‘वैक्सीन किंग’ अदार पूनावाला का जीवन परिचय

Adar Poonawalla Biography in Hindi: अदार पूनावाला को वर्तमान में वैक्सीन किंग कहा जा रहा है, अदार पूनावाला साइरस पूनावाला के बेटे है। यह वर्तमान में वैक्सीन बनाने वाली कम्पनी सीरम इंस्टिट्यूट के सदस्य है। अदार पूनावाला अभी सबसे ज्यादा चर्चा का विषय बने हुए है। यह कोरोना वायरस से जुडी वैक्सीन का निर्माण कर रहे है। भारत में दो तरह की वैक्सीन बनाई जा रही है, जिसमें से एक अदार पूनावाला के सीरम इंस्टिट्यूट के द्वारा बनाई जा रही है।

Adar Poonawalla Biography in Hindi

कोरोना संक्रमण के बाद से अदार पूनावाला का नाम सामने आया है। इसके साथ ही सीरम इंस्टीट्यूट का नाम भी हर कोई जानने लगा है। भारत दुनिया में सबसे बड़ा वैक्सीन उत्पादक बना है, जिसने अपने देश और दूसरे देशों के लिए वैक्सीन का निर्माण किया है। आइये जानते है अदार पूनावाला के बारे में।

अदार पूनावाला का जीवन परिचय (Adar Poonawalla Biography in Hindi)

अदार पूनावाला का करिअर

अदार पूनावाला की स्कूली शिक्षा बिशप स्कूल (पुणे) और सेंट एडमंड स्कूल कैंटरबरी स्कुल से हुई है। उसके बाद हायर एजुकेशन वेस्टमिंस्टर विश्वविद्यालय में शिक्षा प्राप्त की। अदार पूनावाला ने अपना ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद अपने करियर की शुरुआत की शुरुआत की और 2001 में अपने पिता Cyrus S. Poonawalla के सीरम इंस्टिट्यूट में शामिल हुए और कार्य करने लगे।

सीरम इंस्टिट्यूट के द्वारा बनाये गए उत्पादों को दुनियाभर के 35 से अधिक देशों में निर्यात करते है। वह अपने व्यापार को अन्तर्राष्ट्रीय बाजार पर केंद्रित करना चाहते थे। आदर पूनावाला ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से नए उत्पादों को बनाने लिए लाइसेंस प्राप्त किया। उन्होंने यूनिसेफ और पीएएचओ जैसी संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों को अपनी कंपनी के उत्पादों को निर्यात किया है।

सीरम इंस्टीटूट के CEO आदर पूनावाला

आदर पूनावाला ने सीरम इंस्टीटूट में शामिल होने के बाद उन्होंने अपनी कंपनी के उत्पादों को लगभग 140 देशों में निर्यात किया और 85 प्रतिशत उनके कुल राजस्व का विदेशों से आने लगा है। इसके बाद कंपनी के प्रतिदिन के कार्यो में इनके द्वारा सहयोग किया जाने लगा। वह सीरम इंस्टीटूट के CEO बन गए। नीदरलैंड स्थित सरकारी वैक्सीन निर्माण कंपनी बिल्थोवेन बायोलॉजिकल्स का 2012 में उनकी कंपनी ने अधिग्रहण (Acquisition) किया और चेक गणराज्य में प्राहा वैक्सीन लिमिटेड का 2017 में अधिग्रहण किया।

सीरम इंस्टीट्यूट ने ओरल पोलियो वैक्सीन की शुरुआत सन 2017 में की जब कंपनी ने इसको लॉन्च किया, उसका बेस्टसेलर उत्पाद बन गया। रिपोर्ट के अनुसार बताया जा रहा है कि उन्होंने अपनी कंपनी उत्पाद पोर्टफोलियो का विस्तार करने की योजना भी बनाई। उन्होने अपनी कंपनी में डेंगू, फ्लू और सर्वाइकल कैंसर के टीकों के उत्पादन में शामिल करने का फैसला लिया। कंपनी के सीईओ के रूप में आदर पूनावाला कार्यरत है और हर साल कंपनी को अपने उत्पाद पोर्टफोलियो का विस्तार करने की योजना बाने में लगे हुए है।

अदार पूनावाला फेमिली

अदार पूनावाला का जन्म 14 जनवरी 1981 को हुआ है। आज इनकी उम्र 40 साल है। इनकी पत्नी नताशा पूनावाला है, जो इन्हें विजयमाल्या की एक पार्टी के दौरान मिली और उसके बाद उन्होंने इनके साथ शादी की। इनके दो बच्चे है, डेरियस पूनावाला, साइरस पूनावाला। इनके माता-पिता साइरस एस पूनावाला, विलू पूनावाला है। इनके दादा का नाम सोली ए. पूनावाला है।

