सबसे खूबसूरत बच्चा (अकबर बीरबल की कहानी)

सबसे खूबसूरत बच्चा (अकबर बीरबल की कहानी) – Sabase Khubsurat Bachha

बहुत समय पहले की बात है। राजा अकबर के घर एक सुंदर बच्चे का जन्म हुआ था। राजा अकबर अपने शहजादे से बहुत प्रेम करते थे। एक दिन उनके मन में यह विचार आया कि सहजादे को दुनिया का सबसे सुंदर बच्चा घोषित कर दिया जाए।

राजा अकबर ने दरबार लगाया और दरबार में सभी मंत्री गण को बुलाया। राजा अकबर शहजादे के साथ दरबार में पहुंचते हैं, शहजादे उनकी गोद में खेल रहा था, जिसे देखकर दरबार में मौजूद हर कोई शहजादे की तरफ देख कर कह रहे थे।

“शहजादे दुनिया का सबसे सुंदर बच्चा है।”

Sabase Khubsurat Bachha

राजा अकबर यह सुन कर बहुत खुश हो जाते हैं और कहते हैं “आज से सहजादे को दुनिया का सबसे सुंदर बच्चा घोषित कर दिया जाए।”

राजा अकबर की बात पर सभी मंजूरी देते हैं, सिवाय बीरबल के।

राजा अकबर बीरबल से पूछते हैं “तुम क्यों चुप हो, तुम्हें इस बारे में क्या कहना है?”

बीरबल कहते हैं “गुस्ताखी माफ हो जहांपनाह! शहजादा सुंदर बच्चा है, लेकिन मेरे ख्याल से शहजादा दुनिया का सबसे सुंदर बच्चा नहीं है।”

अकबर कहते हैं “तुम्हारे कहने का मतलब है कि शहजादा सुंदर नहीं! कैसे?”

बीरबल कहते हैं “मेरे कहने का मतलब यह नहीं है कि शहजादा सुंदर नहीं है, लेकिन दुनिया में और भी सुंदर बच्चे होंगे।”

अकबर कहते हैं “बीरबल! अगर ऐसी बात है तो तुम उस बच्चे को हमारे समक्ष लेकर आओ जो दुनिया में सबसे सुंदर बच्चा है, हम भी उसे देखना चाहते हैं।”

बीरबल कहते हैं “मुझे कुछ दिन का वक्त दीजिए, मैं उसे ढूंढ कर आपके समक्ष लेकर आऊंगा।”

कुछ दिनों के बाद बीरबल बच्चे की खोज कर के दरबार में आते हैं।

बीरबल को दरबार में अकेला देखकर अकबर बहुत खुश हो जाते हैं और कहते हैं “तुम अकेले क्यों आए हो? इसका क्या मतलब है कि तुम्हें शहजादे से ज्यादा सुंदर बच्चा नहीं मिला।”

बीरबल कहते हैं “जहांपना! मैंने सबसे सुंदर बच्चा खोज लिया है।”

अकबर कहते हैं “अगर बच्चा मिल गया है तो तुम उसे दरबार में क्यों नहीं लाए।”

बीरबल कहते हैं “महाराज में उसे दरबार में लेकर नहीं आ सकता, किंतु मैं आपको उसके पास जरूर ले जा सकता हूं, लेकिन हमें वेश बदल कर जाना होगा।”

अकबर कहते हैं “ठीक है! तो हम कल सुबह वेश बदलकर उस बच्चे को देखने चलेंगे।”

अगली सुबह बीरबल और बादशाह अकबर उस बच्चे को देखने के लिए निकल पड़ते हैं, वेश बदलकर बच्चे को देखने के लिए कुछ समय बाद बीरबल बादशाह अकबर को एक गांव में लेकर चलता है, जहां वह बच्चा था।

गांव के पास एक झोपड़ी में बीरबल बादशाह अकबर के साथ पहुंचते हैं, जहां एक छोटा सा बच्चा मिट्टी में खेल रहा होता है।

बीरबल कहते हैं “जहापनाह! यह वही सुंदर सा बच्चा है।”

अकबर कहते हैं “बीरबल तुम्हारी यह हिम्मत कि तुमने एक गरीब झोपड़ी में रहने वाले बच्चे के साथ मेरे शहजादे का तुलना किया और इस बच्चे को तुमने दुनिया का सुंदर बच्चा बता दिया।”

बादशाह अकबर इतनी जोर जोर से बीरबल को यह सारी बातें सुना रहे थे कि बच्चा आवाज सुनकर जोर-जोर से रोने लगता है जिसे सुनकर उसकी मां बच्चे के पास आती है और गुस्से में कहती है “तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मेरे बच्चे को बदसूरत कहने की, यहां से दफा हो जाओ। अगर यहां दोबारा दिखाई दिए, तो मैं तुम्हारी हड्डी पसली एक कर दूंगी।”

उसके बाद वह मां अपने बच्चे को गोद में लेकर बच्चे को प्यार करने लगती है और कहती है “मेरा राजा बेटा मेरा बच्चा दुनिया का सबसे सुंदर बच्चा है, मेरा बेटा सबसे प्यारा और सुंदर है।”

बीरबल कहते हैं “महाराज! आपको अब सब समझ में आ गया होगा कि मैं क्या कहना चाहता हूं।”

अकबर कहते हैं “बीरबल! मैं अच्छे से समझ गया कि तुम्हारा क्या मतलब था।”

बीरबल कहते हैं “महाराज हर बच्चा उनके माता-पिता के लिए दुनिया का सबसे सुंदर बच्चा ही होता है। मैं बस इतना चाहता हूं कि आप शहजादे को अच्छी तालीम दे और चापलूसी से दूर रखें।”

अकबर कहते हैं “बीरबल तुम वाकई मेरे सच्चे मित्र और अच्छे हितेषी हो, तुम वफादार हो। मेरे से बिना डरे सच कहा और मेरी आंखें खोल दी, तुमने फिर साबित कर दिया कि तुम वफादार हो और हमारा व राज्य का भला चाहते हो।

इस कहानी से हमें क्या सीख मिलती हैं?

हमें इस कहानी से यह शिक्षा मिलती है कि चापलूसी से बच कर रहना चाहिए और सच बोलने वालों पर भरोसा करना चाहिए, इतनी समझ रखो कि कौन चापलूसी कर रहा और कौन हितेषी है, इसके अलावा कभी अपने ओहदे या किसी चीज का घमंड नहीं करना चाहिए।

अकबर और बीरबल की सभी मजेदार कहानियाँ

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here