राजकुमारी और चांद खिलौना की कहानी

राजकुमारी और चांद खिलौना की कहानी | Rajkumari And Moon Toy Story In Hindi

एक राज्य में एक राजा राज करता था उसकी एक प्यारी सी बेटी थी। राजा अपनी बेटी से बहुत प्यार करता था इसलिए उसकी हर इच्छा पूरी करता था।

राजकुमारी को चाँद बहुत पसंद था, वह हमेशा रात को अपने कमरे की खिड़की से आसमान में निकले सुंदर चाँद को निहारती रहती थी। चाँद को देखना राजकुमारी को बहुत अच्छा लगता था इसलिए वह घण्टो तक खिड़की में बैठी रहती थी। उसकी हमेशा से ही इच्छा थी कि उसके पास खेलने के लिए एक चाँद हो।

एकदिन राजकुमारी अपनी इच्छा राजा को बताती है कि “पिताजी मुझे आसमान का यह चाँद चाहिए। मुझे चाँद बहुत पसंद है। मै उसके साथ खेलना चाहती हूँ।”

Rajkumari-And-Moon-Toy-Story-In-Hindi-
Image: Rajkumari And Moon Toy Story In Hindi

बेटी की यह बात सुनकर राजा हैरान हो जाता है कि यह कैसे मुमकिन हो सकता है। उसने राजकुमारी को समझाया कि चाँद को यहाँ लाना संभव नही है।

लेकिन राजकुमारी अपनी जिद पर अड़ जाती है कि उसे किसी भी हालत में चाँद चाहिए। राजा के लाख समझाने पर भी राजकुमारी नही समझती है। इसलिए राजकुमारी ने अब खाना पीना सब छोड़ दिया। वह अपनी खिड़की से चाँद को लगातार ताकती रहती थी। ठीक से न खाने की वजह से अब राजकुमारी बीमार हो गई। धीरे-धीरे उसकी तबीयत बिगड़ने लगी।

राजा से बेटी की ऐसी स्थिति देखी नही गई। उसने एक सभा बुलाई और अपने मंत्रियों और दरबारियों से चाँद लाने का आदेश दिया कि “किसी भी हालत में उसे अपनी बेटी के लिए चाँद धरती पर चाहिए।”

अब दरबारियों ने कहा कि राजा आपको भी पता है कि चाँद को धरती पर लाना सम्भव नही है। तभी राजा आदेश करता है कि जो कोई भी चाँद को धरती पर लाएगा। राजा उसे बहुत सारा धन, हीरे, मोती, सोने के सिक्के आदि देगा।

राजा के दरबार मे एक व्यापारी भी था। उसने यह बात सुनी और तुंरत राजा से संपर्क करने आ गया।

व्यापारी ने राजा से कहा कि “महाराज मैं चाँद को धरती पर ला सकता हूँ, लेकिन मैं ये जानना चाहता हूँ कि राजकुमारी को कितना बड़ा चाँद चाहिए।”

यह भी पढ़े: फूलों की राजकुमारी थंबलीना की कहानी

व्यापारी अपनी पूरी योजना राजा को बताता है कि वह कैसे यह काम करेगा। राजा को भी व्यापारी की तरकीब पसंद आती है।

व्यापारी कहता है कि इसके लिए मुझे राजकुमारी से मिलना होगा। राजा व्यापारी को राजकुमारी के पास ले जाता है।

अब व्यापारी राजकुमारी से पूछता है कि क्या आपको पता है कि चाँद कितना बड़ा है? राजकुमारी बताती है कि “चाँद मेरे अंगूठे के नाखून के बराबर है, क्योंकि मैं जब भी चाँद के सामने अँगूठा रखती हूँ वह ढक जाता है।”

आगे व्यापारी उससे पूछता है कि “क्या आपको पता है की चाँद कितना ऊँचा है?

राजकुमारी कहती है कि हाँ, चाँद पेड़ से थोड़ा बड़ा होगा क्योंकि मैं जब भी चाँद को देखती हूँ तो वह महल के बाहर वाले पेड़ के थोड़ा ऊपर दिखाई देता है।

आगे व्यापारी कहता है कि “राजकुमारी चाँद दिखाता कैसा है?” तब राजकुमारी कहती है कि “चाँद चमकीला और चांदी की तरह सफेद है।”

तब व्यापारी राजकुमारी को हँसते-हँसते कहता है कि राजकुमारी आप जरा भी चिंता न करे। मैं कल ही आपके लिए पेड़ पर चढ़कर चाँद तोड़ लाऊँगा।

अगली सुबह व्यापारी राजा के महल आता है और अंगूठे के आकार का एक चाँदी का चाँद लाता है।

व्यापारी वह चाँदी का चाँद राजकुमारी को देता है तो राजकुमारी बहुत खुश होती है और चाँद के साथ खेलने लगती है।

यह भी पढ़े :नन्ही परी और राजकुमारी की कहानी

राजा अपनी बेटी को खुश देखकर बहुत प्रसन्न होता है। लेकिन वह एक बात को लेकर चिंतित होता है कि रात में जब असली चाँद निकलेगा तो राजकुमारी को नकली चाँद की सच्चाई पता चल जाएगी। वह व्यापारी को यह परेशानी बताता है। तो व्यापारी राजा को कहता है कि चलो महाराज आपकी इस परेशानी का हल भी मेरे पास है।

व्यापारी राजकुमारी से कहता है कि “जब हमारे दाँत टूटते है तो क्या होता है ?” राजकुमारी बड़ी मासूमियत से जवाब देती है कि “उसकी जगह नए दाँत आ जाते है।”

व्यापारी बोलता है कि ठीक दांतो की तरह ही अगर हम चाँद तोड़ देगें तो क्या होगा। राजकुमारी कहती है कि “उसकी जगह दूसरा नया चाँद निकलेगा।”

व्यापारी कहता है कि “वाह ! क्या बात है राजकुमारी आप कितनी होशियार है।” इतना कहकर व्यापारी खिड़की खोलता है और कहता है कि “तो चलिए फिर आज एक नए चाँद को देखते है” राजकुमारी नए चाँद को देखकर कहती है कि मेरा वाला चाँद इससे ज्यादा सुंदर है और अपने चाँदी के चाँद से खेलने लगती है।

यह देखकर राजा बहुत खुश होता है और व्यापारी को इनाम देता है।

सीख: बड़ी से बड़ी मुश्किल का भी उपाय किया जा सकता है। और कभी-कभी बड़ी परेशानी का हल निकालने के लिए छोटे उपाय ही बहुत होते हैं।

यह भी पढ़े:

नन्हीं जलपरी की कहानी – द लिटिल मरमेड

स्लीपिंग ब्यूटी की कहानी

भेड़िया और बकरी के सात बच्चों की कहानी

स्नो व्हाइट और सात बौनों की कहानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here