आदर पूनावाला द्वार प्राप्त पुरुस्कार

आदर पूनावाला को सार्वजनिक स्वाथ्य के लिए कोई पुरुस्कारों से पुरुस्कृत किया गया। आदर पूनावाला को हॉल ऑफ फेम अवार्ड्स 2017 में ह्यूमैनिटेरियन एंडेवर अवार्ड भी मिला। यह अवार्ड उन्हें स्वास्थ्य योजनाओ में उनका महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए दिया गया है। सन 2019 में ही cnn न्यूज़ 18 ने न्यूज़ सीएसआर की बिजनेस कैटेगरी में उन्हें इंडियन ऑफ द ईयर के रूप में भी सम्मानित किया गया था।

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस द्वारा 2018 में, उन्होंने एज महाराष्ट्र अचीवर्स अवार्ड्स समारोह में प्रस्तुत बिजनेस लीडर ऑफ द ईयर अवार्ड जीता जो कि सबसे अच्छे बिज़नेस मेंन को दिया जाता है। इसके साथ ही उन्होंने वर्ष की कॉर्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी के लिए बाद में इंडियन बिजनेस लीडर अवार्ड्स में CNBC TV18 द्वारा CNBC एशिया का पुरस्कार जीता।

घोड़ों के व्यापार से शुरुआत की

यह कहा जाता है कि पूनावाला का परिवार ब्रिटिश राज के दौरान 19वीं शताब्दी में भारत के पुणे में आया था। यह पारसी परिवार ब्रिटिशों के शासन काल के दोर्णा भारत आकर रहने लगे है। स्वतंत्रता से पहले दौर में इनके परिवार का कारोबार कंस्ट्रक्शन में था। लेकिन उससे ज़्यादा फायदा उनको घोड़ों के व्यापर से हुआ है।

आज भी इन्हें लोग घोड़ों के कारोबार से लोग जानते हैं। घोड़ों का कारोबार अदार के दादा सोली पूनावाला ने शुरू किया था। इनके द्वारा कई किस्में के रेस घोड़े खरीदे और बेचे जाते थे। इस तरह से आज यह वैक्सीन किंग के रूप में जाने जाते है, इनके परिवार का सफर काफी लम्बा है।

अदार पूनावाला से जुडी खास बातें

  • लन्दन में ग्रोसवेनर हाउस में 550 मिलियन यूरो की बोली सन 2014 में उन्होंने और उनके पिता के द्वारा लगाई गयी, जो एक बहुत बड़ी राशि थी।
  • प्रधनमंत्री द्वारा 2017 में उन्हें स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड एंबेसडर के रूप में नामिनित किया।
  • 2020 में उनके द्वारा बताया गया कि सीरम इंस्टिट्यूट COVID-19 की वैक्सीन बनाने के लिए ऑक्सफ़ोर्ड और एक ब्रिटिश कंपनी के साथ साझेदारी में है।
  • आदर पूनावाला अपनी लाइफ स्टाइल के लिए चर्चा में बने रहते है।
  • उनके पास अपना खुद का जेट है, जो उनके मुंबई स्थति ऑफिस में रहता है और यह उसी को अपने ऑफिस के रूप में कार्य में लेते है।
  • आदर पूनावाला के पास 35 क्लासिक कारो का कलेक्शन है, उन्हें कारो का काफी शोक है।
  • सीरम इंस्टिट्यूट का कैंपस 100 एकड़ में फैला हुआ है।
  • उनके द्वारा यह भी कहा गया है वैक्सीन का 50 प्रतिशत का हिस्सा भारत के लिए होगा बाकि का वे अन्य जीएवीआई देशों में वितरित करेंगे।
  • सायरस ने सीरम इंस्टीट्यूट की शुरुआत पाँच लाख रुपये से की थी जो आज अरबो रूपए तक पहुंच गयी है।
  • अदार पूनावाला दुनिया के 165वें नंबर के अमीर शख़्स हैं।
  • आज उनका कारोबार 165 देशों में फैला हुआ है।
  • यह भारत के छठे सबसे अमीर आदमी बन चुके है।
  • 2015 में उन्होंने मुंबई में समुद्री तट मकान ख़रीदा था, जो पहले अमेरिकी वाणिज्यिक दूतावास हुआ करता था। उस समय इसकी कीमत 11 करोड़ अमेरिकी डॉलर थी।

अदार पूनावाला आज के समय में एक सफल प्रसिद्ध व्यक्ति है, जिन्होंने दवाइयों के उत्पादन में अपने देश का नाम आगे रखा है। उनके द्वारा बनाई जाने वाली वैक्सीन का उपयोग आज पूरे देश के साथ-साथ विदेशों में भी किया जा रहा है।

उन्होंने अपने इंस्टिट्यूट में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी को भी आमंत्रित किया था और उन्हें वेक्सिनेशन के कार्यो की रुपरेखा बताई है। वर्तमान में यह अखबारों की सुर्खियों में अपने कार्यो और लाइफ स्टाइल के कारण बने रहते है।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको यह जानकारी “अदार पूनावाला का जीवन परिचय (Adar Poonawalla Biography in Hindi)” पसंद आई होगी, इसे आगे शेयर जरूर करें। आपको यह जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Read Also

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here