भ्रष्टाचार पर अनमोल विचार

Corruption Quotes in Hindi

Corruption Quotes in Hindi
Image: Corruption Quotes in Hindi

भ्रष्टाचार पर अनमोल विचार | Corruption Quotes in Hindi

मैं किसी को गंदे पैरों के
साथ अपने दिमाग से नहीं गुजरने दूंगा .

वही लूट, वही भ्रष्टाचार,
वही उपद्रवता अभी भी मौजूद है.

युवाओं को भ्रष्ट बनाने का पक्का तरीका है
कि उन्हें उनसे अलग सोच रखने वालों से
ज़्यादा उनकी तरह सोचने वाले लोगों को
अधिक सम्मान देने की हिदायत दी जाये .

शक्ति का गलत इस्तेमाल अत्याचारी
और पीड़ित दोनों को पराजित कर देता है .

भ्रष्टाचार वेश्यावृत्ति से भी बदतर है .
वेश्यावृत्ति किसी व्यक्ति की नैतिकता को खतरे में डालती है ,
भ्रष्टाचार निर्विवाद रूप से पूरे
देश की नैतिकता को खतरे में डालता है .

मैंने एक बार एक सांप को गिद्ध के
साथ सम्भोग करते देखा , और सोचा ,
ये वाशिंगटन डी.सी.में आम बात है .

सरकार में भ्रष्टाचार का विरोध
देशभक्ति के उच्चतम दायित्व है.

भ्रष्टाचार पर आपत्ति
उठाना युवावर्ग का कर्तव्य है.

जब सम्मान और क़ानून एक
तरफ न खड़े हों तो हम चुनाव कैसे करें ?

भ्रष्टाचार बर्फ़ के गोले की तरह है,
एक बार अगर इसने चलना शुरू
कर दिया तो बढ़ता ही जायेगा.

इनसाइडर ट्रेडिंग एक गंभीर अपराध है.
क्या आप जानते हैं इसे करने का दंड क्या है?
कुछ भी नहीं है, अगर आप कांग्रेस के सदस्य हैं

जब कोई सरकार के साथ बिस्तर में सोता है
तो उसे इससे फैलने वाली
बीमारियों के लिए तैयार रहना चाहिए .

जब समाज पर डरा कर शासन किया जाता है
तब झूट और भ्रष्टाचार सहज विकास के जैसे हैं.

जो कोई भी राक्षसों से लड़ता है
उसे ध्यान रखना चाहिए की इस प्रक्रिया में कहीं वो
खुद राक्षस ना बन जाये .
और अगर तुम लम्बे समय तक
पाताल में देखोगे तो वो वापस तुम्हे घूरेगा .

Corruption Quotes in Hindi

सत्ता भ्रष्ट होने वालों को आकर्षित करती है .
जो इसे चाहता हो उस पर शक करो .

भ्रष्टाचार और कपट प्रजातंत्र का
अनिवार्य उत्पाद नहीं होने चाहिए
जैसा की निसंदेह आज हैं.

प्रिय सरकार ….
मैं तुम्हारे साथ गम्भीर बात करने जा रहा हूँ ,
यदि मुझे कभी कोई बात करने वाला मिल जाए .

युवाओं का कर्तव्य है भ्रष्टाचार का विरोध करना .

जिस राज्य में बहुत अधिक भ्रष्टाचार होता है,
वहां अधिक कानूनी नियम होना जरूरी है.

जितना अधिक भ्रष्ट राज्य
होगा उतने अधिक कानून होंगे.

अच्छी चीजों में भ्रष्टाचार उसे
बद्दतर बनाने के लिए बढ़ावा देती है.

साम्यवाद कभी भी ऐसे देश में सत्ता में नहीं आया है
जो भ्रष्टाचार या यद्ध या दोनों से बर्वाद ना हुआ हो.

भ्रष्टाचार के खिलाफ न्याय
के लिए लड़ाई आसान नहीं है.
ना ये कभी आसान थी ना कभी होगी .

जब मैंने भ्रष्टाचार देखा, तब मुझे खुद ही
सच्चाई ढूँढनी अनिवार्य लगी.
मैं कपट नहीं सह सकता.

