महाराणा प्रताप की पत्नियां कितनी थी?

Maharana Pratap Ki Kitni Patniyan Thi : महाराणा प्रताप की गौरव गाथा कौन नहीं जानता? महाराणा प्रताप भारत के इतिहास के सबसे प्रसिद्ध और पराक्रमी योद्धा माने जाते हैं क्योंकि महाराणा प्रताप केवल एक छोटी सी रियासत मेवाड़ के शासक थे, जिन्होंने दिल्ली के मुगल शासक अकबर से लोहा लिया था।

महाराणा प्रताप ने अकबर के द्वारा भेजे गए विभिन्न प्रस्ताव को ठुकरा कर हमेशा अपनी राजपूती शान के साथ स्वतंत्रता और स्वाभिमान ता के साथ खड़े रहे। अकबर ने हर संभव प्रयास किए लेकिन वहां महाराणा प्रताप को नहीं झुका सका।

Maharana Pratap Ki Kitni Patniyan Thi
Image: Maharana Pratap Ki Kitni Patniyan Thi

जब महाराणा प्रताप की मृत्यु हुई तब अकबर के भी आंसू बहे थें। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि महाराणा प्रताप ने अकबर के द्वारा भेजे गए विभिन्न प्रकार के योद्धाओं को हरा दिया और अकबर के सभी प्रस्तावों को ठुकरा दिया था।

अकबर ने महाराणा प्रताप को आखिर में केवल उनकी अधीनता स्वीकार करने के लिए कहा था। फिर भी महाराणा प्रताप ने स्वाधीनता तथा स्वतंत्रता के लिए कभी भी अकबर की अधीनता स्वीकार नहीं की। इसी के चलते मुगल सेना ने कई बार आक्रमण किया और आखिर में हल्दीघाटी का युद्ध हुआ।

महाराणा प्रताप की पत्नियां कितनी थी? | Maharana Pratap Ki Kitni Patniyan Thi

मेवाड़ रियासत के राजा महाराणा प्रताप

महाराणा प्रताप का जन्म राजस्थान के मेवाड़ रियासत में हुआ था। उनके पिता 1520 सदी के दौरान मेवाड़ के शासक थे। मेवाड़ के शासक राणा उदय सिंह ने अपनी पसंदीदा पत्नी के पुत्र जयमल को मेवाड़ की सत्ता सौंप दी थी। सभी सामंतों ने मेवाड़ का शासक महाराणा प्रताप को बनाने की पेशकश की।

इसीलिए महाराणा प्रताप ने मेवाड़ की गति संभाली। लेकिन उन्होंने मुगलों की अधीनता स्वीकार नहीं की। अकबर ने कई बार सेना भेजी और विभिन्न प्रकार की पेशकश की गई, लेकिन महाराणा प्रताप ने उसे कभी भी स्वीकार नहीं किया।

महाराणा प्रताप की कितनी पत्नियां थी?

राणा प्रताप की कुल 11 पत्नियां थी। महाराणा प्रताप के पहली पत्नी का नाम राजकुमारी अजबदे पंवार था। अजबदे पंवार राजस्थान तथा मध्य प्रदेश के बीच स्थित बिजोलिया रियासत की राजकुमारी थी। इतिहासकारों का कहना है कि महाराणा प्रताप ने सभी शादियां राजनीतिक संबंधित स्थापित करने के लिए की थी फिर भी महाराणा प्रताप अकबर से युद्ध के दौरान अकेले पड़ गए।

किसी भी रियासत में और किसी भी राजा महाराजाओं ने प्रताप का साथ नहीं दिया था। बेहतरीन राजनीतिक संबंध स्थापित करने के लिए महाराणा प्रताप ने कुल 11 शादियां की। इसलिए उनकी 11 पत्नियां थी महाराणा प्रताप अपनी पहली शादी के समय 17 वर्ष के थे और उनकी पहली पत्नी उस समय 15 वर्ष की थी। महाराणा प्रताप ने अपना पहला विवाह 1557 में किया था।

महाराणा प्रताप की पत्नियां

महाराणा प्रताप की कुल 11 पत्नियां थी। महाराणा प्रताप की पहली पत्नी का नाम अजबदे पंवार था। महाराणा प्रताप की दूसरी पत्नी रानी सोलंकीनी पूबाई था। महाराणा प्रताप की तीसरी पत्नी का नाम फूल कमल राठौड़ प्रथम था। महाराणा प्रताप की चौथी पत्नी का नाम चंपा कंवर झाला था। महाराणा प्रताप की पांचवी पत्नी का नाम रानी जसोबाई चौहान था।

महाराणा प्रताप की छठी पत्नी का नाम रानी फूल कंवर राठौड़ द्वितीय था। महाराणा प्रताप की सातवीं पत्नी का नाम रानी शहमती हाडा था। महाराणा प्रताप की आठवीं पत्नी का नाम रानी खीचर अशबाई था। महाराणा प्रताप की नोंवी आलमदेबाई चौहान था। महाराणा प्रताप की दसवीं पत्नी का नाम रानी अमरबाई राठौड़ था। महाराणा प्रताप की 11वीं पत्नी का नाम लखाबाई राठौड़ था।

निष्कर्ष

महाराणा प्रताप की पत्नियां कितनी थी?( Maharana Pratap Ki Kitni Patniyan Thi) इस सवाल के जवाब में हमने आपको बताया है कि महाराणा प्रताप की कुल 11 पत्नियां थी। महाराणा प्रताप की सभी 11 पत्नियों के नाम इस आर्टिकल में ऊपर हमने आपको विस्तार से बता दिए हैं। महाराणा प्रताप की पहली पत्नी का नाम अजबदे पंवार था। अजबदे पंवार राजस्थान और मध्य प्रदेश के बीच स्थित बिजोलिया की राजकुमारी थी।

इसके अलावा महाराणा प्रताप की 10 और पत्नियां थी। पूरी जानकारी आर्टिकल में आप पढ़ सकते हैं। हमें उम्मीद है यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। आपका कोई आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न है? तो नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं। हम आपके द्वारा पूछे गए प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

यह भी पढ़ें :

महाराणा प्रताप की मृत्यु कब हुई?

महाराणा प्रताप की पहली पत्नी कौन थी?

हल्दीघाटी का युद्ध कब हुआ था?

परशुराम किस जाति के थे?