आसपास का पर्यायवाची शब्द

आसपास का पर्यायवाची शब्द (Aspas ka paryayvachi shabd in Hindi)

आसपास का पर्यायवाची शब्द – नजदीक, निकट, इधर-उधर, प्रत्येक दिशा में, चारों ओर, हर तरफ, पड़ोस।

Aspas ka paryayvachi shabd – najdik, nikat, idhar-udhar, pratyek disha men, charon or, har taraf, pados.

आसपास के पर्यायवाची शब्द (Synonyms of aspas in Hindi) और उनके अर्थ में थोड़ा अंतर हो सकता है। इसीलिए एक वाक्य में सभी पर्यायवाची शब्दों का प्रयोग हो जाए, यह जरूरी नहीं है। स्थिति के आधार पर वाक्य में अलग अलग पर्यायवाची का प्रयोग अलग अलग स्थान पर किया जा सकता है।

नीचे हम उदाहरण के माध्यम से इसे और अधिक गहराई से जानने का प्रयास करेंगे।

आसपास शब्द के वाक्य प्रयोग द्वारा पर्यायवाची शब्दों के अंतर को समझना

  • आसपास- हमारे नए घर के आसपास के लोग कैसे हैं।
  • नजदीक- मोहन ने अपने कार्यालय के नजदीक ही एक घर किराए पर लिया।
  • निकट- हमारे घर के निकट ही एक तलाब है।
  • इधर-उधर- तुम इधर उधर की बातों पर ध्यान मत दो।
  • चारों ओर- सावन के हरे को चारों ओर हरा हरा ही दिखता है।
  • हर तरफ- हर तरफ तुम्हारा झूठ फैला हुआ है।
  • पड़ोस- पड़ोस में आज एक नया परिवार रहने के लिए आया है।

पर्यायवाची शब्द परीक्षाओं में मुख्य विषय के रूप में पूछे जाते हैं। एक शब्द के कई पर्यायवाची शब्द हो सकते हैं।यह जरूरी नहीं कि परीक्षा में यहाँ पहले दिये गए शब्द आसपास का पर्यायवाची ही पूछा जाए। परीक्षा में सभी समानार्थक शब्दों में से किसी का भी पर्यायवाची शब्द पूछा जा सकता है।

पर्यायवाची शब्द का अपना एक भाग है प्रत्येक पाठ्यक्रम में, छोटी और बड़ी कक्षाओं में पर्यायवाची शब्द पढ़ाया जाता है, कंठस्थ किया जाता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में यह एक मुख्य विषय के रूप में पूछा जाता है और महत्व दिया जाता है।

परीक्षा के दृष्टिकोण से पर्यायवाची शब्द बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में पर्यायवाची शब्द का अपना-अपना भाग होता है। चाहे वह पेपर हिंदी में हो या अंग्रेजी में यहां तक कि संस्कृत में भी पर्यायवाची शब्द पूछे जाते हैं।

पर्यायवाची शब्द कोई बहुत कठिन विषय नहीं है। यदि इसे ध्यान से समझा जाए तो याद करने की भी आवश्यकता नहीं होती है। इसे समझ समझ कर ही लिखा जा सकता है।

अन्य महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द

हारकशिशफिक्र
रसोइयालाशबकवास
हत्यारामान्यवरबरकत

1000+ पर्यायवाची शब्दों के विशाल संग्रह के लिए यहां पर क्लिक करें।

इनका नाम राहुल सिंह तंवर है। इनकी रूचि नई चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में अधिक है। इनको 4 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 6 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here