत का जीवन पर मुख्य रूप से प्रभाव पड़ता है और किसी भी बुरी लत से व्यक्ति अपने लक्ष्य को हासिल करने की बजाय उस लत के कारण अपनी जिंदगी को बर्बाद कर देता है।

बुरी लत से मुक्ति होने के उपाय

बुरी लत से मुक्ति होने  के उपाय निम्नलिखित है
1) किसी भी प्रकार की लत से मुक्ति पाने के लिए हमें अपने मन मे दृढ़ शक्ति को बनाए रखना होगा।
2) नशा मुक्ति केंद्र व अन्य लत सुधार स्त्रोत् संस्थान से मदद लेकर हम नशे की लत को छुड़वा सकते हैं।
3) मनोवैज्ञानिक का सहारा लेकर हम अपने नशे की लत से मुक्ति पा सकते है।
4) मोटिवेशन इंटरव्यू को देखने, सुनने से भी लत छुटकारा पाने की हिम्मत प्रदान करता है।
5) अपने उम्र से बड़े और समझदार लोगों के पास बैठे और लत से छुटकारा पाने के विषय में बड़ो से बात करके राय ले, जिससे इस समस्या का हल मिले।
6) अपना मन अन्य रोचक कार्यों में लगाएं  जैसे – टीवी देखना, गीत संगीत सुनना, भजन सुनना, फिल्मी गाना सुनने से आपका मन बदलेगा और आपको लत से छुटकारा पाने मे सहायता मिलेगी।

निष्कर्ष

बुरी लत लग जाने से यह हमारे जीवन को पुरी तरह से बर्बाद कर देती है। साथ ही बुरी आदतों की लत लगने के कारण हम अपना मानसिक संतुलन खो देते है, जिसके कारण हम अपने परिवार से दूर हो जाते है। हमें इन नशीले पदार्थों  से दूरी बना कर रखना चाहिए और जो लोग नशा लेते है, इन लोगों से खास कर दूरी बनाकर रखे। लत  हमारे जीवन के लिये हर तरह से हानिकारक सिद्ध होता है क्योंकि बुरी लत हमारे जीवन को नरक बना कर रख देती है। हमें अपना भविष्य सुरक्षित रखना है, तो हमें हर प्रकार के लत से दूर रहना होगा।

अंतिम शब्द

आज का हमारा यह आर्टिकल जिसमें हमने बुरी लत पर निबंध के बारे में संपूर्ण जानकारी आप तक पहुंचाई है। मुझे उम्मीद है, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। यदि किसी व्यक्ति को इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी सुझाव है तो वह हमें कमेंट के माध्यम से बता सकता है।

यह भी पढ़े:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here