अमानवीय तरीके से
व्यवहार करना लोगों का भ्रष्टाचार है .

साम्यवाद न्याय के सपने का भ्रष्टाचार है.

अनुभव बताता है कि सरकार के सबसे अच्छे
रूप में भी जिनके हाथ में सत्ता होती है
वो धीरे-धीरे अत्याचारी हो जाते हैं .

भ्रष्टाचार कभी अनिवार्य नहीं रहा है .

Read Also: डिप्रेशन से लड़ने की शक्ति देते प्रेरक कथन

Corruption Quotes in Hindi

प्रजातंत्र में विश्वास बनाये रखने के
लिए भ्रष्टाचार प्रकृति का तरीका मात्र है.

कोई फरक नहीं पड़ता है कि हमारी सरकार ,
हमारे निगम , हमारी मीडिया और हमारे धार्मिक
और धर्मार्थ संस्थान कितने ही भ्रष्ट , लालची ,
और बेरहम हो जाएं , संगीत तब भी अद्भुत होगा .

सभी संस्थाएं भ्रष्टाचार और अपने
सदस्यों के दोष से प्रभावित हो सकती हैं .

हमारे समाज में भ्रष्टाचार का पहला लक्षण
अभी भी जीवित है कि अंत में आय
को न्यायसंगत सिद्द कर दिया जाता है.

यदि परम सत्ता पूर्ण रूप से भ्रष्ट बना देती है ,
तो फिर भगवान् कहाँ बचते हैं ?

सत्ता मनुष्य को भ्रष्ट नहीं बनाती है;
हालाँकि अगर मूर्ख को सत्ता मिल जाये तो
वो सत्ता हो भ्रष्ट कर देते हैं.

शायद आंकड़ों और तथ्यों से ये
दिखाया जा सकता है कि कॉंग्रेस के
आलावा अमेरिका में कोई और
आपराधिक वर्ग नहीं है .

कोई भी विज्ञान राजनीति और
भ्रष्टाचार के संक्रमण से प्रतिरक्षित नहीं है.

यह सत्ता नहीं भय है जो भ्रष्ट बनाता है .
सत्ता खोने का भय उन्हें सताता है
जिनके हाथ में ये होती है और सत्ता से दण्डित
होने का भय उन्हें भ्रष्ट बनता है जो इसके अधीन होते हैं .

सत्ता भ्रष्टाचारी को आकर्षित करती है.
और पूर्ण सत्ता पूर्ण रूपेण भ्रष्ट को आकर्षित करती है.

सब लोग कहते हैं कि हर तरफ भ्रष्टाचार है ,
लेकिन मुझे अजीब लगता है ऐसा कहना
और फिर भ्रष्टाचार के दोषी लोगों को सजा ना देना .

Corruption Quotes in Hindi

हमारे देश ने आजादी के चौसठ वर्ष बाद भी
वास्तविक स्वतंत्रता नहीं प्राप्त की,
फ़र्क सिर्फ इतना है कि गोरों का स्थान कालों ने ले लिया.

पावर भ्रष्ट नहीं बनाता भय बनाता है
शायद पावर खोने का भय

जब मैंने भ्रष्टाचार देखा ,
तो मैं अपने दम पर सच्चाई का पता लगाने के
लिए मजबूर हो गया . मैं पाखण्ड को नहीं निगल सकता था .

भारतवर्ष में भ्रष्ट ही भ्रष्ट पर भ्रष्ट होने का आरोप लगाता है
और भ्रष्ट ही भ्रष्टाचार की जांच करता है
और भ्रष्ट ही भ्रष्ट को भ्रष्टाचार के आरोप से मुक्त करता है.

सत्ता किसी को भ्रष्ट नहीं बनाती बल्कि डर बनाता है…
संभवतः सत्ता के खो जाने का डर.

ऐसी सरकार जो बस बिजनेस को बचाने के लिए है ,
महज एक कंकाल है ,
और जल्द ही अपने ही भ्रष्टाचार और
सड़न की वजह से गिर जाती है .

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here