बालक का पर्यायवाची शब्द

बालक का पर्यायवाची शब्द (Balak ka Paryayvachi Shabd in Hindi)

बालक का पर्यायवाची शब्द – लौंडा, छोरा, जाता, ढोटा, तनय, तनुज, कुमार, बच्चा, बेटा, पुत्र, लाल, वत्स, सुत, सुवन, औरस, छोकरा, छोकड़ा, नंदन, पिसर, फरजंद, पूत, औलाद, लड़का, अंगज, अपत्य, आत्मज, लड़का, शिशु, किशोर।

Balak ka Paryayvachi Shabd – Lounda, Chora, Jaata, Dhota, Tanay, Tanuj, Kumar, Baccha, Beta, Putr, Laal, Vats, Sut, Ouras, Chokra, Chokda, Nandan, Pisar, Farjand, Poot, Oulad, Ladka, Angaj, Apatay, Aatmaj, Ladka, Shishu.

बालक के पर्यायवाची शब्द (Synonyms of Balak in Hindi) और उनके अर्थ में थोड़ा अंतर हो सकता है। इसीलिए एक वाक्य में सभी पर्यायवाची शब्दों का प्रयोग हो जाए, यह जरूरी नहीं है। स्थिति के आधार पर वाक्य में अलग अलग पर्यायवाची का प्रयोग अलग अलग स्थान पर किया जा सकता है।

नीचे हम उदाहरण के माध्यम से बालक और बालक के पर्यायवाची शब्द को और अधिक गहराई से जानने का प्रयास करेंगे।

  • छोरा – उनकी नजर मोहल्ले के रामजी लाल की बेटी श्यामा पर पड़ी तब उन्होंने कहा बगल में छोरा और नगर में ढिंढोरा।
  • जाता – श्याम के द्वारा फल खाया जाता है। मेरे से पुस्तक पढ़ी जाती है। रीना द्वारा दूध पिया जाता है। मोहन द्वारा गीत गाया जाता है।
  • कुमार – “इतना सुनकर उसने गुटिका मुहँ से निकाल ली और ब्राह्मण-कुमार बन गया।”
  • नग – किसान की बिसात ही क्या, दो-तीन नग बेचने से दस मिल जाएंगे।
  • नंदन – “हमारी अपनी नंदन, पराग या चंपक में भी नहीं ।” “हमारी अपनी नंदन, पराग या चंपक में भी नहीं।” नंदन” शब्द का उपयोग अशोक कुमार पाण्डेय ने अपनी कविता में इस प्रकार किया है।
  • लड़का “एक छोटा लड़का उसके दूकान में दवाई लेने पर्चा लेकर आया।”

पर्यायवाची शब्द परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई पर्यायवाची शब्द हो सकते हैं। यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिए गए शब्द बालक का पर्यायवाची ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी समानार्थक शब्दों में से किसी का भी पर्यायवाची शब्द पूछा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द

तालाबयमुनाघर
माताआगतलवार
पृथ्वीकिरणपत्थर

1000+ पर्यायवाची शब्दों के विशाल संग्रह के लिए यहां पर क्लिक करें।

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है, इन्होंने स्नातक (रसायन, भौतिक, गणित) की पढ़ाई की है और आगे की भी जारी है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 3 वर्ष से भी अधिक SEO का अनुभव होने के साथ ही 3.5 वर्ष का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here